Categories
sports

प्रदेश में अब तक 7044 संक्रमित, महामारी के बीच भीषण गर्मी भी जारी; 52 में से दो जिलों में कोई केस नहीं


  • मंगलवार शाम तक प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 165 मामले बढ़े
  • इंदौर जिले में संक्रमितों की संख्या 3103 हो चुकी है

दैनिक भास्कर

May 27, 2020, 03:06 PM IST

भोपाल. कोरोना संकट के साथ भीषण गर्मी भी जारी है। यही वजह है कि जो ग्रीन जोन हैं वहां भी लोग घर से बेहद कम निकल रहे हैं। सड़कें और बाजार खाली हैं। भोपाल में आज से सशर्त बाजार खुले। महामारी की बात करें तो बुधवार को भोपाल में 20 नए केस मिले। 17 मरीज डिस्चार्ज हुए। इससे पहले मंगलवार को प्रदेश में संक्रमण के 165 मामले सामने आए थे। कुल संख्या 7044 हो गई। 3706 स्वस्थ हो चुके हैं। 305 की मौत हुई। एक्टिव केस 3050 हैं।

बड़े शहरों में संक्रमण की स्थिति

सबसे अधिक प्रभावित इंदौर जिले में संक्रमितों की संख्या 3103 हो चुकी है। अब तक 117 लोग दम तोड़ चुके हैं। भोपाल में 1323 संक्रमित हो गए हैं। 49 की मौत हो चुकी है। उज्जैन में कुल संक्रमित 601 हैं। बुरहानपुर, खंडवा और जबलपुर जिलों में संक्रमितों की संख्या 200 पार हो गई है। राज्य में कुल 52 में से 50 जिले प्रभावित हैं। कटनी और निवाड़ी जिले ऐसे हैं, जहां अभी तक कोई केस नहीं मिला। 

तस्वीर भोपाल की है। यहां न्यू मार्केट में व्यापारियों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए दुकानों के बाहर मार्किंग की है। 

भोपाल में बाजार खुले
भोपाल में 62 दिन बाद बुधवार से शर्तों और नए नियमों के साथ बाजार खुल गए। मंगलवार को जिला प्रशासन ने व्यापारियों और पुलिस से चर्चा के बाद तैयार प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने बताया कि शहर को तीन क्लस्टर में बांटा गया है। पहले क्लस्टर में टीटी नगर, एमपी नगर, कोलार क्षेत्र, होशंगाबाद रोड, भेल और करोंद क्षेत्र के प्रमुख बाजार हैं। दूसरे क्लस्टर में पुराना भोपाल होगा। इसमें चौक बाजार, सर्राफा, लखेरापुरा, इब्राहिमपुरा, इतवारा और आसपास की दुकानें हैं। पहले और दूसरे क्लस्टर के बाजार सप्ताह में 6 दिन खुलेंगे। रविवार को दोनों जगह जरूरी दुकानों को छोड़कर लॉकडाउन रहेगा। तीसरे क्लस्टर में बैरागढ़, लालघाटी और गांधीनगर के बाजार होंगे, जो सप्ताह में 5 दिन खुलेंगे। शनिवार और मंगलवार को ये पूरी तरह बंद रहेंगे। पीडब्ल्यूडी, नगर निगम, राजधानी परियोजना और अनुमति लेकर काम करने वाले बिल्डर कंटेनमेंट क्षेत्र के बाहर निर्माण कार्य कर सकेंगे। लेकिन मजदूरों को कंस्ट्रक्शन साइट या उसके नजदीक ही ठहराने की व्यवस्था कंस्ट्रक्शन एजेंसी को करना होगी।

तस्वीर भोपाल के न्यू मार्केट की है। यहां बाजार खुला तो व्यापारी ने निगम कर्मचारी से खुद को सैनिटाइज करा लिया। 

दो जरूरी बातें..

  • पहली : ग्राहकों को मास्क, फेस कवर अनिवार्य है। सोशल डिस्टेंसिंग आदि नियम तोड़ने पर संबंधित दुकानदार, संस्था प्रभारी पर धारा 188 में कार्रवाई होगी। 

  • दूसरी : सारे मार्केट में दुकानदारों को ग्राहक के हाथ सैनिटाइज कराने और दुकान को सैनिटाइज कराने की जिम्मेदारी व्यापारी की खुद की होगी।

भोपाल: गवर्नर हाउस में बढ़ा संक्रमण, 6 लोग पॉजिटिव मिले
बुधवार सुबह राजधानी में 20 नए पॉजिटिव केस मिले। यहां गवर्नर हाउस परिसर में रह रहे 6 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। 3 दिन पहले संक्रमित मिले युवक के माता-पिता भी पॉजिटिव पाए गए। परिसर में रहने वाले 4 अन्य लोगों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई। आज मिले संक्रमितों को राज्यपाल का करीबी स्टाफ बताया जा रहा है। गवर्नर हाउस में इन कर्मचारियों के संपर्क में कई लोग आए हैं। इधर, चिरायु अस्पताल से 17 लोग डिस्चार्ज हुए। अब तक 831 लोग ठीक हो चुके हैं।

तस्वीर भोपाल की है। यहां लॉकडाउन के चलते इस बार शहर में गन्ने के रस की दुकानें शुरू नहीं हो पाईं। उसके पहले ही लॉकडाउन शुरू हो गया।

कोरोना अपडेट्स

  • नीमच: जिले में मंगलवार शाम 25 नए संक्रमित मरीज मिले। इनमें 21 जावद, 3 उम्मेदपुरा और एक राजीव नगर कंटेंटमेंट क्षेत्र से संबंधित है। जिले में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 117 हो गई। इनमें से 47 व्यक्तियों को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया जा चुका है, जबकि 4 व्यक्तियों की मौत हो चुकी है।

  • सागर: जिले में मंगलवार को 11 नए कोरोना संक्रमित मिले। इनमें 8 सदर बाजार से हैं। कुल संख्या 106 हो गई है। 74 मरीज बीएमसी के कोविड वार्ड में भर्ती हैं। अब तक 29 मरीज स्वस्थ होकर घर पहुंच चुके हैं।
  • शिवपुरी: मंगलवार शाम 2 और संक्रमित मिले। इनमें एक महिला कमलागंज इलाके की है। जबकि युवक पिछोर क्षेत्र का एक ट्रक ड्राइवर है। दोनों मुंबई से आए थे। जिले में मरीजों की संख्या 10 हो गई।
  • बड़वानी : राजपुर पुलिस ने तीन व्यक्तियों को लॉकडाउन के उल्लंघन में गिरफ्तार किया है। आरोपियों के वाहन की तलाशी में सात बोतल बीयर भी बरामद हुई है। तीनों नशे में पाए गए। उनके वाहन पर भाजपा जिलाध्यक्ष लिखा था। 

यह तस्वीर रायसेन जिले की देवरी तहसील की है। लोग पेयजल की समस्या से परेशान हैं। बस्तियों में जब टैंकर पानी लेकर आता है तो भरने के लिए भीड़ उमड़ती है। यहां सोशल डिस्टेंसिंग गायब रहती है।

श्रमिकों के लिए रोजगार सेतु योजना

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को कहा कि उनकी कोशिश ‘रोजगार सेतु’ योजना के जरिए ज्यादा से ज्यादा श्रमिकों को रोजगार दिलाना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्किल्ड श्रमिकों और उद्यमियों को हम एक ही प्लेटफाॅर्म पर खड़ा करेंगे। इस तरह दोनों एक-दूसरे के पूरक बन जाएंगे। 

राज्य में कुल 7024 संक्रमित: 

इंदौर 3103, भोपाल 1303, उज्जैन 601, बुरहानपुर 293, खंडवा 230, जबलपुर 213,  खरगोन 119, धार 114, ग्वालियर 117, नीमच 90, मंदसौर 90, देवास 86, मुरैना 85, सागर 86, रायसेन 68, भिंड 51, बडवानी 41, होशंगाबाद 37, रतलाम 31, रीवा 30, बैतूल 21, विदिशा 20, डिंडोरी 16, सतना 14, आगर मालवा और झाबुआ 13-13, अशोकनगर 12, सिंगरौली 11, दमोह 10, छतरपुर, शाजापुर और सीधी 9-9, दतिया और शहडोल 7-7, बालाघाट, श्योपुर, शिवपुरी, टीकमगढ़ 6-6, छिंदवाड़ा, नरसिंहपुर, सीहोर और उमरिया 5-5, पन्ना 4, अलीराजपुर, अनूपपुर और हरदा 3-3, राजगढ़, गुना, मंडला और सिवनी में 2-2 संक्रमित मिले।

  • 305 की मौत: इंदौर 117, भोपाल 49, उज्जैन 54, बुरहानपुर 13, खंडवा 12, जबलपुर 9, देवास, खरगोन और मंदसौर 8-8, धार, ग्वालियर, नीमच, सागर, रायसेन, होशंगाबाद और सतना 2-2, विदिशा, आगर मालवा, अशोकनगर, झाबुआ, दतिया, मंडला, शाजापुर, छिदंवाड़ा, सीहोर और उमरिया में एक-एक मरीज की मौत हुई। -(स्वास्थ्य विभाग द्वारा 26 मई, शाम साढ़े सात बजे जारी बुलेटिन के अनुसार)

Categories
sports

शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार की सुगबुगाहट फिर तेज, 31 मई से पहले 22 से 24 कैबिनेट और राज्य मंत्री शपथ ले सकते हैं


