Categories
sports

ट्रम्प ने मोदी को फोन पर जी-7 समिट में आने का न्योता दिया, दोनों के बीच भारत-चीन सीमा विवाद और अमेरिका में हिंसा पर भी चर्चा


  • भारत और चीन के बीच लद्दाख में जारी विवाद को लेकर ट्रम्प ने मध्यस्थता की पेशकश की थी, भारत ने ठुकरा दी थी
  • भारत और अमेरिका में कोरोनावायरस के हालात और डब्ल्यूएचओ में सुधारों को लेकर भी मोदी और ट्रम्प में चर्चा हुई

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 10:01 PM IST

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बीच मंगलवार को फोन पर चर्चा हुई। प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया कि दोनों नेताओं के बीच भारत-चीन सीमा विवाद और अमेरिका में अश्वेत नागरिक के मारे जाने के बाद शुरू हुई हिंसा जैसे मुद्दों पर चर्चा हुई।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने नरेंद्र मोदी को अमेरिका में होने वाली जी-7 समिट में आने का न्योता भी दिया है।

डब्ल्यूएचओ में सुधार पर भी मोदी-ट्रम्प में चर्चा

पीएमओ के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका में जारी हिंसक घटनाओं को लेकर चिंता जाहिर की है और उन्होंने उम्मीद जाहिर की है कि डोनाल्ड ट्रम्प जल्द से जल्द हालात को संभालने का रास्ता ढूंढ लेंगे। दोनों नेताओं के बीच कोरोनावायरस संकट, भारत-चीन सीमा विवाद और वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन में सुधारों को लेकर भी चर्चा हुई।

भारत-चीन सीमा विवाद पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने क्या कहा था?
अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने दो बार भारत और चीन के विवाद में मध्यस्थता की पेशकश की थी। इसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बातचीत का दावा किया और यह भी कहा था- भारत और चीन के बीच एक बड़ा टकराव चल रहा है। मैं नरेंद्र मोदी को बहुत पसंद करता हूं। अगर मुझसे मदद मांगी जाती है तो मैं यह (मध्यस्थता) करूंगा।

अमेरिका की मध्यस्थता की पेशकश पर भारत और चीन ने क्या कहा?
चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन ने कहा था- भारत और चीन आपसी बातचीत के जरिए मुद्दे को सुलझाने में सक्षम हैं। थर्ड पार्टी की कोई जरूरत नहीं है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने मध्यस्थता की पेशकश ठुकरा दी थी। मंत्रालय ने कहा था कि पड़ोसी के साथ मसले का शांतिपूर्ण हल निकालने के लिए कूटनीतिक स्तर पर प्रयास जारी हैं।

मोदी ने दूरदर्शिता और हालत को वक्त रहते भांपने को लेकर डोनाल्ड ट्रम्प की तारीफ की। मोदी ने कहा कि भारत को अमेरिका के साथ काम करके खुशी है। डोनाल्ड ट्रम्प ने भी मोदी को जी-7 समिट में आने का न्योता दिया और मोदी ने इस समिट की सफलता के लिए ट्रम्प को शुभकामनाएं दी हैं। 

क्या है जी-7?

जी-7 सात बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों का एक समूह है। इसमें फ्रांस, कनाडा, जर्मनी, इटली जापान, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं। इसे ग्रुप ऑफ सेवन भी कहा जाता है। ये सभी देश आपसी हितों के मामलों पर चर्चा के लए हर साल मिलते हैं।

डब्ल्यूएचओ से क्यों खफा हैं डोनाल्ड ट्रम्प?
अमेरिका पहले ही डब्ल्यूएचओ की फंडिंग रोक चुका है। अब डोनाल्ड ट्रम्प ने डब्ल्यूएचओ के साथ सभी रिश्ते खत्म करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि हम डब्ल्यूएचओ के कोटे का फंड स्वास्थ्य क्षेत्र में काम करने वाली किसी दूसरी संस्था को देंगे। 

ट्रम्प ने कहा था कि डब्ल्यूएचओ पर चीन का पूरा नियंत्रण है। चीन उसे 4 करोड़ डॉलर देता है और अमेरिका एक साल में 45 करोड़ डॉलर की मदद देता है। दोनों ने हमारी मांग नहीं मानी, इसलिए हम डब्ल्यूएचओ से संबंध खत्म कर रहे हैं। 

Categories
sports

विदेश मंत्री पोम्पियो बोले- चीन भारत की सीमा पर सैनिक बढ़ा रहा, दबदबा कायम करने वाली सरकारें ही ऐसा करती हैं


  • अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा-पिछले दो हफ्ते से चीन और भारत के बीच तनाव बढ़ रहा है, आखिर ये हो क्या रहा है?
  • पोम्पियो ने यह भी कहा- चीन की कम्युनिस्ट पार्टी अब भी वुहान से फैले कोरोना वायरस की जानकारी छिपा रही है

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 12:05 PM IST

वॉशिंगटन. अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने भारत-चीन सीमा पर बढ़ते तनाव पर चिंता जाहिर की है। उन्होंने सोमवार को एक इंटरव्यू में कहा कि आज भी हम देख रहे हैं कि चीन भारत के उत्तरी हिस्से में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर सैनिकों की संख्या बढ़ा रहा है। वह विस्तार करना चाहता है। दबदबा कायम करने वाली सरकारें ही ऐसा करती है। चीन ने कई ऐसे काम किए हैं जो बताते हैं कि वह अपनी ताकत बढ़ाना चाहता है।

पोम्पियो ने यह भी कहा कि हाल के दिनों में उत्तर सिक्किम और लद्दाख में भारत और और चीन की सेना ने कई चीजें जुटाई हैं। दो हफ्ते से दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ रहा है। अब तक इसका कोई हल नहीं निकाला जा सका है। आखिर ये हो क्या रहा है?

चीन ने हॉन्गकॉन्ग की आजादी छीन ली
पोम्पियो ने कहा कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी अब भी वुहान से फैले कोरोनावायरस की जानकारी छिपा रही है। इससे दुनियाभर में महामारी को रोकने में देरी हुई। इसने हॉन्गकॉन्ग के लोगों की आजादी बर्बाद कर दी। चीन क्या सोचता है, इसकी बानगी इन दो चीजों से मिल सकती है। चीन की दूसरों की बौद्धिक संपत्ति चुराने की कोशिशें बदस्तूर जारी है। वह दक्षिण चीन सागर में भी अपनी ताकत बढ़ाना चाहता है। चीन के ये ऐसे काम है, जिसका पूरी दुनिया पर असर पड़ेगा। 

20 साल में अमेरिका ने चीन को उचित जवाब नहीं दिया

अमेरिकी विदेश मंत्री के मुताबिक, पिछले कई सालों से चीन अपनी सैन्य ताकत बढ़ा रहा है। उसका कड़े तेवर दिखाना भी बदस्तूर जारी है। वह दुनिया में सभी जगहों पर सड़क और पोर्ट बना रहा है, ताकि उसकी सेना पहुंच सके। 20 साल में अमेरिका ने चीन की इन गतिविधियों का सही ढंग से जवाब नहीं दिया। हमने 150 करोड़ लोगों के चीनी बाजार को अमेरिका की अर्थव्यवस्था की लिहाज से अहम समझा। हमें लगा कि अगर चीन पर कार्रवाई करते हैं तो वह दूसरे देशों को हमारा साथ देने से मना कर देगा।

Categories
sports

बीएसई 146 अंक और निफ्टी 54 पॉइंट ऊपर खुला, सोमवार को अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 91 अंक ऊपर बंद हुआ था


  • सोमवार को बीएसई 879 अंक ऊपर 33,303 पर और निफ्टी 245 पॉइंट ऊपर 9,826 पर बंद हुआ था
  • कल को अमेरिकी बाजार नैस्डैक 0.66 फीसदी बढ़त के साथ 62 अंक ऊपर 9,552 पर बंद हुआ था

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 09:50 AM IST

मुंबई. सप्ताह में आज मंगलवार को कारोबार के दूसरे दिन बीएसई 146.67 अंक ऊपर और निफ्टी 54.7 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला। अब तक की ट्रेडिंग के दौरान बीएसई 343.97 अंक तक और निफ्टी 103.25 पॉइंट तक ऊपर जाने में कामयाब रहा है।

इससे पहले सोमवार को बीएसई 481.95 अंक ऊपर और निफ्टी 146.55 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला था। दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान बीएसई 1249.73 अंक तक और निफ्टी 351.30 पॉइंट तक ऊपर जाने में कामयाब रहा था। कारोबार के अंत में बीएसई 879.42 अंक ऊपर 33,303.52 पर और निफ्टी 245.85 पॉइंट ऊपर 9,826.15 पर बंद हुआ था।

दुनियाभर के बाजार बढ़त के साथ बंद
सोमवार को दुनियाभर के ज्यादातर बाजार बढ़त के साथ बंद हुए। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 0.36 फीसदी की बढ़त के साथ 91.91 अंक ऊपर 25,475.00 पर बंद हुआ था। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 0.66 फीसदी बढ़त के साथ 62.18 अंक ऊपर 9,552.05 पर बंद हुआ था। दूसरी तरफ, एसएंडपी 0.38 फीसदी बढ़त के साथ 11.42 पॉइंट ऊपर 3,055.73 पर बंद हुआ था। हालांकि, चीन का शंघाई कम्पोसिट 0.07 फीसदी गिरावट के साथ 1.94 अंक नीचे 2,913.49 पर बंद हुआ था। इधर इटली, फ्रांस के बाजार में भी बढ़त रही।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें
देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,98,370 हो गई है। इनमें 96,997 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 95,754 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 5,608 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 6,366,197 हो चुकी है। इनमें 377,437 की मौत हो चुकी है। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 106,925 हो चुकी है।

इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (आईजीएल) ने सीएनजी की कीमत में 1 रुपए प्रति किलो की बढ़ोतरी कर दी है। इसका असर राजधानी दिल्ली और इसके आसपास के जिलों में पड़ेगा। आईजीएल के मुताबिक, सीएनजी स्टेशनों को कोरोनावायरस से मुक्त करने में आ रहे खर्च को देखते हुए कीमतों में यह बढ़ोतरी की गई है। नई कीमतें आज यानी 2 जून से लागू हो गई हैं।

विश्वस्तरीय रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर्स  सर्विस ने सोमवार को भारत की संप्रभु रेटिंग घटा दी। रेटिंग एजेंसी ने देश की रेटिंग को बीएए2 से घटाकर बीएए3 कर दिया। रेटिंग एजेंसी ने कहा कि लंबे समय तक संभावित आर्थिक सुस्ती और खराब होती जा रही वित्तीय स्थिति से निपटने की नीतियों को लागू करना सरकार के लिए चुनौतीपूर्ण होगा।

09:40 AM बीएसई प्राइवेट इंडेक्स में शामिल 11 में से 8 के शेयरों में बढ़त और 3 में गिरावट है; कोटक बैंक के शेयर में सबसे ज्यादा 6.91 फीसदी उछाल है।

09:30 AM निफ्टी 50 के टॉप-5 गेनर और लूजर स्टॉक्स; कोटक बैंक के शेयर में सबसे ज्यादा बढ़त है।

09:28 AM बीएसई के 23 सेक्टर में से अभी 22 में बढ़त बनी है।

09:25 AM बीएसई के 32 इंडेक्स में से अभी 31 में बढ़त बनी है।

09:21 AM बीएसई 30 में शामिल 16 कंपनियों के शेयरों में बढ़त और 14 के शेयरों में गिरावट है; कोटक बैंक के शेयर में 4.47% का उछाल।

