Categories
sports

49 नए केस सामने आए, एक की मौत; 10वीं-12वीं की परीक्षाएं जून में होंगी, 31 के बाद भी रात्रि कर्फ्यू जारी रहेगा


  • राजस्थान में शाम 7 से सुबह 7 बजे तक इमरजेंसी सेवाओं के अलावा सबकुछ बंद रहेगा
  • हलोत ने सीएम निवास पर कोरोना संक्रमण को लेकर हुई उच्च स्तरीय बैठक के दौरान ये अहम फैसले किए

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 10:03 AM IST

जयपुर. राजस्थान में शनिवार सुबह 49 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें कोटा, उदयपुर और चूरू में 8-8, बाड़मेर में 4, धौलपुर, झालावाड़, भीलवाड़ा और करौली में 3-3, झुंझुनू, भरतपुर और जयपुर में 2-2,  गंगानगर, बारां और हनुमानगढ़ में 1-1 संक्रमित मिला। जिसके बाद प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या 8414 पहुंच गई। वही, जयपुर में एक मौत भी दर्ज की गई। जिसके बाद मौतों का कुल आंकड़ा 185 पहुंच गया।

10वीं-12वीं की परीक्षाएं जून में होंगी, 31 के बाद भी रात्रि कर्फ्यू जारी रहेगा

सीएम अशोक गहलोत ने शुक्रवार को देर रात बड़े ऐलान किए। पहला- राजस्थान बोर्ड की 10वीं-12वीं की बची हुई परीक्षाएं जून में होंगी। जल्द परीक्षा का टाइम टेबल जारी किया जाएगा। दूसरा- 31 मई के बाद भी प्रदेशभर में रात्रिकालीन कर्फ्यू जारी रहेगा। यानी शाम 7 से सुबह 7 बजे तक इमरजेंसी सेवाओं के अलावा सबकुछ बंद रहेगा। तीसरा- गहलोत ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सुप्रीम कोर्ट की भावना के अनुरूप निजी अस्पतालों में कोरोना के निशुल्क इलाज के लिए एक एडवाइजरी जारी की जाए। जो भी अस्पताल इसका उल्लंघन करे, उसके विरुद्ध कार्रवाई का प्रावधान हो। गहलोत ने सीएम निवास पर कोरोना संक्रमण को लेकर हुई उच्च स्तरीय बैठक के दौरान ये अहम फैसले किए।

भीलवाड़ा में इतने रेल टिकट निरस्त हुए कि ग्राहकों को चुकाने के लिए अजमेर मंडल से 16 लाख रुपए मंगवाने पडे़
भीलवाड़ा रेलवे स्टेशन को लेकर दिलचस्प स्थिति सामने आई है। यहां रिजर्वेशन करवाने से ज्यादा टिकट कैंसिल करवाने वालों की संख्या है। शुक्रवार को ऐसे यात्रियों की काफी भीड़ रही। शुक्रवार को 370 रुपए का सिर्फ एक टिकट आरक्षित किया गया। जबकि चार लाख रुपए से अधिक के टिकट कैंसिल कराए गए। यह स्थिति भीलवाड़ा रेलवे स्टेशन पर स्थित आरक्षण कार्यालय पर लगातार देखने को मिल रही है। भीलवाड़ा स्टेशन पर इतने अधिक रुपए नहीं होने से अजमेर मंडल से पहले तीन लाख रुपए और फिर 13 लाख रुपए मंगाने पड़े।

भीलवाड़ा रेलवे स्टेशन पर बड़ी संख्या में टिकट कैंसल करवाने पहुंचे लोग।

जयपुर परकोटे के 885 मरीजों में से 801 निगेटिव
करीब दो महीने से बंद परकोटे को कर्फ्यू से राहत देने के लिए कमिश्नरेट ने प्लान तैयार किया है। सबसे बड़ी बात यह है जहां कोरोना पॉजिटिव अब नहीं रह गए हैं वहां के बाजारों को खोला जाएगा। छूट देते समय डब्ल्यूएचओ की गाइडलाइन का पूरा ध्यान रखा जाएगा। 15 मई के बाद मरीज आने वाले इलाकों को कंटेनमेंट जोन में बदलकर निगरानी की जाएगी कर्फ्यू लगाया जाएगा। 25 मार्च को रामगंज से कोरोना का पहला मामला सामने आने के बाद बीते 64 दिन में चारदीवारी से 885 मामले सामने आ चुके हैं। राहत की बात यह है कि इनमें 90 फीसदी यानी 801 मरीज निगेटिव हाे चुके हैं। फिलहाल यहां केवल 46 केस एक्टिव है। इनमें सबसे ज्यादा रामगंज में 20 कोरोना संक्रमित मरीज शेष बचे हैं जबकि 38 लोगों की कोरोना से मौत हो गई।

उदयपुर के 36 सहित अब तक 135 रोगी ठीक होकर घर लौटे
उदयपुर के एमबी के कोरोना वार्ड में भर्ती उदयपुर के 36 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक 135 रोगी घर जा चुके हैं। सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी ने बताया कि इन 135 में 130 रोगी कांजी का हाटा क्षेत्र के हैं। ग्रामीण क्षेत्र में महाराष्ट्र और गुजरात से आए प्रवासी श्रमिक कोरोना की चपेट में आते जा रहे हैं। हालांकि सभी प्रवासी संस्थागत क्वारेंटाइन सेंटर्स में ठहरे हुए हैं।

झालावाड़ में जेल भेजने से पहले जांच कराई तो तस्कर निकला पॉजिटिव 
हाईकोर्ट के आदेश के अनुसार जेल जाने वाले मुल्जिमों की कोरोना वायरस की जांच कराना अनिवार्य है। इसके तहत भवानीमंडी पुलिस द्वारा 25 मई को चॉकलेट कार्टन के नीचे छिपाकर 405 किलो डोडा चूरा तस्करी करके ले जाते एक ट्रक को पकड़ा था। उसमें सवार दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था, जो पंजाब प्रांत के थे। दोनों तस्कर डोडा चूरा जावर से लेकर आ रहे थे। एसपी राममूर्ति जोशी ने बताया कि हाईकोर्ट ने आदेश जारी किया है कि किसी भी मुल्जिम को जेल भेजने से पहले उसकी कोरोना जांच कराना अनिवार्य है। इस पर भवानीमंडी पुलिस द्वारा डोडा चूरा तस्करी के आरोप में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था। इसमें एक तस्कर की जांच पॉजिटिव आई है। उसको अस्पताल के कैदी वार्ड में भर्ती किया है।

रेलवे स्टेशन पर जोधपुर सांसद गजेंद्रसिंह शेखावत ने प्रवासियों की आगवानी की और समस्याओं के बारे में पूछा।

राजस्थान: सभी 33 जिलों तक पहुंचा संक्रमण

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1936 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1489 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 540, कोटा में 448, डूंगरपुर में 339, नागौर में 444, अजमेर में 329, पाली में 414, चित्तौड़गढ़ में 176, टोंक में 163, जालौर में 155, भरतपुर में 212, भीलवाड़ा में 139, सिरोही में 147, राजसमंद में 135, बांसवाड़ा में 85, झुंझुनूं में 123, सीकर में 187, जैसलमेर में 86 (इनमें 14 ईरान से आए), बाड़मेर में 96, बीकानेर में 103, चूरू में 104, झालावाड़ में 249 मरीज मिले हैं।
  • उधर, दौसा में 50, अलवर में 53, धौलपुर में 53, सवाई माधोपुर में 20, हनुमानगढ़ में 30, प्रतापगढ़ में 13, करौली में 15 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 9 संक्रमित मिले हैं। श्रीगंगानगर में 6, बूंदी में 2 पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 14 लोग पॉजिटिव मिले।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 185 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 93 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई। इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, नागौर और अजमेर में 7-7, पाली में 6, भरतपुर में 5, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, करौली और बीकानेर में 3-3, बांसवाड़ा, जालौर, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, झुंझुनू दौसा, राजसमंद, उदयपुर, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए चार व्यक्ति की भी मौत हुई है।
Categories
sports

संक्रमितों की संख्या 8000 के पार पहुंची; कोटा के कोविड संदिग्ध वार्ड में तड़प-तड़पकर युवक की मौत, स्टाफ बेखबर


  • शुक्रवार को संक्रमण के 91 नए केस सामने आए इनमें सबसे ज्यादा झालावाड़ में 42 पॉजिटिव मिले
  • राज्य में अब तक संक्रमण से अब तक 182 की जान जा चुकी है, सबसे ज्यादा 90 मौतें जयुपर में हुई

दैनिक भास्कर

May 29, 2020, 12:08 PM IST

जयपुर. राजस्थान में शुक्रवार को 91 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें झालावाड़ में 42, जयपुर और नागौर में 12-12, चूरू में 6, धौलपुर और उदयपुर में 5-5, अलवर, बीकानेर, भरतपुर, अजमेर में 2-2, कोटा में एक संक्रमित मिला। इसके बाद राज्य में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 8158 पहुंच गया। वहीं, दो की मौत भी हो गई। इनमें जयपुर और झूंझुनू में 1-1 व्यक्ति ने दम तोड़ा। इसके बाद मौत का कुल आंकड़ा 182 पर पहुंच गया।

कोटा में कोविड वार्ड में तड़प-तड़पकर युवक की मौत

उधर, कोटा में अस्पताल के कोरोना संदिग्ध मरीजों के लिए बनाए गए वार्ड में भर्ती एक मरीज की तड़प-तड़पकर मौत हो गई, लेकिन ड्यूटी पर तैनात स्टाफ को पता तक नहीं चला। सबसे दर्दनाक बात यह रही कि सामने के बेड पर भर्ती मरीज स्टाफ को सूचना देने के बजाय वीडियो बनाता रहा। यदि वह समय पर स्टाफ को सूचित कर देता तो युवक की जान बच सकती थी।

मृतक का नाम लालचंद मालव (40) था। उसे 21 मई को कोरोना संदिग्ध वार्ड में एडमिट कराया गया था। लालचंद कोटा में ही एक फैक्ट्री में श्रमिक था। उसे सांस में तकलीफ के बाद कोरोना संदिग्ध मरीजों के वार्ड में भर्ती कर लिया गया। 23 मई को देर रात करीब 3 बजे उसकी तबीयत खराब हो गई। दर्द से तड़पते हुए वह बेड से नीचे गिर गया। संदिग्ध मरीजों के वार्ड में ड्यूटी पर तैनात नर्सिंग स्टाफ को इसका पता तक नहीं चला। लालचंद ने वहीं दम तोड़ दिया। इस दौरान वहां मौजूद किसी मरीज ने पूरे घटनाक्रम का वीडियो बना लिया। यह वीडियो वायरल होने के बाद मृतक के परिजनों ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। 

सिरोही के कोविड केयर सेंटर में म्यूजिक सिस्टम लगाया गया। यहां भर्ती कुछ मरीजों के डांस करने की तस्वीरें बाहर आई हैं।

राजस्थान: सिरोही में नाच-गा कर खुद को रख रहे हैं मजबूत

  • सिरोही में कॉलेज में बने कोविड केयर सेंटर में मनोरंजन के लिए भी म्यूजिक सिस्टम लगा रखा है। ऐसे में यहां कई मरीजों के नाच-गाने की तस्वीरें सामने आई हैं। डॉ. दर्शन ग्रोवर का कहना है कि ज्यादातर मरीज जो वार्ड में एडमिट हुए हैं वह 9 दिन में ही सही हो रहे हैं। वार्ड में मरीजों का मन लगा रहे इसके लिए इन्हें दो समय आरती के साथ ही भजन और पुराने गाने सुनाते हैं।
  • जयपुर के रामगंज में कोरोना की दस्तक के बाद पहली बार ऐसा हुआ है कि गुरुवार को वहां एक भी केस नहीं आया है। सीएमएचओ प्रथम डॉ. नरोत्तम शर्मा ने बताया रामगंज में मार्च से बड़े स्तर पर सैंपलिंग हो रही है। अब तक इस इलाके में 1,0098 लाेगों की सैंपलिंग की गई है। गुरुवार को भी 207 लोगों की सैंपलिंग की गई। सबसे बेहतर बात यह भी है कि रामगंज में कुल 18 ही एक्टिव बचे हैं। अभी तक 1450 केस रिकवर व 1291 डिस्चार्ज हो चुके हैं।
  • कोटा में नए अस्पताल से 6 कोरोना मरीजों को गुरुवार को डिस्चार्ज किया गया। इनमें 3 महिलाएं व 3 पुरुष शामिल हैं। वहीं, 10 अन्य मरीज दो बार निगेटिव हो चुके हैं। क्वारैंटाइन पूरा होने पर इनको भी डिस्चार्ज किया जाएगा।
  • झालावाड़ के झालरापाटन में निजी क्लिनिक संचालक द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण फैलाने पर संचालक के खिलाफ केस दर्ज किया गया। एसपी राममूर्ति जोशी ने बताया कि पिछले दिनों झालरापाटन में कोरोना पॉजिटिव आए मरीजों की हिस्ट्री निकाली तो ज्यादातर मरीजों ने क्लिनिक पर इलाज करवाना बताया था। इसके बाद क्लीनिक में डॉक्टर की जांच करवाई तो वह संक्रमित मिला।
नीमकाथाना में 8 माह का बेटा कोरोना केयर सेंटर में मां के साथ ही रहेगा। डॉक्टरों ने इसकी अनुमति दे दी है।

नीमकाथाना: पीपीई किट पहने पॉजिटिव मां को बेटा पहचान नहीं पाया तो मां कहा- मैं तेरी मां
नीमकाथाना के टोडा में 28 साल की एक महिला गुरुवार को संक्रमित मिली। पति पहले से पॉजिटिव है और उसके आठ महीने का बेटा है। सुबह 11 बजे एंबुलेंस महिला को लेने के लिए उसके घर पहुंची। मां ने कहा कि मैं मेरे बेटे के बिना कैसे जा सकती हूं। उसे अकेला नहीं छोड़ सकती। महिला के सास-ससुर ने भी स्वास्थ्य विभाग को बताया कि 8 महीने के बच्चे को वे नहीं संभाल सकते। क्योंकि-उसे मां के दूध की जरूरत है। महिला स्टाफ ने बीसीएमओ डॉ. मुकेश से बात की। वे तुरंत मौके पर पहुंचे।

इसके बाद डब्ल्यूएचओ की गाइडलाइन देखी गई और मां को बेटा साथ रखने की इजाजत दे दी गई। जैसे ही मां को पीपीई किट पहनाया गया और बेटे को आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने अपनी गोद में उठाया तो बच्चा रोने लगा। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व बाकी नर्सिंग स्टाफ ने बच्चे को चुप कराने की खूब कोशिश की, लेकिन वह चुप नहीं हुआ। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने बताया कि पीपीई किट पहने मां ने बेटे को गोद में लिया तो कपड़ों की वजह से वह मां को भी नहीं पहचान पाया। मां ने कहा-बेटा मैं ही हूं। बेटा चुप नहीं हुआ तो मां ने उसके हाथ अपने पीपीई किट पहने चेहरे पर लगाए, तब बच्चा चुप हुआ।

राजस्थान: झुंझुनू में संक्रमण से पहली मौत हुई 

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1923 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1422 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 528, कोटा में 424, पाली में 413, नागौर में 437, डूंगरपुर में 333, अजमेर में 318, झालावाड़ में 246 , चित्तौड़गढ़ में 175, टोंक में 163, जालौर में 155, भरतपुर में 167, भीलवाड़ा में 135, सिरोही में 142, राजसमंद में 135, बांसवाड़ा में 85, झुंझुनूं में 109, सीकर में 174, बीकानेर में 103, चूरू में 96,  , बाड़मेर में 92, जैसलमेर में 82 (इनमें 14 ईरान से आए) मरीज मिले हैं।
  • उधर, दौसा में 50, अलवर में 53, धौलपुर में 50, सवाई माधोपुर में 20, हनुमानगढ़ में 24, प्रतापगढ़ में 13, करौली में 12 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 8 संक्रमित मिले हैं। श्रीगंगानगर में 5, बूंदी में 2 पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 14 लोग पॉजिटिव मिले।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 182 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 90 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई। इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, नागौर और अजमेर में 7-7, पाली में 6, भरतपुर में 5, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, करौली और बीकानेर में 3-3, बांसवाड़ा, जालौर, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, झुंझुनू दौसा, राजसमंद, उदयपुर, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए चार व्यक्ति की भी मौत हुई है।
Categories
sports

आज 131 नए पॉजिटिव मिले, 6 की मौत; कोरोना संक्रमण राज्य के सभी 33 जिलों तक पहुंचा


  • कोरोना से अब तक अछूते रहे बूंदी में 23 मई काे मुंबई से लाैटी 22 साल की महिला संक्रमित मिली
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 179 लोगों की मौत हो चुकी है, जयपुर में सबसे ज्यादा 88 की जान गई

दैनिक भास्कर

May 28, 2020, 03:12 PM IST

जयपुर. कोरोना अब राजस्थान के सभी 33 जिलों तक पहुंच गया। आखिरी बचे बूंदी जिले में भी बुधवार रात को पहली संक्रमित मरीज मिली। युवती 23 मई काे मुंबई से लाैटी है। वहीं, गुरुवार को राज्य में 131 नए पॉजिटिव केस मिले। इनमें झालावाड़ में 69, पाली में 13, भरतपुर में 12, कोटा में 8, झुंझुनू और कोटा में 7-7, चूरू और नागौर में 5-5, दौसा में 4 और अजमेर में 1 संक्रमित मिला। इसके बाद कुल संक्रमितों का आंकड़ा 7947 पहुंच गया है।

