Categories
sports

फरीदाबाद में तीन पॉजिटिव लापता, सैंपल देते वक्त लिखवाया था गलत पता


  • फरीदाबाद के स्वास्थ्य विभाग ने तीनों के खिलाफ दर्ज करवाई एफआईआर
  • प्रदेश में अब तक 718 संक्रमित रिकवर होकर घर लौट चुके हैं

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 03:31 PM IST

पानीपत/फरीदाबाद. हरियाणा में कोरोना लॉकडाउन फेज-4 का छठवां दिन है। प्रदेश में कुल कोरोना मरीजों का आंकड़ा 1084 पहुंच गया। जबकि अब तक 718 मरीज ठीक हो चुके हैं। इनमें सबसे ज्यादा 250 गुड़गांव के हैं। वहीं फरीदाबाद में तीन कोरोना संक्रमित अपने घर से फरार हो गए हैं। उन्होंने सैंपल रिपोर्ट में गलत मोबाइल नंबर भी लिखवाया हुआ था। पुलिस अब उनकी तलाश कर रही है।

दरअसल, कोरोना संक्रमित होने की आशंका पर एक महिला समेत तीन लोग बीके अस्पताल में टेस्ट कराने पहुंचे थे। इन्हें कोरोना की पहले से ही आशंका थी, इसलिए इन्होंने जांच के दौरान अपना पता व मोबाइल नंबर गलत लिखवाया था। पॉजिटिव जांच रिपोर्ट आने के बाद जब उन्हें होम क्वारैंटाइन करने के लिए पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम उनके दिए पते पर पहुंची तो तीनों फरार मिले।

उन्होंने जो मोबाइल नंबर दिए थे उन पर संपर्क किया गया तो वे किसी दूसरे को मिल रहे थे। इस बात की जानकारी मिलते ही पुलिस और स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। आखिर में पुलिस ने तीनों के खिलाफ केस दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है। लेकिन अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है। ऐसे में फरार तीनों अब कहां हैं और कितने लोगों को संक्रमित कर रहे होंगे इसका अंदाजा लगा पाना मुश्किल है। 

हरियाणा में मरीजों का आंकड़ा 1084 पहुंचा

  • सबसे ज्यादा गुरुग्राम में 250, फरीदाबाद में 193, सोनीपत में 151, झज्जर में 91, नूंह में 65, अंबाला में 42, पलवल में 40, पानीपत में 46, पंचकूला में 26, जींद में 26, करनाल में 24, रोहतक में 15, महेंद्रगढ़ में 21, रेवाड़ी में 11, सिरसा में 9, फतेहाबाद, व यमुनानगर में 8-8, हिसार में 13, कुरुक्षेत्र में 14, भिवानी में 6, कैथल में 5, चरखी-दादरी में 6, भिवानी में 5 संक्रमित मरीज हैं। इसके अलावा, मेदांता अस्पताल गुड़गांव में 14 इटली के नागरिकों को भी भर्ती करवाया गया था, जिन्हें हरियाणा ने अपनी सूची में जोड़ा है।

  • प्रदेश में अब कुल 718 मरीज ठीक हो गए हैं। इनमें गुरुग्राम में 140, फरीदाबाद में 104, सोनीपत में 105, नूंह में 60, झज्जर में 90, अंबाला में 40, पलवल 37, पानीपत में 32, पंचकूला में 24, जींद में 15, करनाल में 11, यमुनानगर में 8, सिरसा में 8, रोहतक में 7, महेंद्रगढ़ में 4, भिवानी में 4,  हिसार में 3, कैथल में 3, फतेहाबाद में 5, कुरुक्षेत्र में 2, चरखी दादरी में 1 मरीज ठीक होकर घर लौट चुका है। 14 मरीज इटली के भी ठीक हुए हैं।
Categories
sports

अब कोरोना के मामले आने पर पूरा जिला ब्लॉक नहीं होगा, कंटेनमेंट जोन बनाकर सिर्फ एरिया को सील किया जाएगा


  • हरियाणा में 15 मई से कुछ चुनिंदा रूट्स पर विशेष बस सेवा भी शुरू कर दी जाएगी
  • बस में टिकट बुकिंग भी केवल ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से ही होगी