  • भाजपा की देर शाम बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत रणनीति बनाएंगे
  • मुख्यमंत्री चाहते हैं कि मंत्रिमंडल विस्तार के बाद भी 6 से 8 पद रिक्त रखे जाएं, जिन्हें उपचुनाव के बाद भरा जा सकता है

दैनिक भास्कर

May 26, 2020, 01:46 PM IST

भोपाल. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पहले मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर ठोस चर्चा मंगलवार को होने जा रही है। देर शाम होने वाली बैठक में मुख्यमंत्री चौहान के अलावा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत मौजूद रहेंगे। इसमें संभावित नामों को अंतिम रूप देने के साथ प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे से बात करके पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा को जानकारी दी जाएगी। मुख्यमंत्री खुद दिल्ली जाकर बात कर सकते हैं। मुख्यमंत्री चाहते हैं कि मंत्रिमंडल विस्तार के बाद भी 6 से 8 पद रिक्त रखे जाएं, जिन्हें उपचुनाव के बाद भरा जा सकता है। इस बारे में केंद्रीय संगठन से बात करके अंतिम फैसला लिया जाएगा।

मंत्री पद के लिए दावेदार माने जाने वाले नेताओं का मुख्यमंत्री चौहान से मिलने का दौर जारी है। बैठकों के बीच, मुख्यमंत्री ने उन्हें संकेत दिया है कि 31 मई से पहले तक मंत्रिमंडल विस्तार हो सकता है, लेकिन इसके लिए भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा की सहमति की जरूरत पड़ेगी। माना जा रहा है कि मध्यप्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा इसकी पहल कर सकते हैं। पार्टी से संकेत मिलने के साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया गुट उपचुनाव की तैयारी में जुट गया है। अभी शिवराज कैबिनेट में सिंधिया गुट से तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत को ही मंत्री बनाया गया है।

भाजपा के सामने अपने लोगों की मैनेज करना बड़ी समस्या

सूत्रों का कहना है कि 22 से 24 कैबिनेट और राज्य मंत्री बनाए जाएंगे। सिंधिया गुट के 4 विधायकों और अपनी मर्जी से कांग्रेस से भाजपा में आए 3 विधायकों का मंत्री बनना तय है। भाजपा के सामने बड़ी मुश्किल यह है कि वह अपने लोगों के साथ किस तरह से समन्वय बैठाएगी। भाजपा में 40 से अधिक ऐसे नाम हैं जो मंत्री बनाए जाने की दावेदारी सामने रख चुके हैं। उन्होंने राज्य से लेकर दिल्ली तक अपनी बात पहुंचाई है। ऐसे हालात में मुख्यमंत्री और संगठन के सामने चेहरे तय करने को लेकर चुनौतियां बढ़ गई हैं। पार्टी सूत्रों का कहना है कि मंत्री पद के नए दावेदार में जिन्हें मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिलेगी, उन्हें पार्टी के प्रदेश निकाय में स्थान दिया जा सकता है। इसके अलावा सरकार के निगम-मंडलों, आयोग और बोर्ड में भी मंत्रिमंडल विस्तार के बाद तुरंत नियुक्तियों की घोषणा हो सकती है।

भाजपा से इन नामों पर चर्चा
भाजपा से मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले जिन नामों पर चर्चा चल रही है, उनमें भूपेंद्र सिंह, गोपाल भार्गव, रामपाल सिंह, यशोधरा राजे सिंधिया, अजय विश्नोई, गौरीशंकर बिसेन, संजय पाठक, विश्वास सारंग, अरविंद भदौरिया, विजय शाह, ओमप्रकाश सकलेचा, जगदीश देवड़ा, यशपाल सिंह सिसोदिया, हरिशंकर खटीक, प्रदीप लारिया, पारस जैन, रमेश मेंदोला, गोपीलाल जाटव, मोहन यादव और सुरेंद्र पटवा के नाम शामिल हैं।

सिंधिया खेमे के इनको मिल सकती है जगह
शिवराज कैबिनेट विस्तार में सिंधिया गुट से अब कुछ और चेहरे मंत्री बनाए जा सकते हैं। इसमें पूर्व मंत्री इमरती देवी, महेंद्र सिंह सिसोदिया, प्रद्युमन सिंह तोमर, प्रभुराम चौधरी शामिल हैं। इसके अलावा ऐंदल सिंह कंषाना, हरदीप सिंह डंग, बिसाहू लाल सिंह, राजवर्धन सिंह दत्तीगांव और रणवीर जाटव भी संभावितों में हैं।

Categories
sports

प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 6859 मामले, छोटे शहरों में नए मरीज मिल रहे, भोपाल में बुधवार से बाजार खुल सकते हैं


  • इंदौर जिले में 56 नए केस सामने आने के साथ संख्या बढ़कर 3064 हो गई, यहां अब तक 116 लोगों की मौत हो चुकी है
  • भोपाल में 30 नए मामले बढ़ने के साथ मरीजों की संख्या 1271 हो गई, मृतकों की संख्या 48 पर पहुंच गई

दैनिक भास्कर

May 26, 2020, 01:22 PM IST

भोपाल. प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मरीजों की संख्या 6859 हो गई है। सोमवार को 194 नए मामले सामने आए। अभी तक 300 लोगों की मौत हो चुकी है और 3571 व्यक्ति स्वस्थ हो चुके हैं। एक्टिव केस यानी अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या 2988 है। इंदौर जिले में 56 नए केस सामने आए। यहां संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3064 हो गई। अब तक 116 लोगों की मौत हो चुकी है। 1476 व्यक्ति स्वस्थ हो चुके हैं और 1472 अस्पताल में भर्ती हैं। भोपाल में 30 नए मामले बढ़ने के साथ मरीजों की संख्या 1271 हो गई। मृतकों की संख्या 48 पर पहुंच गई। उज्जैन में 22 नए केस आने से संक्रमितों की संख्या 575 हो गई। एक की मौत हुई। यहां कोरोना से 54 की जान गई। 237 व्यक्ति स्वस्थ हुए हैं और 284 अस्पताल में भर्ती हैं। 

राज्य में कुल 52 जिलों में से 50 में कोरोना का संक्रमण पहुंच गया है। 27 जिलों में संक्रमितों की संख्या तिहाई और दहाई अंक में है, जबकि 23 जिलों में संक्रमितों की संख्या 10-10 से कम है। लॉकडाउन फेज-4 का आधा समय बीत गया है। नए मरीजों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। बड़े शहरों के अलावा छोटे-छोटे शहरों में रोज एक दो नए मामले सामने आ रहे हैं। इन शहरों में ज्यादातर वे मरीज संक्रमित मिल रहे हैं, जो दूसरे राज्यों से वापस आए हैं। 

यह तस्वीर गुना की है। लॉकडाउन के दौरान बाजारों में चहल-पहल बढ़ गई है। लेकिन, दुकानों पर खरीदार नहीं पहुंच रहे हैं।

भोपाल: कल से खुल सकते हैं चुनिंदा बाजार
नगर निगम सीमा के भीतर बुधवार से चुनिंदा बाजारों को खोलने का प्रस्ताव तैयार हुआ है। शहर के बाजार तीन क्लस्टर में बंटेंगे। हर क्लस्टर की दुकानें सप्ताह में दो दिन खुल सकती हैं। यह प्रस्ताव सोमवार को कलेक्टर, व्यापारियों और पुलिस प्रशासन की बैठक में तैयार हुआ है। इस पर अंतिम फैसला मंगलवार को होगा। इसमें सुझाव आया कि इलेक्ट्रॉनिक्स, कपड़ा, किराना, मिठाई, ऑटो मोबाइल समेत दूसरे बाजारों को तीन क्लस्टर में बांटकर बाजार खोले जाएं। सोशल डिस्टेंसिंग की जिम्मेदारी व्यापारियों को दी जाए। कोरोना कंट्रोल गाइडलाइन का उल्लंघन होने पर संबंधित व्यापारी पर कार्रवाई करने की बात भी कही गई। व्यापारी पर जुर्माना से लेकर उसके लाइंसेंस निलंबित करने तक की कार्रवाई का प्रस्ताव रखा गया। अफसरों ने भी इसका समर्थन किया। 

यह तस्वीर विदिशा की है। यहां सागर-विदिशा हाईवे पर अभी भी पलायन करते लोग देखे जा रहे हैं।

कोरोना अपडेट्स

  • देवास: यहां 19 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। देर रात 3 मरीज मिले थे। सुबह 16 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें बड़ोदिया खान गांव से 16 मरीज हैं। यहां 6 दिन पहले एक जन्मदिन की पार्टी थी। जिसमें इंदौर से एक बुजुर्ग महिला भी आई थीं। वे अचानक बीमार हुईं और 4 दिन पहले उनकी मौत हो गई। इसके बाद 24 लोगों की सैंपलिंग हुई।
  • सतना: बिरसिंहपुर इलाके में 3 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले। इनमें एक युवक वार्ड क्रमांक 11 का रहने वाला है। दो अन्य युवक माल मऊ गांव के बताए गए। यहां कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 19 हो गई।
  • सागर: जिले में 11 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। 8 मरीज सदर बाजार इलाके के हैं। इनमें 6 पुरुष और 2 महिलाएं हैं। 7 मरीज स्वस्थ होने पर घर भेज दिए गए।जिले में अब तक 95 कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें 19 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए गए।
  • पन्ना: जिले के बरबसपुरा गांव के एक युवक की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई है। यह युवक पिछले दिनों दिल्ली से आया था। स्वास्थ खराब होने पर उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती किया गया था।
  • भिंड: जिले में 2 कोरोना संक्रमित मिले। इसके साथ संक्रमितों की संख्या 51 हो गई। अब 41 संक्रमितों का इलाज चल रहा है। 10 मरीज स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किए गए।
  • मुरैना: जिले में 2 नए केस मिले। संक्रमितों की संख्या 85 हो गई। इनमें 31 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। एक्टिव केस की संख्या 54 है। 
  • बालाघाट: जिले में 3 नए केस मिले। संक्रमितों की संख्या बढ़कर 6 हो गई। पहले जिले की खैरलांजी तहसील के भजियादंड गांव के 3 मरीज कोरोना पॉजिटिव आए थे। अब इसी इलाके बेनी गांव के दो और लांजी तहसील के मोहझरी गांव का एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिला।