उधर, संक्रमण से राज्य में 6 लोगों की मौत भी हो गई। इनमें अजमेर, बांसवाड़ा, दौसा, करौली, नागौर में एक-एक मरीज की जान गई। वहीं, दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की जान भी इलाज के दौरान गई। इसके बाद राज्य में संक्रमण से मौतों का कुल आंकड़ा 179 पर पहुंच गया।

कोरोना अपडेट्स 

  • कोटा: सुपर स्पेशियलिटी बिल्डिंग के कोविड वार्ड में भर्ती एक कोरोना संक्रमित महिला की स्थिति से डॉक्टर भी हैरान हैं। यह महिला लगातार 4 रिपोर्ट में पॉजिटिव आ चुकी है, जबकि उसे कोरोना से जुड़ा कोई लक्षण नहीं है। अब उसे यूरीन से जुड़ी एक नई समस्या सामने आ रही हैं, जिसका कोविड से जुड़ी किसी भी गाइडलाइन या रिसर्च में उल्लेख नहीं है। मेडिसिन विभाग की सीनियर प्रोफेसर डॉ. मीनाक्षी शारदा ने बताया कि 35 साल की महिला की पहली रिपोर्ट 10 मई को पॉजिटिव मिली थी। उसने रैंडम सैंपलिंग के लिए टीम को सैंपल दिया था। हालांकि, उसे तब भी कोई लक्षण नहीं था, सिर्फ एक दिन पहले हल्का सिरदर्द जरूर हुआ था। इसके बाद 14, 18 और 22 मई को तीन बार उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव रही।
  • जोधपुर: जोधपुर रेलवे स्टेशन से लगातार प्रवासी अपने-अपने राज्य में पहुंच रहे हैं। इस बीच, बुधवार को रेलवे स्टेशन पर भोजन पैकेट को लेकर लूटमार मच गई। 

यह तस्वीर बुधवार की है। जोधपुर रेलवे स्टेशन पर खाने के पैकेट को लेकर लूटमार मच गई।
  • जयपुर: शहर में 28 अप्रैल से सुपर स्प्रेडर्स (जरूरी सामग्री घर तक पहुंचाने वाले लोग) की सैंपलिंग जारी है। अलग-अलग 240 क्षेत्रों से 10 हजार 106 सैंपल लिए गए। इनमें 91 कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इन सबके संपर्क में आए 1220 लोगों को क्वारैंटाइन किया गया था। इनमें भी 348 लोग पॉजिटिव पाए गए। गनीमत यह रही कि यह सभी लोग पहले ही क्वारैंटाइन कर दिए गए थे।
  • सीकर: सीकर जिले में कोरोना मरीज बढ़ने के साथ ही सैंपल की रफ्तार भी बढ़ गई है। अब तक 10 हजार 135 सैंपल लिए जा चुके हैं। इनमें 9 हजार 221 सैंपल सीकर जिले और अन्य सैंपल उन जिलों में लिए गए हैं, जहां सीकर के पॉजिटिव मिले। सैंपल लेने के मामले में सीकर 22 दिन में ही 19वें स्थान से 8वें स्थान पर आ गया है। 22 दिन में सीकर में 8512 सैंपल लिए गए हैं। इससे पहले स्वास्थ्य विभाग ने ढाई माह महज 1623 सैंपल लिए थे। 
  • झुंझुनू: झुंझुनू के बीडीके अस्पताल के पीएमओ डॉ. शुभकरण कालेर ने बताया कि 23 मई को मुंबई से लौटे 47 वर्षीय पॉजिटिव की बुधवार को मौत हो गई। इस संक्रमित को बचपन से ही मिर्गी के दौरे पड़ते थे। बुधवार को अस्पताल में उसे अचानक मिर्गी का दौरा पड़ा। इलाज के दौरान ही 12.30 बजे उसकी मौत हो गई।

जयपुर के पार्कों में अब रौनक लौटने लगी है। गुरुवार सुबह लोग टहलते और वॉक करते दिखे।

प्रदेश के सभी 33 जिलों तक पहुंचा संक्रमण

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1911 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1358 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 523, कोटा में 422, डूंगरपुर में 332, नागौर में 421, पाली में 394, अजमेर में 311, झालावाड़ में 204, चित्तौड़गढ़ में 175, भरतपुर में 165, सीकर में 164, टोंक में 163, जालौर में 154, सिरोही में 141, राजसमंद में 135, भीलवाड़ा में 134, झुंझुनूं में 109, बीकानेर में 94, बाड़मेर में 92, चूरू में 90, बांसवाड़ा में 85, जैसलमेर में 82 (इनमें 14 ईरान से आए) मरीज मिले हैं।

  • उधर, दौसा में 50, अलवर में 51, धौलपुर में 45, सवाई माधोपुर में 19, हनुमानगढ़ में 21, प्रतापगढ़ में 13, करौली में 12 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 8 संक्रमित मिले हैं। श्रीगंगानगर में 5, बूंदी में 1 पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 13 लोग पॉजिटिव मिले।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 179 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 88 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई। इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, नागौर और अजमेर में 7-7, पाली में 6, भरतपुर में 5, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, करौली और बीकानेर में 3-3, बांसवाड़ा, जालौर, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, दौसा, राजसमंद, उदयपुर, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए चार व्यक्ति की भी मौत हुई है।
Categories
sports

109 नए पॉजिटिव मिले; मुख्यमंत्री बोले- लॉकडाउन से पीड़ित जनता को नकद पैसा ट्रांसफर करने की जरूरत


  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 172 लोगों की मौत, इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 87 मरीजों की जान गई
  • केंद्र ने कोरोना को नियंत्रित करने के मामले में जयपुर, इंदौर, चेन्नई और बेंगलुरु को रॉल मॉडल

दैनिक भास्कर

May 27, 2020, 12:37 PM IST

जयपुर. राजस्थान में बुधवार को कोरोना के 109 नए मामले सामने आए। इनमें झालावाड़ में 64, कोटा में 16, नागौर में 12, जयपुर और भरतपुर में 6-6, झुंझुनू में 2, बीकानेर, करौली और दौसा में 1-1 संक्रमित मरीज मिला। इसके बाद कुल संक्रमितों का आंकड़ा 7645 पहुंच गया। वहीं, जयपुर में संक्रमण से दो और लोगों की मौत भी हो गई। इसके बाद राज्य में मौतों का कुल आंकड़ा 172 पर पहुंच गया।

 उधर, कांग्रेस ने लॉकडाउन से प्रभावित लोगों के खातों में नकद पैसा ट्रांसफर करने की मांग तेज कर दी है। मंगलवार को राहुल गांधी की प्रेस कांफ्रेंस के बाद सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट करके राहुल गांधी की ओर से उठाए गए मुद्दों का समर्थन करते हुए केंद्र सरकार पर सवाल उठाए। अशोक गहलोत ने राहुल की लाइन लेते हुए लॉकडाउन से प्रभावित लोगों के खातों में पैसा ट्रांसफर करने की मांग की।

कोरोना के खिलाफ जयपुर को केंद्र ने रोल मॉडल चुना 

  • केंद्र ने कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के मामले में जयपुर समेत 4 शहरों को रोल मॉडल चुना है। तीन अन्य शहर इंदौर, चेन्नई और बेंगलुरु भी शामिल हैं। कुछ दिन पहले केंद्र ने कोरोना के सर्वाधिक संक्रमित और न्यूनतम मृत्यु दर वाले शहरों के नगर निकायों के साथ बैठक की थी। इसमें पाया कि जयपुर और इंदौर ने संक्रमितों के बढ़ते आंकड़ों को कंट्रोल किया।
  • चेन्नई और बेंगलुरु ने मृत्यु दर (1%) को बढ़ने नहीं दिया। जयपुर और इंदौर ने घर-घर सर्वे करवाकर और संक्रमितों की कॉन्टैक्ट हिस्ट्री का पता लगाकर कोरोना को कंट्रोल किया। जयपुर ने सुपर स्प्रेडर्स जैसे फल-सब्जी और किराना वालों को सीमित संख्या में लाइसेंस दिए ताकि फेरी वालों से घरों तक संक्रमण न पहुंचे।

तस्वीर सीकर रेलवे स्टेशन की। प्रवासी मजदूरों को लोग पीने का पानी देते हुए।

राजस्थान: जयपुर के एसएमएस के हेल्थ वर्कर्स लगातार पॉजिटिव आ रहे

  • जयपुर के एसएमएस अस्पताल के पैथोलॉजी लैब में कार्यरत टेक्निशियन और एमआरआई सेंटर में कार्यरत टेक्निशियन पॉजिटिव आए हैं। नर्सिंग स्टाफ में तैनात एक कर्मचारी की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं, अस्पताल का नर्सिंग हेल्पर भी पॉजिटिव आया है। जयपुर में अब तक 97 हेल्थ वॉरियर्स पॉजिटिव आ चुके हैं। इनमें 25 डॉक्टर, 40 नर्सिंग कर्मी और स्वास्थ्य कर्मी शामिल हैं।

  • कोटा में छावनी नगर निगम कॉलोनी का ही 16 साल का किशोर भी संक्रमित पाया गया है। यह पूर्व में पॉजिटिव आ चुके लोगों का रिश्तेदार है। इसके अलावा, छावनी में ही सब्जीमंडी के पास रहने वाला 26 साल का युवक संक्रमित पाया गया है। परिजनों ने बताया कि फ्रिज में रखा केक खाने के बाद गले में खराश हुई और सैंपल दिया तो रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई।
  • भीलवाड़ा में रमेश नाथ व उसकी तीन महीने की दूध मुंही बच्ची हिमांशी की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थीं। जबकि उसकी पत्नी और दो अन्य बच्चियाों की रिपोर्ट निगेटिव आई। तीन महीने की दूध मुंही बच्ची के लिए मां का दूध जरूरी था। डॉक्टर्स ने मां को बच्ची के पास रखने का प्लान किया। लेकिन दो बच्चे और भी थे। इन्हें कोई रिश्तेदार अपने पास रखने को राजी नहीं था। पॉजिटिव पिता व पॉजिटिव तीन महीने की बच्ची को एक कॉटेज रूम में शिफ्ट किया गया। वहीं, तीनों निगेटिव यानी मां व अन्य दो बेटियों को पास ही के दूसरे कॉटेज रूम में रखा गया ताकि मां तीन महीने की बच्ची को दूध पिला सके। इसके बाद मां राेज कटाेरी में दूध निकालकर चम्मच से पिलाती। डाॅक्टर्स की विशेष देखभाल में मां ने सुरक्षित तरीके से बच्ची काे दूध पिलाया और बच्ची ने कोरोना पर जीत हासिल की। दूसरी और तीसरी जांच नेगेटिव आने पर बच्ची को मंगलवार काे डिस्चार्ज कर दिया गया।

भीलवाड़ा में 3 माह की बच्ची की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद मंगलवार को उसे डिस्चार्ज कर दिया गया।

राजस्थान: जयपुर में संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1868 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1325 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 517, कोटा में 412, डूंगरपुर में 331, नागौर में 416, अजमेर में 309, पाली में 360, चित्तौड़गढ़ में 174, टोंक में 159, जालौर में 154, सीकर में 151, भरतपुर में 149, सिरोही में 139, झालावाड़ में 135, भीलवाड़ा में 127, राजसमंद में 126, झुंझुनूं में 98, बाड़मेर में 91, बांसवाड़ा और चुरू में 85-85, जैसलमेर में 82 (इनमें 14 ईरान से आए) मरीज मिले हैं।  

  • इसके अलावा, अलवर में 51, दौसा में 46, धौलपुर में 43, सवाई माधोपुर में 19, हनुमानगढ़ में 14, प्रतापगढ़ में 13, करौली में 11 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 5 संक्रमित मिले हैं। श्रीगंगानगर में 2 पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 12 लोग पॉजिटिव मिले।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 172 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 87 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई। इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, अजमेर, पाली और नागौर में 6-6, भरतपुर में 5, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, राजसमंद, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए तीन व्यक्ति की भी मौत हुई है।



Categories
sports

76 नए पॉजिटिव मिले, आज से जयपुर सहित सभी रेड जोन में चल सकेंगे कैब-ऑटो; पान-तंबाकू की बिक्री पर लगी रोक हटी


  • सीएम अशोक गहलोत के आदेश पर प्रदेश में लॉकडाउन 4 में छूट का दायरा और बढ़ा दिया गया है
  • जोधपुर में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 1200 पार, निगेटिव होकर घर लौटने वाले मरीजों की संख्या भी 867 हो गई

दैनिक भास्कर

May 26, 2020, 10:58 AM IST

जयपुर. राजस्थान में कोरोना संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। राज्य में संक्रमितों की संख्या 7 हजार का आंकड़ा पार करके 7376 पहुंच गई है। मंगलवार को भी 76 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें जयपुर में 16, उदयपुर में 13, झालावाड़ में 12, राजसमंद में 11, झुंझुनू और बीकानेर में 5-5, नागौर और कोटा में 4-4, पाली में 3, धौलपुर में 2, और भरतपुर में एक मरीज मिला। राज्य में सबसे खराब स्थिति जयपुर और जोधपुर की है। जयपुर में अब तक 1846 पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं, जोधपुर में यह आंकड़ा 1200 से पार पहुंच गया है।

जयपुर सहित सभी रेड जोन में ऑटो चलेंगे, पार्क खुलेंगे, तंबाकू बिक्री से रोक हटी

  • मंगलवार से प्रदेश में लॉकडाउन 4 में छूट का दायरा और बढ़ा दिया गया है। प्रदेश के रेड जोन में टैक्सी और ऑटो चलाने के आदेश जारी किए गए। जॉगिंग के लिए सुबह 7 बजे से शाम पौने 7 बजे तक पार्क भी खुलेंगे। एक साथ पांच से अधिक लोग नहीं टहल सकते। लेकिन पार्कों में यदि जिम और पूजा स्थल हैं तो उन्हें बंद ही रखा जाएगा।
  • टैक्सी व ऑटो रिक्शा सिर्फ एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड व अस्पताल से लेकर घर व घर से लेकर एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड व अस्पताल तक के लिए ही चलने की अनुमति दी गई है। एयरपोर्ट पर एयरपोर्ट अथॉरिटी की अनुमति से टैक्सी व ऑटो चलेंगे। वहीं, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड व अस्पताल ट्रैफिक पुलिस की अनुमति से रोटेशन के आधार पर टैक्सी व ऑटो चलेंगे।
  • गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव स्वरूप ने सोमवार देर रात ये आदेश जारी आदेश में प्रदेश में तंबाकू की बिक्री से भी रोक हटा ली गई है। हालांकि, सार्वजनिक स्थलों पर खाने की रोक जारी है।

अलवर: जेल में कैदियों की एंट्री बंद हुई तो 24 घंटे में कॉलेज में बना दी अस्थाई जेल

अलवर में कोरोना संक्रमण के कारण जेल में कैदियों की एंट्री पर ब्रेक लगा तो 24 घंटे में अस्थाई जेल (अस्थाई डिटेंशन सेंटर) तैयार कर दिया गया। अलवर सेंट्रल जेल में कैदियों को यह कहकर प्रवेश देने से मना कर दिया गया कि पहले संबंधित अपराधी की कोरोना जांच होगी, उसके बाद उसकी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही जेल में प्रवेश दिया जाएगा। दिन प्रतिदिन बढ़ रही कैदियों की संख्या के बाद जब चिंता ज्यादा हुई तो महज 24 घंटे में लॉर्ड्स कॉलेज को अस्थाई जेल का रूप दे दिया गया। जिन क्लास रूमों में बच्चे पढ़ते थे, वहां कैदी वार्ड बना दिए गए हैं। 

अलवर स्थित लॉड्रस कॉलेज के क्लासरूम में बनाई गई अस्थाई जेल। गर्मी को देखते हुए यहां कूलर भी लगाए गए हैं।

जयपुर: नर्सिंग ऑफिसर में लक्षण नहीं; जांच नहीं की, इमरजेंसी सैंपलिंग में निकला कोरोना पॉजिटिव

बेंगलुरु में नर्सिंग ऑफिसर उमेश कुमार 23 मार्च को जयपुर अपने घर आए तो लॉकडाउन में फंस गए। फ्लाइट्स शुरू हुई तो ड्यूटी जॉइन करने के लिए बेंगलुरु की तैयारी की। मेडिकल जांच के लिए एसएमएस के चरक भवन पहुंचे तो डॉक्टरो ने सामान्य जांच के बाद फिट घोषित कर दिया। नर्सिंग ऑफिसर ने जब सैंपलिंग को कहा तो डाक्टरों ने जवाब दिया- लक्षण नहीं हैं। सैंपलिंग की जरूरत नहीं। इस पर डॉक्टरों व नर्सिंग ऑफिसर में बहस भी हुई। मगर डॉक्टरों ने सैंपल नहीं लिया। बाद में उमेश ने चंडीगढ़ में रहने वाले परिचित डॉक्टर से एप्रोच लगाकर सीधे एसएमएस इमरजेंसी में सैंपल दे दिए। जिसके बाद जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई। अब उमेश निम्स अस्पताल में भर्ती है। आगरा रोड पर तिलक अस्पताल के पास स्थित शुभम विहार कॉलोनी के उमेश कुमार ने बताया कि उनके किसी तरह के कोई लक्षण नहीं हैं।

जोधपुर: शुगर, बीपी सहित कई गंभीर बीमारियों से जूझते हुए 45 बुजुर्गों ने दी कोरोना को मात