09:15 AM बीएसई 73.27 अंक ऊपर 33,376.79 पर और निफ्टी 17.45 पॉइंट ऊपर 9,843.60 पर कारोबार कर रहा है।

सोमवार को अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद

Categories
sports

481 अंक ऊपर खुला बीएसई, अब तक की ट्रेडिंग के दौरान 910 अंक तक ऊपर पहुंचा; निफ्टी में 265 पॉइंट ऊपर की बढ़त


  • शुक्रवार को बीएसई 223 अंक ऊपर 32,424 पर और निफ्टी 90 पॉइंट ऊपर 9,580 पर बंद हुआ था
  • शुक्रवार को अमेरिकी बाजार नैस्डैक 1.29 फीसदी बढ़त के साथ 1208 अंक ऊपर 9,489 पर बंद हुआ था

दैनिक भास्कर

Jun 01, 2020, 09:46 AM IST

मुंबई. सप्ताह में आज सोमवार को कारोबार के पहले दिन बीएसई 481.95 अंक ऊपर और निफ्टी 146.55 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला। आज बीएसई में उछाल दिख रहा है। शुरुआती ट्रेडिंग के दौरान 910.86 अंकों तक की बढ़त देखने को मिली है।

इससे पहले शुक्रवार बीएसई और निफ्टी बढ़त के साथ बंद हुए थे। उस दिन बीएसई 159.3 अंक नीचे और निफ्टी 67.90 पॉइंट की गिरावट के साथ खुला था, लेकिन दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान बीएसई 279.93 अंक तक ऊपर जाने में कामयाब रहा। कारोबार के अंत में बीएसई 223.51 अंक ऊपर 32,424.10 पर और निफ्टी 90.20 पॉइंट ऊपर 9,580.30 पर बंद हुआ।

दुनियाभर के बाजार गिरावट के साथ बंद
शुक्रवार को दुनियाभर के ज्यादातर बाजारों में उतार-चढ़ाव देखने को मिला। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 0.07 फीसदी की गिरावट के साथ 17.53 अंक नीचे 25,383.10 पर बंद हुआ था। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 1.29 फीसदी बढ़त के साथ 120.88 अंक ऊपर 9,489.87 पर बंद हुआ था। दूसरी तरफ, एसएंडपी 0.48 फीसदी बढ़त के साथ 14.58 पॉइंट ऊपर 3,044.31 पर बंद हुआ था। चीन का शंघाई कम्पोसिट 1.97 फीसदी बढ़त के साथ 56.13 अंक ऊपर 2,908.48 पर बंद हुआ था। इधर इटली, फ्रांस, जर्मनी के बाजार में गिरावट रही।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें
देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,90,622 हो गई है। इनमें 93,348 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 91,855 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 5,408 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 6,263,911 हो चुकी है। इनमें 373,899 की मौत हो चुकी है। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 106,195 हो चुकी है।

09:43 AM बीएसई 863.31 अंक ऊपर 33,287.41 पर और निफ्टी 249.55 पॉइंट ऊपर 9,829.85 पर कारोबार कर रहा है।

09:40 AM निफ्टी 50 के टॉप-10 गेनर स्टॉक्स; JWS स्टील लिमिटेड के शेयरों में सबसे ज्यादा बढ़त है।

09:28 AM बीएसई के सभी 23 सेक्टर में अभी बढ़त बनी हुई है।

09:26 AM बीएसई के सभी 32 इंडेक्स में अभी बढ़त बनी हुई है।

09:21 AM बीएसई 30 में शामिल सभी कंपनियों के शेयरो में बढ़त है;  एक्सिस बैंक के शेयर में सबसे ज्यादा 5.05 फीसदी बढ़त है।

09:15 AM बीएसई 622.50 अंक ऊपर 33,046.60 पर और निफ्टी 186.20 पॉइंट ऊपर 9,766.50 पर कारोबार कर रहा है।

शुक्रवार को अमेरिकी बाजार में रहा उतार-चढ़ाव

Categories
sports

वॉशिंगटन समेत अमेरिका के 40 शहरों में कर्फ्यू; व्हाइट हाउस पर प्रदर्शन के दौरान ट्रम्प को अंडरग्राउंड बंकर में ले जाना पड़ा था


  • वॉशिंगटन में 6 दिन से हो रहा प्रदर्शन, रविवार रात व्हाइट हाउस के सामने प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले छोड़े गए
  • वॉशिंगटन समेत 15 शहरों में करीब 5 हजार नेशनल गार्ड्स की तैनाती, 2 हजार गार्ड्स को तैयार रहने को कहा गया

दैनिक भास्कर

Jun 01, 2020, 09:45 AM IST

वॉशिंगटन. अमेरिका में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के मामले में विरोध बढ़ता जा रहा है। राजधानी वॉशिंगटन डीसी समेत 40 शहरों में कर्फ्यू लगाया जा चुका है। रविवार रात को भी प्रदर्शनकारियों ने व्हाइट हाउस के सामने काफी प्रदर्शन किया, लिहाजा सुरक्षाबलों को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, शुक्रवार को व्हाइट हाउस के सामने प्रदर्शनों के दौरान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को कुछ देर के लिए अंडरग्राउंड बंकर में ले जाना पड़ा था।

न्यूज चैनल सीएनएन के मुताबिक, वॉशिंगटन समेत 15 शहरों में करीब 5 हजार नेशनल गार्ड्स की तैनाती की गई है। जरूरत पड़ने के लिहाज से 2 हजार गार्ड्स को मुस्तैद रहने को कहा गया है।

व्हाइट हाउस पर सैकड़ों प्रदर्शनकारी जुटने से लिया फैसला
न्यूयॉर्क टाइम्स ने एक व्यक्ति के हवाले से रिपोर्ट छापी। इसके मुताबिक, शुक्रवार को व्हाइट हाउस पर सैकड़ों की तादाद में प्रदर्शनकारी जुटे। सुरक्षा के लिहाज से ट्रम्प को एक घंटे से कम वक्त के लिए एक अंडरग्राउंड बंकर में ले जाया गया। प्रदर्शनकारियों के पीछे हटाने में सीक्रेट सर्विस और यूनाइटेड स्टेट्स पार्क पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

अखबार के मुताबिक, ट्रम्प की टीम व्हाइट हाउस के बाहर इतनी बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारियों के जुटने से हैरान थे। हालांकि, यह साफ नहीं हो पाया कि मेलानिया और बैरन ट्रम्प को बंकर में ले जाया गया या नहीं।

26 मई को फ्लॉयड को गिरफ्तार किया गया था
मिनेपोलिस में 26 मई को फ्लॉयड को पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया था। इससे पहले एक पुलिस अफसर ने फ्लॉयड को सड़क पर दबोचा था और अपने घुटने से उसकी गर्दन को करीब आठ मिनट तक दबाए रखा था। फ्लॉयड के हाथों में हथकड़ी थी। इसका वीडियो भी वायरल हुआ था। इसमें 46 साल का जॉर्ज लगातार पुलिस अफसर से घुटना हटाने की गुहार लगाता रहा। उसने कहा, ‘आपका घुटना मेरे गर्दन पर है। मैं सांस नहीं ले पा रहा हूं… ।’’ धीरे-धीरे उसकी हरकत बंद हो जाती है। इसके बाद अफसर कहते हैं, ‘उठो और कार में बैठो’, तब भी उसकी कोई प्रतिक्रिया नहीं आती। इस दौरान आस-पास काफी भीड़ जमा हुई। उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

Categories
sports

18 हफ्ते में देश में 1.65 लाख, जबकि अमेरिका में 14.77 लाख केस आए; इस दौरान रोज नए मामलों की ग्रोथ रेट भी 30% से घटकर 5% हुई


  • देश में 30 जनवरी को कोरोना का पहला मरीज मिला था, उसके बाद 31 मई तक 1.82 लाख से ज्यादा मरीज
  • अमेरिका में 18 हफ्तों में 14.77 लाख से ज्यादा मरीज मिले हैं, लेकिन चीन में इतने हफ्तों तक 84 हजार 494 मामले
  • लॉकडाउन से पहले तक हमारे देश में कोरोना की रफ्तार 30% थी, मई में ये रफ्तार घटकर 5% पर आ गई

दैनिक भास्कर

Jun 01, 2020, 07:37 AM IST

नई दिल्ली. कोरोनावायरस से जूझते-जूझते हमें 4 महीने पूरे हो गए। हमारे देश में कोरोनावायरस का पहला मामला 30 जनवरी को केरल में सामने आया था। उसके बाद 2 फरवरी तक ही केरल में 3 कोरोना संक्रमित सामने आ गए। ये तीनों ही चीन के वुहान शहर से लौटकर आए थे।

उसके बाद करीब एक महीने तक देश में कोरोना का कोई भी नया मरीज नहीं मिल, लेकिन 2 मार्च के बाद से संक्रमितों की संख्या रोजाना बढ़ती चली गई।

4 महीने पूरे होने के साथ-साथ 29 मई को कोरोनावायरस के 18 हफ्ते भी पूरे हो चुके हैं। इस दौरान संक्रमण के मामले 3 से बढ़कर 1.65 लाख से ज्यादा हो गए। लेकिन, चीन में इतने हफ्ते तक 84 हजार 494 मामले ही सामने आए। यानी कि अब तक हमारे देश में चीन की तुलना में 48% ज्यादा मामले हैं। हालांकि, 31 मई तक देश में 1.82 लाख से ज्यादा मामले आ चुके हैं।

हालांकि, आबादी में हमसे चार गुना से भी कम अमेरिका में 18 हफ्तों में 14.77 लाख से ज्यादा मामले आ गए हैं। जबकि, इटली और स्पेन में अभी कोरोनावायरस को 17 हफ्ते ही हुए हैं और अभी तक वहां संक्रमितों की संख्या 2.30 लाख के पार पहुंच गई है।

114 दिन में हमारे यहां 1.28 लाख मरीज थे, अमेरिका में इतने मरीज 71वें दिन में हो गए थे
हमारे देश में एक अच्छी बात ये भी है कि बाकी देशों की तुलना में हमारे यहां कोरोनावायरस की रफ्तार भी धीमी है। हमारे यहां बाकी देशों की तुलना में केस के दोगुने होने का समय काफी ज्यादा है।

चीन में कोरोनावायरस के 100 मामले पहले ही दिन में मिल गए थे। जबकि, हमारे यहां इतने मरीज होने में 42 दिन लगे। लेकिन, अमेरिका में पहले 100 केस 44 दिन में सामने आए थे।

इसी तरह 1 हजार मरीज हमारे यहां 58वें दिन में हो गए थे। जबकि, चीन में 5वें दिन और अमेरिका में 53वें दिन में ही हो गए थे। 

वहीं, 1 लाख 28 हजार से ज्यादा मरीज सामने आने में हमारे यहां 114 दिन लगे थे। जबकि, इतने ही मरीज अमेरिका में 73वें दिन में आ गए थे। अमेरिका में कोरोना का पहला मरीज 21 जनवरी को मिला था।

लॉकडाउन का फायदा मिला, तभी कोरोना की रफ्तार इतनी धीमी?
कोरोनावायरस को फैलने से रोकने के लिए सबसे पहले 22 मार्च को एक दिन का जनता कर्फ्यू लगाया गया। 21 मार्च तक कोरोना के नए मामलों में रोजाना 30% की ग्रोथ हो रही थी। लेकिन, उसके बाद मामलों की ग्रोथ रेट में कमी आने लगी।

25 मार्च से देश में पूरी तरह से लॉकडाउन लग गया। लॉकडाउन का पहला फेज 14 अप्रैल तक था। इस दौरान नए मामलों की ग्रोथ रेट घटकर 10% पर आ गई। उसके बाद दूसरे फेज का लॉकडाउन 3 मई को खत्म हुआ। तब तक कोरोना के नए मामलों की ग्रोथ रेट 7% रह गई। अब ये और घटकर 5% पर आ गई।