राज्य में कुल 6859 संक्रमित:

इंदौर 3064, भोपाल 1271, उज्जैन 575, बुरहानपुर 278, खंडवा 230, जबलपुर 212,  खरगौन 118, धार 111, ग्वालियर 107, नीमच 90, मंदसौर 88, देवास और मुरैना  83-83, सागर 77, रायसेन 68, भिंड 49, बड़वानी 40, होशंगाबाद 37, रतलाम 31, रीवा 28, विदिशा 20, बैतुल 19, डिण्डोरी और सतना 16-16, आगर मालवा 13, अशोकनगर और झाबुआ 12-12, शाजापुर 9, दमोह और सीधी 8-8, दतिया, सिंगरौली और शहडोल  7-7, बालाघाट, छतरपुर, श्योपुर, शिवपुरी और टीकमगढ़  6-6, छिदंवाड़ा, सीहोर और उमरिया 5-5, अलीराजपुर, अनुपपुर, हरदा, पन्ना, राजगढ़, गुना, नरसिंहपुर और सिवनी 2-2, मंडला में एक संक्रमित मिला।

  • अब तक 300 की मौत : इंदौर 116, भोपाल 48, उज्जैन 54, बुरहानपुर 13, खंडवा 11, जबलपुर 9, खरगोन, मंदसौर और देवास 8-8, धार, ग्वालियर, नीमच, सागर, रायसेन, होशंगाबाद 2-2, सतना, आगर मालवा, अशोकनगर, झाबुआ, शाजापुर, छिदंवाड़ा, सीहोर और उमरिया में एक-एक मरीज की मौत हुई। (स्वास्थ्य विभाग द्वारा 25 मई, शाम साढ़े सात बजे जारी बुलेटिन के अनुसार)
Categories
sports

आज 73 नए केस मिले, भोपाल में राजभवन के कर्मचारी का बेटा कोरोना पॉजिटिव मिला


  • लोग लॉकडाउन का उल्लंघन नहीं करें, इसके लिए प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए
  • 62 दिन बाद सोमवार से घरेलू उड़ानें शुरू हो गईं, इंदौर और भोपाल एयरपोर्ट भी तैयार

दैनिक भास्कर

May 25, 2020, 02:19 PM IST

भोपाल. मध्य प्रदेश में सोमवार कोरोना संक्रमण के 73 मामले आए। इनमें से भोपाल में 32, ग्वालियर-चंबल संभाग में 18, बुरहानपुर में 10, सागर में 7, उमरिया में 3, नीमच में 2, जबकि शहडोल में 1 केस मिला। भोपाल में राजभवन के कैम्पस में रहने वाले कर्मचारी के बेटे की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। राजधानी में सेना के ईएमई सेंटर से भी एक पॉजिटिव मिला है। उधर, चिरायु अस्पताल से सुबह 14 मरीजों की छुट्‌टी की गई। 

इधर, राज्य में लॉकडाउन के बीच ईद सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मनाई जा रही है। काजियों की अपील के बाद रोजेदारों ने सुबह 6 से 7 बजे के बीच ईद की नमाज घरों में अदा की। ईदगाहों और मस्जिदों में 4 से 5 लोगों ने परंपरा निभाई। नमाज के बाद कोरोना महामारी से बचाने और देश में अमन-भाईचारे के लिए दुआ मांगी गई। इसके बाद लोगों ने एक-दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी। लोग लॉकडाउन का उल्लंघन नहीं करें, इसके लिए पुलिस प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए हैं। लाउडस्पीकर के जरिए घरों में रहने और परिवार के साथ ईद मनाने अपील की गई। प्रदेश में कहीं से भी लॉकडाउन के उल्लंघन का मामला सामने नहीं आया।

राजधानी भोपाल में मोती मस्जिद के पास तैनात पुलिसबल।

इंदौर में आज दिल्ली-मुंबई-अहमदाबाद के लिए 12 फ्लाइट्स

लॉकडाउन फेज-4 के बीच 62 दिन बाद सोमवार से घरेलू उड़ानें शुरू हो गईं। इंदौर एयरपोर्ट भी तैयार है। कोरोना संक्रमण के बाद नई व्यवस्थाओं के साथ फ्लाइट्स का संचालन होगा। पहले दिन यानी सोमवार को दिल्ली, मुंबई और अहमदाबाद के लिए 12 फ्लाइट्स आएंगी-जाएंगी। एयरपोर्ट डायरेक्टर अर्यमा सान्याल के अनुसार तय शेड्यूल के मुताबिक सोमवार से 28 फ्लाइट्स की आवाजाही हाेनी थी, लेकिन ऐन वक्त पर कुछ एयरलाइंस ने उड़ानें रद्द कर दीं। फिलहाल, इंदौर एयरपोर्ट से इंडिगो और ट्रू एयर के विमान उड़ान भरेंगे।

सुविधा: ई-टिकट को ही ई-पास माना जाएगा

ट्रेन और हवाई जहाज से आने-जाने वाले यात्रियों को ई-पास की जरूरत नहीं होगी। उनके ई-टिकट को ही ई-पास के रूप में मान्य किया जाएगा। प्रदेश सरकार ने रविवार को इसके आदेश जारी कर दिए। इसमें कहा गया है कि केंद्र ने 25 मई से हवाई यातायात और 1 जून से ट्रेन चलाने की अनुमति दी है। लोगों को मात्र ई-टिकट से यात्रा की अनुमति है, जिसमें आवेदक की सारी जानकारी दर्ज होगी।

यह तस्वीर भोपाल की है। बिहार के दरभंगा जाने के लिए मुस्लिम समाज के ये बच्चे जब हबीबगंज स्टेशन पहुंचे तो आरएसएस के स्वयंसेवकों ने सभी को खाना-पानी दिया।

विशेष ट्रेन से 1615 प्रवासी मजदूर रीवा पहुंचे

कर्नाटक के बेंगलुरु में फंसे रीवा संभाग के 932 मजदूरों को लेकर एक विशेष ट्रेन यहां रेलवे स्टेशन पहुंची। इसी तरह पनवेल (मुंबई) से आई ट्रेन में 683 मजदूर पहुंचे। प्रवासी मजदूरों को गृह जिलों में भेजने के लिए विशेष वाहनों से व्यवस्था की गई।

कोरोना अपडेट्स…

  • इंदौर: यहां भाजपा से जुड़े एबीवीपी के एक पूर्व पदाधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। उन्होंने पिछले दिनों जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष राजेश सोनकर, नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे समेत कई नेताओं से मुलाकात थी। सीएचएल अस्पताल के एक डॉक्टर, उनकी पत्नी और बच्चे की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। रेलवे थाने में एक एएसआई और एक सिपाही भी संक्रमित हुआ है।

  • ग्वालियर-चंबल: अंचल में रविवार को 18 केस पॉजिटिव मिले। इनमें ग्वालियर में 9, मुरैना में 7 और भिंड-शिवपुरी में एक-एक संक्रमित शामिल है। 3 संक्रमितों में 6 साल से कम उम्र के बच्चे भी हैं। उधर, ग्वालियर का घोसीपुरा इलाका हॉटस्पॉट बन चुका है। यहां पिछले 9 दिन में एक ही परिवार में 7 पॉजिटिव केस मिल चुके हैं। ग्वालियर चंबल में वर्तमान में 168 एक्टिव केस हैं। अब तक 259 कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें 80 स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं और दो की मौत हो चुकी है। दोनों मरने वाले ग्वालियर के डबरा निवासी थे।
  • बुरहानपुर: शहर में सोमवार को 10 नए कोरोना पॉजिटिव मिले। हॉटस्पॉट रास्तीपुरा में फिर 3 मरीज मिले। जिले में अब संक्रमितों की संख्या 289 हो गई। इनमें से 128 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। कुल 13 की मौत भी हुई है। 148 एक्टिव केस हैं।
  • सागर: जिले में 7 नए कोरोना संक्रमित मिले। अब यहां 87 केस हो गए। नए केस में 4 युवक स्थानीय सदर क्षेत्र के रहने वाले हैं। यह इलाका कोरोना का हॉटस्पॉट है। इसके अलावा 3 व्यक्ति मालथौन, बहेरिया और संत रविदास वार्ड के हैं।
विदिशा में बाजार खुलने लगे हैं। यहां लोग अब शादी-ब्याह के सामानेां की खरीदारी करने आ रहे हैं।
  • नीमच: जिले में 2 नए संक्रमित मिले। यहां अब 92 केस हो गए। दोनों संक्रमित उपखण्ड मुख्यालय जावद के कंटेनटमेंट एरिया के रहने वाले हैं। जिले में कुल 47 मरीज रिकवर होकर घर लौट चुके हैं। 4 की जान गई है।
  • उमरिया: आज 3 कोरोना पॉजिटिव मिले। अब संक्रमित की संख्या 5 हो गई। नए केस में 2 मानपुर और एक पाली तहसील का है।
  • शहडोल: यहां गोहपारू क्षेत्र के अकला गांव में एक संक्रमित मिला। यह व्यक्ति पहले से ही क्वारैंटाइन था। यह व्यक्ति अलीराजपुर के एक कोरोना मरीज के संपर्क में आया था।
  • भोपाल: चिरायु अस्पताल से 14 मरीज के ठीक होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया। यह सभी मरीज भोपाल के ही रहने वाले हैं। यहां अब तक 798 लोग ठीक हो गए हैं।