जोधपुर में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 1200 पार पहुंच गया, लेकिन निगेटिव होकर घर लौटने वाले मरीजों की संख्या भी 867 हो गई है। इनमें 60 से 90 साल के 45 कुछ ऐसे बुजुर्ग भी शामिल हैं, जिन्होंने शुगर, हाइपरटेंशन यानी बीपी सहित कई गंभीर बीमारियां हाेने के बावजूद काेराेना काे हराया। एमडीएमएच और एमजीएच में भर्ती रहे इन बुजुर्गों ने 14 से ज्यादा दिन की अवधि जरूर ली, लेकिन कोरोना से हार नहीं मानी। इनके अलावा छह एेसी गर्भवती महिलाएं जिनके अंतिम माह चल रहे थे, उन्होंने भी कोरोना को हराया और स्वस्थ्य होकर लौटीं।

 
उदयपुर में फल-सब्जी मंडी में व्यापारियों को परिचय पत्र से ही मिलेगा प्रवेश
कोरोना संक्रमण के दौर में प्रशासन से जारी निर्देशों के तहत सुरक्षा और मंडी परिसर में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए अब सविना स्थित फल-सब्जी मंडी में व्यापारियों और उनके स्टाफ को परिचय-पत्र से ही प्रवेश दिया जाएगा। क्षेत्रीय संयुक्त निदेशक संजीव पंड्या ने बताया कि मंडी समिति प्रशासन नई व्यवस्था 5 जून से लागू करेगा। योजना के तहत व्यापारियों का प्रवेश-पत्र मंडी प्रशासन बनाएगा और व्यापारी के यहां कार्य करने वाले सहायक प्रतिनिधि आदि का प्रवेश-पत्र बनाकर 4 जून तक व्यापार मंडल के माध्यम से मंडी प्रशासन को जानकारी देनी होगी। पंड्या ने बताया कि नई व्यवस्था को लेकर मंडी के व्यापार मंडल और सभी व्यापारियों को सूचित कर दिया है।

उदयपुर में एयरपोर्ट पर बुजुर्ग दंपती को ट्राइसाइकिल से जहाज तक छोड़ा।
  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1846 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1318 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 505, कोटा में 390, डूंगरपुर में 319, नागौर में 395, अजमेर में 307, पाली में 340, चित्तौड़गढ़ में 170, टोंक में 159, जालौर में 154, भरतपुर में 142, भीलवाड़ा में 118, सिरोही में 112, राजसमंद में 126, बांसवाड़ा में 85, झुंझुनूं में 96, सीकर में 126, जैसलमेर में 82 (इनमें 14 ईरान से आए), बाड़मेर में 87, बीकानेर में 83, चूरू में 85, झालावाड़ में 71 मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 44, अलवर में 51, धौलपुर में 43, सवाई माधोपुर में 18, हनुमानगढ़ में 14, प्रतापगढ़ में 12, करौली में 10 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 5 संक्रमित मिले हैं। श्रीगंगानगर में 1 पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 12 लोग पॉजिटिव मिले।

  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 167 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 83 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई। इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, अजमेर, पाली और नागौर में 6-6, भरतपुर में 5, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए तीन व्यक्ति की भी मौत हुई है।
Categories
sports

बांसवाड़ा में प्रवासियों को क्वारैंटाइन सेंटर ले जा रहे कोरोना वॉरियर्स पर पथराव, एक जवान जख्मी; 8 गिरफ्तार


  • राजस्थान में आज 272 पॉजिटिव मिले, इनमें सबसे ज्यादा 50 केस पाली से
  • राज्य में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 7300 पर पहुंचा, अब तक 167 की जान गई

दैनिक भास्कर

May 25, 2020, 10:49 PM IST

जयपुर. राजस्थान में सोमवार को कोरोना के 272 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें पाली में 50, नागौर में 48,  जोधपुर में 47, सीकर में 44, चूरू में 17, जयपुर में 13, उदयपुर में 12, सिरोही में 9, कोटा में 7, बाड़मेर और अलवर में 5-5, जालौर में 5, झुंझुनू में 3, राजसमंद में 3, दौसा, भीलवाड़ा, डूंगरपुर और सवाई माधोपुर में 1-1 संक्रमित मिला।

इसके बाद राज्य में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 7300 पहुंच गया। वहीं, चार लोगों मौत भी हो गई। इनमें अजमेर और जयपुर में 1-1 व्यक्ति की मौत हुई। साथ ही दूसरे राज्यों से आए दो लोगों ने भी दम तोड़ दिया। जिसमें एक 21 साल की लड़की भी शामिल थी। जिसके बाद कुल मौतों का आंकड़ा 167 पहुंच गया।

इधर, बांसवाड़ा जिले में रविवार शाम क्वारैंटाइन सेंटर पर प्रवासियों को लेकर आई प्रशासनिक टीम पर ग्रामीणों ने पथराव कर दिया। इसमें एक कांस्टेबल चोटिल हो गया। घटना कूपड़ा की चित्रा डूंगरी स्थित जवाहर नवोदय आवासीय स्कूल द्वितीय में बनाए क्वारैंटाइन सेंटर की है। गुस्साए लोगों ने तहसीलदार बृजेश अग्रवाल और पुलिसबल के साथ धक्का-मुक्की भी की। बाद में अतिरिक्त फोर्स मौके पर पहुंचा और भीड़ को तितर-बितर कर रास्ता खोला। पुलिस ने मौके से 8 उत्पातियों को गिरफ्तार किया है। यहां अफवाह थी कि प्रशासन क्वारैंटाइन सेंटर बनाकर काेराेना संक्रमितों काे रखेगा। इसी डर से ग्रामीणों ने विरोध किया। ग्रामीणों ने रास्ता रोका और कांटे डालकर खड़े हो गए थे।

जोधपुर: कोरोना महामारी में जरूरतमंदों का पेट भरने अपना मकान बेच दिया
कोरोना महामारी में यूं तो हर शख्स अपने तरीके से जरूरतमंदों की सेवा कर रहा है, लेकिन जाेधपुर के प्रतापसिंह सोढ़ा ने भूखे-प्यासे लोगों की मदद के लिए अपना मकान ही बेच दिया। पेशे से कमठा ठेकेदार हैं, लेकिन जब 22 मार्च को लॉकडाउन हुआ और लोगों को भूख-प्यास से बेहाल देखा तो बनाड़ गांव का अपना मकान 35 लाख में बेच दिया और उस राशि से जरूरतमंदों के लिए सुबह-शाम भोजन और चाय-नाश्ता की निशुल्क व्यवस्था शुरू कर दी। इनकी भोजनशाला में रोज 500 लोगों का खाना सुबह-शाम बनता है, जो पिछले 60 दिनों से निरंतर चल रही है। अब तक करीब 20 लाख से ज्यादा खर्च कर चुके हैं।

जोधपुर स्थित भोजनशाला में प्रतापसिंह अपने हाथ से खाना परोसते हुए।

जयपुर: कोविड वार्ड में ड्यूटी की तब निगेटिव, घर जाने से पहले पॉजिटिव आई

यहां झोटवाड़ा इलाके में एक नर्स पति और बच्चों के साथ किराए से रहती हैं। लेकिन, कोरोना वार्ड में ड्यटी लगने पर उन्होंने बच्चाें और पति को घर भेज दिया था। इसके बाद उस समय तीन बार सैम्पल की जांच करवाई, जो निगेटिव आई थी। ईद पर घर जाने से पहले नर्स ने 23 मई को सैम्पल दिया और सोमवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

जोधपुर: प्रसव से पहले मां भी पाॅजिटिव थी, डिलीवरी के बाद निगेटिव

विजय चाैक निवासी एक काेराेना संक्रमित गर्भवती काे 18 मई एमडीएम की जनाना विंग में भर्ती करवाया गया था। 22 मई की शाम उसने नॉर्मल डिलीवरी में एक बच्ची जन्म दिया। अगले दिन शनिवार शाम नवजात का सैंपल कोरोना जांच के लिए भेजा गया, जाे रविवार शाम पाॅजिटिव पाया गया। इधर, डिलीवरी के बाद बच्ची की मां का भी रिपीट टेस्ट किया गया, तोे निगेटिव आ गया। इसे देखते हुए अस्पताल प्रशासन ने मां और बच्ची काे अलग रखने का निर्णय लिया। बच्ची काे पीआईसीयू में भर्ती किया गया है। मां का दूध संग्रहित कर उसे पिलाया जाएगा।

डूंगरपुर के क्वारैंटाइन सेंटर में योग कराया जा रहा
डूंगरपुर जिले के पारड़ा चूंडावत क्वारेंटाइन सेंटर एक राेल माॅडल के रूप में विकसित हुआ है। यहां पर रहने वालों की सुबह 6 बजे भजनाें के साथ नींद खुलती है। दैनिक क्रिया करने के बाद याेग की क्लासेज लगती है। इसके बाद म्यूजिक पर एेराेबिक्स कराया जाता है।

डूंगरपुर की पारड़ा चूंडावत क्वारैंटाइन सेंटर में भजनों के साथ योग करवाया जा रहा।
  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1830 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1318 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 492, कोटा में 386, डूंगरपुर में 319, नागौर में 391, अजमेर में 307, पाली में 337, चित्तौड़गढ़ में 170, टोंक में 159, जालौर में 154, भरतपुर में 141, भीलवाड़ा में 118, सिरोही में 112, राजसमंद में 115, बांसवाड़ा में 85, झुंझुनूं में 91, सीकर में 126, जैसलमेर में 82 (इनमें 14 ईरान से आए), बाड़मेर में 87, बीकानेर में 78, चूरू में 85, झालावाड़ में 59 मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 44, अलवर में 51, धौलपुर में 41, सवाई माधोपुर में 18, हनुमानगढ़ में 14, प्रतापगढ़ में 12, करौली में 10 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 5 संक्रमित मिले हैं। श्रीगंगानगर में 1 पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 12 लोग पॉजिटिव मिले।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 167 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 83 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई। इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, अजमेर, पाली और नागौर में 6-6, भरतपुर में 5, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए तीन व्यक्ति की भी मौत हुई है।
Categories
sports

आज 52 नए पॉजिटिव मिले, एक की मौत ; कोटा में चलती हुई श्रमिक स्पेशल ट्रेन में महिला ने बच्ची को जन्म दिया


  • गहलोत बोले- अप्रैल और मई 2020 में गेहूं वितरण सामान्य की तुलना में दोगुना किया गया
  • प्रादेशिक परिवहन कार्यालय को नई गाइडलाइन के तहत खोलने के लिए नई व्यवस्थाएं लागू

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 10:59 AM IST

जयपुर. राजस्थान में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। रविवार को भी 52 नए केस सामने आए। इनमें जयपुर और अजमेर में 18-18, नागौर और डूंगरपुर में 4-4, बीकानेर और बाड़मेर में 2-2, झुंझुनू, कोटा, दौसा और जोधपुर में 1-1 पॉजिटिव मिला। जिसके बाद कुल संक्रमितों का आंकड़ा 6794 पहुंच गया। वहीं, चित्तौड़गढ़ में एक मौत भी हुई। जिसके बाद मौतों का कुल आंकड़ा 161 पहुंच गया।

कोरोना के लक्षण नहीं फिर भी पॉजिटिव मिली, अब मौत

चित्तौड़गढ़ जिले के चंदेरिया निवासी 48 वर्षीय महिला ने दम तोड़ दिया। सब्जी मंडी क्षेत्र निवासी महिला उदयपुर में 19 मई को पॉजीटिव मिली थी। इसके बाद उसका निजी अस्पताल से सरकारी एमबी अस्पताल के कोविड वार्ड में इलाज शुरू किया गया। मृतक विद्युत निगम में लाइनमैन की पत्नी है। पेट संबंधी किसी बीमारी के कारण परिजन पिछले महीने उदयपुर के गीतांजलि अस्पताल में आपरेशन कराकर 23 अप्रैल को यहां लाए थे। मई के पहले सप्ताह में चेकअप के लिए ले गए तो दो तीन दिन फिर भर्ती रही। यहां आने के बाद फिर तबियत बिगडी तो उसका शहर के एक निजी चिकित्सालय व सोनोग्राफी केंद्रों पर भी जांच व चेकअप हुआ। परिजन उसे 16 मई को वापस उदयपुर के उसी अस्पताल ले गए। जहां दो दिन बाद कोराना जांच में पॉजीटिव आई। परिवार और पड़ौसी इसलिए भी हैरान है कि पेट संबंधी बीमारी के अलावा उसमें कोरोना जैसे लक्षण नहीं दिखे थे। 

कोटा में चलती ट्रेन में महिला ने बच्ची को जन्म दिया, दोनों स्वस्थ

एक महिला ने शुक्रवार को चलती हुई श्रमिक स्पेशल ट्रेन में बच्ची को जन्म दिया। कोटा में प्रसूता व बच्ची का डॉक्टर ने परीक्षण किया और दाेनाें काे स्वस्थ बताया। रेलवे ने दोनों के लिए दूध व अन्य सामग्री उपलब्ध कराई। मामला मुंबई वसई रोड से उप्र के भदोही जा रही श्रमिक स्पेशल ट्रेन का है। ट्रेन कोटा में लगभग सवा घंटे रुकी रही।
 
अप्रैल-मई में दोगुना गेहूं बांटा : गहलोत

कोरोना संक्रमण के इस दौर में गरीबों, असहाय व जरूरतमंदों को राशन व अन्य सामग्री वितरण के मामले में राजस्थान मॉडल स्टेट के रूप में उभरा है। अप्रैल एवं मई 2020 में गेहूं वितरण सामान्य की तुलना में दोगुना किया गया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को वीसी के जरिए से खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की समीक्षा बैठक के दौरान यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना में लाभार्थियों को दो रुपए प्रति किलो गेहूं देने का प्रावधान है, लेकिन राज्य सरकार अंत्योदय अन्न योजना, बीपीएल, स्टेट बीपीएल श्रेणी के तहत आने वाले परिवारों को मार्च 2019 से ही एक रु. प्रति किलो गेहूं उपलब्ध करा रही है। इस श्रेणी के परिवारों को 1 रुपए प्रति किलो गेहूं वितरण पर मार्च 2020 तक राज्य सरकार ने 111 करोड़ रुपए की राशि वहन की। उन्होंने कहा-लॉकडाउन में निशुल्क गेहूं वितरण पर राज्य सरकार ने 114 करोड़ रु. अतिरिक्त वहन किए गए। भारतीय खाद्य निगम से गेहूं का उठाव सामान्य की तुलना में तीन गुना किया गया।

आरटीओ ऑफिस में फिजिकल डिस्टेंस की पालनाकोरोना महामारी के चलते करीब दो महीने बाद अब प्रादेशिक परिवहन कार्यालय को नई गाइडलाइन के तहत खोलने के लिए नई व्यवस्थाएं लागू कर दी गई हैं। अब आरटीओ ऑफिस में विभिन्न कामों के लिए आने वाले लोगों को कदम-कदम पर फिजीकल डिस्टेंसिंग, शारीरिक स्वास्थ्य और स्वच्छता की गाइडलाइन को फॉलो करना होगा। आवेदकों को तय समय से 15 मिनट पहले ही कार्यालय में एंट्री दी जाएगी।

तस्वीर जोधपुर की है। जहां बिहार श्रमिक स्पेशल ट्रेन से जोधपुर से डेढ़ हजार से ज्यादा श्रमिक रवाना हुए।

जयपुर में 348 संक्रमित सुपर स्प्रेडर में से 280 नेगेटिव हुए

जयपुर में पॉजिटिव मिल चुके 348 सुपर स्प्रेडर में से 280 लोगों की जांच निगेटिव आ गई है। शेष 68 में भी दो जांच की रिपोर्ट नेगेटिव आई। इधर, पिछले दो दिन में कोई भी सुपर स्प्रेडर पॉजिटिव नहीं निकला है। सुपर स्प्रेडर के शुक्रवार को 339 और गुरुवार को 287 सैंपल लिए गए थे। इनमें शनिवार को कोई भी कोरोना पॉजिटिव नहीं निकला। शहर में 28 अप्रेल से सब्जी विक्रेता, दुकानदार और बाजार में रोजमर्रा के काम करने वाले लोगों की कोरोना जांच चल रही थी। इस दौरान 12552 लोगों के सैंपल लिए गए।  

अलवर: किशनगढ़ बास में 31 शिक्षक होम क्वारेंटाइन
अलवर जिले के किशनगढ़बास के उप जिला कलेक्टर ने शिक्षा विभाग की ड्यूटी देने आए 31 शारीरिक शिक्षकों को गत एक सप्ताह से होम क्वारेंटाइन कर दिया, जबकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पिछले दिनों स्पष्ट किया था कि दूसरे जिलों से आए लोगों को होम क्वारेंटाइन नहीं किया जाए, लेकिन एसडीएम ने गृह मंत्रालय के आदेशों का हवाला देते हुए इन्हें होम क्वारेंटाइन किया हुआ है।

उदयपुर के एमबी में अब 400 भर्ती हुए, 4 की मौत हुई, 76 निगेटिव

एमबी की कोरोना सुपर स्पेशियलिटी विंग में अब तक संभाग के करीब 400 कोरोना पॉजिटिव रोगी भर्ती हुए हैं। इनमें से निम्बाहेड़ा के सराफा व्यापारी सहित दो, उदयपुर के बुजुर्ग और अब चित्तौड़गढ़ की महिला की कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते मौत हो गई। वहीं उदयपुर के गायरियावास निवासी महिला कोरोना पॉजिटिव निकली थी, जिसकी दो रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद एमबी अस्पताल में ही कैंसर से मौत हो गई थी। वहीं 400 में 150 कोरोना संक्रमित ठीक होकर अपने-अपने घर पहुंच चुके हैं।