Categories
sports

ट्रम्प ने जून में होने वाली जी-7 समिट सितंबर तक टाली, अपने विमान में ही मीडिया को यह जानकारी दी; बैठक में भारत समेत 4 देशों को भी बुलाएंगे


  • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा- अब जी-7 समिट सितंबर में संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक के पहले या उसके बाद हो सकती है
  • जी-7 में अमेरिका, फ्रांस, कनाडा, ब्रिटेन, जर्मनी, जापान और इटली शामिल, सभी सदस्य देश बारी-बारी से सालाना समिट को होस्ट करते हैं

दैनिक भास्कर

May 31, 2020, 08:49 AM IST

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने जून में होने वाली जी-7 समिट टालने का फैसला किया है। उन्होंने शनिवार को अपने आधिकारिक प्लेन एयरफोर्स वन पर इस सम्मेलन से जुड़े सवालों के जवाब देते हुए इस बात की जानकारी दी। ट्रम्प ने कहा, ‘‘मैंने इस शिखर सम्मेलन के टालने का फैसला किया है। मुझे नहीं लगता है कि जी-7 दुनिया की मौजूदा स्थिति का सही ढंग से प्रतिनिधित्व करता है। यह देशों का बहुत पुराना समूह है।’’

ट्रम्प ने यह भी कहा, ‘‘जी-7 के बदले एक विस्तारित सम्मेलन बुलाया जाएगा। इसमें भारत, रूस, दक्षिण कोरिया और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों को भी आमंत्रित करना चाहेंगे। अब यह सितंबर में संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक के पहले या उसके बाद हो सकता है।’’ 

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होना था सम्मेलन

जी-7 में अमेरिका, फ्रांस, कनाडा, ब्रिटेन, जर्मनी, जापान और इटली शामिल हैं। सभी सदस्य देश बारी-बारी से सालाना बैठक का आयोजन करते हैं। इस बार अमेरिका के कैंप डेविड में जी-7 सम्मेलन होना था। हालांकि, कोरोना की वजह से सदस्य देशों के नेताओं का व्यक्तिगत तौर पर आना मुमकिन नहीं था। ऐसे में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जून में यह बैठक बुलाने का फैसला किया गया था। 

इससे पहले अमेरिका में 2012 में जी-7 समिट हुई थी

आखिरी बार अमेरिका में यह समिट 2012 में हुई थी। पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने मैरीलैंड के कैंप डेविड में सरकारी इमारत में समिट कराई थी। 2004 में पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश ने जॉर्जिया के सी आइलैंड रिजॉर्ट में इसे आयोजित किया था। अगस्त 2019 में जी-7 समिट फ्रांस के बियारिट्ज शहर में हुई थी।

Categories
sports

अश्वेत की मौत पर करीब 20 शहरों में प्रदर्शन; ह्यूस्टन में 200 प्रदर्शनकारी गिरफ्तार, डेट्रॉयट में एक की मौत


  • अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की गर्दन पर घुटना रखने वाले पुलिसकर्मी पर हत्या का आरोप दर्ज
  • राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने जॉर्ज फ्लॉयड के परिवार से बात की, इस घटना को बेहद भयावह बताया

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:21 PM IST

मिनेसोटा. अमेरिका में अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत का मामला गरमाता जा रहा है। देश के लगभग 20 शहरों में प्रदर्शन हो रहे हैं। टेक्सास राज्य के ह्यूस्टन में शुक्रवार की रात करीब 200 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं, प्रदर्शन के दौरान डेट्रॉयट में 19 साल की युवक की गोली लगने से मौत हो गई। पोर्टलैंड में प्रशासन ने दंगे की स्थिति घोषित कर दी है। मिनेपोलिस में 50 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और प्रदर्शन को शांत कराने के लिए 2500 अफसरों को तैनात किया गया है।

प्रमुख शहरों के हालात

ह्यूस्टन पुलिस विभाग के मुताबिक, प्रदर्शन में चार पुलिस अफसर जख्मी हुए हैं और आठ वाहनों को नुकसान हुआ है। कई पुलिसकर्मियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिसकर्मियों पर अस्पतालों में भी हमले किए गए। कई दुकानों को आग के हवालले कर दिया गया।

डेट्रायट में प्रदर्शन के दौरान अज्ञात व्यक्ति की गोली से 19 साल के एक युवक की जान चली गई। पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है कि युवक प्रदर्शन का हिस्सा था या नहीं। लेकिन, जहां गोली चली वहां प्रदर्शन हो रहे थे। यहां एक अधिकारी पर हमला करने के दौरान एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है।

मिनेपोलिस में स्थिति खतरनाक बनी हुई है। शहर में प्रदर्शन जारी है। मिनेसोटा के गवर्नर टिम वाल्ज ने शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राज्य के इतिहास में यह लोगों द्वारा किया जा रहा अब तक का सबसे बड़ा प्रदर्शन है।

अटलांटा में सीएनएन सेंटर के बाहर प्रदर्शनकारियों ने शुक्रवार रात पुलिस पर कांच, पटाखे और ईंट से हमला किया। यहां पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच काफी तनाव देखने को मिली। हमले में दो पुलिस अफसर घायल हो गए।

डलास के मेयर एरिक जॉनसन ने जॉर्ज फ्लॉयड की मौत पर प्रदर्शनकारियों का समर्थन करते हुए न्याय की मांग की है। साथ ही उन्होंने शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करने की बात कही है। उन्होंने ट्विटर पर कहा- कछ लोग संपत्ति को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

व्हाइट हाउस के बाहर शुक्रवार को सैकड़ों लोगों ने प्रदर्शन किया

वॉशिंगटन स्थित व्हाइट हाउस के बाहर भी शुक्रवार को करीब सैकड़ों लोगों ने प्रदर्शन किया, जिसके बाद इसे बंद कर दिया गया है। वहीं, अश्वेत व्यक्ति की मौत में शामिल मिनेपोलिस के एक पुलिस अफसर पर थर्ड-डिग्री हत्या का आरोप लगाया गया है। हेनेपिन काउंटी के अटॉर्नी माइक फ्रीमैन ने ये जानकारी दी।

मिनेसोटा में इमरजेंसी लगी

मिनेसोटा राज्य के मिनेपोलिस शहर में दंगे भड़क गए हैं। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस स्टेशन को तोड़फोड़ के बाद आग के हवाले कर दिया। कुछ जगहों पर लूटपाट हुई। हालात बिगड़ते देख गवर्नर टिम वॉल्ज ने इमरजेंसी लगा दी। न्यूयॉर्क में पुलिस विरोधी प्रदर्शन हुए। इस दौरान कई लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। उधर, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने दंगाइयों को चेतावनी दी। कहा- अगर लूटपाट हुई तो हमारी तरफ से गोलियां चलेंगी।

26 मई को फ्लॉयड को गिरफ्तार किया गया था

मिनेपोलिस में 26 मई को फ्लॉयड को पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया था। इससे पहले एक पुलिस अफसर ने फ्लॉयड को सड़क पर दबोचा था और अपने घुटने से उसकी गर्दन को करीब आठ मिनट तक दबाए रखा था। फ्लॉयड के हाथों में हथकड़ी थी। इसका वीडियो भी वायरल हुआ था। इसमें 40 साल का जॉर्ज लगातार पुलिस अफसर से घुटना हटाने की गुहार लगाता रहा। उसने कहा, ‘आपका घुटना मेरे गर्दन पर है। मैं सांस नहीं ले पा रहा हूं… ।’’ धीरे-धीरे उसकी हरकत बंद हो जाती है। इसके बाद अफसर कहते हैं, ‘उठो और कार में बैठो’ तब भी उसकी कोई प्रतिक्रिया नहीं आती। इस दौरान आस-पास काफी भीड़ जमा होती है। उसे अस्पताल ले जाया जाता है, जहां उसकी मौत हो जाती है।

ट्रम्प ने फ्लॉयड के परिवार से बात की

  • ट्रम्प ने शुक्रवार को अमेरिकी बिजनेसमैन के साथ राउंडटेबल मीटिंग के दौरान कहा, ‘‘मैंने फ्लॉयड के परिवार से बात की है। इस घटना को लेकर मैंने दुख जताया। यह बेहद भयावह था। यह एक ऐसी घटना थी, जिसके लिए कोई बहाना नहीं था।’’
  • ट्रम्प के दंगाइयों को लेकर किए गए ट्वीट पर एक बार फिर ट्वीटर ने आपत्ति जताई है। ट्विटर ने चार दिन में दूसरी बार उनके ट्वीट को रेड फ्लैग किया है। ट्विटर ने उनके ट्वीट को दंगा को प्रोत्साहित करने वाला बताया है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के चेतावनी के बाद व्हाइट हाउस ने इसे रीट्वीट भी किया है। उनके ट्वीट को ब्लाॉक नहीं किया गया है। हालांकि, उस पर वर्किंग नोटिस लगा दिया गया है। अब उनके ट्वीट पर कमेंट या इसे रीट्वीट नहीं किया जा सकेगा।

यूएन ने कड़े कदम उठाने की मांग की 
यूनाइटेड नेशंस (यूएन) की मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बैशले ने अमेरिका से पुलिस अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। बैशले ने कहा कि अमेरिकी पुलिस अधिकारी काफी लंबे समय से अफ्रीकन-अमेरिकन लोगों की हत्या करते रहे हैं। यह घटना नई नहीं है। उन्होंने अधिकारियों को दोषी ठहराने और सजा देनी की मांग की हैं। उन्होंने कहा कि पहले भी कई मामलों में ऐसी हत्याओं पर जांच तो हुई है, लेकिन नतीजे कभी सही नहीं आए।



Categories
sports

सुबह 222 अंक ऊपर खुला बीएसई, अब तक की ट्रेडिंग के दौरान 400 अंक तक ऊपर गया; निफ्टी में 100 पॉइंट की बढ़त


  • बुधवार को बीएसई 995 अंक ऊपर 31,605 पर और निफ्टी 285 पॉइंट ऊपर 9,314 पर बंद हुआ था
  • कल अमेरिकी बाजार नैस्डैक 0.77 फीसदी बढ़त के साथ 72 अंक ऊपर 9,412 पर बंद हुआ था

दैनिक भास्कर

May 28, 2020, 10:23 AM IST

मुंबई. सप्ताह में आज गुरुवार को कारोबार के तीसरे दिन बीएसई 222.58 अंक ऊपर और निफ्टी 50.00 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला। इससे पहले बुधवार को बीएसई और निफ्टी बढ़त के साथ बंद हुआ था। अब तक की ट्रेडिंग के दौरान बीएसई 407 अंक तक ऊपर जाने में कामयाब रहा है। अभी ये बीएसई 400.61 अंक ऊपर 32,005.83 पर और निफ्टी 109.20 पॉइंट ऊपर 9,424.15 पर कारोबार कर रहा है।

कल सुबह बीएसई 183.81 अंक ऊपर और निफ्टी 53.15 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला था। दिनभर की ट्रेडिंग में शुरुआती उतार-चढ़ाव के बाद बीएसई 1051 अंक ऊपर और निफ्टी 299 पॉइंट तक ऊपर जाने में कामयाब रहा था। कारोबार के अंत में बीएसई 995.92 अंक ऊपर 31,605.22 पर और निफ्टी 285.90 पॉइंट ऊपर 9,314.95 पर बंद हुआ था।
इन बैंक के शेयरों में बढ़त