दैनिक भास्कर

May 14, 2020, 03:12 PM IST

पानीपत. हरियाणा में लॉकडाउन फेज-3 का गुरुवार को 11वां दिन है। हरियाणा में कोरोना मरीजों की संख्या 796 पहुंच गई है। जबकि ठीक होने वालों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। अब 418 मरीज ठीक हो चुके हैं। हरियाणा सरकार ने लगातार लॉकडाउन को देखते हुए बड़ा फैसला लिया है। कोरोना को लेकर अब प्रदेश को ग्रीन, ऑरेंज व रेड जोन के हिसाब से नहीं बांटा जाएगा। बल्कि कोरोना के मामले आने पर पूरा जिला ब्लॉक करने के बजाय कंटेनमेंट जोन बनाकर सिर्फ उस एरिया को सील किया जाएगा। 

हरियाणा में चुनिंदा रूट पर रोडवेज बसें भी चलेंगी

सीएम मनोहर लाल खट्‌टर ने बताया कि 15 मई से कुछ चुनिंदा रूट्स पर विशेष बस सेवा शुरू करने का निर्णय लिया है। बस सेवा हरियाणा से बाहर व कोरोना से अत्यधिक प्रभावित क्षेत्रों में शुरू नहीं होगी। केवल ऑनलाइन पोर्टल https://hartrans.gov.in के माध्यम से ही टिकट बुकिंग होगी। यात्रा के लिए मार्गों का विवरण व किराए से संबंधित जानकारी वेबसाइट पर मिलेगी। एक बस में 30 यात्रियों को ही बैठाया जाएगा। मास्क पहनना अनिवार्य होगा। सीएम ने कहा कि पंचकूला, महेंद्रगढ़, अम्बाला, सिरसा व भिवानी सहित कई जिलों में अलग-अलग रूट पर 2-2, 3-3 बसें चलाई जाएंगी। सोनीपत, पानीपत समेत 10 डिपो से बसें अभी नहीं चलेंगी। स्कूल-कॉलेजों में भी गतिविधियां शुरू करने पर विचार किया जा रहा है।

पहले दिन 50 बसें चलेंगी, थर्मल स्क्रीनिंग के बाद एंट्री, बीच रास्ते में न कोई चढ़ेगा, न उतरेगा

  • 15 मई को करीब 50 बसें ही चलाई जाएंगी। पंचकूला से सुबह 8 व 11 बजे रेवाड़ी के लिए 2 बसें चलेंगी। इसी समय पर 2 बसें वहां से चलेंगी। दूसरे जिलों से भी कुछ लंबी दूरी की बसें चलाए जाने की योजना है।

  • चंडीगढ़, दिल्ली, पानीपत, सोनीपत, गुड़गांव, नूंह, पलवल, फरीदाबाद, झज्जर, गुडगांव डिपो की बसें फिलहाल नहीं चलेंगी। कोरोना से प्रभावित जिलों से गुजरने वाली बसें बाइपास या फ्लाइओवर से गुजरेंगी।
  • ऑनलाइन बुक हुई कंफर्म टिकट देखकर ही बस अड्‌डे में एंट्री मिलेगी। बसों में टिकट नहीं मिलेगा। बस अड्‌डे में प्रवेश से पहले थर्मल स्क्रीनिंग होगी। बिना मास्क पहने यात्री को प्रवेश नहीं मिलेगा।
  • बसें राज्य परिवहन के बस अड्डों से निर्धारित बस अड्डों तक ही जाएंगी। रास्ते में पड़ने वाले अड्‌डे से चढ़ने या उतरने की अनुमति नहीं होगी।
  • यदि बस चलाना संभव नहीं होगा तो दो घंटे पहले सूचना देकर बस परिचालन रद्द कर दिया जाएगा। ऐसी स्थिति में यात्री का किराया रिफंड होगा।