तस्वीर श्रीगंगानगर की है। जहां बेटे के जन्मदिन पर श्रमिक पापा के पास टॉफी तक के पैसे नहीं थे, एसएचओ केक लेकर पहुंचीं।

33 में से 32 जिलों में पहुंचा कोरोना, सिर्फ बूंदी जिला अब तक सेफ

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1757 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1237 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 459, कोटा में 374, डूंगरपुर में 318, नागौर में 300, अजमेर में 303, पाली में 280, चित्तौड़गढ़ में 170, टोंक में 159, जालौर में 149, भरतपुर में 135, भीलवाड़ा में 111, सिरोही में 100, राजसमंद में 88, बांसवाड़ा में 85, झुंझुनूं में 86, सीकर में 79, जैसलमेर में 78 (इनमें 14 ईरान से आए), बाड़मेर में 78, बीकानेर में 77, चूरू में 68, झालावाड़ में 59 मरीज मिले हैं।

  • उधर, दौसा में 42, अलवर में 45, धौलपुर में 38, सवाई माधोपुर में 17, हनुमानगढ़ में 14, प्रतापगढ़ में 12, करौली में 10 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 5 संक्रमित मिले हैं। श्रीगंगानगर में 1 पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 10 लोग पॉजिटिव मिले।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 161 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 81 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई। इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, नागौर में 6, पाली, भरतपुर और अजमेर में 5-5, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई है।
Categories
sports

आज 48 नए पॉजिटिव मिले, संक्रमण से 2 की मौत; गहलोत बोले- अस्थि विसर्जन के लिए निशुल्क बसें चलाएंगे


  • राजस्थान से हरिद्वार और अन्य जगहों में अस्थि विसर्जन के लिए रोज 4- 5 बसें चलेंगी
  • राज्य में अब कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 6542 पहुंची, अब तक 155 की जान गई

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 12:10 PM IST

जयपुर.   राजस्थान में शनिवार को 48 नए पॉजिटिव केस मिले। इनमें नागौर में 17, कोटा में 10, झुंझुनू में 6, जयपुर में 5, झालावाड़ में 4, धौलपुर में 2, बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, भरतपुर और अजमेर में 1-1 संक्रमित मिला। इनके अलावा, राज्य में संक्रमण से दो लोगों की जान गई। जयपुर और कोटा में 1-1 संक्रमित व्यक्ति की मौत हुई। इसे मिलाकर राज्य में अब तक संक्रमण से 155 की जान जा चुकी है।

 राजस्थान में 3 मार्च को पहला कोरोना पॉजिटिव केस सामने आया था। इसके बाद से अब तक करीब 83 दिनों में कुल आंकड़ा 6542 पहुंच चुका है। हालांकि, राहत की बात यह है कि इनमें 3692 रिकवर भी हो चुके हैं। वहीं, 3258 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। अब राज्य में सिर्फ 2695 एक्टिव केस बचे हैं।

गहलोत ने कहा-  स्थि विसर्जन के लिए निशुल्क बसें चलाएंगे

प्रदेश में लॉकडाउन लागू होने के बाद विभिन्न कारणों से परिजन दिवंगत लोगों की अस्थि विसर्जन नहीं कर पाए। अब ऐसे में अस्थियां विसर्जन कराने के लिए विशेष बसें चलाई जाएंगी और किराया भी नहीं लिया जाएगा। इन बसों में अस्थि विसर्जन के लिए जाने वाले किसी भी परिवार के दो या तीन सदस्य मुफ्त में यात्रा कर सकेंगे। उत्तराखंड सरकार ने अस्थि विसर्जन के लिए बसों की आवाजाही पर सहमति दे दी है। 

कोरोना अपडेट्स 

  • अजमेर में जेएलएन अस्पताल के कोरोना वार्ड में भर्ती 12 साल के बच्चे का शुक्रवार को जन्मदिन मनाया गया। अस्पताल स्टाफ ने बच्चे के लिए केक मंगवाया और गाना गाकर बधाई दी। जन्मदिन पर ही बच्चे को देर शाम सबसे बड़ा उपहार मिला, जब उसकी कोरोना की एक रिपोर्ट निगेटिव आई। 

अजमेर के कोविड जेएलएन अस्पताल में संक्रमित बच्चे का जन्मदिन मनाया गया।
  • जयपुर: शहर की जेल राहत की खबर आई है। जेल में संक्रमित पाए गए 188 कैदियों में से 69 कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। 
  • भरतपुर में दूसरी रिपोर्ट भी निगेटिव आने के बाद दो युवकों को आरबीएम अस्पताल के कोरोना वार्ड से छुट्टी दे दी गई। सीएमएचओ डॉ. कप्तान सिंह ने बताया कि इनके अलावा 6 अन्य रोगियों की भी पहली रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। इस तरह अब तक 123 कोरोना पॉजिटव रोगी अस्पताल में इलाज से निगेटिव हो चुके हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि बहुत जल्द ही भरतपुर को कोरोना मुक्त कर लिया जाएगा।

बाड़मेर से साइकिल के जरिए झारखंड जा रहे श्रमिकों को प्रशासन ने जोधपुर रेलवे स्टेशन तक पहुंचाया।

33 में से 32 जिलों में पहुंचा कोरोना, सिर्फ बूंदी जिला अब तक सेफ

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1722 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1210 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 445, कोटा में 369, डूंगरपुर में 302, अजमेर में 280, नागौर में 273, पाली में 257, चित्तौड़गढ़ में 169, टोंक में 156, जालौर में 136, भरतपुर में 135, भीलवाड़ा में 100, सिरोही में 96, बांसवाड़ा में 85, झुंझुनूं में 83, जैसलमेर में 78 (इनमें 14 ईरान से आए), सीकर में 77, बीकानेर में 72, बाड़मेर में 70, राजसमंद में 69, चूरू में 64, झालावाड़ में 56 मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 41, अलवर में 40, धौलपुर में 38, सवाई माधोपुर में 17, हनुमानगढ़ में 14, प्रतापगढ़ में 12, करौली में 10 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 5 संक्रमित मिले हैं। श्रीगंगानगर में एक पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 10 लोग पॉजिटिव हैं।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 155 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 80 (जिसमें चार यूपी से) की जान गई। वहीं, इसके बाद जोधपुर में 17, कोटा में 15, पाली, भरतपुर और अजमेर में 5, सीकर और नागौर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर, भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़ में 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई।
Categories
sports

267 नए पॉजिटिव मिले, दो की मौत; अजमेर में 17 साल की लड़की से गैंगरेप का आरोपी कोरोना संक्रमित मिला


  • मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कृषि उत्पाद शुल्क 2% से घटाकर 0.5% किया
  • 25 मई से घरेलू उड़ान शुरू होंगी, जयपुर से 1 घंटे में 2 विमानों की आवाजाही होगी

दैनिक भास्कर

May 22, 2020, 10:20 PM IST

जयपुर. राजस्थान में शुक्रवार को कोरोना के 267 नए मामले सामने आए। इनमें पाली में 30, जयपुर में 29, नागौर और डूंगरपुर में 27-27, जोधपुर में 21, कोटा में 20, सिरोही में 18, बाड़मेर मे 14, उदयपुर में 12, बांसवाड़ा में 9, धौलपुर में 8, सीकर में 8, भीलवाड़ा में 7, जालौर, अजमेर और झुंझुनू में 6-6, चूरू और भरतपुर में 4-4, जैसलमेर में 3, प्रतापगढ़ और दौसा में 2-2, चित्तौड़गढ़, राजसमंद और बीकानेर में 1-1 संक्रमित सामने आया।

वहीं, दूसरे राज्य से आया एक व्यक्ति भी संक्रमित मिला। जिसके बाद कुल पॉजिटिव का आंकड़ा 6494 पहुंच गया। पाली और कोटा में 1-1 व्यक्ति की मौत भी हो गई। जिसके बाद मौतों का कुल आंकड़ा 153 पहुंच गया।

अजमेर में नाबालिग से गैंगरेप का आरोपी संक्रमित निकला

लॉकडाउन के दौरान 17 साल की लड़की से गैंगरेप के आरोप में गिरफ्तार युवकों में से एक हबीबुल्ला कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। अब पीड़ित लड़की और पुलिसकर्मियों समेत आरोपी के संपर्क में आए सभी लोगों के सैम्पल की जांच की जा रही है। हबीबुल्ला, असगर और राहिक की गिरफ्तारी 19 मई को हुई थी। पीड़ित ने 18 मई को पुलिस काे बताया था कि वह पास के ही गांव की रहने वाली है और सितंबर 2019 में घरवालाें से नाराज हाेकर सहेली के साथ यहां आ गई थी। 

कृषक कल्याण शुल्क 2% से घटाकर 0.5% किया गया
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कृषि उत्पादों पर कृषक कल्याण शुल्क 2% से घटाकर 0.5% कर दिया है। ऊन को शुल्क से मुक्त रखा गया है। ज्वार, बाजरा, मक्का, जीरा, ईसबगोल समेत जिन कृषि जिंसों पर मंडी शुल्क पचास पैसा प्रति सैकड़ा है। अब उन पर कृषक कल्याण शुल्क की वर्तमान दर दो रु. प्रति सैकड़ा की जगह 50 पैसा प्रति सैकड़ा ली जाए। इसी तरह तिलहन-दलहन, गेहूं समेत जिन कृषि जिंसों पर मंडी शुल्क की दर एक रुपया और 1.60 रु. प्रति सैकड़ा है। अब उन पर भी कृषि कल्याण शुल्क दो रु. प्रति सैकड़ा की जगह एक रु. प्रति सैकड़ा लिया जाए।

जयपुर से 1 घंटे में 2 विमानों की आवाजाही होगी

देशभर में 25 मई से घरेलू उड़ान शुरू हो रही हैं। जयपुर एयरपोर्ट से एक घंटे में अधिकतम दो विमानों की आवाजाही होगी। जयपुर एयरपोर्ट पर सैनेटाइजेशन और सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करने के लिए जरूरी व्यवस्थाएं की जा रही हैं।

जयपुर-बॉम्बे समेत 4 नियमित और 2 वीकली ट्रेन चलेंगी

रेलवे 1 जून से स्पेशल ट्रेन शुरू करने जा रहा है। इनमें से 6 ट्रेन जयपुर से चलेंगी। ये ट्रेनें नियमित चलने वाली ही हैं, लेकिन इन्हें 30 जून तक जीरो लगाकर विशेष नंबर से चलाया जाएगा। इनके रूट, टाइम, स्टॉपेज, कोच और किराया नियमित ट्रेन की तरह ही होगा। जनरल कोच को आरक्षित किया है। जनरल कोच को सैकंड सीटिंग की तर्ज पर ऑनलाइन बुक किया जाएगा। इनमें आरएसी और वेटिंग लिस्ट के भी टिकट जारी किए जाएंगे, लेकिन सीट कन्फर्म नहीं हुई तो यात्रा की अनुमति नहीं होगी। रेलवे ट्रेन में कंबल-चादर नहीं देगा।

बांसवाड़ा में उदयपुर रोड स्थित बाइक के शोरूम में लोगों को टेंप्रेचर चेक कर एंट्री दी गई।

जयपुर में अब तक 89 सुपर स्प्रेडर संक्रमित मिले

जयपुर में अब तक 89 सुपर स्प्रेडर्स संक्रमित मिले हैं। इनमें फल-सब्जी वाले 46, किराना दुकान वाले 17, ऑटो चालक 9 , मैकेनिक, कुक, मेडिकल स्टोर वाले 4-4 और 1-1 वाइन शॉप घरेलू गैस सप्लायर, दूधवाला, चायवाला और बार्बर शामिल हैं। ज्यादा लोगों के संपर्क में आने वालों को सुपर स्प्रेडर कहा जाता है। इनसे संक्रमण फैलने की आशंका ज्यादा होती है।

जालौर में 9 हजार घरों का सर्वे हुआ
जालौर में संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। यहां अब तक 130 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है। ऐसे में यहां मेडिकल टीम घर-घर जाकर स्क्रीनिंग और सैम्पलिंग कर रही है। जिले में अब तक 591 टीमों ने 9001 घरों का सर्वे कर 35 हजार 722 लोगों की स्क्रीनिंग की। 

कोटा के रामगंजमंडी के बाजार नंबर 2 में दुकानदार ने लोगों को जागरूक करने के लिए पुतलों को भी मास्क पहनाया।

33 में से 32 जिलों में पहुंचा कोरोना

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1717 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1210 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 445, कोटा में 359, डूंगरपुर में 302, अजमेर में 279, पाली में 257,  नागौर में 256, चित्तौड़गढ़ में 169, टोंक में 156, जालौर में 136, भरतपुर में 134, भीलवाड़ा में 99, सिरोही में 96, बांसवाड़ा में 84, जैसलमेर में 78 (इनमें 14 ईरान से आए), सीकर में 77, झुंझुनूं में 77, बीकानेर में 72, बाड़मेर में 70, राजसमंद में 69, चूरू में 64, झालावाड़ में 52 मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 41, अलवर में 40, धौलपुर में 36, सवाई माधोपुर में 17,  हनुमानगढ़ में 14, प्रतापगढ़ में 12,  करौली में 10 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 5 संक्रमित मिले हैं। श्रीगंगानगर में एक पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 10 लोग पॉजिटिव मिले।

  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 153 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 79 (जिसमें चार यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 14, पाली, भरतपुर और अजमेर में 5, सीकर और नागौर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर, भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़ में 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई।
Categories
sports

212 नए पॉजिटिव केस मिले, संक्रमण से 4 की मौत; प्रदेश में मरीजों की रिकवरी रेट 57 फीसदी


  • सीएम बोले- जिन जिलों में प्रवासी ज्यादा आए, वहां क्वारैंटाइन व्यवस्थाएं पुख्ता रखी जाएं
  • खाद्य मंत्री बोले- प्रवासी मजदूरों को 2 महीने तक 5 किग्रा प्रति व्यक्ति निशुल्क गेहूं दिया जाएगा

दैनिक भास्कर

May 22, 2020, 07:54 AM IST

जयपुर. राजस्थान में गुरुवार को कोरोना पॉजिटिव के 212 नए केस सामने आए। इनमें डूंगरपुर में 42, जालौर में 22, जयपुर में 21, नागौर में 16, जोधपुर में 14, उदयपुर में 13, पाली और भीलवाड़ा में 10-10, सिरोही और चूरू में 8-8, अजमेर और राजसमंद में 7-7, बाड़मेर और बीकानेर में 6-6, सीकर में 5, अलवर में 4, प्रतापगढ़ में 3, जैसलमेर, कोटा और झुंझुनू में 2-2, चित्तौड़गढ़, भरतपुर और झालावाड में 1-1 संक्रमित मिला। वहीं, यूपी से आया एक व्यक्ति भी पॉजिटिव पाया गया। जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 6227 पहुंच गई। साथ ही राज्य में चार मौत भी रिकॉर्ड की गई। इनमें जयपुर में 2, भरतपुर और सीकर में 1-1 ने दम तोड़ा।

गुरुवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट करके बताया कि यह बहुत संतोष की बात है कि राजस्थान कोरोना मरीजों में 57% की रिकवरी रेट के साथ सभी राज्यों में शीर्ष पर है। यह हमारे डॉक्टरों, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और मरीजों की इच्छा शक्ति की कड़ी मेहनत के कारण संभव हो पाया है। राजस्थान में अब तक 3485 रिकवर हो चुके। वहीं, 3115 को अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा चुका।

प्रवासियों को क्वारैंटाइन जरूर करें: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने निर्देश दिए कि प्रदेश के जिन जिलों में बाहर से आने वाले प्रवासियों की संख्या अधिक है, वहां क्वारैंटाइन व्यवस्थाएं पुख्ता रखी जाएं। बाहर से आए लोगों को अनिवार्य रूप से क्वारैंटाइन किया जाए। होम क्वारैंटाइन के नियमों का उल्लंघन करने वालों को संस्थागत क्वारैंटाइन में भेज दिया जाए। 

प्रवासी मजदूरों को निशुल्क गेहूं दिया जाएगा
खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश चंद मीना ने बताया कि लॉकडाउन के कारण अन्य राज्यों से लौट रहे मजदूरों को मई और जून में प्रति व्यक्ति 5 किग्रा गेहूं निशुल्क दिया जाएगा। यह लाभ ऐसे प्रवासी मजदूर को दिया जाएगा जो राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा में चयनित नहीं हैं। इनके अलावा दूसरे राज्यों के मजदूर जो बेरोजगार हो गए हैं और अपने राज्यों में नहीं गए, उन्हें भी यह लाभ मिलेगा। 

भरतपुर के ऊंचा नगला बॉर्डर पर कांग्रेस की ओर से भेजी गई बसें खड़ी होने के बावजूद अधिकांश प्रवासी श्रमिकों को पैदल ही जाना पड़ा।

भीलवाड़ा में पिता के साथ 4 महीने की बेटी भी संक्रमित

जिले में एक पिता और उसकी चार महीने की बेटी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इतनी छोटी बच्चे के संक्रमित होने का जिले में यह पहला मामला है। इसी के साथ जिले में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 84 हो गई है।

कुवैत में मौत, बांसवाड़ा में पुतले का अंतिम संस्कार किया गया

बांसवाड़ा में घाटोल कस्बे के नरवाली गांव के 45 साल के व्यक्ति की कोरोना से कुवैत के अस्पताल में 19 मई को मौत हो गई। उसके शव को कुवैत में ही दफनाया गया। इधर, परिजन को सूचना मिली तो उन्होंने बुधवार को एक मृतक का प्रतीकात्मक पुतला बनाकर रीति-रिवाजों के साथ अंतिम संस्कार किया। 