बैंक बढ़त (%)
इंडसइंड बैंक 4.50 %
एक्सिस बैंक 3.96 %
RBL बैंक 3.60 %
ICICI बैंक 3.18 %
सिटी यूनियन बैंक 3.12 %

दुनियाभर के ज्यादातर बाजार बढ़त के साथ बंद

बुधवार को दुनियाभर के ज्यादातर बाजारों में बढ़त देखने को मिली थी। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 2.21 फीसदी की बढ़त के साथ 553.16 अंक ऊपर 25,548.30 पर बंद हुआ था। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 0.77 फीसदी बढ़त के साथ 72.14 अंक ऊपर 9,412.36 पर बंद हुआ था। दूसरी तरफ, एसएंडपी 1.48 फीसदी बढ़त के साथ 44.36 पॉइंट ऊपर 3,036.13 पर बंद हुआ था। चीन का शंघाई कम्पोसिट 0.09 फीसदी गिरावट के साथ 2.63 अंक नीचे 2,839.43 पर बंद हुआ था। इधर इटली, फ्रांस, जर्मनी के बाजार में भी बढ़त रही।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें
देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,58,086 हो गई है। इनमें 85,792 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 67,749 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 4,534 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 5,789,843 हो चुकी है। इनमें 357,432 की मौत हो चुकी है। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 102,107 हो चुकी है।

10:16 AM बीएसई 400.61 अंक ऊपर 32,005.83 पर और निफ्टी 109.20 पॉइंट ऊपर 9,424.15 पर कारोबार कर रहा है।

09:48 AM बीएसई बैंकेक्स में शामिल सभी 9 कंपनियों के शेयरों में बढ़त है।

अमेरिका की तेल उत्पादक कंपनी यूनिट कॉरपोरेशन ने कहा कि उसने बैंक्रप्सी (दिवालिया होने) के लिए आवेदन किया है। कंपपनी ने कोरोनावायरस संकट से निपटने के लिए 65 करोड़ डॉलर का कर्ज लिया था।

दुनिया की दिग्गज विमान निर्माता अमेरिकी कंपनी बोइंग ने 12 हजार कर्मचारियों को निकालने का ऐलान किया है। इसमें से 6770 कर्मचारियों को इसी सप्ताह नौकरी से निकाल दिया जाएगा। जबकि करीब 5 हजार कर्मचारियों की छंटनी अगले सप्ताह की जाएगी।

09:32 AM निफ्टी 50 के टॉप-10 गेनर और लूजर स्टॉक्स; एक्सिस बैंक के शेयर में सबसे ज्यादा उछाल है। 

09:29 AM बीएसई की 23 सेक्टर में से अभी 19 में बढ़त और 4 में गिरावट है।

09:26 AM बीएसई की सभी 32 इंडेक्स आज बढ़त के साथ खुले हैं।

09:23 AM बीएसई 30 में शामिल 20 कंपनियों के शेयरों में बढ़त और 22 के शेयरों में गिरावट है

09:15 AM बीएसई 213.32 अंक ऊपर 31,818.54 पर और निफ्टी 53.85 पॉइंट ऊपर 9,368.80 पर कारोबार कर रहा है।

बुधवार को अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद

Categories
sports

बीएसई 183 अंक और निफ्टी 53 पॉइंट ऊपर खुला, मंगलवार को अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 529 अंक ऊपर बंद हुआ था


  • मंगलवार को बीएसई 63 अंक नीचे 30,609 पर और निफ्टी 10 पॉइंट नीचे 9,029 पर बंद हुआ था
  • कल अमेरिकी बाजार नैस्डैक 0.17 फीसदी बढ़त के साथ 15 अंक ऊपर 9,340 पर बंद हुआ था

दैनिक भास्कर

May 27, 2020, 09:40 AM IST

मुंबई. सप्ताह में आज बुधवार को कारोबार के दूसरे दिन बीएसई 183.81 अंक ऊपर और निफ्टी 53.15 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला। हालांकि, 15 मिनट की ट्रेडिंग के दौरान ही बाजार में गिरावट आ गई और बीएसई 58.05 अंक नीचे आ गया। अभी बीएसई 17.69 अंक नीचे 30,591.61 पर और निफ्टी 6.10 पॉइंट नीचे 9,022.95 पर कारोबार कर रहा है। 
इससे पहले मंगलवार को बीएसई और निफ्टी गिरावट के साथ बंद हुआ था। कल सुबह बीएसई 191.68 अंक ऊपर और निफ्टी 60.50 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला था। दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान बीएसई 414 अंक ऊपर गया, लेकिन करीब 1.30 PM पर इसमें गिरावट शुरू हो गई और बीएसई 160 अंक नीचे चला गया। कारोबार के अंत में बीएसई 63.29 अंक नीचे 30,609.30 पर और निफ्टी 10.20 पॉइंट नीचे 9,029.05 पर बंद हुआ।
दुनियाभर के ज्यादातर बाजार बढ़त के साथ बंद
मंगलवार को दुनियाभर के ज्यादातर बाजारों में बढ़त देखने को मिली थी। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 2.17 फीसदी की बढ़त के साथ 529.95 अंक ऊपर 24,995.10 पर बंद हुआ था। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 0.17 फीसदी बढ़त के साथ 15.63 अंक ऊपर 9,340.22 पर बंद हुआ था। दूसरी तरफ, एसएंडपी 1.23 फीसदी बढ़त के साथ 36.32 पॉइंट ऊपर 2,991.77 पर बंद हुआ था। हालांकि, चीन का शंघाई कम्पोसिट 0.22 फीसदी गिरावट के साथ 6.18 अंक नीचे 2,840.37 पर बंद हुआ था। इधर इटली, फ्रांस, जर्मनी के बाजार में भी बढ़त रही।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें
देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,50,793 हो गई है। इनमें 82,161 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 64,277 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 4,344 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 56 लाख 83 हजार 802 हो चुकी है। इनमें 3 लाख 52 हजार 200 की मौत हो चुकी है। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1,00,572 हो चुकी है।

09:37 AM निफ्टी 50 के टॉप-10 लूजर स्टॉक्स; महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयर में सबसे ज्यादा गिरावट है।

09:34 AM निफ्टी 50 के टॉप-10 गेनर स्टॉक्स; हिंडाल्को इंडस्ट्रीज के शेयर में सबसे ज्यादा उछाल है।

09:30 AM बीएसई के 23 सेक्टर में से 11 में बढ़त और 12 में गिरावट है।

09:26 AM बीएसई के 32 इंडेक्स में से 29 में बढ़त और 3 में गिरावट है।

09:21 AM बीएसई 30 में शामिल 14 कंपनियों के शेयरों में बढ़त और 16 कंपनियों के शेयरों में गिरावट है।

09:15 AM बीएसई 131.37 अंक ऊपर 30,740.67 पर और निफ्टी 28.55 पॉइंट ऊपर 9,057.60 पर कारोबार कर रहा है।

अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद

Categories
sports

वहां भी नौकरियां खोईं, बिजनेस बंद हुआ; लोग फंसे और सामान की किल्लत भी झेलनी पड़ी


  • कोरोना के बाद जो नौकरियां गईं, उसमें श्रुति की जॉब चली गई, जॉब जाने के कुछ वक्त बाद श्रुति को नियम मुताबिक अपने देश लौटना है
  • दो महीने का दाल-चावल, पोहा-उपमा स्टॉक किया, इंफेक्शन के डर से सब्जियां घरों में ही उगा रहे लोग

अक्षय बाजपेयी

May 26, 2020, 01:03 PM IST

नईदिल्ली. अमेरिका में करीब 27 लाख भारतीय रहते हैं। कोरोना का जितना असर भारत में उससे कहीं ज्यादा प्रभावित अमेरिका है। लॉकडाउन भी दोनों ही देशों में लगाया गया। और जो दिक्कतें भारत में हुई लगभग वैसी ही यूएस में भी। वहां रहने वाले भारतीय इस दौरान क्या कर रहे हैं, हमने उनसे बात की, एक रिपोर्ट…

नौकरियां खोईं और बिजनेस बंद हुआ

आदित्य और श्रुति दोनों मुंबई के रहने वाले हैं। दोनों अमेरिका में नौकरी करते थे। कुछ समय पहले ही वे यूएस पहुंचे। कोरोना के बाद जो नौकरियां गईं, उसमें श्रुति की जॉब चली गई। जॉब जाने के कुछ वक्त बाद श्रुति को नियम मुताबिक अपने देश लौटना है। नई नौकरी की उम्मीद कम ही है। हो सकता है देश लौटना पड़े।

सौरव मालवीय यूएसए में रहते हैं और प्रोफेशनल वेडिंग फोटोग्राफर हैं। सौरव ने बताया कि लॉकडाउन के पहले हर महीने 6 से 7 लाख रुपए की अर्निंग थी लेकिन अभी फील्ड वर्क बंद है।

घर से ही एडिटिंग का कम चल रहा है। उन्होंने बताया कि, लॉकडाउन ने क्रिएटिविटी को और ज्यादा बढ़ा दिया है। अब मैं घर से ही प्रोडक्ट फोटोग्राफी कर रहा हूं।

नेचर की फोटोग्राफी कर रहा हूं क्योंकि यहां आने-जाने में कोई रोक नहीं है। एडिटिंग में नए एक्सपेरिमेंट कर रहा हूं और ब्लॉगिंग भी शुरू कर चुका हूं। प्रोडक्ट फोटोग्राफी के ऑर्डर घर बैठे ही मिल रहे हैं। लॉकडाउन ने हमें और ज्यादा सोचने-समझने का मौका दिया है।

लॉकडाउन और फ्लाइट्स बंद होने से फंसे लोग

महाराष्ट्र की रहनेवाली नेहा दिसंबर में 6 महीने के लिए यूएस आईं थी। लेकिन अब वह समय पूरा होने वाला है और इंटरनेशनल फ्लाइट शुरू होने के कोई आसार नहीं दिख रहे। नेहा का वापस जाने का रिजर्वेशन मई का था। वे आगे की प्रोसेस को लेकर बहुत टेंशन में हैं।

विपुल चावला चंडीगढ़ से हैं। अमेरिका में फेसबुक में नौकरी करते हैं। उनका परिवार भारत में फंसा हुआ है और वह अकेले अमेरिका में हैं। दिवाली पर वह पूरी फैमिली के साथ इंडिया आए थे। अप्रैल में उनके बेटे का पहला बर्थडे था।

इन दिनों विपुल यूएस में अकेले रह गए हैं। उनका परिवार इंडिया में है।

विपुल कहते हैं वह इस लॉकडाउन में परिवार के साथ समय बिता सकते थे लेकिन वह अकेले रह गए। खाली वक्त में कुकिंग और गार्डनिंग करते हैं। पहले कुकिंग नहीं आती थी लेकिन अब पूछ-पूछकर बहुत कुछ पकाना सीख गए हैं।

माइक्रोसॉफ्ट में जॉब करने वाले जयेश उपाध्याय के मां-पापा जनवरी में उनके पास अमेरिका गए थे। वहां से उन दोनों का ऑस्ट्रेलिया जाने का प्लान था। टूरिस्ट वीजा पर वह छह महीने ही यूएस में रह सकते हैं।

जयेश के पैरेंट्स इन दिनों यूएस में ही हैं और अब बच्चों और परिवार के साथ वक्त बिता रहे हैं।

उन्हें यही तनाव है कि बस वीजा लिमिट आगे बढ़ जाए। हालांकि पूरा परिवार साथ है तो ये वक्त उनके लिए वेकेशन बन गया है।