कुल संक्रमित 6665: 

इंदौर 3008, भोपाल 1241, उज्जैन 553, बुरहानपुर 271, खंडवा 222, जबलपुर 209, खरगौन 117, धार 111, ग्वालियर 98, नीमच 88, मंदसौर 87, देवास 80, मुरैना 71, सागर 68, रायसेन 67, भिंड 48, बड़वानी 39, होशंगाबाद 37, रतलाम 31, रीवा 26, विदिशा 18, बैतूल 17, आगर मालवा 13, सतना 13, झाबुआ 12, अशोकनगर 10, डिंडोरी 9, शाजापुर 9, दमोह 8, सीधी 8, सिंगरौली 7, दतिया 6, श्योपुर 6, शिवपुरी 6, टीकमगढ़ 6, छतरपुर 5, छिंदवाड़ा 5, सीहोर 5, शहडोल 5, अलीराजपुर 3, अनूपपुर 3, बालाघाट 3, हरदा 3, पन्ना 3, गुना 2, राजगढ़ 2, सिवनी 2, उमरिया 2, मंडला 1 और नरसिंहपुर में 1 मरीज।

290 की मौत: इंदौर 114, भोपाल 45, उज्जैन 53, बुरहानपुर 13, खंडवा 11, जबलपुर 9, खरगौन 8, धार 3, ग्वालियर 1, नीमच 3, मंदसौर 6, देवास 8, सागर 3, रायसेन 3, होशंगाबाद 3, आगर मालवा 1, सतना 1, झाबुआ 1, अशोकनगर 1, शाजापुर 1, सीहोर 1 और छिंदवाड़ा में एक मरीज की मौत हो चुकी है। (स्वास्थ्य विभाग द्वारा 24 मई रात 7 बजे जारी बुलेटिन के अनुसार)

Categories
sports

मुख्यमंत्री शिवराज की मौजूदगी में भाजपा दफ्तर में उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां, कमलनाथ भी बिना मास्क के ग्रुप फोटो खिंचवाते नजर आए


  • लॉकडाउन फेज-4 का सातवे दिन शनिवार रात प्रदेश में संक्रमित मरीजों आंकड़ा 6371 पर पहुंच गया
  • भाजपा दफ्तर में आयोजित कार्यक्रम में बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए दिखे मुख्यमंत्री

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 10:10 AM IST

लॉकडाउन फेज-4 का छठवें दिन शनिवार रात प्रदेश में संक्रमित मरीजों आंकड़ा 6371 पर पहुंच गया। हालत चिंताजनक होते जा रहे हैं। इधर, प्रदेश की जनता को सीख दे रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की तस्वीरें सामने आईं हैं। जिसमें वे खुद सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते नजर नहीं आ रहे हैं। इसको लेकर राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई है। 

दरअसल, शनिवार शाम को रायसेन जिले की सांची विधानसभा क्षेत्र के 200 कांग्रेस कार्यकर्ताओं को शामिल करने के लिए भोपाल में भाजपा के प्रदेश कार्यालय में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए पूर्व मंत्री प्रभुराम चौधरी शामिल हुए। मुख्यमंत्री की मौजूदगी में 200 से अधिक कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भाजपा की सदस्याता दिलाई गई। लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया गया। मुख्यमंत्री मंच पर कार्यकर्ताओं के साथ बिना मास्क के मिलते रहे और फोटो खिंचवाते रहे। 

दो दिन पहले पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के निवास पर अशोकनगर जिले के कांग्रेस नेताओं की बैठक हुई। बैठक के बाद कमलनाथ ने कांग्रेस नेताओं के साथ पहले तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया उसके बाद बिना मास्क ग्रुप फोटो कराया।

इधर, कमलनाथ ने भाजपा पर इस कार्यक्रम में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने का आरोप लगाया है। उन्होंने ट्वीट कर कहाकि प्रदेश में आमजन के लिए इस लॉकडाउन में शादी समारोह हो या गमी में संख्या तय है। आम लोग नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं तो उन पर तुरंत कार्रवाई भी हो रही है। वहीं आपके भाजपा कार्यालय में आज लॉकडाउन में आपकी व अन्य ज़िम्मेदार भाजपा नेताओं की उपस्थिति में एक भीड़भरा कार्यक्रम आयोजित होता है, नियमों का जमकर मखौल उड़ता है। लेकिन कमलनाथ भी इस समय अपने निवास पर उन क्षेत्रों के कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मिल रहे हैं जहां चुनाव होना है। कमलनाथ की अशोकनगर के कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ की एक तस्वीर सामने आई है। जिसमें वे खुद भी मास्क नहीं लगाए हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं। 

लॉकडाउन में ढील मिलते ही अशोकनगर में हैयर कटिंग सैलून खुल गए हैं। 

इंदौर में 3008 पॉजिटिव हुए

इंदौर में अब कोरोना के तीन हजार मरीज हो गए हैं। शनिवार को आई रिपोर्ट में नए 75 पॉजिटिव आने के बाद कुल मरीजों का आंकड़ा 3008 पर पहुंच गया। सिर्फ 60 दिन में इतने मरीज से यूं औसत 50 मरीज हर दिन दिख रहे हैं, पर 2 हजार से 3 हजार मरीज होने की रफ्तार इससे कहीं ज्यादा रही। शहर केवल 12 दिन में इस आंकड़े पर पहुंच गया। यानी हर दिन लगभग 83 मरीज मिले। 24 मार्च को पहला मरीज मिलने के बाद एक हजार मरीज होने में 30 दिन लगे थे। हालांकि उस वक्त सैंपलिंग कम हो रही थी, इसलिए पॉजिटिव रेट 21 फीसदी से अधिक था। अब सैंपलिंग ज्यादा हो रही है, इसलिए पॉजिटिव रेट घटकर 8 फीसदी के आसपास आ गया है, पर मरीज ज्यादा मिल रहे हैं। शनिवार को तीन मरीजों की मौत भी हुई। मृतकों का आंकड़ा अब 114 हो गया है।

मरीजों के लिहाज से इंदौर देश में सातवां शहर
एमजीएम मेडिकल कॉलेज के मुताबिक, अब तक इंदौर जिले के 29064 लोगों की जांच रिपोर्ट आई है, जिसमें से लगभग 8 फीसदी की दर से पॉजिटिव मरीज आए हैं। शनिवार को 713 सैंपल की जांच में 624 निगेटिव भी मिले। इंदौर मरीजों की संख्या के लिहाज से देश में सातवें नंबर पर पहुंच गया है।

भोपाल के डीआईजी बंगले के पास लॉकडाउन के दौरान हर दिन ट्राफिक जाम के हालत बन रहे हैं।

भोपाल में 51, नीमच में 30, उज्जैन में 25 नए संक्रमित मरीज मिले

भोपाल/नीमच/उज्जैन | प्रदेश में कोरोना के नए मरीज सामने आते ही जा रहे हैं। शनिवार को भोपाल में शनिवार को 51 नए पॉजिटिव मरीज मिले। यहां मरीजों की संख्या अब 1298 हो गई है। वहीं, नीमच जिले में अब तक का सबसे बड़ा कोरोना विस्फोट हुआ। यहां एक ही दिन में 30 नए पॉजिटिव मिले। उज्जैन में 170 सैंपल की जांच रिपोर्ट में 25 लोग पॉजिटिव आए हैं। यहां अब 550 संक्रमित हो गए हैं।

करीब डेढ़ महीने बाद मंडीदीप की औद्योगिक इकाईयों में कामकाज शुरू हो गया है। वर्कर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए काम कर रहे हैं।

मुरैना में गुटखा खरीदने के लिए लगी सैकड़ों लोगों की भीड़

लॉकडाउन के दौरान सैकड़ों लोगों की भीड़ किराना दुकान या मेडिकल स्टोर के बाहर दवाई खरीदने के लिए नहीं, बल्कि गुटखा व तंबाकू खाने के लिए लगी है। शनिवार को यह नजारा मुरैना में गर्ल्स स्कूल रोड पर एक खुले मैदान में देखने को मिला। एक गुटखा एजेंसी के गोदाम के बाहर तकरीबन दो हजार लोग सुबह 6 बजे से ही पहुंच गए। आसपास के लोगों ने जब वाहनों की लंबी कतार और लोगों का जमघट देखा तो पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने लोगों को डंडे मारकर खदेड़ा। इस दौरान एजेंसी संचालक ताराचंद कहना था कि ग्राहक मान ही नहीं रहे तो हम क्या करें। पुलिस ने एजेंसी संचालक का गोदाम बंद करा दिया। प्रशासन ने शहर में दुकानें खोलने की अनुमति दे दी है।