मृतक कुवैत में 22 साल से नौकरी कर रहा था। वहां उनकी मौत हुई तो बांसवाड़ा में परिजन ने पुतले का अंतिम संस्कार किया।

पाली: कोरोना से मरने वालों की अस्थियां प्रदूषित बांडी नदी में दफनाईं

पाली में कोरोना संक्रमिताें की मौत के बाद उनकी देह की राख और अस्थियों को गंदगी मेंं दफनाया जा रहा है। शहर में अब तक 5 संक्रमितों की मौत हुई है। इनमें से एक का अंतिम संस्कार जोधपुर में और दो का पाली के हिंदू सेवा मंडल में किया गया। बाकी दो मरीजों की मौत इस स्टिंग के बाद हुई। स्टिंग में पता चला कि मृतकों की अस्थियों को शहर की प्रदूषित बांडी नदी में जेसीबी से गड्ढा खुदवाकर गंदगी में ही दफनाया जा रहा है।

कोरोना संक्रमण से मृत 2 लोगों का अंतिम संस्कार शहर के विद्युत शव दाह गृह में किया गया। इसके बाद अस्थियां नगर निगम के कर्मचारियों को सौंप दी गईं। उन्होंने इसे जेसीबी से गड्‌ढा खोदकर प्रदूषित बांडी नदी के किनारे दफना दिया।

2 महीने बाद पुष्कर के घाटों पर लौटी रौनक

लॉकडाउन के कारण बीते 2 माह से सूने पड़े पुष्कर सरोवर के घाटों पर आज से रौनक लौट आई। गुरुवार को 100 से अधिक श्रद्धालु सरोवर में स्नान और पूजा करने पहुंचे। इनमें अधिकतर लोग अपने दिवंगत परिजन की अस्थियां हरिद्वार में विसर्जित कर गंगाजलि की पूजा करने आए। इसके अलावा कुछ लोग सरोवर में भी अस्थियां विसर्जन करने पहुंचे। 

33 में से 32 जिलों में पहुंचा कोरोना

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1688 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1189 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 433, कोटा में 339, अजमेर में 273, डूंगरपुर में 275, पाली में 227, चित्तौड़गढ़ में 168, टोंक में 156, नागौर में 229, भरतपुर में 130, जालौर में 130, भीलवाड़ा में 92, जैसलमेर में 75 (इनमें 14 ईरान से आए), बांसवाड़ा में 75, बीकानेर में 71, झुंझुनूं में 71, झालावाड़ में 52 मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 39, धौलपुर में 28, अलवर में 40, चूरू में 60, राजसमंद में 68, सिरोही में 78, हनुमानगढ़ में 14, सीकर में 69, सवाई माधोपुर में 17, बाड़मेर में 56, करौली में 10, प्रतापगढ़ में 10 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 5 संक्रमित मिले हैं। श्रीगंगानगर में एक पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 9 लोग पॉजिटिव मिले।

  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 150 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 79 (जिसमें चार यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 13, भरतपुर और अजमेर में 5, सीकर, पाली और नागौर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर, भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़ में 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई।



Categories
sports

61 नए कोरोना पॉजिटिव मिले, राजस्थान में बंद पड़े मॉल्स में ऑफिस और गैर शैक्षणिक कामों के लिए स्कूल-कॉलेज खुलेंगे


  • मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लॉकडाउन 4.0 के तहत छूट का दायरा मंगलवार रात को और बढ़ा दिया
  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं, यहां 1644 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित

दैनिक भास्कर

May 20, 2020, 10:58 AM IST

जयपुर. राजस्थान में बुधवार सुबह 61 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें नागौर में 17, डूंगरपुर में 11, झुंझुनू और सीकर में 8-8, कोटा में 6, सिरोही में 4, उदयपुर में 3, जयपुर में 2, झालावाड़ और बारां में 1-1 संक्रमित मिला। इसके बाद राज्य में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 5906 पर पहुंच गया। 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लॉकडाउन 4.0 के तहत छूट का दायरा मंगलवार रात को और बढ़ा दिया। उन्होंने कहा कि अब मॉल्स में बंद पड़े ऑफिस खोले जा सकेंगे, लेकिन दुकानें अब भी बंद रहेंगी। अब स्कूल-कॉलेजों में भी गैर-शैक्षणिक कार्यों के लिए ऑफिस खुल सकेंगे। यानी बच्चे नहीं, केवल शिक्षक और अन्य शैक्षणिककर्मी उपस्थित हो सकेंगे। प्रदेश में कंटनमेंट जोन को छोड़कर शेष स्थानों पर डेंटल चिकित्सा क्लीनिकों के संचालन के लिए जोनवार मंजूरी दी जाएगी।

डूंगरपुर: क्वारैंटाइन सेंटर में टिफिन देने गए परिजन, अब पॉजिटिव मिले युवक
सरोदा के क्वारैंटाइन सेंटर में भर्ती तीन युवकों के लिए घर से टिफिन में खाना पहुंचाना पूरे परिवार को भारी पड़ गया। हैरानी की बात है कि क्वारैंटाइन सेंटर में खाने की व्यवस्था होने के बाद भी परिजन घर से टिफिन लेकर वहां गए। अब युवकों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सभी परिजनों को भी क्वारैंटाइन कर दिया गया है। 

बस विवाद: एआईसीसी सचिव विवेक बंसल और यूपी कांग्रेस अध्यक्ष गिरफ्तार
कांग्रेस के नेता फिर से जयपुर-आगरा हाइवे स्थित ऊंचा नगला बॉर्डर पर बड़ी संख्या में बसें लेकर पहुंचे। इस बार भी योगी सरकार ने इन बसों को उत्तर प्रदेश में नहीं घुसने दिया। इससे नाराज कांग्रेस नेता वहीं धरने पर बैठ गए और करीब 3 किमी लंबा जाम लगा दिया। इस पर यूपी पुलिस ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव विवेक बंसल और यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। कांग्रेस हाइवे पर पैदल चल रहे प्रवासी श्रमिकों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए बसें चलाने की मांग कर रही है। 

जयपुर-आगरा एनएच स्थित ऊंचा नगला बॉर्डर पर राजस्थान से भेजी बसों को प्रवेश नहीं दिए जाने का विरोध करने पहुंचे यूपी कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अजय सिंह को पकड़ ले जाती यूपी पुलिस।

जयपुर: हाइपरटेंशन, कोल्ड और बुखार के 17614 मरीजों को दवाएं दी गईं

अस्पतालों में भले ही मरीज नहीं पहुंच पा रहे हैं लेकिन लोग बीमार हैं और उन्हें दवाइयों की जरूरत भी है। ऐसा इसलिए क्योंकि चिकित्सा विभाग की ओर से 17644 लोगों को ओपीडी सेवाएं मेडिकल मोबाइल ओपीडी वैन से दी गई, जिनमें से 17614 बीमार निकले। हालांकि इन सभी को आवश्यक दवाइयां दी गई। अभी हजारों लोग ऐसे हैं, जिनको परामर्श तक नहीं मिला है। ऐसे में लोग लॉकडाउन खुलने और अस्पताल जाने का इंतजार कर रहे हैं। चिकित्सा विभाग द्वारा चलाई गई मोबाइल ओपीडी वैन की ओपीडी में हजारों लोगों को कफ-कोल्ड, बुखार, हाइपरटेंशन, डायबिटीज व अन्य बीमारियां होना सामने आया है।

कोटा: कोरोना की वजह से 50 दिन से नहीं हो रहे रूटीन ऑपरेशन
कोटा मेडिकल कॉलेज से संबंधित हॉस्पिटलों में बीते करीब 50 दिन से रूटीन ऑपरेशन नहीं हो रहे। ऐसे में अब मरीजों की वेटिंग भी दिनों दिन बढ़ती जा रही है। कई सर्जन इसे लेकर अब खुद मान रहे हैं कि अब फिर से रूटीन सर्जरी शुरू की जानी चाहिए, क्योंकि अगले दो-तीन माह तक कोरोना का डर रहने वाला है। ऐसे में मरीजों में कॉम्पलिकेशन भी बढ़ेंगे और जिस दिन भी रूटीन सर्जरी शुरू की जाएगी, उस दिन मरीजों का वेटिंग काफी बढ़ जाएगी, जिसे संभालने में कई माह कम पड़ेंगे। वैसे भी डब्ल्यूएचओ कह चुका कि अब कोरोना के साथ जीने की आदत डालनी होगी।

पाली: पॉजिटिव मरीज दोपहर में अस्पताल से भागा, शाम को पुलिस ने पकड़ा
पाली जिले के रामदेव रोड निवासी युवक की मंगलवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उसे बांगड़ अस्पताल में भर्ती किया गया, लेकिन दोपहर बाद युवक बाथरूम जाने के बहाने अस्पताल से भाग निकला। शाम तक अस्पताल प्रशासन ने अपने स्तर पर ढूंढ़ने का प्रयास किया, लेकिन नहीं मिला। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। शाम को रामदेवरोड चौकी प्रभारी नारायणलाल विश्नोई व उनकी टीम ने घेराबंदी कर उसे पकड़ा और अस्पताल पहुंचाया।

अजमेर में लाॅकडाउन में छूट के बाद सड़काें पर आवाजाही बढ़ी।

33 में से 31 जिलों में संक्रमण पहुंचा

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1644 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1157 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 420, कोटा में 337, अजमेर में 259, डूंगरपुर में 222, नागौर में 213, पाली में 209, चित्तौड़गढ़ में 160, टोंक में 154, भरतपुर में 129, जालौर में 97, भीलवाड़ा में 82, जैसलमेर में 73 (इनमें 14 ईरान से आए), बांसवाड़ा में 72, झुंझुनूं में 68, बीकानेर में 65, झालावाड़ में 51, दौसा में 39, धौलपुर में 28, अलवर में 36, चूरू में 49, राजसमंद में 53, सिरोही में 69, हनुमानगढ़ में 14, सीकर में 60, सवाई माधोपुर में 17, बाड़मेर में 50, करौली में 10, प्रतापगढ़ में 7, बारां में 5 संक्रमित मिले। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिले हैं। दूसरे राज्यों से आए 7 लोग पॉजिटिव मिले।

  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 143 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 74 (जिसमें चार यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 13, अजमेर में 5, भरतपुर, पाली और नागौर में 4-4, सीकर और बीकानेर में 3-3, जालौर, करौली, अलवर, भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़ में 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है।
Categories
sports

122 नए पॉजिटिव केस सामने आए, एक की मौत; जयपुर में बड़ीं संख्या में सड़कों पर निकले लोग, कई जगह बनी जाम की स्थिति


  • गहलोत ने कहा कि प्रदेश के जिन क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा हुआ है उन क्षेत्रों को छोड़ कर सभी जगहों पर काॅमर्शियल एक्टिविटी शुरू की जाएंगी
  • एसएमएस अस्पताल में जानलेवा बीमारी कोरोना का दर्द झेल रहे मरीजों को 200 से ज्यादा डॉक्टर, पुलिस और नर्सेज प्लाज्मा देने के लिए तैयार

दैनिक भास्कर

May 19, 2020, 10:23 AM IST

जयपुर. राजस्थान में मंगलवार को 122 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें डुंगरपुर में 48, पाली में 29, नागौर में 16, उदयपुर में 10, कोटा में 5, जयपुर, प्रतापगढ़, झुंझुनू में 2-2, दौसा, झालावाड़, धौलपुर, सिरोही, चूरू, टोंक, अलवर और अजमेर में 1-1 संक्रमित मिला। जिसके साथ कुल संक्रमितों का आंकड़ा 5629 पहुंच गया। साथ ही भरतपुर में एक मौत भी रिकॉर्ड की गई। जिसके बाद कुल मौतों का आंकड़ा 139 पहुंच गया।

लॉकडाउन 4.0 की गाइडलाउन जारी होने के बाद सड़कों पर निकले लोग

जयपुर में लॉकडाउन 4.0 की शुरुआत के साथ अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई। यहां पर कर्फ्यू में ढील को लेकर काफी असमंजस पैदा हो गया। लोग अपने ऑफिस के लिए निकल पड़े। जिसके बाद सड़कों पर लंबा जाम लग गया। काफी संख्या में वाहन नॉन कफ्यू एरिया से कर्फ़्यू एरिया में चले गए। इसके बाद कर्फ़्यू ग्रस्त इलाकों के अंदर मौजूद पुलिस ने चालकों को समझाइश कर वापस भेजा।

निगेटिव दो मरीजों के साथ पॉजिटिव को भी कर दिया डिस्चार्ज, 16 घंटे बाद दोबारा लाए अस्पताल
डूंगरपुर जिला अस्पताल में मेडिकल कॉलेज द्वारा बनाए कोविड-19 डेडीकेटेट अस्पताल में डॉक्टरों की गंभीर लापरवाही सामने आई है। डॉक्टरों ने रविवार रात निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद दो मरीजाें के साथ एक पॉजिटिव मरीज को भी डिस्चार्ज कर दिया। हैरानी की बात है कि सोमवार सुबह 9 बजे तक अस्पताल प्रबंधन को अपनी इस बड़ी भूल का पता तक नहीं चला। इसके बाद अानन फानन में उसे वापस लाया गया। पॉजिटिव मरीज अपने गांव में 16 घंटे रहा। 
 
दूसरे राज्यों के लिए बसें चलाने को लेकर वार्ता जारी : गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रदेश के जिन क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा हुआ है उन क्षेत्रों को छोड़ कर सभी जगहों पर काॅमर्शियल एक्टिविटी शुरू की जाएंगी। अंतरराज्यीय बस परिवहन को लेकर अन्य राज्यों के साथ बातचीत चल रही है। प्रवासी मजदूर पैदल नहीं चलें, इसकी व्यवस्था भी की जा रही है। स्कूल, कॉलेज, सिनेमा हॉल या ऐसी जगह जहां ज्यादा लोग इकट्ठे होते हैं, वह अभी बंद रखने पड़ेंगे। राजस्थान में अब तक 5 लाख 80 हजार लोग बाहर से आ चुके हैं इनमें से 581 लोग कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं। केंद्र की ओर से जोन बनाने की जो छूट राज्यों को दी गई है उसका लाभ मिलेगा क्योंकि हर राज्य की अलग-अलग स्थिति होती है।

जोधपुर में पॉजिटिव से निगेटिव हुई महिला ने स्वस्थ बच्ची काे जन्म दिया

एमडीएमएच में कोरोना पॉजिटिव से निगेटिव हुई जालोर की 28 वर्षीय महिला ने सोमवार को 2.7 किग्रा की बच्ची को जन्म दिया। डिलीवरी सिजेरियन हुई। महिला 11 मई को जालोर में पॉजिटिव आई थी। गर्भवती होने से उसे एमडीएमएच जोधपुर रेफर किया। यहां महिला के 2 टेस्ट निगेटिव आए तो डिलीवरी कराना तय हुआ। सोमवार सुबह डॉ. संतोष खोखर, डॉ. विनीता शर्मा और डॉ. अस्मिता बानो ने सीजेरियन डिलीवरी कराई। जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। डॉ. बानो ने बताया कि जब सीनियर डॉक्टरों के साथ ऑपरेशन शुरू किया तो हिम्मत मिली और सफल रहा तो बहुत अच्छा लग रहा है। ऑपरेशन में करीब आधा घंटा लगा। ऑपरेशन से पहले पूरी सेफ्टी मेजर लिए। खुद के कपड़ों के साथ छह और लेयर थी बॉडी पर, फिर ऑपरेशन किया।

जयपुर में 200 से अधिक डॉक्टर, पुलिस और नर्सेज भी प्लाज्मा देने के लिए तैयार

एसएमएस अस्पताल में जानलेवा बीमारी कोरोना का दर्द झेल रहे मरीजों को 200 से ज्यादा डॉक्टर, पुलिस और नर्सेज प्लाज्मा देने के लिए तैयार है। ट्रांसफ्यूजन मेडिसन विभाग में एंटीबॉडीज की जांच भी करा चुके है। जिन मरीजों में कोरोना खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है, उनके लिए यह थैरेपी कारगर है। इसमें एंटीबॉडी इस्तेमाल किया जाता है। किसी खास वायरस के खिलाफ शरीर में एंटीबॉडी तभी बनता है, जब इंसान उससे पीड़ित होता है।

 
उदयपुर में एएसपी, 80 पुलिसकर्मियों की जांच रिपोर्ट निगेटिव

घंटाघर थाना के हॉट स्पॉट हेलावाड़ी क्षेत्र में ड्यूटी देने वाले एएसपी सिटी सहित 80 पुलिसकर्मियों की कोरोना जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है। एएसपी सिटी गोपाल स्वरूप मेवाड़ा ने बताया कि हेलावाड़ी सहित उसके आस-पास हॉट स्पॉट एरिया में ड्यूटी देने वाले पुलिसकर्मियों के जांच कराने के लिए सूरजपोल थाने के सामने मेडिकल कैंप लगाया गया था। इसमें डीएसपी नेत्रपाल सिंह, राजीव जोशी, हितेश मेहता, इंस्पेक्टर संजय शर्मा, भवानी सिंह सहित घंटाघर, सूरजपोल, धानमंडी थाना और लाइन के जाब्ते ने सैंपल दिए थे।