सामान की किल्लत वहां भी हुई, संक्रमण के डर से घर में सब्जियां उगाईं

सौरभ कहते हैं मेरा एक फ्रेंड है जोनाथन। एक दिन उसका मैसेज आया कि मोबाइल पर तुम्हें एक लिस्ट भेजी है उसे तुरंत चेक करो। उसमें टूथब्रश से लेकर ऐसे आइटम लिखे थे, जो लंबे समय तक खराब न हों। जिन्हें स्टोर किया जा सके।

शुरूआत में मैंने उसकी बात को ज्यादा गंभीरता से नहीं लिया। लेकिन बाद में लगा कि कुछ स्टोर कर ही लेते हैं। फालतू की रिस्क क्यों लें।

फेसबुक में काम करने वाले इंदौर के अनिमेश द्विवेदी ने बताया कि लॉकडाउन में कई सामान की किल्लत हो गई थी। इसलिए हमने पोहा, उपमा, रवा, मैगी जैसी चीजें जो हमें लगती ही हैं यह थोड़ी ज्यादा मात्रा में खरीद कर रख लीं।

कुछ दिनों बाद यहां कॉन्टैक्टलेस होम डिलिवरी शुरू हो गई थी। ऑर्डर करने पर डिलीवरी बॉय आता है और घर के बाहर ही सामान रखकर चले जाता है।

अनिमेश वर्क फ्रॉम होम मोड पर हैं। उनकी पत्नी अदिति एपल में काम करती हैं। वे फेसबुक में हैं।

अनिमेश कहते हैं कि, हम अभी वर्क फ्रॉम होम मोड पर हैं। इसलिए गार्डनिंग के लिए कुछ समय निकल जाता है। मैंने घर पर ही संतरे, नींबू, अमरूद के पेड़ लगाए हैं।

पुदीना, धनिया, मैथी, कद्दू, टमाटर, शिमला मिर्च घर ही उगाए हैं। हर रोज इनमें पानी-खाद देने का काम करता हूं। समर यूएसए में सब्जियों के लिए अच्छा मौसम भी होता है। खूब सब्जियां हो रही हैं।

इन दिनों अनिमेश घर में उगाई सब्जियां ही खा रहे हैं।

इसलिए बाहर से संक्रमण आने का डर नहीं है। फ्रेश सब्जियां खाने को मिल जाती हैं। हालांकि अब धीरे-धीरे चीजें नॉर्मल मोड पर जा रही हैं। किसी सामान की कोई किल्लत नहीं हो रही।

अनिमेश कहते हैं घर पर हमें जैविक सब्जियां मिल रही हैं। संक्रमण का कोई खतरा नहीं।
Categories
sports

बीएसई 191 अंक और निफ्टी 60 पॉइंट ऊपर खुला, शुक्रवार को अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 8 अंक नीचे बंद हुआ था


  • शुक्रवार को बीएसई 260 अंक नीचे 30,672 पर और निफ्टी 67 पॉइंट नीचे 9,039 पर बंद हुआ था
  • शुक्रवार को अमेरिकी बाजार नैस्डैक बिना किसी फीसदी बढ़त के साथ 9,324.59 पर बंद हुआ था

दैनिक भास्कर

May 26, 2020, 09:39 AM IST

मुंबई. सप्ताह में आज मंगलवार को कारोबार के पहले दिन बीएसई 191.68 अंक ऊपर और निफ्टी 60.50 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला। आज बाजार तीन दिन की छुट्टी के बाद खुला है। सोमवार को ईद के चलते बाजार बंद था। इससे पहले शुक्रवार को बीएसई और निफ्टी गिरावट के साथ बंद हुआ था। उस दिन कारोबार के अंत में बीएसई 260.31 अंक नीचे 30,672.59 पर और निफ्टी 67.00 पॉइंट नीचे 9,039.25 पर बंद हुआ था।

दुनियाभर के बाजार बढ़त के साथ बंद
ट्रेडिंग के आखिरी दिन यानी शुक्रवार, 22 मई को दुनियाभर के बाजारों में बढ़त देखने को मिली थी। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 0.04 फीसदी की गिरावट के साथ 8.96 अंक नीचे 24,465.20 पर बंद हुआ था। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 0.00 फीसदी बढ़त के साथ 0.00 अंक ऊपर 9,324.59 पर बंद हुआ था। दूसरी तरफ, एसएंडपी 0.24 फीसदी बढ़त के साथ 6.94 पॉइंट ऊपर 2,955.45 पर बंद हुआ था। चीन का शंघाई कम्पोसिट 0.57 फीसदी बढ़त के साथ 16.11 अंक ऊपर 2,834.08 पर बंद हुआ था। इधर इटली, फ्रांस, जर्मनी के बाजार में भी बढ़त रही थी।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें
देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,44,950 हो गई है। इनमें 80,061 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 60,706 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 4,172 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 55 लाख 87 हजार 129 हो चुकी है। इनमें 3 लाख 47 हजार 861 की मौत हो चुकी है। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 99,805 हो चुकी है।

09:38 AM बीएसई 30 में शामिल 24 कंपनियों के शेयरों में बढ़त और 6 कंपनियों के शेयरों में गिरावट है। ITC और इंडसइंड बैंक के शेयरों में सबसे ज्यादा बढ़त है।

09:34 AM

बीएसई सेंसेक्स के 23 में से 21 सेक्टर में बढ़त बनी है।

09:28 AM बीएसई सेंसेक्स के 32 में से 30 इंडेक्स में बढ़त बनी है।

09:15 AM बीएसई 358.80 अंक ऊपर 31,031.39 पर और निफ्टी 96.20 पॉइंट ऊपर 9,135.45 पर कारोबार कर रहा है।

दुनियाभर के बाजार बढ़त के साथ बंद

ट्रेडिंग के आखिरी दिन यानी शुक्रवार, 22 मई को दुनियाभर के बाजारों में बढ़त देखने को मिली थी।
Categories
sports

चीन ने कहा- अमेरिका दोनों देशों को नए शीत युद्ध की तरफ धकेल रहा है, हम कोरोनावायरस के सोर्स की जांच के लिए तैयार


  • चीन के विदेश मंत्री वॉन्ग यी ने कहा- बिना देरी किए हॉन्गकॉन्ग में नया सुरक्षा कानून लागू करेंगे
  • यी ने कहा- अमेरिका विकास के रास्ते पर बढ़ते चीन को नहीं रोक पाएगा

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 10:30 PM IST

बीजिंग. चीन के विदेश मंत्री वॉन्ग यी ने रविवार को कहा है कि चीन के दरवाजे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सहयोग करने के लिए खुले हैं। हम कोरोनावायरस के सोर्स की जांच के लिए तैयार हैं, लेकिन इसमें राजनीतिक दखल नहीं होना चाहिए। अमेरिकी नेता वायरस की उत्पत्ति को लेकर झूठ बोल रहे हैं। वे चीन को कलंकित करना चाहते हैं। साथ ही कहा कि अमेरिका चीन के साथ संबंधों को नए शीत युद्ध की ओर धकेल रहा है।

यी ने कोरोनावायरस से उपजे तनाव और हॉन्गकॉन्ग की स्थिति पर मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, “अमेरिका की कुछ राजनीतिक ताकतों ने चीन और अमेरिका के संबंधों को गिरफ्त में ले रखा है। चीन की अमेरिका को बदलने में कोई दिलचस्पी नहीं है। अमेरिका भी विकास के रास्ते पर आगे बढ़ते चीन को नहीं रोक सकता।” 

झूठ का सहारा ले रहा है अमेरिका
वॉन्ग ने अमेरिका पर पलटवार किया। कहा, “अमेरिका में राजनीतिक वायरस फैल रहा है। यह चीन पर हमला करने और आरोप लगाने के हर मौके का इस्तेमाल करता है। वहां के कुछ नेताओं ने बुनियादी तथ्यों की पूरी तरह से नकारा। वो झूठ का इस्तेमाल कर चीन को टारगेट कर रहे हैं, साजिशें रची जा रही हैं।” 

हॉन्गकॉन्ग में लागू करेंगे नया सुरक्षा कानून
यी ने हॉन्गकॉन्ग का भी जिक्र किया। कहा, “हम बिना देरी किए हॉन्गकॉन्ग में नया सुरक्षा कानून लागू करेंगे। पिछले साल हॉन्गकॉन्ग में चीन की राष्ट्रीय सुरक्षा को गंभीर खतरे में डालने की कोशिश की गई। इसके बाद यह कानून लाना जरूरी था।”

बता दें कि चीन ने हॉन्गकॉन्ग में लोकतंत्र की आवाज दबाने के लिए हाल ही में एक कानून पेश किया है। इस कानून के जरिए चीन अब हॉन्गकॉन्ग को भी अपने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के दायरे में लाने की कोशिश कर रहा है। हॉन्गकॉन्ग में चीन के इस कदम का जबरदस्त विरोध हो रहा है। अमेरिका समेत कई देशों ने चीन के इस कदम की कड़ी आलोचना की है।

Categories
sports

न्यूयॉर्क टाइम्स ने फ्रंट पेज पर 1000 मृतकों के नाम छापे, शीर्षक लिखा- अमेरिका 1 लाख मौतों के करीब, एक बेहिसाब नुकसान


  • अखबार ने मृतकों का नाम, उम्र और पता के बाद उनके बारे में एक लाइन लिख कर उन्हें याद किया
  • सोशल मीडिया यूजर्स ने मृतकों को याद करने के इस अनूठे तरीके के लिए अखबार को धन्यवाद दिया

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 04:42 PM IST

वॉशिंगटन. अमेरिका में कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या 1 लाख के करीब पहुंच गई। अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स ने रविवार को अपने फ्रंट पेज पर 1000 मृतकों के नाम छापे। अखबार ने इन सभी के लिए सिर्फ एक लाइन का शोक संदेश लिखा, ‘‘अमेरिका 1 लाख मौतों के करीब, एक बेहिसाब नुकसान। वे महज एक लिस्ट में शामिल नाम नहीं थे, वे हम सब थे।’’

अखबार ने लिखा कि यहां जिन एक हजार लोग के नाम हैं, वे कुल मौतों का सिर्फ 1% हैं। यह लिस्ट इतनी लंबी थी कि अखबार के 12वें पेज तक मृतकों के नाम लिखे जाते। इन लोगों का नाम, उम्र और पता के बाद उनके बारे में एक लाइन लिख कर उन्हें याद किया गया।

अखबार का फ्रंट पेज सोशल मीडिया में वायरल

न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपने इस आर्टिकल में लिखा कि सिर्फ संख्या के आधार पर वायरस का अमेरिका पर असर मापा नहीं जा सकता। चाहे मृतकों, मरीजों या इसकी वजह से नौकरियां गंवाने वालों की संख्या क्यों न हो। अखबार ने शनिवार देर रात जैसे ही अपने फ्रंट पेज का स्क्रीन शॉट जारी किया, यह सोशल मीडिया में वायरल हो गया। यूजर्स ने मृतकों को याद करने के इस अनूठे तरीके के लिए अखबार को धन्यवाद दिया।

मृतकों को इस अंदाज में याद किया गया:

  • राेमी कॉन, 91- न्यूयॉर्क सिटी, गेस्टापो से 56 यहूदी परिवारों को बचाया था।
  • अल्बर्ट पेट्रोसेली, 73- न्यूयॉर्क सिटी के एक चीफ, जिन्होंने 9/11 के दुर्भाग्यपूर्ण दिन आए कॉल का जवाब दिया था।
  • सेड्रिक डिक्सन, 48- न्यूयॉर्क सिटी, हार्लेम के एक पुलिस डिक्टेटिव, जिनके पास पूछताछ का गिफ्ट था।
  • बैसी ऑफिओंग, 25-  जिसने अपने दोस्त की बदतर हालत देखी और उनका सर्वश्रेष्ठ सामने लेकर आए।
  • चार्ल्स कॉन्स्टैंटिनो, 86- मेनलो पार्क, एनजे, न्यूयॉर्क टाइम्स के साथ 40 सालों तक काम किया। 