किसानों को 5 मई तक की पेमेंट जारी होगी
गेहूं भुगतान के लिए सरकार ने 5 मई तक की 5900 करोड़ रु. की राशि जमा हो चुकी है। 2000 करोड़ रु. आढ़तियों के खाते में जा चुके हैं। 3900 करोड़ अगले 3 दिनों में किसानों के खातों में पहुंच जाएंगे। मंडियों में करीब 65.66 लाख टन गेहूं की आवक हो चुकी है।

रेवाड़ी में प्रवासी मजदूरों को जब ट्रेन उनके राज्यों के लिए रवाना हुई तो प्रवासी मजदूरों के चेहरे पर कुछ ऐसी खुशी देखने को मिली। एमपी सागर के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन में बैठी महिला अपनी बच्ची के साथ घर जाने की खुशी जताते हुए।

8 लाख प्रवासियों ने कराया रजिस्ट्रेशन, अब तक 1.25 लाख पहुंचे घर

प्रदेश में करीब 8 लाख प्रवासी मजदूरों ने घर जाने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है। सरकार इन्हें स्पेशल ट्रेनों व बसों से भेज भी रही है। लेकिन अब तक करीब 1.25 लाख लोग घर जा पाए हैं। काफी संख्या में ऐसे लोग हैं, जो किसी कारण से रजिस्ट्रेशन न करा पाने के कारण अब पैदल ही निकल पड़े हैं। बड़ी परेशानी पंजाब व आसपास के राज्यों से आ रहे लोगों के कारण बढ़ गई है। सबसे ज्यादा लोग पंजाब से आ रहे हैं। वहां इनको घर भेजने की व्यवस्था नहीं की गई और हरियाणा की ओर भेजा जा रहा है। ये कच्चे व खेत के रास्तों से एंट्री कर पैदल ही जा रहे हैं। सड़कों पर पुलिस नाके होने के चलते कुछ लोग जान जोखिम में डालकर यमुना नदी पार कर सीमा में प्रवेश कर रहे हैं।

हरियाणा में मरीजों का आंकड़ा 811 पहुंचा

  • हरियाणा में अब तक गुड़गांव में 166, सोनीपत में 120, फरीदाबाद में 133, झज्जर में 84, नूंह में 60, अम्बाला में 42, पलवल में 37, पानीपत में 36, पंचकूला में 23, जींद में 20, करनाल में 15, यमुनानगर में 8, सिरसा, रोहतक और फतेहाबाद में 7-7, भिवानी, रेवाड़ी और महेंद्रगढ़ में 6-6, हिसार और चरखी दादरी में 4-4, कैथल और कुरुक्षेत्र में 3-3 पॉजिटिव मिले। इसके अलावा, मेदांता अस्पताल गुड़गांव में 14 इटली के नागरिकों को भी भर्ती करवाया गया था, जिन्हें हरियाणा ने अपनी सूची में जोड़ा है।

  • प्रदेश में अब कुल 418 मरीज ठीक हो गए हैं। गुड़गांव में 62, फरीदाबाद में 58, नूंह में 57, सोनीपत में 54, अम्बाला में 38, पलवल 34,  झज्जर में 24, पानीपत में 22, पंचकूला में 18, जींद में 10, करनाल में 5, सिरसा और यमुनानगर में 4-4, यमुनानगर, भिवानी और हिसार में 3-3, कैथल, कुरुक्षेत्र, रोहतक में 2-2, चरखी दादरी, फतेहाबाद 1-1 मरीज ठीक होने पर घर भेजा गया। 14 मरीज इटली के भी ठीक हुए हैं।  
Categories
sports

मारूति के गुड़गांव प्लांट में 18 मई से शुरू होगा गाड़ियों का उत्पादन, प्रदेश में कल से गेहूं खरीद के 550 केंद्र बंद होंगे


  • कंपनी के मानेसर प्लांट में  50 दिन के इंतजार के बाद मानेसर सयंत्र शुरू हो गया है, मंगलवार को इसमें 2500 कर्मी काम करने पहुंचे थे
  • राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या 780 पहुंची; ठीक होने वालों की संख्या में भी इजाफा हुआ, अब तक 342 लोग अस्पताल से डिस्चार्ज हुए