मुरैना में एक गुटखा एजेंसी के गोदाम के बाहर लगी खरीदारों की भीड़।

कोरोना अपडेट्स

  • कोरोना रिकवरी रेट 51%, इंदौर व उज्जैन जाने के लिए ई-पास जरूरी : प्रदेश में कोरोना रिकवरी रेट बढ़कर 51 प्रतिशत हो गया है। मुख्यमंत्री ने कोरोना स्थिति की समीक्षा के दौरान बताया कि प्रदेश में डिस्चार्ज होने वालों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। फीवर क्लीनिक भी खुल गए हैं। समीक्षा में अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि नए क्राइटेरिया के अनुसार जिन मरीजों का स्वास्थ्य ठीक हो, कोरोना के लक्षण न हों व गत तीन दिनों से बुखार नहीं आ रहा हो, उन्हें अब 10 दिन में डिस्चार्ज किया जा सकेगा। इसके बाद उन्हें सात दिन होम आइसोलेशन में रहना पड़ेगा। समीक्षा में प्रमुख सचिव संजय दुबे ने बताया कि भोपाल, इंदौर व उज्जैन से बाहर जाने के लिए ई-पास की जरूरत होगी। दूसरे राज्यों में आने-जाने के लिए भी ई पास अनिवार्य रहेगा।

  • 25 के बाद गुजरात, राजस्थान के लिए चल सकती हैं इंटर स्टेट बसें : प्रदेश से दूसरे राज्यों के बीच चलाई जाने वाली इंटर स्टेट बसें 25 मई के बाद चल सकती हैं। इन बसों को 50 फीसदी यात्रियों के साथ पहले चरण में राजस्थान व गुजरात के लिए चलाए जाने की संभावना है। ट्रांसपोर्ट कमिश्नर बी. मधुकुमार का कहना है कि फिलहाल प्रदेश की अधिकतम बसें श्रमिकों को एक से दूसरे जिलों व वहां से प्रदेशों के बॉर्डर तक पर छोड़ने में लगी हुई हैं। 25 मई तक इनके फ्री होने के बाद ही बसों के संचालन संबंधी कोई निर्णय हो सकता है। सबसे पहले ग्रीन जोन में बसों का संचालन हो सकेगा। उन्होंने बताया कि श्रमिकों के लिए अप्रैल के अंत से लेकर अब तक ही 24 हजार से ज्यादा बसें लगाई जा चुकी हैं।
  • कॉलेजों में जनरल प्रमोशन या परीक्षा पर आज होगा फैसला:  कोरोना महामारी के चलते प्रदेश में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की परीक्षाएं कराने और स्टूडेंट्स को जनरल प्रमोशन देने पर सरकार 24 मई को स्थिति स्पष्ट कर सकती है। इस संबंध में रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात करेंगे। प्रदेश के 20 लाख विद्यार्थियों के भविष्य से जुड़े मामले में राज्य शासन अभी तक स्थिति साफ नहीं कर पाया है। शासन कॉलेज के फ़र्स्ट और सेकंड ईयर के परीक्षार्थियों को जनरल प्रमोशन देने पर विचार कर रहा है। केवल फायनल ईयर के विद्यार्थियों को अंडर ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन पूरा करने के लिए परीक्षा देना पड़ेगी। सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री यूनिवर्सिटी के अलावा मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर भी राज्यपाल से अहम चर्चा करेंगे।
  • ग्वालियर में 106 साल की बुजुर्ग की कोरोना से मौत : जेएएच में भर्ती 106 साल की बुजुर्ग कोरोना संक्रमित देवाबाई की शनिवार को मौत हो गई। वे 16 मई से भर्ती थीं। उनके नाती पंकज गुप्ता ने आरोप लगाया है कि डॉक्टरों ने ठीक से देखभाल नहीं की। मेडिसिन के विभागाध्यक्ष डॉ. ओपी जाटव का कहना है कि उनका ब्लडप्रेशर नियंत्रित करने के लिए दवा देने के साथ ऑक्सीजन भी लगाई थी। शुक्रवार को ही देवा बाई ने डॉक्टरों से कहा था- मैं ठीक हूं, घर क्यों नहीं भेज रहे।
  • मलेरिया इंस्पेक्टर बाइक से सिरोंज से विदिशा ले गए सैंपल: विदिशा के सिरोंज में कोरोना सैंपल को विदिशा भेजने को लेकर जिम्मेदारों की लापरवाही शनिवार दिखी। राजीव गांधी अस्पताल प्रबंधन ने शनिवार को पांच लोगों के सैंपल लिए। पांचों सैंपल को बाइक से 85 किमी दूर विदिशा भेजा गया। मलेरिया इंस्पेक्टर सुंदरलाल अहिरवार इन सैंपलों को लेकर बाइक से विदिशा रवाना हुए। बाइक को उनका बेटा चला रहा था। बीएमओ डॉ. प्रमोद दीवान का कहना है कि सही पैकिंग करना जरूरी है। उन्हें किस वाहन से विदिशा अथवा भोपाल भेजा जा रहा है, यह मायने नहीं रखता।

रायसेन की कृषि उपज मंडी में किसान इस तरह से सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे हैं। इससे संक्रमण का खतरा बढ़ गया है।

राज्य में अब तक कुल 6371 संक्रमित :

इंदौर 2933, भोपाल 1191, उज्जैन 531, बुरहानपुर 213, खंडवा 216, जबलपुर 199, खरगौन 115, धार 109, ग्वालियर 92, मंदसौर 85, देवास 80, रायसेन और मुरैना में 67-67, नीमच 58, सागर 59,  भिंड 44, बड़वानी 39, होशंगाबाद 37, रतलाम 31, रीवा 26, विदिशा 17, आगरमालवा 13, सतना 12, झाबुआ 12, बैतूल 13, शाजापुर 9, सीधी 8, सिंगरौली 7, दमोह 6, अशोकनगर 10, टीकमगढ़ 6, डिंडोरी 9, शिवपुरी 6, सीहोर, श्योपुर और छिंदवाड़ा 5-5, दतिया और शहडोल 4-4, अलीराजपुर, अनूपपुर, हरदा और पन्ना 3-3, राजगढ़, सिवनी, उमरिया और छतरपुर 2-2, बालाघाट, गुना, मंडला में एक-एक संक्रमित मिला।

  • कुल 281 की मौत: इंदौर 111, भोपाल 42, उज्जैन 51, बुरहानपुर 13, झाबुआ 11, खंडवा 11, जबलपुर 9, खरगौन और देवास 8-8, मंदसौर 6, होशंगाबाद, धार, सागर 3-3, नीमच 2, ग्वालियर, सतना, आगरमालवा, अशोकनगर, छिंदवाड़ा, सीहोर और शाजापुर में एक-एक की मौत हुई। (स्वास्थ्य विभाग द्वारा 23 मई रात 7 बजे जारी बुलेटिन के अनुसार)
Categories
sports

राज्य के 50 जिलों में कोरोना का संक्रमण पहुंचा; प्रदेश के सभी काजियों की अपील- ईद अपने घरों में मनाएं


  • पूरे प्रदेश में ईद की तैयारियां चल रही हैं; रविवार या सोमवार को ईद मनाई जा सकती है, ईद को देखते हुए प्रशासन अलर्ट पर
  • काजियों ने ईद की नमाज घरों में अदा करने को कहा, मुबारकबाद दूर से ही देने अपील की

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 03:17 PM IST

भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना महामारी से हालत चिंताजनक होते जा रहे हैं। संक्रमण 52 में से 50 जिलों में फैल चुका है। प्रदेश में शनिवार सुबह तक 6170 संक्रमित मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। इनमें इंदौर के 2850, भोपाल के1206 और उज्जैन के 504 मरीज शामिल हैं। 272 की मौत हो चुकी है। 3089 मरीज स्वस्थ्य होकर घर जा चुके हैं। 2809 मरीजों का राज्य के विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

उधर, पूरे प्रदेश में ईद की तैयारियां चल रही हैं। रविवार या सोमवार को ईद मनाई जा सकती है। प्रशासन अलर्ट पर है। प्रदेश भर के काजियों ने ईद की नमाज लोगों से घरों में अदा करने को कहा है। मुबारकबाद दूर से ही देने की अपील की। इसके इतर, पुलिस और प्रशासन ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए मुस्लिम बहुल इलाकों में अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए। पुलिस ईद पर घनी बस्तियों में ड्रोन से निगाह रखेगी। 

बाजारों में पसरा सन्नाटा

ऐसा पहली बार हो रहा है कि जब लॉकडाउन के चलते रेड जोन जिलों के बाजारों में सन्नाटा पसरा है। भोपाल में ईद के दौरान 24 घंटे खुले रहने वाले बाजार खाली पड़े हैं। सेवइयों और मिठाई की दुकानें खुलने से लोगों को खुशी है।

रायसेन में बोहरा समाज के लोगों ने 30 रोजे पूरे होने पर सादगी से ईद मनाई। 

राज्य में ग्रीन-टू-ग्रीन जोन में जाने के लिए पास जरूरी नहीं

गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि प्रदेश में ग्रीन-टू-ग्रीन जोन में आने-जाने के लिए अब पास की जरूरत नहीं रहेगी। उन्होंने ट्वीट कर कहा- लोग अपने स्वयं के वाहन से यात्रा कर सकते हैं। ग्रीन-टू-ग्रीन जोन के बीच में यदि रेड जोन आता है तो भी हाईवे पर पास की जरूरत नहीं रहेगी।

जून में बढ़ेगा संक्रमण

  • मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैस के साथ एक बैठक में स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान ने आशंका जाहिर की है कि कोरोना के सबसे ज्यादा केस जून मध्य में सामने आ सकते हैं। इसके बाद उस स्थिति से मुकाबले के लिए तैयारियां तेज कर दी गई हैं। 1400 करोड़ रुपए के फंड के अलावा जिला खनिज फंड के इस्तेमाल की भी इजाजत दी गई है।