9/11 के बाद भी ऐसे ही मृतकों को याद किया था

न्यूयॉर्क टाइम्स ने दूसरी बार इस अंदाज में इस तरह का काम किया है। इससे पहले 2011 के 9 सितंबर को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए हमले में मारे गए लोगों को ऐसे ही श्रद्धांजलि दी थी। इस हमले में 2 हजार 977 लोगों की मौत हुई थी और 25 हजार से ज्यादा लोग घायल हुए थे। 

Categories
sports

1200 किमी का सफर 500 रुपए की साइकिल से तय किया था, पिता के साथ हुए हादसे के बाद पढ़ाई छोड़ी थी, अब फिर शुरू करेंगी


  • ज्योति पिता के साथ हुए हादसे के बाद दरभंगा से दिल्ली पहुंची थीं
  • ज्योति फिलहाल होम क्वारैंटाइन में हैं, वो एक महीने बाद साइक्लिंग फेडरेशन का ट्रायल देने दिल्ली जाएंगी

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:25 PM IST

दरभंगा. (अलिंद्र मिश्र) लॉकडाउन ने लाखों प्रवासियों को ताउम्र न भूलने वाला दर्द दिया। इस दौरान कई कहानियां या कहें आपबीती सामने आईं। कोई सैकड़ों किलोमीटर भूखे-प्यासे पैदल चलकर अपने घर लौटा। किसी ने रास्ते में ही जान गंवा दी। इस बीच इंसान के हौसले और चट्टान जैसे मजबूत इरादों की कहानी भी सामने आई। एक मिसाल ज्योति कुमारी की है। वो बिहार के दरभंगा जिले के सिंहवाड़ा प्रखंड के सिरहूल्ली गांव में रहती हैं। 13 साल की ज्योति बीमार पिता को साइकिल पर बैठाकर 10 मई को दिल्ली से चलीं।16 मई को दरभंगा पहुंचीं। उन्होंने सात दिन में 1200 किलोमीटर दूरी तय की।

ज्योति की ‘ज्योति’ सात समंदर पार अमेरिका भी पहुंची। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी इवांका ने उन्हें ट्विटर पर सराहा।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी ने ज्योति की तारीफ की है।

ज्योति नेे कहा- शुक्रिया इवांका दीदी

तारीफ और हौसलाअफजाई के लिए ज्योति ने इवांका को धन्यवाद कहा। ज्योति ने कहा, “मैं पहले इवांका दीदी को नहीं जानती थी। अब जान गई हूं। उन्होंने मेरा हौसला बढ़ाया। इसके लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। वो बहुत बड़ी शख्सियत हैं। उन्होंने मेरे जैसी छोटी बच्ची की तारीफ की। यह मेरे लिए बहुत मायने रखता है। मैं बहुत खुश हूं।”

ज्योति को सम्मानित करते एसएसबी के अधिकारी।

पिता के साथ हुए हादसे के बाद छूट गई थी पढ़ाई

ज्योति के परिवार में छह लोग हैं। दो भाई, दो बहन और माता-पिता। पिता मोहन पासवान अकेले दिल्ली में रहकर रिक्शा चलाते थे। मां गांव के आंगनबाड़ी केंद्र में बच्चों के लिए खाना बनाती हैं। उन्हें हर महीने दो हजार रुपए मिलते हैं। ज्योति बताती हैं, “माता-पिता की कमाई से किसी तरह घर चल रहा था। मैं गांव के स्कूल में पढ़ने जाती थी। एक ट्रक ने मेरे पिता के रिक्शा को टक्कर मार दी। उनका घुटना टूट गया। मैं पढ़ाई छोड़कर दिल्ली आ गई। ताकि पापा का ख्याल रख सकूं। उनके इलाज में बचाकर रखा पूरा पैसा खर्च हो गया। मां ने कई लोगों से कर्ज भी लिया।

मां और भाई-बहन के साथ ज्योति कुमारी।

500 रुपए में खरीदी साइकिल
ज्योति ने कहा. “मैंने साइकिल चलाना सीख रखा था। दिल्ली में मेरे पास साइकिल नहीं थी। लॉकडाउन के चलते जब भूखे मरने की नौबत आई तब जन-धन खाते से 500 रुपए निकाले। इस पैसे से एक पुरानी साइकिल खरीदी। उसी पर पापा को बैठाकर ले आई। मैंने बेटी होने का फर्ज निभाया। जब भी ऐसा मौका मिलेगा। माता-पिता की सेवा करती रहूंगी।”

इस साइकिल पर पिता को बैठाकर दिल्ली से दरभंगा आई थीं ज्योति। पैडल्स के सहारे उनके पैरों ने 1200 किलोमीटर सफर तय किया। पिता पीछे बैठे थे। क्योंकि घुटने में फ्रेक्चर था।

अब एक सपना

ज्योति कहती हैं, “मैं पढ़-लिखकर कुछ बनना चाहती हूं, ताकि समाज के लिए कुछ अच्छा कर सकूं। अभी तो लॉकडाउन है। ये खत्म होता है तो फिर स्कूल में नाम लिखवाउंगी। मैं दिल्ली नहीं जाऊंगी। यहीं आगे पढ़ना है। साइकिलिंग फेडरेशन ने ट्रायल के लिए बुलाया है। इसके लिए एक महीने बाद ट्रायल देने दिल्ली जाऊंगी। अभी होम क्वारैंटाइन में हूं।”

Categories
sports

सुबह 85 अंक ऊपर खुला था सेंसेक्स, ट्रेडिंग के दौरान 200 अंक तक ऊपर पहुंचा; निफ्टी में भी 58 पॉइंट की बढ़त


  • बुधवार को सेंसेक्स 622 अंक ऊपर 30,818 पर और निफ्टी 187 पॉइंट ऊपर 9,066 पर बंद हुआ
  • कल अमेरिकी बाजार नैस्डैक 2.08 फीसदी बढ़त के साथ 190 अंक ऊपर 9,375 पर बंद हुआ था

दैनिक भास्कर

May 21, 2020, 09:56 AM IST

मुंबई. सप्ताह में आज गुरुवार को कारोबार के चौथे दिन सेंसेक्स 85.68 अंक ऊपर और निफ्टी 12.9 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला। अभी सेंसेक्स 206.99 अंक ऊपर 31,025.60 पर और निफ्टी 58.65 पॉइंट ऊपर 9,125.20 पर कारोबार कर रहा है। इससे पहले बुधवार को सेंसेक्स और निफ्टी बढ़त के साथ बंद हुआ था।

कल सुबह सेंसेक्स 36.58 अंक नीचे और निफ्टी 10.05 पॉइंट ऊपर खुला था। हालांकि, ट्रेडिंग के शुरुआती मिनट के दौरान ही सेंसेक्स में बढ़त आ गई। दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान सेंसेक्स 682.14 अंक तक और निफ्टी 214.70 पॉइंट तक ऊपर जाने में कामयाब रहा। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 622.44 अंक ऊपर 30,818.61 पर और निफ्टी 187.45 पॉइंट ऊपर 9,066.55 पर बंद हुआ था।

दुनियाभर के बाजार बढ़त के साथ बंद
बुधवार को दुनियाभर के बाजारों में तेजी देखने को मिली। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 1.52 फीसदी की बढ़त के साथ 369.04 अंक ऊपर 24,575.90 पर बंद हुआ। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 2.08 फीसदी बढ़त के साथ 190.67 अंक ऊपर 9,375.78 पर बंद हुआ। दूसरी तरफ, एसएंडपी 1.67 फीसदी बढ़त के साथ 48.67 पॉइंट ऊपर 2,971.61 पर बंद हुआ। हालांकि, चीन का शंघाई कम्पोसिट 0.11 फीसदी गिरावट के साथ 26.95 अंक नीचे 24,373.00 पर बंद हुआ। इधर इटली, फ्रांस, जर्मनी के बाजार में भी बढ़त रही।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,12,028 हो गई है। इनमें 63,165 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 45,422 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 3,434 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 5,085,504 हो चुकी है। इनमें 329,731 की मौत हो चुकी है। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 94,994 हो चुकी है।

09:48 AM सेंसेक्स 206.99 अंक ऊपर 31,025.60 पर और निफ्टी 58.65 पॉइंट ऊपर 9,125.20 पर कारोबार कर रहा है।
09:45 AM निफ्टी 50 के टॉप-10 लूजर स्टॉक्स, ग्रासिम और एनटीपीसी के शेयर में सबसे ज्यादा गिरावट है।

09:42 AM निफ्टी 50 के टॉप-10 गेनर स्टॉक्स, बजाज ऑटो के शेयर में सबसे ज्यादा बढ़त है।

09:34 AMबीएसई के 23 में से 19 सेक्टर में बढ़त और 4 में गिरावट है।

09:28 AM बीएसई के 32 में से 30 इंडेक्स में बढ़त और 2 में गिरावट है।

09:23 AM बीएसई सेंसेक्स 30 में शामिल 17 कंपनियों के शेयरों में बढ़त और 13 कंपनियों के शेयरों में गिरावट है।

09:15 AM सेंसेक्स 98.38 अंक ऊपर 30,975.76 पर और निफ्टी 20.00 पॉइंट ऊपर 9,086.55 पर कारोबार कर रहा है।

बुधवार को अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद

Categories
sports

36 अंक नीचे खुला सेंसेक्स शुरुआती ट्रेडिंग में 300 अंक ऊपर हुआ, निफ्टी में भी 80 पॉइंट की बढ़त


  • मंगलवार को सेंसेक्स 167 अंक ऊपर 30,196 पर और निफ्टी 55 पॉइंट नीचे 8,879 पर बंद हुआ
  • कल अमेरिकी बाजार नैस्डैक 0.54 फीसदी गिरावट के साथ 49 अंक नीचे 9,185 पर बंद हुआ था

दैनिक भास्कर

May 20, 2020, 09:48 AM IST

मुंबई. सप्ताह में आज बुधवार को कारोबार के तीसरे दिन सेंसेक्स 36.58 अंक नीचे और निफ्टी 10.05 पॉइंट ऊपर खुला। हालांकि, शुरुआती 10 मिनट की ट्रेडिंग के दौरान ही सेंसेक्स में 300 अंक की बढ़त आ गई। इससे पहले मंगलवार को बाजार बढ़त के साथ साथ बंद हुआ था। सुबह सेंसेक्स 421.76 अंक ऊपर और निफ्टी 138.45 पॉइंट ऊपर खुला। दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान सेंसेक्स 710 अंक तक ऊपर जाने में कामयाब रहा। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 167.19 अंक ऊपर 30,196.17 पर और निफ्टी 55.85 पॉइंट ऊपर 8,879.10 पर बंद हुआ था।

अमेरिकी बाजार गिरावट के साथ बंद
मंगलवार को भारतीय बाजारों के साथ कई देशों के बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 1.59 फीसदी की गिरावट के साथ 390.51 अंक नीचे 24,206.90 पर बंद हुआ। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 0.54 फीसदी गिरावट के साथ 49.72 अंक नीचे 9,185.10 पर बंद हुआ। दूसरी तरफ, एसएंडपी 1.05 फीसदी गिरावट के साथ 30.97 पॉइंट नीचे 2,922.94 पर बंद हुआ। चीन का शंघाई कम्पोसिट 0.37 फीसदी गिरावट के साथ 10.59 अंक नीचे 2,887.98 पर बंद हुआ। इधर इटली और फ्रांस के बाजार भी गिरावट के साथ बंद हुए, लेकिन जर्मनी के बाजार में बढ़त रही।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें
देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,06,475 हो गई है। इनमें 60,858 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 42,309 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 3,302 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 4,986,332 हो चुकी है। इनमें 324,910 की मौत हो चुकी है। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 93,533 हो चुकी है।