दैनिक भास्कर

May 13, 2020, 03:29 PM IST

पानीपत/गुड़गांव. हरियाणा में लॉकडाउन फेज-3 का बुधवार को 10वां दिन है। राज्य में अब तक कोरोना मरीजों की संख्या 780 पहुंच गई है। जबकि इनमें से 342 ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में आर्थिक गतिविधियां लगभग शुरू हो गई हैं। इसी कड़ी में मारूति के गुड़गांव प्लांट में 18 मई से गाड़ियों का उत्पादन शुरू हो जाएगा। 50 दिन के इंतजार के बाद मानेसर सयंत्र शुरू हो गया है। 

कंपनी के मानेसर प्लांट में काम शुरू हो गया है। मंगलवार को इस प्लांट में 2500 कर्मी काम करने पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि कंपनी गुड़गांव प्लांट में उत्पादन की तैयारी भी कर रही है। धीरे-धीर स्टाफ काम पर लौट रहा है। सभी कर्मचारियों को सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की हिदायत दी गई है। कंपनी ने एक वैलनेस मित्र नाम का एप्लीकेशन भी बनाया है, जिससे श्रमिकों के स्वास्थ्य, उनकी लोकेशन और अन्य समस्याओं से संबंधित डाटा जुटाया है। मानेसर सयंत्र को शुरू करने की अनुमति जिला प्रशासन ने 22 अप्रैल को दी थी। 

गुड़गांव में क्रिकेट खेलना पड़ा महंगा मामला हुआ दर्ज

लॉकडाउन के दौरान सोहना रोड स्थित सोसायटी में रहने वाले निवासियों को क्रिकेट खेलना महंगा पड़ गया। आरडब्ल्यूए पदाधिकारी की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया। यहां तत्वम विलाज सोसायटी आरडब्ल्यूए ने पुलिस को एक वीडियो दिया। वीडियो में कुछ लोग क्रिकेट खेलते हुए दिखाई दे रहे हैं। आरोप है कि सोसायटी में रहने वाले आनंद लॉकडाउन के दौरान गत 30 अप्रैल को सोसायटी में क्रिकेट खेल रहे थे। उस समय पुलिस के आने पर आरोपी ने माफी मांगते हुए दोबारा ऐसा न करने का वादा किया था। आरोप है कि गत रविवार को वे फिर से सोसायटी में क्रिकेट खेलने लगे। सोसायटी के सुरक्षाकर्मी ने जब उन्हें खेलने से मना किया तो आरोपी ने सुरक्षाकर्मी को धमकाकर भगा दिया। जिस पर आरडब्ल्यूए की ओर से वीडियो बनाकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई। 

गुड़गांव में तीन मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई, उन्हें हरियाणा में नहीं जोड़ा गया

गुड़गांव में अब तक 10 से अधिक मृतकों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई जा चुकी है। इनमें अधिकतर अलग-अलग प्रदेशों के शामिल हैं। मंगलवार को पिछले कई दिन से रखे चार शवों में से तीन मृतकों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई है। रविवार को सेक्टर-31 में एडमिट एक पेशेंट की मौत के बाद स्वैब के सैंपल निगेटिव पाए गए हैं। वहीं सीएमओ डॉ. जेएस पूनिया ने पुष्टि करते हुए कहा कि तीन अलग-अलग प्रदेशों के लोगों की गुड़गांव में मौत हो गई थी, जिनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दिल्ली, यूपी व पश्चिम बंगाल में इस संबंध में सूचित कर दिया गया है। उन्हें हरियाणा में कोरोना से मृतकों की की सूची में नहीं जोड़ा गया है। 

प्रदेश में गुरुवार से गेहूं खरीद के 550 केंद्र होंगे बंद

प्रदेश में गेहूं खरीद शुरू हुए 24 दिन हो चुके हैं। अब तक मंडियों में 64.25 लाख टन से अधिक गेहूं खरीदा जा चुका है। इस अवधि में मजदूरों की कमी के बावजूद सरकार ने तेजी से खरीद कराई है। सरकार ने 1831 केंद्रों पर गेहूं की खरीद शुरू की थी। अब ऐसे खरीद केंद्रों को बंद करने की तैयारी है, जहां आवक ही नहीं हो रही। इनमें 550 केंद्र ऐसे हैं, जहां गेहूं नहीं आ रहा। 14 मई से इन केंद्रों को बंद कर दिया जाएगा।