  • अस्पतालों में बेड की संख्या एक लाख तक बढ़ाई जा रही है। सरकार 18 लाख बेडशीट खरीद रही है, जिसे इस्तेमाल कर फेंक दिया जाएगा। 50 लाख परीक्षण करने वाले दस्ताने भी खरीदे जा रहे हैं। सभी कलेक्टर्स को माइनिंग विभाग ने 19 मई को एक सर्कुलर भेजा है, जिनमें जिला खनिज फंड से पीपीई किट, मास्क, ऑक्सीजन समेत जरूरी सामानों की खरीदी करने को कहा गया है। आईसीयू भी तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं।

विदिशा की एक सहकारी बैंक के बाहर किसानों की भीड़ देखी गई। यहां कई दिनों से ऐसे ही नजारे देखने मिल रहे हैं। लोग सोशल डिस्टेंसिंग का बिल्कुल पालन नहीं कर रहे हैं। 

कोरोना अपडेट्स

  • भोपाल: शहर में सुबह आई रिपोर्ट में 53 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले। अब संख्या 12 सौ के पार पहुंची। अब भोपाल में 1206 मरीज हो गए हैं। इसमें 16 मंगलवारा, 5 बाग मुगलिया क्षेत्र, 4 जनता नगर करोंद, 4 संजय नगर चौकी इमामबाड़ा के मरीज शामिल हैं।

  • मंडीदीप: मंडीदीप में 4 दिन पहले जो नवविवाहित काेरोना संक्रमित पाई गई थी, उसका पति इमरजेंसी के नाम पर ई-पास बनवाकर बारात लेकर भोपाल आया था। इसमें उसके साथ बहनोई और मामा शामिल थे। बारात जाटखेड़ी स्थित कंटेनमेंट एरिया में लगी थी। इसके बाद दूल्हा चोरी-छिपे वहां से बारात लेकर सतलापुर आ गया। कार में दूल्हा-दुल्हन समेत चार लोग सवार हुए थे। सतलापुर थाना पुलिस ने दूल्हा-दुल्हन के साथ बहनोई और मामा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। 
  • सतना: रेलवे स्टेशन पर ट्रेन से उतरे कुछ श्रमिकों ने शनिवार को पानी को लेकर हंगामा किया। मुंबई से चलकर बिहार के गया जाने वाली ट्रेन सतना रेलवे स्टेशन रुकी थी। यहां प्लेटफॉर्म नम्बर दो पर श्रमिक स्टॉल्स में घुस गए। किसी ने फ्रिज खोला, तो कोई काउंटर और शो केस में रखी सामग्री उठाकर ले गए।
  • अशोकनगर: जिले में कोरोना के 4 नए मामले मिले। संक्रमितों की संख्या बढ़कर 10 हो गई। नए केस में दो शहर के हैं और दो बहादुरपुर कस्बे के निवासी बताए गए। ये दोनों लोग पहले संक्रमित मिले व्यक्ति के संपर्क में आए थे।
  • छतरपुर: जम्मू में घर वापस आने के लिए ट्रेन में रिजर्वेशन कराके पैदल लौट रहे 5 मजदूरों को वहां एक इनोवा कार ने टक्कर मार दी। हादसे में 2 की मौके पर मौत हो गई, जबकि 3 घायल हो गए। एक की हालत नाजुक है। मजदूर यहां राजनगर तहसील के नयागांव पंचायत के मजरा हटवाहा के रहने वाले हैं। जम्मू में मजदूरी करते थे।

विदिशा में प्रवासी लोगों की मदद का सिलसिला जारी है। शनिवार सुबह से हाईवे पर लोगों को भोजन में कड़ी-चावल दिए जा रहे हैं। – फोटो- सीताराम मालवीय 
  • भोपाल: जिले के श्यामपुर के सिलावट मोहल्ले में शादी में शामिल होने भोपाल से आई एक कोरोना संक्रमित लड़की को पुलिस ने पकड लिया। बीएसओ डाॅ. एचपी सिंह के अनुसार, लड़की अपनी बहन की शादी में जहांगीराबाद से दो दिन पहले आई थी। उसे संक्रमित होने पर भोपाल में क्वारैंटाइन किया गया था, लेकिन वह चोरी छिपे यहां आ गई। सुबह जहांगीराबाद पुलिस लड़की को वापस भोपाल ले गई। परिवार के 18 सदस्यों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं।

  • बालाघाट: मुंबई से आए 2 और युवक संक्रमित पाए गए। जिले में अब मरीजों की संख्या 3 हो गई। सीएमएचओ डॉ. मनोज पांडे ने बताया कि मुंबई से पिकअप में 7 लोग आए थे, इनमें 2 गोंदिया खैरी के बीच उतर गए थे। इन दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

राज्य में अब तक कुल 6170 संक्रमित 

: इंदौर 2850, भोपाल 1153, उज्जैन 504, बुरहानपुर 209, खंडवा 208, जबलपुर 194, खरगौन 114, धार 107, ग्वालियर 90, मंदसौर 83, देवास 73, रायसेन और मुरैना में 67-67, नीमच 58, सागर 57,  भिंड 44, बड़वानी 39, होशंगाबाद 37, रतलाम 30, रीवा 26, विदिशा 17, आगरमालवा 13, सतना 12, झाबुआ 11, बैतूल और शाजापुर 9-9, सीधी 8, सिंगरौली 7, दमोह, अशोकनगर और टीकमगढ़ 6-6, डिंडोरी, शिवपुरी, सीहोर, श्योपुर और छिंदवाड़ा 5-5, दतिया और शहडोल 4-4, अलीराजपुर, अनूपपुर, हरदा और पन्ना 3-3, राजगढ़, सिवनी, उमरिया और छतरपुर 2-2, बालाघाट, गुना, मंडला में एक-एक संक्रमित मिला।
कुल 272 की मौत: इंदौर 109, भोपाल 40, उज्जैन 51, बुरहानपुर और झाबुआ 11-11, खंडवा 10, जबलपुर 9, खरगौन और देवास 8-8, मंदसौर 6, होशंगाबाद 3, सागर, धार और नीमच 2-2, ग्वालियर, सतना, आगरमालवा, अशोकनगर, छिंदवाड़ा, सीहोर और शाजापुर में एक-एक की मौत हुई।

Categories
sports

200 ट्रेनों के लिए बुकिंग शुरू हुई; भोपाल में 26 गाड़ियों को मिलेगा स्टॉपेज, 2 हबीबगंज से चलेंगी  


  • रेलवे ने 1 जून से 200 यात्री ट्रेनें चलाने की मंजूरी दे दी है, टिकट ऑनलाइन ही मिलेगा
  • 25 मई से घरेलू उड़ानें शुरू हो रही हैं, भोपाल एयरपोर्ट तैयारियों में जुटा

दैनिक भास्कर

May 21, 2020, 05:59 PM IST

भोपाल. रेलवे ने 1 जून से 200 यात्री ट्रेनें चलाने की मंजूरी दी है। इनमें एसी और नॉन एसी दोनों श्रेणियां होंगी। इनकी ऑनलाइन बुकिंग आज सुबह 10 बजे से शुरू हो गई। इनमें 73 जोड़ी मेल एक्सप्रेस, 5 जोड़ी नॉन एसी दुरंतो, 22 जोड़ी जनशताब्दी हैं। इनमें से 13 जोड़ी ट्रेन भोपाल में रुकेंगी। हबीबगंज से हजरत निजामुद्दीन जाने वाली भोपाल एक्सप्रेस और जबलपुर जाने वाली जन शताब्दी शामिल हैं।

जनरल डिब्बे में बैठने के लिए भी आरक्षण करवाना होगा। ट्रेनों का किराया सामान्य रहेगा। जनरल कोच के लिए सेकेंड सिटिंग का किराया लिया जाएगा। इन 200 ट्रेनों के लिए अधिकतम 30 दिन पहले टिकट बुक करा सकते हैं। आरएसी और वेटिंग लिस्ट भी बनेगी। ये सभी ट्रेनें पहले से तय टाइम-टेबल के अनुसार चलेंगी। 

भोपाल में इन ट्रेनों को मिलेगा स्टॉपेज, एसी-नॉन एसी दोनों श्रेणियां होंगी

ट्रेन नंबर

नाम   कहां से कहां तक चलेंगी
01016-01015 कुशीनगर एक्सप्रेस गोरखपुर एलटीटी मुंबई
01071-01072 कामायनी एक्सप्रेस   वाराणसी एलटीटी मुंबई
02155-02156 भोपाल एक्सप्रेस       हबीबगंज हजरत निजामुद्दीन
02533-02534     पुष्पक एक्सप्रेस लखनऊ मुंबई सीएसटी
02618-02617 मंगला-लक्ष्यद्वीप एक्सप्रेस हजरत निजामुद्दीन एर्नाकुलम
02715-02616 सचखंड एक्सप्रेस         अमृतसर  हुजूर साहेब नांदेड़
02541-02542 से गोरखपुर-एलटीटी सुपर फास्ट       गोरखपुर एलटीटी मुंबई 
02779-02780 गोवा एक्सप्रेस     हजरत निजामुद्दीन वास्कोडिगामा
02061-02062 जन शताब्दी एक्सप्रेस   हबीबगंज जबलपुर
02724-02723   तेलंगाना एक्सप्रेस   नई दिल्ली हैदराबाद 
02285-02286 दुरंतो     सिकंदराबाद निजामुद्दीन 
02630-02629 संपर्क क्रांति     निजामुद्दीन यशवंतपुर
02805-02806    – एपी एक्सप्रेस         नई दिल्ली विशाखापट्‌टनम
02283-02284            दुरंतो निजामुद्दीन एर्नाकुलम