कोटा में 7 और मरीज किए डिस्चार्ज 

कोरोना को मात देकर कोटा के नए अस्पताल से 7 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। इनमें से 6 मरीजों को आलनिया स्थित क्वारेंटाइन सेंटर व 1 मरीज को घर भेजा गया है। अधीक्षक डॉ. सीएस सुशील ने बताया कि हमारे यहां से अब तक 243 मरीज डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। इनमें कोटा के अलावा बारां व झालावाड़ के मरीज भी शामिल हैं। साेमवार काे डिस्चार्ज किए गए मरीज प्रताप नगर, इंदिरा मार्किट, एक मीनार, कैथूनीपोल, बकरा मंडी, जयहिंद नगर निवासी हैं।

बीकानेर से मध्य प्रदेश के यह श्रमिक पैदल ही घर के लिए निकल पड़े।

33 में से 31 जिलों में संक्रमण पहुंचा

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1627 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1118 (इनमें 47 ईरान से आए), कोटा में 331, अजमेर में 257, उदयपुर में 411, टोंक में 150, चित्तौड़गढ़ में 159, नागौर में 190, भरतपुर में 129, बांसवाड़ा में 72, पाली में 161, जालौर में 97, जैसलमेर में 73 (इनमें 14 ईरान से आए), झालावाड़ में 50, झुंझुनूं में 60, भीलवाड़ा में 80, बीकानेर में 53, मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 39, धौलपुर में 28, अलवर में 36, चूरू में 47, राजसमंद में 53, सिरोही में 49, डूंगरपुर में 172, हनुमानगढ़ में 14, सीकर में 45, सवाई माधोपुर में 17, बाड़मेर में 33, करौली में 10, प्रतापगढ़ में 7 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 4 संक्रमित मिले हैं। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 7 लोग पॉजिटिव मिले।

  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 139 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 72 (जिसमें चार यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 12, अजमेर में 5, भरतपुर, पाली और नागौर में 4-4, बीकानेर  में 3, जालौर, करौली, अलवर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है।
Categories
sports

140 नए कोरोना पॉजिटिव मिले, दो की मौत; प्रवासी मजदूरों के लिए कांग्रेस ने बसें भेजीं, पर यूपी में एंट्री नहीं दी गई


  • मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बोले- मजदूरों के लिए श्रमिक स्पेशल बसें चलाएंगे, किराया नहीं लेंगे
  •  राजस्थान में संक्रमितों की संख्या 5 हजार 342 पहुंची, 133 लोगों की मौत हो चुकी

दैनिक भास्कर

May 18, 2020, 12:01 PM IST

जयपुर. राजस्थान में सोमवार को कोरोना के 140 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें डूंगरपुर में 64, भीलवाड़ा में 22, जयपुर में 21, उदयपुर में 15, बीकानेर और बांसवाड़ा में 4-4, दौसा में 3, कोटा, नागौर और राजसमंद में 2-2 और सीकर में 1 संक्रमित मिला। इसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 5 हजार 342 पहुंच गई। कोटा और नागौर में 1-1 मरीज की मौत के बाद प्रदेश में मरने वालों की कुल संख्या 133 पहुंच गई।

सरकार श्रमिक स्पेशल बसें चलाएगी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा- मजदूरों और उनके परिवारों का सैंकड़ों किलोमीटर धूप में पैदल चलना तकलीफ की बात है। उन्हें राहत देने के लिए बिना किराया लिए श्रमिक स्पेशल बसें चलाएंगे। इसके लिए दूसरे राज्यों से बात करेंगे। रोडवेज अपनी तैयार रखे।

पैदल चल रहे प्रवासी मजदूरों के लिए भेजी कांग्रेस की बसों को यूपी में घुसने से रोका

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के निर्देश पर राजस्थान कांग्रेस के कई नेता प्राइवेट बसें लेकर रविवार को भरतपुर जिले से यूपी बॉर्डर पर पहुंच गए। वहां उत्तर प्रदेश सरकार ने बसों को घुसने की परमिशन नहीं दी। कांग्रेस नेता देर शाम तक इन बसों को लेकर बॉर्डर पर ही खड़े रहे, रात को वापस लौटना पड़ा। इससे पहले भरतपुर-मथुरा रोड पर रारह बॉर्डर पर भी प्रवासी मजदूरों को यूपी में एंट्री नहीं दी गई। इस मुद्दे पर राजस्थान और उत्तर प्रदेश पुलिस आमने-सामने हो चुकी हैं।

राजस्थान में आज गाइडलाइन तय होंगी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रदेश में भी 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। केंद्र ने जो छूट दी हैं उनमें से कुछ पहले ही लागू कर चुके हैं। राज्य के हालातों को देखते हुए आज गाइडलाइन जारी की जाएंगी।

अजमेर में स्पेशल ट्रेन से यूपी रवाना होने से पहले श्रमिकों की जांच की गई।

जयपुर: गिरफ्तार आरोपी को रिमांड या जेल भेजने से पहले कोरोना टेस्ट जरूरी

जयपुर कमिश्नरेट के 51 थाना इलाकों में कोरोना फैल चुका है। अभी जयपुर के 43 थाना इलाकों में कर्फ्यू लगा है। वहीं, कैदियों के लगातार पॉजिटिव मिलने के बाद हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को निर्देश दिया है कि गिरफ्तार आरोपी का पहले कोरोना टेस्ट किया जाए। रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही उसे पुलिस रिमांड या न्यायिक हिरासत (जेसी) में भेजा जाए।

भीलवाड़ा: 22 नए संक्रमित मिले, सभी बाहर से आए

सोमवार सुबह भीलवाड़ा में कोरोना के 22 पॉजिटिव मामले सामने आए। इनके संपर्क में करीब 200 से अधिक लोग आए हैं। जिले में पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 77 हो गई है। पॉजिटिव रोगियों में ज्यादातर गंगापुर, सहाड़ा, रायपुर, करेड़ा और मांडल के हैं। अधिकारियों का कहना है इन इलाकों के कई लोग प्रदेश से बाहर मजदूरी करते हैं। 

उदयपुर: सबसे पहले संक्रमित होने वाली नर्स और उनके पति ने 45 दिन संघर्ष कर कोरोना को हराया
उदयपुर में सबसे पहले कोरोना पॉजिटिव निकली नर्स और उनके पति रविवार को डिस्चार्ज हुए। वे 45 दिन अस्पताल में रहे। उनके परिवार के दो बच्चे भी संक्रमित हुए थे, जो पहले ही ठीक होकर घर जा चुके हैं।

नर्स उमामा और उनके पति कोरोना को मात देकर घर पहुंचे।

33 में से 31 जिलों में संक्रमण पहुंचा

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1 हजार 599 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1 हजार 83 (इनमें 47 ईरान से आए), कोटा में 326, अजमेर में 255, उदयपुर में 395, टोंक में 147, चित्तौड़गढ़ में 154, नागौर में 174, भरतपुर में 123, बांसवाड़ा में 72, पाली में 128, जालौर में 72, जैसलमेर में 61 (इनमें 14 ईरान से आए), झालावाड़ में 49, झुंझुनूं में 56, भीलवाड़ा में 77, बीकानेर में 51, मरीज हैं।

  • दौसा में 36, धौलपुर में 24, अलवर में 35, चूरू में 46, राजसमंद में 45, सिरोही में 42, डूंगरपुर में 124, हनुमानगढ़ में 14, सीकर में 40, सवाई माधोपुर में 17, बाड़मेर में 22, करौली में 10, प्रतापगढ़ में 5 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 4 संक्रमित मिले हैं। जोधपुर में बीएसएफ के 49 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 7 लोग पॉजिटिव मिले।

  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 133 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 70 (जिनमें चार यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 12, अजमेर में 5, नागौर में 4, बीकानेर, भरतपुर और पाली में 3-3, करौली, अलवर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़ और सीकर में  2-2, जालौर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है।
Categories
sports

आज 24 जिलों में 242 नए पॉजिटिव मिले, 5 की मौत; गहलोत बोले- सरकार श्रमिकों को आर्थिक मदद देगी


  • रविवार को जयपुर में 2 लोगों की मौत हुई, राज्य में संक्रमण से मौत का कुल आंकड़ा 128 पहुंच गया
  • रोजगार उपलब्ध कराने के लिए प्रदेश में ऑनलाइन ‘लेबर एम्पलॉयमेंट एक्सचेंज’ बनाया जाएगा

दैनिक भास्कर

May 17, 2020, 10:55 PM IST

जयपुर. राजस्थान में कोरोना संक्रमण की स्थिति बेकाबू होती जा रही है। रविवार को राज्य के 24 जिलों में 242 नए केस सामने आए। यह एक दिन में मिले संक्रमितों का सबसे बड़ा आंकड़ा है। रविवार को  जयपुर में 60 (12 सेंट्रल जेल और 2 जयपुर जिला जेल के कैदी संक्रमित),  जोधपुर में 43, डूंगरपुर में 18, उदयपुर में 17, पाली में 14, चूरू में 13, नागौर में 11, सिरोही और  राजसमंद में 10-10, सीकर में 12, कोटा, बीकानेर और भीलवाड़ा में 5-5 संक्रमित मिले।

इसके अलावा, बाड़मेर में 4, जालौर में 3, चित्तौड़गढ़, अलवर और झुंझुनू में 2-2, झालावाड़, अजमेर, दौसा, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और करौली में 1-1 संक्रमित मिला। राज्य में अब कुल संक्रमितों का आंकड़ा 5202 पहुंच गया। वहीं, पांच लोगों की मौत भी हो गई। इनमें जयपुर में 2, बीकानेर, भरतपुर और कोटा में 1-1 की मौत हुई। जिसके बाद कुल मौतों का आंकड़ा 131 पहुंच गया।

इस बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को बताया कि श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने और जरूरत पड़ने पर आर्थिक मदद देने की तैयारी कर ली है। प्रदेश में ऑनलाइन ‘लेबर एम्पलॉयमेंट एक्सचेंज’ बनाया जाएगा इसके साथ प्रवासी राजस्थानी श्रमिक कल्याण कोष के गठन को भी मंजूरी दे दी गई है। लेबर एम्पलॉयमेंट एक्सचेंज के जरिए श्रमिकों को उनके कौशल के अनुरूप रोजगार मिल सकेगा औैर उद्योगों को उनकी जरूरत के मुताबिक श्रमिक उपलब्ध हो सकेंगे। 

लॉकडाउन फेज 4 : मॉल और सिनेमा हॉल अभी बंद रहेंगे, हॉटस्पॉट इलाकों में छूट नहीं मिलेगी

सोमवार से लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू होगा। इस दौरान क्या-क्या खुलेगा, इस पर राज्य सरकार रविवार शाम तक फैसला करेगी। माना जा रहा है कि जयपुर, जोधपुर, उदयपुर समेत प्रदेश में हॉटस्पॉट बने शहरों के कर्फ्यू वाले और कंटेनमेंट एरिया में सरकार किसी प्रकार की छूट नहीं देगी। ऑरेंज और ग्रीन जोन वाले शहरों में मॉल, सिनेमा हाल को छोड़कर सभी बाजार खोलने की अनुमति मिल सकती है।

कोरोना अपडेट्स 

  • जयपुर: जिला जेल कोरोना का नया हॉटस्पॉट बन गया है। यहां अब तक 423 कैदियों के कोरोना सैंपलों की जांच में 142 कैदी और खुद जेल अधीक्षक संक्रमित पाए गए। रविवार को यहां 14 नए पॉजिटिव मिले। इससे पहले शनिवार को आई जांच रिपोर्ट में 119 पॉजिटिव मिले थे। जबकि जेल अधीक्षक और 9 कैदी एक दिन पहले संक्रमित पाए गए थे। 

  • उदयपुर: शहर में अभी तक एमबी अस्पताल में तैनात डॉक्टर, नर्स, आरएसी जवान, होमगार्ड जवान, सफाईकर्मी, किराना विक्रेता, राशन वितरण करने वाले यूआईटी के तीन कार्मिक, गुजरात-महाराष्ट्र से आने वाले लोग ही सबसे पहले संक्रमित पाए गए। फिर इनके आपपास के लोगों में कोरोनावायरस की पुष्टि हुई। इससे जाहिर होता है कि जिन लोगों का मूवमेंट घरों से बाहर रहा, वह और उनके संपर्क में आने वाले ही कोरोना की चपेट में आए हैं

विरोध का यह फोटो कोटा के जाेगीपाड़ा के महाकालेश्वर महादेव मंदिर का है। इलाके के भरत शाक्यवाल का कहना है कि 6 अप्रैल से यहां कर्फ्यू है और अब लोगों के पास पैसे, राशन, दूध, सब्जी खत्म हो चला है।
  • कोटा: परकोटा क्षेत्र में कोरोना के हॉटस्पॉट को खत्म करने के लिए अब चिकित्सा विभाग रणनीति में बदलाव कर रहा है। क्योंकि तंग गलियों वाले इन मोहल्लों में अब तक किए सारे प्रयास विफल हो चुके हैं और करीब डेढ़ माह से यहां कर्फ्यू के बावजूद रोज नए केस रिपोर्ट हो रहे हैं। अब विभाग ने तय किया है कि इन पूरे क्षेत्रों को खास ढंग से कंटेन करते हुए राेज हाई रिस्क ग्रुप के लोगों की सैंपलिंग की जाए। इसे जिले में बतौर पायलट प्रोजेक्ट सबसे पहले इंदिरा मार्केट, बजाजखाना, चंद्रघटा और पाटनपोल में लागू किया जा रहा है।

यह तस्वीर अलवर की है। यहां दूध विक्रेता राजेश गुर्जर ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए पाइप के जरिए दूध देना शुरू किया है। उनकी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। 

33 में से 31 जिलों में पहुंचा कोरोना

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1578 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1083 (इनमें 47 ईरान से आए), कोटा में 324, अजमेर में 255, उदयपुर में 380, टोंक में 147, चित्तौड़गढ़ में 154, नागौर में 172, भरतपुर में 123, बांसवाड़ा में 68, पाली में 128, जालौर में 72, जैसलमेर में 61 (इनमें 14 ईरान से आए), झालावाड़ में 49, झुंझुनूं में 56, भीलवाड़ा में 55, बीकानेर में 47, मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 33, धौलपुर में 24, अलवर में 35, चूरू में 46, राजसमंद में 43, सिरोही में 42, डूंगरपुर में 60, हनुमानगढ़ में 14, सीकर में 39, सवाई माधोपुर में 17, बाड़मेर में 22, करौली में 10, प्रतापगढ़ में 5 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 4 संक्रमित मिले हैं। जोधपुर में बीएसएफ के 49 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 7 लोग पॉजिटिव मिले।

  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 131 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 70 (जिसमें चार यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 11, अजमेर में 5, बीकानेर, भरतपुर,  पाली और नागौर में 3-3, करौली, अलवर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़ और सीकर में  2-2, जालौर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है।
Categories
sports

जयपुर जिला जेल में 48 कैदी पॉजिटिव मिले, कुल 91 नए संक्रमित केस सामने आए; पिछले 24 घंटे से नहीं बढ़ा मौत का आंकड़ा


  • गहलोत के निर्देश- हॉटस्पॉट और कर्फ्यू एरिया को छोड़कर एक जिले से दूसरे जिले में जाने वाले व्यक्तियों को 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन नहीं किया जाए
  • राजस्थान में अब तक कुल 4838 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं, इनमें से 2772 लोग इलाज के बाद रिकवर भी हो चुके हैं 

दैनिक भास्कर

May 16, 2020, 09:53 AM IST

जयपुर. राजस्थान में शनिवार सुबह 91 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें जिला जेल के 48 कैदियों समेत जयपुर में 55 नए संक्रमित मिले। साथ ही डूंगरपुर में 21, उदयपुर में 9, सिरोही में 2, कोटा, झुंझुनू, भरतपुर और अजमेर में 1-1 संक्रमित मिला। जिसके बाद संक्रमितों का कुल आंकड़ा 4838 पर पहुंच गया। वहीं राजस्थान के लिए राहत की बात रही कि पिछले 24 घंटे में यहां कोई नई मौत नहीं हुई।

एक से दूसरे जिले में जाने वाले क्वारेंटाइन नहीं होंगे : गहलोत

सीएम अशोक गहलोत ने निर्देश दिए कि हॉटस्पॉट और कर्फ्यू एरिया को छोड़कर प्रदेश में एक जिले से दूसरे जिले में जाने वाले व्यक्तियों को 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन नहीं किया जाए। केवल उन्हीं लोगों को क्वारैंटाइन करें, जिनमें सर्दी, खांसी या जुकाम (आईएलआई) के लक्षण पाए जाएं। सीमावर्ती जिलों के औद्योगिक क्षेत्रों जैसे भिवाड़ी व नीमराणा आदि में प्रतिदिन की व्यावसायिक गतिविधियों के लिए आने वाले दूसरे राज्यों के उद्यमियों एवं श्रमिकों को भी क्वारैंटाइन नहीं किया जाए।

कोरोना के कारण स्टांप ड्यूटी पर सरचार्ज 10 फीसदी बढ़ाया

राज्य सरकार ने स्टांप ड्यूटी पर 10 प्रतिशत सरचार्ज बढ़ा दिया है। अब सरचार्ज बढ़कर 30 फीसदी हो गया है। यह इजाफा गो संरक्षण, प्राकृतिक आपदा व महामारी से निपटने के लिए फंड जुटाने को किया गया है। इससे पहले 10 फीसदी गो संरक्षण सेस व 10 फीसदी आधार भूत संरचना व पंचायती राज संस्थाओं के वित्त पोषण के लिए सरचार्ज लागू था। सरकार ने इसी साल फरवरी में स्टांप ड्यूटी में 1 % का इजाफा किया था। यह आदेश तुरंत प्रभाव से लागू हुए हैं, इसलिए 15 मई को पुरानी स्लैब में जितनी भी सेल डीड हुईं हैं, उन्हें फिर से वेरिफाई कराकर अंतर राशि वसूली जाएगी।