हरियाणा में मरीजों का आंकड़ा 789 पहुंचा

  • हरियाणा में अब तक गुड़गांव में 165, सोनीपत में 118, फरीदाबाद में 117, झज्जर में 84, नूंह में 59, अम्बाला में 42, पलवल में 37, पानीपत में 36, पंचकूला में 23, जींद में 20, करनाल में 15, यमुनानगर में 8, सिरसा और फतेहाबाद में 7-7, भिवानी और रोहतक में 7, महेंद्रगढ़ और रेवाड़ी में 5-5, हिसार और चरखी दादरी में 4-4, कैथल और कुरुक्षेत्र में 3-3 पॉजिटिव मिले। इसके अलावा, मेदांता अस्पताल गुड़गांव में 14 इटली के नागरिकों को भी भर्ती करवाया गया था, जिन्हें हरियाणा ने अपनी सूची में जोड़ा है।

  • प्रदेश में अब कुल 351 मरीज ठीक हो गए हैं। नूंह में 57, गुड़गांव में 54, फरीदाबाद में 57, अम्बाला में 38, पलवल 34, सोनीपत में 24, पंचकूला में 18, झज्जर में 10, पानीपत में 15, करनाल में 5, सिरसा और यमुनानगर में 4-4, यमुनानगर, भिवानी और हिसार और जींद में 3-3, कैथल, कुरुक्षेत्र, रोहतक में 2-2, चरखी दादरी, फतेहाबाद 1-1 मरीज ठीक होने पर घर भेजा गया। 14 मरीज इटली के भी ठीक हुए हैं। 
Categories
sports

गुड़गांव में लक्षण नहीं दिखने पर 10 दिन बाद भी डिस्चार्ज होने को तैयार नहीं थी दो नर्स, प्रशासन ने मनाया और घर भेजा


  • हरियाणा में कुल मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 752
  • ठीक होने वालों की संख्या में भी इजाफा, 340 मरीज ठीक हुए

दैनिक भास्कर

May 12, 2020, 05:18 PM IST

पानीपत/गुड़गांव. हरियाणा में लॉकडाउन फेज-3 का मंगलवार को 9वां दिन है। राज्य में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 752 पहुंच गई है। वहीं कुल ठीक होने वालों का आंकड़ा 340 पर पहुंच गया है। हरियाणा में अभी तक 11 मरीजों की कोरोना से मौत भी हुई है। गुड़गांव में सोमवार को सरकार की नई गाइडलाइन के मुताबिक लक्षण न दिखने पर 10 दिन बाद डिस्चार्ज करने की बात पर दो नर्स ने छुट्टी लेने से मना कर दिया। इसके बाद अस्पताल प्रशासन हरकत में आया और जैसे-तैसे नर्सों को मनाया। अब मंगलवार को उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। 

दो रिपोर्ट निगेटिव मिलने के बाद डिस्चार्ज होने पर अड़ी थी नर्स
कोविड मरीजों के लिए नई गाइडलाइन के मुताबिक, हल्के लक्षण वाले मरीजों को 10 दिनों में अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा सकेगा। लेकिन, गुड़गांव में एडमिट दो नर्स इस बात पर अड़ गई कि जब तक उनकी दो रिपोर्ट निगेटिव नहीं आएगी, तब तक वह डिस्चार्ज नहीं होगी। मामला सेक्टर-9 स्थित ईएसआई अस्पताल का है। इसके बाद अस्पताल प्रशासन हरकत में आया और नर्सों को जैसे-तैसे समझाकर अस्पताल से छुट्टी दी गई। ईएसआई अस्पताल में करीब 70 पेशेंट एडमिट हैं। इनमें से कई पेशेंट को 10 दिन से ज्यादा हो गए हैं। कई मरीजों में कोरोना के लक्षण भी नहीं है। इन मरीजों में निजी और सरकारी अस्पताल की कई नर्स भी हैं। 