भोपाल: उच्च शिक्षा विभाग में ओएसडी कोरोना पॉजिटिव मिले
उच्च शिक्षा विभाग में पदस्थ एक ओएसडी (ऑन स्पेशल ड्यूटी) कोरोना पॉजिटिव मिले। इनका दफ्तर सतपुड़ा भवन में पांचवें फ्लोर पर है। जब से दफ्तर खुले हैं, तब से ओएसडी दो बार गए हैं। आखिरी बार वह 12 मई को कार्यालय गए थे, तभी उनकी तबियत खराब हुई। लू लगने की बात सामने आई थी। इसके बाद उन्होंने कोरोना की जांच के लिए सैंपल दिया था। यहां कार्यालय में पदस्थ सभी कर्मचारियों को होम क्वारैंटाइन रहने के निर्देश दिए गए हैं।

25 मई से हवाई यात्रा शुरू: हर केबिन के बीच 3 मी. की दूरी

देश में 25 मई से घरेलू उड़ानें शुरू हो रही हैं। केंद्र सरकार के निर्देशों के बाद भोपाल के राजा भोज एयरपोर्ट पर भी तैयारी पूरी कर ली गई है। एयरपोर्ट डायरेक्टर अनिल विक्रम ने बताया कि बोर्डिंग पास बनाने के लिए मशीन लगाई जाएंगी। सीआईएसएफ की टीम मैग्नीफाई ग्लास के पीछे से यात्रियों के कागजात चैक करेगी। एयरपोर्ट पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए जरूरी इंतजाम कर लिए गए हैं। यात्रियों के बैगेज को फ्लाइट में पहुंचाने से पहले और उतारने के बाद सैनिटाइज किया जाएगा। इसके लिए अलग से टीम तैनात की जाएगी।  

रेड जोन के सरकारी दफ्तरों में 50% कर्मचारी अनिवार्य
रेड जोन (कंटेनमेंट क्षेत्र छोड़कर) में आने वाले निजी और शासकीय दफ्तरों में अब 50% कर्मचारियों और अधिकारियों की उपस्थिति होगी। पहले जारी गाइडलाइन में सरकार ने रेड जोन में किसी भी तरह की गतिविधि को प्रतिबंधित किया था। इस जोन के बाहर सरकारी दफ्तर 100% कर्मचारियों के साथ खोलने की अनुमति है। 

25 मई से घरेलू उड़ानें शुरू हो रही हैं। इसके लिए भोपाल के राजा भोज एयरपोर्ट पर तैयारियां चल रही हैं। लगेज को सैनिटाइज किया जा रहा है। 

जुलाई तक 80 हजार तक पहुंच सकती है संक्रमितों की संख्या 

प्रदेश में जुलाई तक संक्रमितों की संख्या 80 हजार से एक लाख तक पहुंचने का अनुमान है। यहां 52 में से 49 जिलों में संक्रमण फैल चुका है। बालाघाट, डिंडोरी, पन्ना, दमोह, गुना, मंडला, सिवनी, उमरिया, राजगढ़, सिंगरौली, टीकमगढ़ और छतरपुर जिलों में संक्रमण के जो मामले सामने आ रहे हैं। उनमें से ज्यादातर बाहर से आए प्रवासी हैं। 

बाबा रामदेव का दावा- अश्वगंधा-गिलोय संक्रमण रोकने में असरदार
योग गुरु बाबा रामदेव ने कोरोना के संक्रमण की चेन तोड़ने का तरीका सुझाया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान बाबा ने कहा कि जिस व्यक्ति की इम्युनिटी (रोग प्रतिरोधक क्षमता) अच्छी है, उसका कोरोना कुछ नहीं बिगाड़ सकता। प्राणायाम के साथ आयुर्वेदिक दवाओं के उपयोग से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बहुत अच्छी हो जाती है। खासतौर पर कोविड संक्रमण को अश्वगंधा, अणुतेल और गिलोय के उपयोग से तोड़ा जा सकता है। 

भोपाल : युवाओं ने पेंटिंग्स के जरिए कोरोना वॉरियर्स को सलाम किया 

भोपाल के कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्रों ने लॉकडाउन में जागरूकता के उद्देश्य से ‘बैठे-बैठे क्या करें’ शीर्षक से पेंटिंग प्रतियोगिता आयोजित की, इसमें 20 से अधिक युवाओं ऑनलाइन शामिल हुए। पहला स्थान दिव्या सिंह सतना, दूसरा स्थान प्रियंका विश्वकर्मा भोपाल, तीसरा स्थान ऋषिता साहू और साक्षी नागर ने प्राप्त किया। 

साक्षी नागर ने ये पेंटिंग बनाई है, जिसमें एक नर्स कोरोना मरीजों को सुरक्षित लेकर जा रही है।  

खजुराहो में रहने वाले सुरेंद्र सिंह ने पिता मोती सिंह (98 साल) की मौत के बाद तेरहवीं नहीं की, बल्कि बचे हुए पैसों से डॉक्टरों के लिए पीपीई किट खरीदकर दान कीं। 

हेयर कटिंग सैलून और पार्लर सशर्त छूट के साथ खुल सकते हैं
करीब 2 माह बाद लॉकडाउन में शासन द्वारा धीरे-धीरे छूट दी जा रही है। अब हेयर कटिंग सैलून और पार्लरों को लेकर निर्देश जारी किए गए हैं। मुख्य सचिव गृह विभाग एसएन मिश्रा के मुताबिक, 7 बिंदुओं का पालन करना होगा, जिसके आधार पर सशर्त अनुमति प्रदान की जा सकती है। लेकिन, अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि यह छूट ग्रीन जोन और रेड जोन में कहां-कहां दी जा सकती है। छूट कब से दी जाएगी, इसकी तारीखों का ऐलान भी गृह विभाग के आदेश में स्पष्ट नहीं है।

रायसेन : मंडीदीप में शादी के तीसरे दिन दुल्हन पॉजिटिव मिली

मंडीदीप में एक महिला शादी के तीसरे दिन कोरोना पॉजिटिव पाई गई। वह भोपाल के जाटखेड़ी की रहने वाली है। 18 मई को उसकी शादी हुई थी। परिवार वालों ने बताया कि 7 दिन पहले उसे बुखार आया था। उसे भोपाल एम्स में भर्ती किया गया है। उसके पति समेत परिवार के 32 लोगों को क्वारैंटाइन किया गया है।

मंडीदीप में नई दुल्हन कोरोना पॉजिटिव पाई गई, उसे इलाज के लिए एम्स रेफर किया गया। 

छिंदवाड़ा : श्रमिक स्पेशल ट्रेन में बच्चे का जन्म

जिले में श्रमिक स्पेशल ट्रेन से जा रही एक महिला ने बच्चे को जन्म दिया। ट्रेन अमृतसर से चांपा जा रही थी। बुधवार को पांढुर्ना में प्रसव पीड़ा होने पर ट्रेन को रोका गया। शासकीय अस्पताल से पहुंचीं डाॅक्टरों ने प्रसव कराया। 

सागर: 9 कोरोना पॉजिटिव मिले

जिले में गुरुवार को 9 और कोरोना संक्रमित मिले। यहां अब तक 51 केस हो गए। इसमें से 5 ठीक हो चुके हैं। 44 का इलाज चल रहा है। इनमें से 4 की हालत गंभीर है। 2 मरीज सागर से भोपाल रेफर किए जा चुके हैं। 

जबलपुर: 2 नए संक्रमित मिले, अब तक 192 केस
गुरुवार सुबह 2 नए कोरोना पॉजिटिव मिले। जबलपुर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 192 हो गई। जबकि, 114 मरीज ठीक हो चुके हैं। उधर, बुधवार देर शाम कलेक्टर भरत यादव चांदनी चौक कंटेनमेंट एरिया पहुंचे। उन्होंने लोगों से नियमों का पालन करने का आग्रह किया।

मध्य प्रदेश : संक्रमित 5735 

इंदौर 2715, भोपाल 1088, उज्जैन 420, बुरहानपुर 194, खंडवा 186, जबलपुर 186, खरगौन 114, धार 107, ग्वालियर 77, रायसेन 67, देवास 66, मंदसौर 79, नीमच 50 मुरैना 44, होशंगाबाद 37, बड़वानी 34, रतलाम 28, भिंड 38, सागर 44, विदिशा 16, रीवा 25, आगरमालवा 13, झाबुआ 11, बैतूल 9, सतना 10, शाजापुर 8, टीकमगढ़ 8, छिंदवाड़ा 5, सीहोर 5, सीधी 5, श्योपुर 5, डिंडोरी 4, अलीराजपुर 3, अनूपपुर 3, अशोकनगर 5, दतिया 3, हरदा 3, शहडोल 3, शिवपुरी 3, पन्ना 3, दमोह 5, गुना 1, मंडला 1, राजगढ़ 1, सिवनी 1, सिंगरौली 1, उमरिया 1 और छतरपुर में एक मरीज।

267 की मौत:

इंदौर में 105, भोपाल में 40, उज्जैन में 50, जबलपुर में 9, खंडवा में 10, बुरहानपुर में 11, खरगौन में 8, धार में 2, ग्वालियर मे 1, रायसेन मे 3, देवास में 8, मंदसौर मे 6, नीमच में 1, होशंगाबाद मे 3, सागर 2, आगर मालवा-सतना-शाजापुर-झाबुआ-छिंदवाड़ा-सीहोर-अशोकनगर में 1-1 मरीज की मौत हो चुकी है। (स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी 20 मई को शाम 6 बजे जारी बुलेटिन के अनुसार)