एक पिता बोला- बेटी पॉजिटिव है तो क्या हुआ… मेरे कलेजे का टुकड़ा है, हार नहीं मानूंगा

डूंगरपुर में प्रवासियों के आने के बाद कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को मरीजों की संख्या 15 पहुंच गई है। इस बार मरीजों में दो साल ही मासूम बच्ची भी शामिल है। बच्ची पॉजिटिव वार्ड में भर्ती में है। इसके साथ उसका पिता भी हैं, जबकि पिता की रिपोर्ट निगेटिव है। मासूम के पिता ने बताया कि उसकी एक ही बेटी है, जो उसके कलेजे का टुकड़ा है। वह पॉजिटिव है तो क्या हुआ। कोरोना से संघर्ष में वह आखिरी सांस तक अपनी बेटी के साथ है। 

डूंगरपुर में दो साल की मासूम बेटी के साथ अस्पताल में भर्ती हुआ पिता।

जयपुर में रिकवरी बढ़ी 

जयपुर में सबसे बड़ी राहत की बात यह है कि यहां रिकवरी बढ़ी है। अकेले रामगंज में ही 87% रोगी यानी करीब 500 रोगी रिकवर हो चुके हैं। रामगंज में मरीजों की संख्या 574 है। यानी अब एक्टिव केस 74 ही बचे हैं। वहीं जयपुर में रिकवर हुए लोगों की कुल संख्या 880 है।

उदयपुर में क्वारैंटाइन के बार-बार उल्लंघन पर दर्ज होगा केस, लगेगी 2 साल जेल वाली धारा

कोरोना संक्रमण के बढ़ते फैलाव को देखते हुए अब बार-बार क्वारेंटाइन की पाबंदियों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ प्रशासन पुलिस केस दर्ज करवाएगा। इसमें 2 साल की सजा के प्रावधान वाली धारा लगाई जाएगी। प्रभारी अधिकारी और जिला परिषद सीईअाे कमर चौधरी ने सभी एसडीओ को पत्र लिखा है कि बार-बार क्वारेंटाइन का उल्लंघन करने वाले लोगों के कारण क्षेत्र में संक्रमण फैलने का अंदेशा है। आपके क्षेत्र में कोई व्यक्ति क्वारेंटाइन की पाबंदियों का उल्लंघन करता है तो उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 188 और 270 के तहत पुलिस में मामला दर्ज करवाएं, जिसमें दाे साल तक की सजा का प्रावधान है।

कोटा में रिकवर हुए 26 मरीजों को क्वारैंटाइन सेंटर भेजा, निगेटिव मिले 4 नवजात डिस्चार्ज हुए

नए अस्पताल से 26 मरीजों को डिस्चार्ज करके आलनिया स्थित क्वारैंटाइन सेंटर भेज दिया गया। अब ये वहीं अपनी क्वारैंटाइन अवधि बिताकर घर भेज दिए जाएंगे। जिसके बाद कुल डिस्चार्ज मरीजों का आंकड़ा 198 पहुंच गया है, जिसमें से 182 मरीज कोटा व 16 अन्य जिलों से है। ये सभी वे मरीज है, जिनकी दो बार रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी। वहीं, जेकेलोन अस्पताल से गत दिनों एडमिट हुई पांचों प्रसूताओं के नवजात रिपीट टेस्ट में भी निगेटिव आ गए हैं। इनमें से 4 नवजात को डिस्चार्ज कर दिए गए।

प्रवासियों को लेकर बेंगलुरू से उदयपुर ट्रेन पहुंची। ट्रेन के एक कोच में सास-बहू भी थे। इस दौरान सास बोली घुंघट नहीं मास्क ज्यादा जरूरी।

33 में से 31 जिलों में पहुंचा कोरोना

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1442 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1033 (इनमें 47 ईरान से आए), कोटा में 319, अजमेर में 248, उदयपुर में 363, टोंक में 144, चित्तौड़गढ़ में 151, नागौर में 158, भरतपुर में 123, बांसवाड़ा में 68, पाली में 113, जालौर में 69, जैसलमेर में 61 (इनमें 14 ईरान से आए), झालावाड़ में 48, झुंझुनूं में 54, भीलवाड़ा में 43, बीकानेर में 41, मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 32, धौलपुर में 24, अलवर में 33, चूरू में 33, राजसमंद में 33, सिरोही में 24, डूंगरपुर में 36, हनुमानगढ़ में 14, सीकर में 26, सवाई माधोपुर में 16, बाड़मेर में 17, करौली में 9, प्रतापगढ़ में 4 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 4 संक्रमित मिले हैं। जोधपुर में बीएसएफ के 49 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 6 लोग पॉजिटिव मिले।

  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 125 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 67 (जिसमें चार यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 10, अजमेर में 5, पाली और नागौर में 3-3, करौली, अलवर, बीकानेर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, सीकर और भरतपुर 2-2, जालौर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है।  
Categories
sports

सबसे ज्यादा 213 नए पॉजिटिव मिले; मुख्यमंत्री ने कहा- एक भी मजदूर पैदल जाता दिखा तो एसडीएम जिम्मेदार होंगे


  • राजस्थान में अब तक 4747 संक्रमित केस सामने आए, इनमें से 2421 डिस्चार्ज हो चुके हैं
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 125 लोगों की मौत हुई, इनमें सबसे ज्यादा जयपुर में 67 मौतें

दैनिक भास्कर

May 15, 2020, 10:05 PM IST

जयपुर. राजस्थान में लगातार तीसरे दिन 200 से ज्यादा लोग पॉजिटिव मिले हैं। शुक्रवार को राज्य में सबसे ज्यादा 213 नए संक्रमित केस सामने आए। इनमें कोटा में 48, उदयपुर में 38, जयपुर में 23, पाली में 13, जोधपुर में 31, चित्तौड़गढ़ में 9, सीकर में 7, जैसलमेर में 6, अजमेर और जालौर में 5-5, दौसा में 4, राजसमंद में 3, नागौर, हनुमानगढ़ और चूरू में 2-2, झालावाड़, बीकानेर, बाड़मेर, झुंझुनू, करौली, डूंगरपुर, बारां, भरतपुर में 1-1 मरीज मिला।

इनमें बीएसएफ के 6 जवान भी जोधपुर में संक्रमित मिले। वहीं, मध्यप्रदेश का एक व्यक्ति भी पॉजिटिव मिला। इसे मिलाकर राज्य में कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 4747 पहुंच गई है। इससे पहले गुरुवार को 206 और बुधवार को 202 पॉजिटिव केस सामने आए थे।

उधर, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रवासी मजदूरों का पैदल अपने घरों के लिए रवाना होना बेहद तकलीफदेह है। उन्होंने कहा कि राज्य में कहीं भी मजदूर पैदल जाते दिखे तो एसडीएम (सब डिविजनल मजिस्ट्रेट) जिम्मेदार होंगे। राज्य में तीन महिला डीएसपी डीएसपी प्रेम धणदे, सुधा पालावत और चेतना भाटी ने गर्भवती महिलाओं की मदद के लिए हैलो मम्मी वॉट्सऐप ग्रुप बनाया है। इस ग्रुप से अब तक कर्फ्यू क्षेत्र की 150 गर्भवती महिलाएं जुड़ चुकी हैं। इसके जरिए दो दिन में चार गर्भवती महिलाओं को मदद पहुंचाई गई है।

कोरोना अपडेट्स 

  • अजमेर: जेएलएन अस्पताल के शिशु यूनिट स्थित एसएनसीयूआई में ड्यूटी पर तैनात नर्सेज इन दिनों चार दिन की नवजात के लिए पूरी ‘दुनिया’ बनी हुई हैं। जनाना अस्पताल में गत दिनों पॉजिटिव आई एक प्रसूता को कोरोना वार्ड में भर्ती किया गया है। एहतियातन, प्रसूता के पति को भी क्वारैंटाइन सेंटर भेज दिया गया।

अजमेर के जेएलएन अस्पताल में नर्से नवजात को संभाल रही हैं।
  • जयपुर: शहर में पुलिस ने मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग के लिए एक अभियान शुरू किया है। सोमवार से नियमों का पालन नहीं किया तो जुर्माना वसूला जाएगा।
  • जालोर: शहर में एक संक्रमित व्यक्ति मिलने के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया है। इसके अलावा, भड़वल, सियाणा, जूनीबाली, कलापुरा, राजीकावास और पावटी में पहले से ही कर्फ्यू लागू है। गोलाना गांव में भी सख्त पाबंदी है। 
  • उदयपुर: स्थानीय प्रशासन ने बताया कि राज्य सरकार से एक दिन पहले दुकान, रेस्टोरेंट, भोजनालय खोलने को मिली छूट के बावजूद नगर निगम क्षेत्र के कंटेनमेंट जोन एरिया और जिले के समस्त कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्र में यह छूट लागू नहीं होगी। 

बारां फोरलेन पर घर जा रहे 10 युवाओं की टोली। ये सभी उदयपुर में बिल्डिंग मजदूर थे। उन्होंने बताया सरकार ने ट्रेन चलाई तो लगा कि घर पहुंच सकते हैं। दो बार स्टेशन से लौटा दिया गया। जेब में खाने के लिए भी पैसे नहीं बचे तो पैदल ही निकल पड़े।

33 में से 31 जिलों में पहुंचा कोरोना

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1387 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1033 (इनमें 47 ईरान से आए), कोटा में 318, अजमेर में 247, उदयपुर में 354, टोंक में 144, चित्तौड़गढ़ में 151, नागौर में 158, भरतपुर में 122, बांसवाड़ा में 68, पाली में 113, जालौर में 69, जैसलमेर में 61 (इनमें 14 ईरान से आए), झालावाड़ में 48, झुंझुनूं में 53, भीलवाड़ा में 43, बीकानेर में 41, मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 32, धौलपुर में 24, अलवर में 33, चूरू में 33, राजसमंद में 33, सिरोही में 22, डूंगरपुर में 15, हनुमानगढ़ में 14, सीकर में 26, सवाई माधोपुर में 16, बाड़मेर में 17, करौली में 9, प्रतापगढ़ में 4 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 4 संक्रमित मिले हैं। जोधपुर में बीएसएफ के 49 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 6 लोग पॉजिटिव मिले।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 125 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 67 (जिसमें चार यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 10, अजमेर में 5, पाली और नागौर में 3-3, करौली, अलवर, बीकानेर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, सीकर और भरतपुर 2-2, जालौर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है।
Categories
sports

90 नए पॉजिटिव मिले, 2 माह के बच्चे की मौत; रेस्टोरेंट, एसी-कूलर और वाहनों के शोरूम खोलने के आदेश


  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 122 लोगों की मौत हुई, इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 65 ने दम तोड़ा
  • राजस्थान में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 4418 पहुंच गया है, इनमें 1697 एक्टिव केस हैं

दैनिक भास्कर

May 14, 2020, 03:43 PM IST

जयपुर. राजस्थान में गुरुवार को कोरोनावायरस के 90 नए मामले सामने आए। इनमें उदयपुर में 25, नागौर और जयपुर में 16-16, जोधपुर में 8, अजमेर में 6, चूरू और सीकर में 4-4, सीकर में 3, राजसमंद में 3, जालौर में 2, अलवर, करौली और कोटा में 1-1 संक्रमित मिला। कुल संक्रमितों का आंकड़ा 4418 पहुंच गया। वहीं, आगरा से आए 2 महीने के एक बच्चे की मौत भी हो गई। इसे 13 मई को ही एसएमएस अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। बच्चे को दिल की बीमारी थी।

लॉकडाउन के चौथे फेज में जाने से पहले ही प्रदेश सरकार ने कारोबार को पटरी पर लाने के लिए छूट का दायरा और बढ़ा दिया है। आज से प्रदेश में रेस्टोरेंट, मिठाई की दुकान, हार्डवेयर, निर्माण सामग्री की दुकानें, एसी-कूलर, टीवी, इलेक्ट्रॉनिक्स, इलेक्ट्रॉनिक रिपेयर और ऑटोमोबाइल के शोरूम खोलने का आदेश दे दिया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में सड़क किनारे के ढाबे भी खोलने का आदेश है। सीएम अशोक गहलोत ने देर रात यह आदेश जारी किया। हालांकि, रेस्टोरेंट में खाना नहीं खाया जा सकेगा। यहां से पैक करवा के ले जाया जा सकता है।

मौत की अफवाह उड़ी तो अस्पताल से ही वीडियो कॉल पर कहा- मैं जिंदा हूं
जयपुर में कुछ दिन पहले 80 साल की महिला और उसके दो बेटे कोरोना संक्रमित हुए। 52 साल के एक बेटे की मौत हो गई, लेकिन लोगों ने दोनों बेटों की मौत की अफवाह फैला दी। इसके बाद परिवार को वीडियो जारी करना पड़ा कि दूसरा बेटा जिंदा है और वह स्वस्थ होकर घर आ चुका है।

 जालोर में पुलिसकर्मियो ने हाथ हिलाकर प्रवासी श्रमिकों को घर के लिए रवाना किया।

जयपुर में एक दिन में सबसे अधिक 35 इलाकों में 61 संक्रमित मिले

बुधवार को पहली बार शहर में सबसे अधिक 35 इलाकों में 61 नए कोरोना पॉजिटिव मिले। इनमें 16 हेल्थ वर्कर्स और जिला जेल के 5 कैदी शामिल हैं। अस्पतालों और घर-घर सर्वे का काम करने वाली 2 आशा सहयोगी, 5 वार्ड बॉय, 6 नर्सिंग स्टाफ और 2 कम्प्यूटर ऑपरेटर और आदर्श नगर का एक डॉक्टर भी शामिल है। 

जालौर में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद 25 क्षेत्रों में कर्फ्यू
जिले के 18 क्षेत्रों में जहां संक्रमित मिले हैं, वहां पर कर्फ्यू लगा दिया गया है। इससे पहले आहोर के रायथल, सायला के वीराणा, जसवंतपुरा के कारलू और कलापुरा, रानीवाड़ा, सियाणा और गौड़ीजी नगर में कर्फ्यू लगाया गया था। अब जिले में 25 क्षेत्र कर्फ्यूग्रस्त हैं।

उदयपुर में लगातार संक्रमित मिलने के बाद पुलिस और मेडिकल की टीम तैनात की गई।

33 में से 31 जिलों में पहुंचा कोरोना

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1360 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 974 (इनमें 47 ईरान से आए), कोटा में 270, अजमेर में 241, उदयपुर में 282, टोंक में 144, चित्तौड़गढ़ में 142, नागौर में 155, भरतपुर में 121, पाली में 95, बांसवाड़ा में 68, जैसलमेर में 55 (इनमें 14 ईरान से आए), झालावाड़ और झुंझुनूं में 47-47, जालौर में 44, भीलवाड़ा में 43, बीकानेर में 40, अलवर में 33, चूरू में 31, राजसमंद में 29, दौसा में 28, धौलपुर में 24, सिरोही में 14, डूंगरपुर में 13, हनुमानगढ़ में 12, सीकर में 19, सवाई माधोपुर में 16, बाड़मेर में 8, करौली में 8, प्रतापगढ़ में 4, बारां में 3 संक्रमित मिले। जोधपुर में बीएसएफ के 43 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। दूसरे राज्यों से आए 5 लोग पॉजिटिव पाए गए।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 122 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 65 (जिसमें तीन यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 10, अजमेर में 5, पाली और नागौर में 3-3, अलवर, बीकानेर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, सीकर और भरतपुर 2-2 , जालौर, बांसवाड़ा, चूरू, करौली, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है।
Categories
sports

आज सबसे ज्यादा 202 नए पॉजिटिव मिले; कोटा के अस्पताल में 5 संक्रमित महिलाओं के 5 नवजात की पहली रिपोर्ट निगेटिव आई


  • राजस्थान में संक्रमितों की संख्या 4328 हुई, इनमें से 2344 लोग अब तक ठीक होकर घर लौटे 
  • राज्य में कोरोना से अब तक 121 लोगों की मौत, इनमें सबसे ज्यादा 64 मौतें जयपुर में हुईं 

दैनिक भास्कर

May 14, 2020, 07:54 AM IST

जयपुर. राजस्थान में कोरोना संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। बुधवार को राज्य में कोरोना के अब तक के सबसे ज्यादा 202 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें जयपुर में 61, उदयपुर में 33, जालौर में 28, पाली में 27, जोधपुर में 8, सवाई माधोपुर में 6, राजसमंद और कोटा में 5-5, सिरोही, चूरू और धौलपुर में 3-3, टोंक, नागौर, डूंगरपुर, भरतपुर और बांसवाड़ा में 2-2, सीकर, जैसलमेर, दौसा, अलवर, बाड़मेर और झुंझुनू में 1-1 संक्रमित मिला। इससे पहले राज्य में 11 मई को 174 केस पॉजिटिव मिले थे।

बुधवार को बीएसएफ का जवान भी संक्रमित मिला। इसके अलावा, दूसरे राज्यों से आए तीन लोगों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। राज्य में अब कुल संक्रमितों का आंकड़ा 4328 पहुंच गया। वहीं, बुधवार को संक्रमण से चार लोगों की मौत भी रिकॉर्ड की गई। इनमें जयपुर में 2, अलवर और पाली में 1-1 मौत हुई।