रोस्टर सिस्टम से बच्चों की पढा़ई करवाने की तैयारी कर रहा हरियाणा शिक्षा विभाग
हरियाणा में ई-संचार के जरिए पढ़ाए जा रहे विद्यार्थियों को अब स्कूल तक लाने के विकल्पों पर शिक्षा विभाग ने विचार शुरू कर दिया है। ताकि पढ़ाई बेहतर हो सके। 11 अप्रैल से शैक्षणिक सत्र शुरू हो चुका है। बच्चों को एजुसेट, टीवी चैनल, वॉट्सएप आदि के जरिए पढ़ाया जा रहा है। लेकिन अब शिक्षा विभाग ने भी यह स्वीकार कर लिया है कि कुछ विद्यालयों की हर रोज चल रही छह घंटे की कक्षाओं की वजह से बच्चों के मानिसक स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है। इसलिए अब शिक्षा विभाग ने नई प्लानिंग पर काम शुरू किया है। इसके तहत हर कक्षा के 15-15 विद्यार्थियों के ग्रुप को हर दिन बुलाया जाए। उससे सोशल डिस्टेंसिंग भी होगी और बच्चों की पढ़ाई भी प्रभावित नहीं होगी। सूत्रों का कहना है कि इस मामले में शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल और विभाग के एसीएस महावीर सिंह के साथ भी चर्चा की है। 

पानीपत में नाई और ब्यूटी पार्लर की दुकानें खुली
पानीपत की उपायुक्त हेमा शर्मा ने अन्य दुकानों के अलावा नाई व ब्यूटी पार्लर की दुकानों को भी खोलने की अनुमति प्रदान कर दी है।  सड़क के दाईं ओर मंगलवार, गुरुवार व शनिवार को प्रात: 8 से दोपहर 2 बजे तक व सड़क के बाईं ओर सोमवार, बुधवार व शुक्रवार को प्रात: 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक दुकानें खुली रहेंगी। मास्क व सेनिटाइजर के साथ-साथ सोशल डिस्टेसिंग की पालना करना अनिवार्य होगा।

हरियाणा में कोरोना से अब तक 11 की मौत
कोरोना की वजह से फरीदाबाद में सबसे ज्यादा 4, पानीपत जिले में 3, अम्बाला में 2, करनाल और रोहतक में 1-1 मरीज की मौत हो चुकी है। मरने वाले सभी मरीजों में कोई न कोई बीमारी थी, उसके बाद कोरोना हुआ और उनकी मौत हो गई। 

हरियाणा में मरीजों का आंकड़ा 752 पहुंचा

हरियाणा में मरीजों का आंकड़ा 752 पहुंचा

  • हरियाणा में अब तक गुड़गांव में 145, सोनीपत में 118, फरीदाबाद में 106, झज्जर में 83, नूंह में 59, अम्बाला में 42, पलवल में 37, पानीपत में 36, पंचकूला में 23, जींद में 17, करनाल में 15, यमुनानगर में 8, सिरसा और फतेहाबाद में 7-7, भिवानी और रोहतक में 6, महेंद्रगढ़ में 5, हिसार, रेवाड़ी और चरखी दादरी में 4-4, कैथल और कुरुक्षेत्र में 3-3 पॉजिटिव मिले। इसके अलावा, मेदांता अस्पताल गुड़गांव में 14 इटली के नागरिकों को भी भर्ती करवाया गया था, जिन्हें हरियाणा ने अपनी सूची में जोड़ा है।
  • प्रदेश में अब कुल 340 मरीज ठीक हो गए हैं। नूंह में 57, गुड़गांव में 54, फरीदाबाद में 55, अम्बाला में 38, पलवल 33, सोनीपत में 24, पंचकूला में 18, झज्जर में 10, पानीपत में 8, करनाल में 5, सिरसा और यमुनानगर में 4-4, यमुनानगर, भिवानी और हिसार में 3-3, कैथल, कुरुक्षेत्र, रोहतक में 2-2, चरखी दादरी, फतेहाबाद 1-1 मरीज ठीक होने पर घर भेजा गया। 14 मरीज इटली के भी ठीक हुए हैं।