Categories
sports

प्लेन क्रैश में बचे बैंक ऑफ पंजाब के प्रेसिडेंट का भारत से ताल्लुक; यूपी के अमरोहा आकर पुश्तैनी मकान देखना चाहते हैं


  • बैंक अफसर जफर मसूद का परिवार 1952 में पाकिस्तान चला गया था
  • मसूद का ताल्लुक पाकीजा फिल्म के डायरेक्टर कमाल अमरोही के खानदान से है

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 04:08 PM IST

कराची. पाकिस्तान प्लेन हादसे में बचे सिर्फ दो लोगों में से एक जफर मसूद भारत से रिश्ता रखते हैं। मसूद पाकिस्तान के बैंक ऑफ पंजाब के प्रेसिडेंट हैं। उत्तर प्रदेश के अमरोहा के सद्दो मोहल्ले में उनके पुरखों का घर है। उनका परिवार 1952 में पाकिस्तान चला गया था। मसूद को भारत से बेहद लगाव है। वे एक बार अमरोही आकर पुश्तैनी घर को देखता चाहते हैं। ये बातें मुंबई में रह रहे मसूद के रिश्तेदार आदिल जफर ने बताईं।

जफर मसूद अस्पताल में भर्ती हैं, लेकिन हालत ठीक है।

मसूद के दादा वकील और पिता टीवी आर्टिस्ट थे

 मसूद का ताल्लुक पाकीजा फिल्म के डायरेक्टर कमाल अमरोही के खानदान से है। मसूद के परनाना ताकी अमरोही जो कि पाकिस्तानी पत्रकार थे, वे कमाल अमरोही के कजिन थे। मसूद के दादा मसूद हसन पाकिस्तान में वकील और पिता मुनव्वर सईद टीवी आर्टिस्ट थे।

प्लेन क्रैश में 97 लोगों की मौत

कराची में शुक्रवार को हुए प्लेन क्रैश में मसूद को 4 फ्रैक्चर हुए हैं। उनकी कॉलर बोन और हिप में चोट आई है। आदिल ने बताया कि उन्होंने मसूद के घरवालों से फोन पर बात की थी। हादसे में मसूद का जिंदा बचना उनके लिए किसी अजूबे से कम नहीं। क्योंकि, प्लेन में सवार 99 लोगों में से सिर्फ 2 की ही जान बच पाई।