कोटा के जेकेलोन अस्पताल में भर्ती पांच संक्रमित महिलाओं के पांच नवजात बच्चों की पहली कोरोना टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन बच्चों को परिवार की महिलाओं के साथ अलग से नए अस्पताल के कमरों में रखा गया है। अस्पताल का स्टाफ इन बच्चों तक मां का दूध पहुंचा रहा है। इन बच्चों को लेकर हर कोई आशंकित था, क्योंकि डिलीवरी के बाद इन बच्चों ने मां का दूध तो पीया ही था, बल्कि कई घंटों तक मां के साथ रहे थे। प्रभारी डॉ. नीलेश जैन ने बताया कि बच्चे शिशु रोग विशेषज्ञों की निगरानी में हैं। वे स्वस्थ हैं। अब अगले 24 से 48 घंटे में इनके दाेबारा सैंपल कराए जाएंगे। दूसरी रिपोर्ट भी निगेटिव आई तो इन्हें डिस्चार्ज भी किया जा सकता है।

गहलोत बोले- क्वारैंटाइन टॉप एजेंडा, रोज 25 हजार जांचें होंगी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बताया कि गांवों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए क्वारैंटाइन हमारा टॉप एजेंडा रहेगा। उन्होंने कहा कि अन्य राज्यों से लाखों लोग राजस्थान लौट रहे हैं, ऐसे में यह बेहद जरूरी है। क्वारैंटाइन व्यवस्थाएं मजबूत करने के लिए कलेक्टरों को अनटाइड फंड में और राशि दी जाएगी।

जोधपुर में भगत की कोठी रेलवे स्टेशन पर पुणे से श्रमिकों को लेकर आई ट्रेन।

कोरोना अपडेट्स

  • जयपुर: एसएमएस को कोरोना फ्री करने और यहां के 126 कोरोना पॉजिटिव और 34 संदिग्ध मरीजों को एक जून से पहले आरयूएचएस में शिफ्ट कर दिया जाएगा। एसएमएस में आइसोलेशन वार्ड चलता रहेगा। 
  • जोधपुर: डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज के बाद अब एम्स को भी आईसीएमआर की ओर से प्लाजमा थैरेपी ट्रायल स्टडी के लिए अनुमति मिल गई है।
  • उदयपुर: उदयपुर में सबसे कम 4 साल की बच्ची और सबसे ज्यादा 94 वर्ष का बुजुर्ग कोरोना पॉजिटिव निकले हैं, जो कांजी का हाटा क्षेत्र के रहने वाले हैं। कुल संक्रमितों में पुरुषों के मुकाबले महिलाओं की संख्या 10 फीसदी से भी अधिक है। यहां अब तक 236 लोग संक्रमित हैं। 

जालौर जिले के खेराट गांव में घास से बनी कुटिया में क्वारैंटाइन एक परिवार के सदस्य।

33 में से 31 जिलों में पहुंचा कोरोना

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1344 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 966 (इनमें 47 ईरान से आए), कोटा में 269, अजमेर में 235, उदयपुर में 257, टोंक में 144, चित्तौड़गढ़ में 142, नागौर में 139, भरतपुर में 121, बांसवाड़ा में 68, पाली में 95, जैसलमेर में 55 (इनमें 14 ईरान से आए), झालावाड़ में 47, झुंझुनूं में 47, भीलवाड़ा में 43, बीकानेर में 40, मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 28, धौलपुर में 24, अलवर में 32, चूरू में 27, राजसमंद में 26, जालौर में 42, सिरोही में 14, डूंगरपुर में 13, हनुमानगढ़ में 12, सीकर में 12, सवाई माधोपुर में 16, बाड़मेर में 8, करौली में 7, प्रतापगढ़ में 4 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 3 संक्रमित मिले हैं। जोधपुर में बीएसएफ के 43 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 5 लोग पॉजिटिव मिले।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 121 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 64 (जिसमें दो यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 10, अजमेर में 5, पाली और नागौर में 3-3, अलवर, बीकानेर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, सीकर और भरतपुर 2-2 , जालौर, बांसवाड़ा, चूरू, करौली, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है।
Categories
sports

47 नए पॉजिटिव मिले, 2 की मौत; उदयपुर में माता-पिता कोरोना से संक्रमित, 4 दिन के बच्चे को नर्सें मां की तरह पाल रहीं


  • गहलोत ने प्रधानमंत्री से मनरेगा की तर्ज पर शहरी क्षेत्रों में भी रोजगार गारंटी योजना शुरू करने का आग्रह किया
  • एसएमएस में एनेस्थीसिया विभाग के अध्यक्ष ने 22 दिन में कोरोना को मात दी, प्लाज्मा थैरेपी से रिकवर होकर डिस्चार्ज होने का प्रदेश में पहला मामला

दैनिक भास्कर

May 12, 2020, 11:23 AM IST

जयपुर. राजस्थान में मंगलवार को कोरोना पॉजिटिव के 47 नए केस सामने आए। इनमें उदयपुर में 32, जयपुर में 8, कोटा में 3, अजमेर, चित्तौड़गढ़, हनुमानगढ़ और सीकर में 1-1 संक्रमित मिला। राज्य में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 4035 पहुंच गया। इसके साथ 2 लोगों की मौत भी हो गई। इनमें बीकानेर और जालौर में 1-1 व्यक्ति की जान गई। कोरोना से अब तक 115 की मौत हुई।

उदयपुर: मासूम को अपने बेटे से भी ज्यादा दुलार कर रहीं नर्स

एमबी अस्पताल में भर्ती नवजात के माता-पिता कोरोनावायरस संक्रमित हैं। ऐसे में यहां नवजात को नर्स रीना चौपड़ा, मीनाक्षी भट्ट संभाल रही हैं। यह दंपती मोहली चौहट्टा के कुम्हारवाड़ा के रहने वाले हैं। वे बताते हैं कि 9 मई को आरएनटी मेडिकल कॉलेज के जनाना अस्पताल में सीजेरियन प्रसव हुआ। इसके बाद दोनों की कोरोना संक्रमित रिपोर्ट आई। ऐसे में प्रसूता मां की अपने कलेजे के टुकड़े को सीने से लगाकर दूध पिलाने की उम्मीद अधूरी रह गई। नवजात की मां ने बताया कि मैंने ताे सिर्फ जन्म दिया है, ये नर्सें मेरे बच्चे काे मां की तरह पाल रही हैं। मैं जीवनभर इनकी एहसानमंद रहूंगी।

गहलोत बोले- शहरी क्षेत्रों को रोजगार गारंटी और प्रदेश को पैकेज दिया जाए
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से वीडियाे कॉन्फ्ररेंसिंग के जरिए संवाद में मनरेगा की तर्ज पर शहरी क्षेत्रों में भी रोजगार गारंटी योजना शुरू करने का आग्रह किया। सीएम ने ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा के तहत मजदूरों के लिए न्यूनतम 200 दिन रोजगार उपलब्ध कराने की भी बात कही। गहलोत ने कहा कि लाॅकडाउन के कारण केन्द्र और राज्यों के राजस्व संग्रहण पर विपरीत असर पड़ा है। केंद्र की मदद के बिना यह असंभव है कि राज्य इस संकट का मुकाबला कर सकें। इसके लिए जरूरी है कि केन्द्र जल्द से जल्द व्यापक आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज उपलब्ध कराए।

यह मजदूर जोधपुर से पैदल आ रहे थे। इन्हें झालावाड़ प्रशासन ने एक वाहन में बैठाकर मध्य प्रदेश तक पहुंचाया।

जयपुर में पहली बार प्लाज्मा थैरेपी से रिकवर होकर घर पहुंचे
सवाई मानसिंह हॉस्पिटल (एसएमएस) में एनेस्थीसिया विभाग के अध्यक्ष डॉ. फरीद अहमद ने 22 दिन में ही कोरोना को मात दे दी। वह भी तब, जब उन्हें लंग्स इन्फेक्शन, बीपी और डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारी भी थी। आदर्श नगर निवासी डॉ. फरीद (63) बीती 20 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव आने के बाद एडमिट हुए थे, लेकिन तबीयत बिगड़ती गई। वेंटीलेटर पर जाने की नौबत आ गई थी। बीते 4 मई को जिन दो मरीजों को प्लाज्मा थैरेपी दी गई उनमें एक डॉ. फरीद भी थे। अब थैरेपी के 7 दिन बाद वे रिकवर होकर घर पहुंच गए। प्लाज्मा थैरेपी से रिकवर होकर डिस्चार्ज होने का प्रदेश में यह पहला मामला है।

अलवर में 2 डॉक्टर, दो नर्सिंग कर्मी और एक स्वीपर संक्रमित
अलवर में सोमवार को एक ही दिन में कोरोना के 11 पॉजिटिव मरीज मिले। इनमें शहर के 4 मरीज शामिल हैं। इनके अलावा बड़ौदामेव, गोविंदगढ़ के सेमला खुर्द, लक्ष्मणगढ़ के हरसाना के समीप सपेराबास, रामगढ़ के मुबारिकपुर, कोटकासिम के चावंडी, बानसूर के चतरपुरा और किशनगढ़बास के ओदरा में एक-एक कोरोना पॉजिटिव मिला है। इन्हें मिलाकर अब तक जिले में 32 पॉजिटिव केस मिल चुके हैं। चिंता की बात यह है कि नए संक्रमितों में 2 डॉक्टर, 2 नर्सिंग कर्मी और एक स्वीपर भी शामिल हैं। इनमें से 3 को सामान्य अस्पताल में ड्यूटी के दौरान संक्रमण लगा है जबकि एक आयुष डॉक्टर जयपुर से लौटी है। 

सिरोही: कोरोना पॉजिटिव होने की गफलत में बैरिकेड लगाकर गली बंद की, रिपोर्ट निगेटिव आई
सिरोही के उदयपुर रोड पर एक युवती अपने ससुराल घाणेराव से 9 मई को अनुमित लेकर मायके पिंडवाड़ा आई थी। इसके बाद इसकी स्क्रीनिंग की गई और मेडिकल टीम की ओर से जांच की गई। इस दौरान किसी ने उसके ससुराल में सास को कोरोना होने की अफवाह फैला दी। इस पर उसका भी सैंपल लिया गया। नगरपालिका की टीम उसके आवास के बाहर पहुंची और आसपड़ोस की दुकानों को बंद करवा कर क्षेत्र को बैरिकेड्स से सील कर दिया। इससे शहर में कोरोना पॉजिटिव का मरीज आने की अफवाह फैल गई। अफवाह के कारण शहर में दहशत का माहौल हो गया। बाद में युवती की रिपोर्ट निगिटीव आईञ बाद में बैरिकेडिंग खोल दी गई। 

अजमेर में 17 साल की युवती की माैत के बाद एम्बुलेंस काे कब्रिस्तान के बाहर सैनिटाइज किया गया।

33 में से 31 जिलों में पहुंचा कोरोना
प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1259 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 933 (इनमें 47 ईरान से आए), कोटा में 262, अजमेर में 233, उदयपुर में 214, टोंक और चित्तौड़गढ़ में 142-142, नागौर में 131, भरतपुर में 119, पाली में 67, बांसवाड़ा में 66, जैसलमेर में 51 (इनमें 14 ईरान से आए), झालावाड़ में 47, भीलवाड़ा में 43, झुंझुनूं में 42, बीकानेर में 39, अलवर में 31, दौसा में 24, धौलपुर में 21, राजसमंद में 20, चूरू में 18, जालौर में 14, हनुमानगढ़ में 12, सिरोही और डूंगरपुर में 11-11, सवाई माधोपुर और सीकर में 10-10, करौली और बाड़मेर में 7-7, प्रतापगढ़ में 4, बारां में 3 संक्रमित मिले। जोधपुर में बीएसएफ के 42 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं।

अब तक 113 लोगों की मौत

राजस्थान में कोरोना से अब तक 113 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 61 (जिसमें दो यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 10, अजमेर में 5, बीकानेर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़ , पाली, नागौर, सीकर और भरतपुर 2-2 , जालौर, बांसवाड़ा, चूरू, करौली, प्रतापगढ़, अलवर, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है।

Categories
sports

174 नए पॉजिटिव मिले, संक्रमण से पांच की मौत; डूंगरपुर में महिलाएं रोजाना 3 हजार पीपीई किट बना रहीं


  • न्यू जील रेन वियर कंपनी को केंद्र ने एक लाख पीपीई किट बनाने का ऑर्डर दिया
  • मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा- अब दूसरे जिले में जाने के लिए पास की जरूरत नहीं 

दैनिक भास्कर

May 11, 2020, 11:02 PM IST

जयपुर. राजस्थान में कोरोना संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। सोमवार को संक्रमण से पांच मरीजों की जान गई। जयपुर और पाली में 2-2 और अजमेर में एक की मौत हुई। मृतकों में चार पुरुष और एक 17 साल लड़की है। लड़की बिहार की रहने वाली थी और अजमेर घूमने आई थी। रविवार को लड़की की मौत के बाद सोमवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं, पाली में 25 साल के युवक की मौत के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। राज्य में अब तक संक्रमण से 113 की जान जा चुकी है।

वहीं, सोमवार को राज्य के 20 जिलों में 174 नए पॉजिटिव मिले। इनमें सबसे ज्यादा उदयपुर में 49, जयपुर में 28, जोधपुर में 13, अजमेर में 12, अलवर में 11, कोटा और नागौर में 9-9, सिरोही में 7, जालौर में 6, पाली और चित्तौड़गढ़ में 5-5, राजसमंद में 4, बाड़मेर और भरतपुर में 3-3, जैसलमेर, दौसा, करौली और टोंक में 2-2, चूरू और डूंगरपुर में 1-1 मरीज मिला। इसके बाद राज्य में कुल पॉजटिव की संख्या 3988 पहुंच गई।

400 महिलाएं हर दिन करीब 3 हजार किट तैयार करती हैं

राजस्थान के डूंगरपुर जिले में सागवाड़ा की न्यू जील रेन वियर कंपनी पीपीई किट तैयार कर रही है। यहां 400 महिलाएं हर दिन करीब 3 हजार किट तैयार करती हैं। केंद्र सरकार के टेक्सटाइल मंत्रालय से इस कंपनी को एक लाख किट बनाने का ऑर्डर मिला है। यहां पहली पीपीई किट करीब 4 दिन में तैयार की गई थी। 

अब बिना पास दूसरे जिलों में जाया जा सकेगा
लॉकडाउन फेज-3 खत्म होने से पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने देर रात प्रदेश की जनता को बड़ी राहत दी। अब एक जिले से दूसरे जिले में जाने के लिए पास की जरूरत नहीं होगी। हालांकि, यह छूट सुबह 7 से शाम 7 बजे तक मिलेगी। इस दौरान जिले की सीमा में भी बिना पास के कहीं भी आया और जाया जा सकेगा। कर्फ्यू वाले क्षेत्रों में यह छूट नहीं मिलेगी। 

कोरोना संदिग्ध ने अस्पताल में फांसी लगाई
अजमेर के जवाहरलाल नेहरू हॉस्पिटल में सोमवार को एक कोरोना संदिग्ध मरीज ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वह टॉयलेट में रस्सी का फंदा बना कर उस पर झूल गया। उत्तर प्रदेश का यह मरीज 2 दिन से अस्पताल में भर्ती था।

 बाड़मेर से बिहार के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन भेजी गई। इसमें 1200 मजदूर सवार थे। रवानगी से पहले स्टेशन पर सभी की थर्मल स्क्रीनिंग की गई।

जयपुर में अब शास्त्रीनगर में बढ़ रहे मरीज

जयपुर में सोमवार को 28 नए पॉजिटिव मिलने के साथ ही यहां कुल संक्रमितों का आंकड़ा 1251 पहुंच गया है। जिले में 62 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां पहले रामगंज में काफी केस आ रहे थे, लेकिन अब शास्त्री नगर में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। 

पुष्कर में पहला संक्रमित मिला
पुष्कर के देवनगर रोड क्षेत्र में जिले का पहला कोरोना संक्रमित मिला है। वह दो दिन पहले ही परिवार के के साथ अहमदबाद से लौटा था। प्रशासन ने एहतियात के तौर पर युवक के परिवार के सभी 17 सदस्यों को अजमेर के जेएलएन अस्पताल रैफर कर घर को सील कर दिया है। करीब एक किमी क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया है।

पाली में कोरोना मुक्त हुए 16 मरीजों की अस्पताल से छुट्‌टी हुई। डॉक्टरों ने इस पल को अपने मोबाइल में कैद कर लिया।

33 में से 31 जिलों में पहुंचा कोरोना
प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1251 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 933 (इनमें 47 ईरान से आए), कोटा में 259, अजमेर में 232, उदयपुर में 182, टोंक में 142, चित्तौड़गढ़ में 141, नागौर में 131, भरतपुर में 119, बांसवाड़ा में 66, पाली में 67, जैसलमेर में 51 (इनमें 14 ईरान से आए), झालावाड़ में 47, झुंझुनूं में 42, भीलवाड़ा में 43, बीकानेर में 39, मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 24, धौलपुर में 21, अलवर में 31, चूरू में 18, राजसमंद में 20, जालौर में 14, हनुमानगढ़, सिरोही और डूंगरपुर में 11-11, सवाई माधोपुर में 10, सीकर में 9, करौली और बाड़मेर में 7-7, प्रतापगढ़ में 4 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 3 संक्रमित मिले हैं। जोधपुर में बीएसएफ के 42 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं।

अब तक 113 लोगों की मौत

राजस्थान में कोरोना से अब तक 113 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 61 (जिसमें दो यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 10, अजमेर में 5, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़ , पाली, नागौर, सीकर और भरतपुर 2-2 , बांसवाड़ा, चूरू, करौली, प्रतापगढ़, अलवर, बीकानेर, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है।