09:46 AM बीएसई सेंसेक्स बैंकेक्स में शामिल 6 कंपनियों के शेयरों में बढ़त है। HDFC बैंक के शेयर में सबसे ज्यादा बढ़त है।

09:42 AM निफ्टी 50 के टॉप-10 लूजर स्टॉक्स;  भारती इन्फ्राटेल के शेयर में सबसे ज्यादा गिरावट है।

09:40 AM निफ्टी 50 के टॉप-10 गेनर स्टॉक्स; यूनाइटेड फॉस्फोरस लिमिटेड के शेयर में सबसे ज्यादा बढ़त है।

09:34 AM बीएसई सेंसेक्स के 23 सेक्टर में से अभी 22 में बढ़त है, सिर्फ आईटी सेक्टर में गिरावट है।

09:31 AM बीएसई सेंसेक्स के 32 इंडेक्स में से अभी 31 में बढ़त है।

09:24 AM सेंसेक्स 300.09 अंक ऊपर 30,496.26 पर और निफ्टी 83.35 पॉइंट ऊपर 8,962.45 पर कारोबार कर रहा है।

09:23 AM बीएसई सेंसेक्स 30 में शामिल 25 कंपनियों के शेयरों में बढ़त और 5 में गिरावट है।

09:15 AM सेंसेक्स 162.94 अंक ऊपर 30,359.11 पर और निफ्टी 54.25 पॉइंट ऊपर 8,933.35 पर कारोबार कर रहा है।

दुनियाभर के ज्यादातर बाजारों में रही गिरावट

Categories
sports

सेंसेक्स 421 अंक और निफ्टी 138 पॉइंट ऊपर खुला, सोमवार को अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 911 अंक ऊपर बंद हुआ था


  • सोमवार को सेंसेक्स 1068 अंक नीचे 30,028 पर और निफ्टी 313 पॉइंट नीचे 8,823 पर बंद हुआ
  • कल अमेरिकी बाजार नैस्डैक 2.44 फीसदी बढ़त के साथ 220 अंक ऊपर 9,234 पर बंद हुआ था

दैनिक भास्कर

May 19, 2020, 09:43 AM IST

मुंबई. सप्ताह में आज मंगलवार को कारोबार के दूसरे दिन बाजार बढ़त के साथ खुला। सेंसेक्स 421.76 अंक ऊपर और निफ्टी 138.45 पॉइंट ऊपर खुला। इससे पहले सोमवार को कारोबार के पहले दिन बाजार भारी गिरावट के साथ बंद हुआ था। सुबह सेंसेक्स 150.53 अंक ऊपर और निफ्टी 21.45 पॉइंट ऊपर खुला था। हालांकि, ट्रेडिंग के पहले ही मिनट में सेंसेक्स में गिरावट आ गई। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 1068.75 अंक नीचे 30,028.98 पर और निफ्टी 313.60 पॉइंट नीचे 8,823.25 पर बंद हुआ था।

दुनियाभर के बाजार बढ़त के साथ बंद हुए
सोमवार को भले ही भारतीय बाजार गिरावट के साथ बंद हुए, लेकिन दुनियाभर के दूसरे बाजारों में बढ़त रही। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 3.85 फीसदी की बढ़त के साथ 911.95 अंक ऊपर 24,597.40 पर बंद हुआ। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 2.44 फीसदी बढ़त के साथ 220.27 अंक ऊपर 9,234.83 पर बंद हुआ। दूसरी तरफ, एसएंडपी 3.15 फीसदी बढ़त के साथ 90.21 पॉइंट ऊपर 2,953.91 पर बंद हुआ। चीन का शंघाई कम्पोसिट 0.56 फीसदी बढ़त के साथ 16.01 अंक ऊपर 2,891.43 पर बंद हुआ। इधर इटली, जर्मनी, फ्रांस और कनाडा के बाजार भी बढ़त के साथ बंद हुए।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें
देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,00,328 हो गई है। इनमें 57,933 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 39,233 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 3,156 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 4,891,015 हो चुकी है। इनमें 320,134 की मौत हो चुकी है। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 91,981 हो चुकी है।

09:43 AM निफ्टी 50 के टॉप-10 लूजर स्टॉक्स; सबसे ज्यादा गिरावट यूनाइटेड फॉस्फोरस लिमिटेड के शेयर में है।

09:39 AM

निफ्टी 50 के टॉप-10 गेनर स्टॉक्स; सबसे ज्यादा बढ़त ओएनसीजी और भारती एयरटेल के शेयरों में है।

सरकार की तरफ से ये पैकेज अलग-अलग किस्तों में फरवरी से 17 मई के बीच ऐलान किए गए हैं। आखिरी किस्त 17 मई, यानी रविवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने घोषित की। दैनिक भास्कर इसका विश्लेषण कर रहा है। ताकि आपके सामने पूरा हिसाब-किताब रख सकें और ये भी बता सकें कि इससे किसे, कितना, कब तक और किस तरह फायदा हो सकता है?

09:29 AM

 बीएसई सेंसेक्स के 23 सेक्टर में से सिर्फ हेल्थकेयर सेक्टर में गिरावट है, अन्य सभी में बढ़त है।

09:27 AM

 बीएसई सेंसेक्स के सभी 32 इंडेक्स आज बढ़त के साथ खुले हैं।

09:23 AM

 बीएसई सेंसेक्स 30 में शामिल 26 कंपनियों के शेयरों में बढ़त और अन्य 4 में गिरावट है। भारती एयरटेल के शेयरों में सबसे ज्यादा बढ़त है।

09:15 AM

 सेंसेक्स 339.97 अंक नीचे 30,368.95 पर और निफ्टी 218.55 पॉइंट नीचे 8,918.30 पर कारोबार कर रहा है।

अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद

Categories
sports

150 अंक ऊपर खुला सेंसेक्स अब तक की ट्रेडिंग के दौरान 850 अंक तक गिरा, निफ्टी भी 260 पॉइंट नीचे


  • शुक्रवार को सेंसेक्स 25 अंक नीचे 31,097 पर और निफ्टी 5 पॉइंट ऊपर 9,136 पर बंद हुआ
  • शुक्रवार को अमेरिकी बाजार नैस्डैक 0.79 फीसदी बढ़त के साथ 70 अंक ऊपर 9,014 पर बंद हुआ था

दैनिक भास्कर

May 18, 2020, 10:54 AM IST

मुंबई. सप्ताह में आज सोमवार को कारोबार के पहले दिन बाजार बढ़त के साथ खुला। सेंसेक्स 150.53 अंक ऊपर और निफ्टी 21.45 पॉइंट ऊपर खुला। हालांकि, ट्रेडिंग के शुरुआती आधा घंटे में ही सेंसेक्स 700 अंक से ज्यादा नीचे गिर गया। अभी सेंसेक्स 855.58 अंक नीचे 30,242.15 पर और निफ्टी 261.05 पॉइंट नीचे 8,875.80 पर कारोबार कर रहा है।
इससे पहले शुक्रवार को बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ था। उस दिन सेंसेक्स 173.39 अंक ऊपर और निफ्टी 39.65 पॉइंट ऊपर खुला था। दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान सेंसेक्स 352 अंक से ज्यादा नीचे लुढ़क गया। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 25.16 अंक या 0.08% नीचे 31,097.73 पर और निफ्टी 5.90 पॉइंट या 0.06% नीचे 9,136.85 पर बंद हुआ था।

बीएसई बैंकेक्स के शेयरों का हाल

बैंक

गिरावट (%)
HDFC बैंक 3.55 %
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 4.06 %
कोटक बैंक 4.47 %
सिटी यूनियन बैंक 5.44 %
एक्सिस बैंक 5.44 %
RBL बैंक 5.70 %
फेडरल बैंक 6.05 %
ICICI बैंक 6.17 %
इंडसइंड बैंक 6.39 %

शुक्रवार को बढ़त के साथ बंद हुए अमेरिकी बाजार

शुक्रवार को अमेरिकी बाजारों के साथ अन्य देशों के बाजारों में भी बढ़त देखने को मिली। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 0.25 फीसदी की बढ़त के साथ 60.08 अंक ऊपर 23,685.40 पर बंद हुआ। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 0.79 फीसदी बढ़त के साथ 70.84 अंक ऊपर 9,014.56 पर बंद हुआ। दूसरी तरफ, एसएंडपी 0.39 फीसदी बढ़त के साथ 11.20 पॉइंट ऊपर 2,863.70 पर बंद हुआ। चीन का शंघाई कम्पोसिट 0.45 फीसदी बढ़त के साथ 12.79 अंक ऊपर 2,881.25 पर बंद हुआ था। इधर फ्रांस, जर्मनी, कनाडा के बाजार भी बढ़त के साथ बंद हुए।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 95,698 हो गई है। इनमें 95,698 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 36,795 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 3,025 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 4,801,875 हो चुकी है। इनमें 316,671 की मौत हो चुकी है। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 90,978 हो चुकी है।

वित्त मंत्री ने दिया 20 लाख करोड़ के पैकेज का हिसाब

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने रविवार को 20 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा के आत्मनिर्भर भारत पैकेज का पूरा हिसाब दिया। इस पैकेज की घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को की थी। इस पैकेज के अंदर इस घोषणा से पहले जारी किए जा चुके पैकेज भी शामिल हैं। पीएम की घोषणा के बाद वित्त मंत्री ने बुधवार से रविवार तक हर दिन अलग-अलग सेक्टर के लिए पैकेज और सुधारों की घोषणा कर रही थीं। रविवार को इसका पांचवां और आखिरी चरण था।

पैकेज का चरण

घोषित राशि (करोड़ रुपए में)
बुधवार, 13 मई 2020 को वित्त मंत्री द्वारा घोषित पैकेज 5,94,550
गुरुवार, 14 मई को वित्त मंत्री द्वारा घोषित पैकेज 3,10,000
शुक्रवार, 15 मई को वित्त मंत्री द्वारा घोषित पैकेज 1,50,000
शनिवार और रविवार, 16 और 17 मई को वित्त मंत्री द्वारा घोषित पैकेज 48,100
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना सहित पुराने पैकेज 1,92,800
आरबीआई के कदम, जो अब तक लागू हो चुके हैं 8,01,403
कुल 20,97,053

10:53 AM सेंसेक्स 855.58 अंक नीचे 30,242.15 पर और निफ्टी 261.05 पॉइंट नीचे 8,875.80 पर कारोबार कर रहा है।
10:42 AM आज निफ्टी 21.45 अंक ऊपर खुला। अभी ये 217.00 पॉइंट नीचे 8,919.85 पर कारोबार कर रहा है। इसमें 2.37% की गिरावट है।

10:24 AM

बीएसई सेंसेक्स टेलीकॉम की 12 में से सिर्फ 2 कंपनियों के शेयरों मे ंबढ़त है, अन्य सभी में गिरावट है।

कोरोना आपदा से निपटने के लिए सरकार के लिए सरकार ने प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा की है। इस पैकेज में माइक्रो, स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज (एमएसएमई) के लिए तीन लाख करोड़ रुपए की गारंटी स्कीम का ऐलान किया गया है। एक वरिष्ठ बैंक अधिकारी के मुताबिक यह स्कीम इसी सप्ताह लॉन्च हो सकती है।

09:59 AM

 बीएसई सेंसेक्स ऑटो में शामिल सभी 16 कंपनियों के शेयरों में गिरावट है; अशोक लेलैंड के शेयर में सबसे ज्यादा 5.83 फीसदी गिरावट।

09:55 AM

 सेंसेक्स 729.95 अंक नीचे 30,367.78 पर और निफ्टी 219.80 पॉइंट नीचे 8,917.05 पर कारोबार कर रहा है।
09:51 AM बीएसई सेंसेक्स बैंकेक्स में शामिल सभी कंपनियों के शेयरों में गिरावट है; फेडरल बैंक के शेयर में सबसे ज्यादा 6.39% गिरावट है। 

09:47 AM

 निफ्टी 50 के टॉप-10 लूजर स्टॉक्स; सबसे ज्यादा गिरावट कोलइंडिया के शेयर में है।

09:45 AM

 निफ्टी 50 के टॉप-10 गेनर स्टॉक्स; सबसे ज्यादा बढ़त सिप्ला के शेयर में है।

09:39 AM बीएसई सेंसेक्स के 23 में से 6 सेक्टर में बढ़त और 17 सेक्टर में गिरावट है।

09:35 AM बीएसई सेंसेक्स के सभी 32 इंडेक्स में आज गिरावट है।

09:29 AM सेंसेक्स 211.97 अंक नीचे 30,885.76 पर और निफ्टी 63.90 पॉइंट नीचे 9,072.95 पर कारोबार कर रहा है।
09:23 AM बीएसई सेंसेक्स 30 में शामिल 8 कंपनियों के शेयरों में बढ़त और 22 कंपनियों के शेयर में गिरावट है।

09:15 AM 

सेंसेक्स 21.45 अंक नीचे 30,926.66 पर और निफ्टी 45.75 पॉइंट नीचे 9,091.10 पर कारोबार कर रहा है।

शुक्रवार को विदेशी बाजारों का हाल

Categories
sports

सरकार के भारी भरकम पैकेज पर निवेशकों का भय भारी पड़ा, सेंसेक्स 542 अंक और निफ्टी 169 पॉइंट नीचे खुला


  • बुधवार को सेंसेक्स 637 अंक ऊपर 32,008 पर और निफ्टी 187 पॉइंट ऊपर 9,383 पर बंद हुआ
  • कल अमेरिकी बाजार नैस्डैक 1.55 फीसदी गिरावट के साथ 139 अंक नीचे 8,863 पर बंद हुआ था

दैनिक भास्कर

May 14, 2020, 11:06 AM IST

मुंबई. सप्ताह में आज कारोबार के चौथे दिन बाजार गिरावट के साथ खुला। सेंसेक्स 542.28 अंक नीचे और निफ्टी 169.6 पॉइंट नीचे खुला। इससे पहले बुधवार को बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ था। कल सुबह सेंसेक्स 1470.75 अंक ऊपर और निफ्टी 387.65 पॉइंट ऊपर खुला। हालांकि, ट्रेडिंग के शुरुआती आधा घंटे में ही सेंसेक्स की बढ़त फिसलकर 600 अंक से भी कम की हो गई थी। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 637.49 अंक ऊपर 32,008.61 पर और निफ्टी 187.00 पॉइंट ऊपर 9,383.55 पर बंद हुआ। 

दुनियाभर के बाजारों में रही गिरावट

बुधवार को दुनियाभर के बाजारों में गिरावट देखने को मिली। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 2.17 फीसदी की गिरावट के साथ 516.81 अंक नीचे 23,248.00 पर बंद हुआ। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 1.55 फीसदी गिरावट के साथ 139.38 अंक नीचे 8,863.17 पर बंद हुआ। दूसरी तरफ, एसएंडपी 1.75 फीसदी गिरावट के साथ 50.12 पॉइंट नीचे 2,820.00 पर बंद हुआ। चीन का शंघाई कम्पोसिट 0.50 फीसदी गिरावट के साथ 14.51 अंक नीचे 2,883.54 पर बंद हुआ था। इधर फ्रांस, जर्मनी, इटली के बाजार भी गिरावट के साथ बंद हुए।

पावर सेक्टर और एमएसएमई पर फोकस

बुधवार को जारी पैकेज में वित्तमंत्री ने टीडीएस के तहत 55000 करोड़ रुपए की सुविधा का ऐलान किया, तो पीएफ के जरिए 25,000 करोड़ रुपए की सुविधा दी। इसी तरह पावर सेक्टर की कंपनियों के लिए 90,000 करोड़ रुपए का ऐलान किया गया है। जबकि एनबीएफसी के लिए 30,000 करोड़ रुपए और एमएसएमई के लिए 3 लाख करोड़ रुपए के भारी भरकम पैकेज की घोषणा की गई है।

इसके अलावा, सरकार ने 80 करोड़ लोगों को 5-5 किलो गेहूं या चावल और एक किलो दाल दिया। जबकि 20 करोड़ महिलाओं के खाते में 500 रुपए महीने दिए गए जो जून तक जारी रहेगा।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 78,055 हो गई है। इनमें 49,099 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 26,400 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 2,551 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 4,429,232 हो चुकी है। इनमें 298,165 की मौत हो चुकी है। इसी दौरान 1,658,401 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 85,197 हो चुकी है।

11:06 AM

बीएसई सेंसेक्स ऑटो में शामिल 4 कंपनियों के शेयरों में बढ़त और 12 कंपनियों के शेयरों में गिरावट है।

10:19 AM 

निफ्टी 50 के टॉप-10 लूजर स्टॉक्स; एनटीपीसी के शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट है।

10:13 AM 

निफ्टी 50 के टॉप-10 गेनर स्टॉक्स; बजाज फाइनेंस के शेयरों में सबसे ज्यादा बढ़त है।

 

09:53 AM बीएसई सेंसेक्स बैंकेक्स की 9 में से 4 कंपनियों के शेयरों में बढ़त और 5 में गिरावट है।

09:37 AM 

बीएसई के 23 में से 3 सेक्टर में बढ़त और 20 में गिरावट है।

09:35 AM 

बीएसई के 32 में से 10 इंडेक्स में बढ़त और 22 में गिरावट है।

09:23 AM 

बीएसई सेंसेक्स 30 में शामिल सिर्फ 6 कंपनियों के शेयरों में बढ़त है, अन्य 24 कंपनियों के शेयरों में गिरावट है।

09:15 AM सेंसेक्स 546.68 अंक नीचे 31,461.93 पर और निफ्टी 176.35 पॉइंट नीचे 9,207.20 पर कारोबार कर रहा है।

अमेरिकी बाजारों में रही गिरावट

Categories
sports

218 अंक नीचे खुला सेंसेक्स ट्रेडिंग के पहले घंटे में 600 अंक तक गिरा, निफ्टी में भी 70 पॉइंट की गिरावट


  • सोमवार को सेंसेक्स 81 अंक नीचे 31,561 पर और निफ्टी 12 पॉइंट नीचे 9,239 पर बंद हुआ
  • अमेरिकी बाजार नैस्डैक 0.78 फीसदी बढ़त के साथ 71 अंक ऊपर 9,192 पर बंद हुआ था

दैनिक भास्कर

May 12, 2020, 10:09 AM IST

मुंबई. सप्ताह में आज कारोबार के दूसरे दिन बाजार गिरावट के साथ खुला। सेंसेक्स 218.29 अंक नीचे और निफ्टी 70.35 पॉइंट नीचे खुला। ट्रेडिंग के पहले घंटे में ही सेंसेक्स फिसलकर 635.91 अंक तक नीचे चला गया। इससे पहले सोमवार को बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ था। कल सुबह सेंसेक्स 387.64 अंक ऊपर और निफ्टी 96.65 पॉइंट ऊपर खुला था। ट्रेडिंग के आधा घंटा बाद ही बीएसई सेंसेक्स 658.88 अंक ऊपर चला गया, लेकिन आखिरी घंटे में सेंसेक्स फिसल गया। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 81.48 अंक नीचे 31,561.22 पर और निफ्टी 12.30 पॉइंट नीचे 9,239.20 पर बंद हुआ था।

दुनियाभर के बाजारों में रहा उतार-चढ़ाव
सोमवार को दुनियाभर के बाजारों में उतार-चढ़ाव देखने को मिला। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 0.45 फीसदी की गिरावट के साथ 109.33 अंक नीचे 24,222.00 पर बंद हुआ था। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 0.78 फीसदी बढ़त के साथ 71.02 अंक ऊपर 9,192.34 पर बंद हुआ था। दूसरी तरफ, एसएंडपी 0.01% फीसदी बढ़त के साथ 0.39 पॉइंट ऊपर 2,930.19 पर बंद हुआ था। चीन का शंघाई कम्पोसिट 0.26 फीसदी गिरावट के साथ 7.59 अंक नीचे 2,887.21 पर बंद हुआ था। इधर फ्रांस, जर्मनी, इटली के बाजार भी गिरावट के साथ बंद हुए।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें
देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 70,768 हो गई है। इनमें 45,921 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 22,549 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 2,294 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 4,254,800 हो चुकी है। इनमें 287,293 की मौत हो चुकी है। इसी दौरान 1,526,550 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 81,795 हो चुकी है।

10:08 AM बीएसई सेंसेक्स टेलीकॉम की सभी 12 कंपनियों के शेयरों में गिरावट है।

09:54 AM सेंसेक्स 599.76 अंक नीचे 30,961.46 पर और निफ्टी 160.15 पॉइंट नीचे 9,079.05 पर कारोबार कर रहा है।

09:43 AM बीएसई सेंसेक्स ऑटो की सभी 16 कंपनियों के शेयरों में गिरावट है। सबसे ज्यादा गिरावट मारुति के शेयरों में है।

09:43 AM बीएसई सेंसेक्स बैंकेक्स की 9 में से सिर्फ इंडसइंड बैंक के शेयरों में बढ़त है, अन्य सभी में गिरावट है।

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) विदेशी लोन से 1.5 अरब डॉलर (11,300 करोड़ रुपए) जुटा रही है। मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने कहा कि इस राशि का उपयोग पूंजीगत खर्च में किया जाएगा। कुछ ही दिनों पहले फेसबुक और कुछ अन्य संस्थानों ने कंपनी के जियो प्लेटफॉर्म्स में 61,000 करोड़ रुपए का निवेश करने का वादा किया है।

बैंक ऑफ अमेरिका के मुताबिक क्रूड के भाव में जितनी गिरावट हुई है, उसके हिसाब से भारत को 40 अरब डॉलर की बचत होने का अनुमान है। इससे देश का चालू खाता घाटा संतुलित हो गया है। पिछली बार भारत ने चालू खाता आधिक्य (करेंट अकाउंट सरप्लस) 2004 में दर्ज किया था।

09:32 AM निफ्टी 50 के टॉप-5 गेनर और लूजर स्टॉक्स; आईओसी और सनफार्मा के शेयरों में सबसे ज्यादा उछाल।

09:32 AM बीएसई सेंसेक्स के 23 सेक्टर में से 3 में बढ़त और अन्य सभी में गिरावट है।

09:22 AM बीएसई सेंसेक्स के 32 इंडेक्स में से 3 में बढ़त और अन्य सभी में गिरावट है।

09:22 AM बीएसई सेंसेक्स 30 में शामिल 8 कंपनियों के शेयर में बढ़त अन्य 22 के शेयरों में गिरावट है; सनफार्मा के शेयरों में सबसे ज्यादा बढ़त है।

09:15 AM सेंसेक्स 379.84 अंक नीचे 31,181.38 पर और निफ्टी 94.55 पॉइंट नीचे 9,144.65 पर कारोबार कर रहा है।

अमेरिकी बाजारों में रहा उतार-चढ़ाव

सोमवार को अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 0.45 फीसदी की गिरावट के साथ 109.33 अंक नीचे 24,222.00 पर बंद हुआ था।