Categories
sports

52 में से 48 जिलों में संक्रमण, पलायन कर आए लोगों की रिपोर्ट आ रही पॉजिटिव; ग्रीन जोन में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ीं, खतरा और ज्यादा बढ़ा


  • प्रदेश में अब जो मरीज सामने आ रहे हैं, वे अन्य राज्यों से अपने गृह जिलों में पहुंचे हैं, संक्रमित नए जिले इसका उदाहरण हैं
  • स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव ने कहा- प्रदेश में 80 हजार मामले बढ़ने के अनुमान को लेकर तैयारियां की जा रही हैं

दैनिक भास्कर

May 20, 2020, 10:40 AM IST

भोपाल. मध्य प्रदेश के 52 में से 48 जिलों में कोरोनावायरस का संक्रमण पहुंच गया है। मरीजों की संख्या 5465 पर पहुंच गई। राज्य में अब जो मरीज सामने आ रहे हैं वे पलायन कर अन्य राज्यों से गृह जिलों में पहुंचे हैं। संक्रमित नए जिले इसका उदाहरण हैं। डिंडोरी, पन्ना, दमोह, गुना, मंडला, सिवनी, उमरिया, राजगढ़, सिंगरौली, टीकमगढ़ और छतरपुर में जो भी मरीज मिले हैं, वे अन्य प्रदेशों से आए हैं। इधर, ग्रीन जोन जिलों में मिली छूट में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ रह हैं। बाजारों और बैंकों समेत अन्य सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ देखी जा रही है। लॉकडाउन में जिस तरह के नजारे सामने आ रहे हैं, उससे संक्रमण और ज्यादा फैलने की आशंका है। 

जून के आखिरी और जुलाई के पहले पखवाड़े तक प्रदेश में 80 हजार से एक लाख तक संक्रमित मरीज हो सकते हैं, इसी आशंका के चलते प्रदेश सरकार ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव फैज अहमद किदवई का कहना है कि प्रदेश में 80 हजार मामले बढ़ने के अनुमान को लेकर तैयारियां की जा रही हैं। लोगों को घबराने की जरूरत नहीं हैं। इस बीमारी से बचने का एकमात्र उपाय है- सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना।

यह तस्वीर रायसेन की है। शहर में 67 संक्रमित हैं। बाजार खुलते ही कुछ ऐसा नजारा दो दिन से देखने को मिल रहा है।

बुंदेलखंड में अब तक 61 पॉजिटिव मिले
बुंदेलखंड में अब तक कुल 61 कोरोना मरीज मिले हैं। मंगलवार को सबसे अधिक 6 मरीज सागर में मिले। इसके अलावा दमोह में 4, छतरपुर में 2 मरीज मिले। जबकि टीकमगढ़ और पन्ना में सोमवार की देर रात 1-1 मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। सागर में अब कुल मरीजों की संख्या 44 हो चुकी है। जबकि दमोह में 6, टीकमगढ़ में 6, पन्ना में 3 और छतरपुर में 2 मरीज हो गए। प्रवासियों की वजह से यह संख्या रोज बढ़ रही है। नए मरीजों की ट्रैवल हिस्ट्री तलाशी जा रही है। सागर में 5 और टीकमगढ़ में 3 मरीज स्वस्थ्य हो चुके हैं। बीना के एक मरीज की मौत हो गई थी।

यह तस्वीर विदिशा की है। बैंक के सामने लगी लोगों की भीड़। यहां 15 मरीज मिल चुके हैं। इसके बाद भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा है। 

भिंड, मुरैना, दतिया में 10 दिन में मिले कोरोना संक्रमितों में 90% गुजरात, महाराष्ट्र या दिल्ली से आए
ग्वालियर-चंबल अंचल के 6 जिलों में से भिंड और दतिया जिले में 7 मई तक एक भी कोरोना संक्रमित नहीं था। शिवपुरी और श्योपुर के मरीज पहले ही ठीक होकर घर जा चुके थे। सिर्फ ग्वालियर और मुरैना जिलों में कोरोना संक्रमित थे। लेकिन, अन्य राज्यों से मजदूरों और लोगों का आना जारी रहा। मुख्य रूप से भिंड, मुरैना और दतिया जिलों में गुजरात, महाराष्ट्र और दिल्ली से आने वाले लोगों की संख्या ज्यादा रही। पिछले 10 दिनों में मिले मरीजों में से 94 फीसदी वे लोग हैं जो इन्हीं तीन राज्यों से आए। बाकी के 6 फीसदी मरीजों की भी दूसरे राज्यों की ट्रैवल हिस्ट्री है। यानी बाहर से आने वालों की वजह से इन जिलों में संक्रमण फैल रहा है। कई लोग तो बिना स्क्रीनिंग ही घर पहुंच रहे हैं। जब किसी पॉजिटिव मरीज के साथ ट्रैवल हिस्ट्री मिलती है तब उसका सैंपल लिया जाता है, तब तक वह कई लोगों में संक्रमण फैला चुका होता है।

सीहोर में बाजार खुलने से पहले ही सड़कों पर लोगों की भीड़ दिखने लगी है।

10 दिन में भिंड, मुरैना और दतिया जिलों में 35 कोरोना संक्रमित मरीज

8 से 17 मई के बीच 10 दिन में भिंड, मुरैना और दतिया जिलों में 35 कोरोना संक्रमित मिले। इनमें 21 मरीज गुजरात से, 4 मरीज महाराष्ट्र से और 5 मरीज दिल्ली से आए हैं। स्पष्ट है कि इन जिलों में कोरोना का संक्रमण बाहर से आए लोगों के कारण फैल रहा है। इसके बाद भी प्रशासन इन राज्यों से आने वाले सभी लोगों की सैंपलिंग नहीं करवा रहा। जिले में आने पर इन प्रवासी लोगों की स्क्रीनिंग की जाती है। लक्षण होने पर संस्थागत क्वारैंटाइन किया जाता है, अन्यथा होम क्वारैंटाइन की समझाइश देकर घर भेज दिया है। कई लोग तो दूसरे रास्तों से सीधे घर पहुंच रहे हैं। 

भिंड: 8 मई को पहला मरीज, इसके बाद लगातार 25 मरीज मिले
जिले में 8 मई को पहला मरीज मिला। इसके बाद से अब तक 25 मरीज मिल चुके हैं। इनमें 14 मरीज गुजरात के अहमदाबाद या सूरत से आए हैं या फिर उनके परिजन हैं। बाकी 11 में से 7 मरीज दिल्ली और महाराष्ट्र से लौटे हैं। बाकी 4 मरीज भी अन्य दूसरे राज्यों से आए हैं।

मुरैना: पिछले 10 दिन में मिले 16 मरीज, इनमें 15 गुजरात, महाराष्ट्र और दिल्ली से आए
जिले में यूं तो अब तक 39 मरीज मिल चुके हैं। इनमें से 14 मरीज तो दुबई से आए युवक और उसके संपर्क में आए परिजन थे। हाल ही में 8 से 17 मई के बीच 10 दिन में 16 मरीज मिले हैं, इनमें से 12 मरीज तो गुजरात से ही आए हैं। तीन मरीज महाराष्ट्र और दिल्ली से लौटे हैं।

दतिया: 14 मई को 4 मरीज, इनमें 3 अहमदाबाद से लौटे, एक मुंबई से
जिले में 14 मई को कोरोना ने दस्तक दी और 4 संक्रमित मरीज मिले। इनमें से 3 गुजरात के अहमदाबाद से लौटे थे और एक मुंबई से। हालांकि मुंबई से लौटा मरीज दतिया आया ही नहीं था, वह ग्वालियर के आंतरी में अपनी बुआ के यहां रुक गया था।

विदिशा के बाजार में सुबह से जाम लगने लगा है।

कोरोना अपडेट्स

  • सागर में पार्षद की कोरोना से मौत: कोरोना पॉजिटिव मिले कैंट बोर्ड वार्ड क्रमांक 3 के पार्षद की देर रात इलाज के दौरान मौत हो गई।  सोमवार को उनकी अचानक तबीयत बिगड़ने के बाद भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों ने उनका कोरोना टेस्ट कराया। मंगलवार को उनके पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई और देर रात उन्होंने इलाज के दौरान बीएमसी में दम तोड़ दिया। जिले कोरोना से मौत का यह दूसरा मामला है।
  • भोपाल शहरी सीमा के बाहर आज से शराब दुकानें खुलेंगी: जिले के नगर निगम क्षेत्र के बाहर मंगलवार को शराब दुकानें नहीं खुलीं। सरकार ने नगर निगम सीमा के बाहर शराब दुकानें खोलने की अनुमति दी है। शराब ठेकेदारों के अनुसार इस संबंध में कलेक्टर से कोई आदेश नहीं मिला, इसलिए दुकानें नहीं खोली गईं। इधर, वाणिज्यिक कर विभाग ने मंगलवार को सभी कलेक्टरों को फिर आदेश भेजा है।
यह तस्वीर गुना की है। पलायन कर हाईवे से जा रहे लोगों को ककड़ी देते स्थानीय लोग।

राज्य में अब तक 5465 संक्रमित

इंदौर 2637, भोपाल 1046, उज्जैन 362, जबलपुर 184, खंडवा 186, बुरहानपुर 194, खरगौन 114, धार 107, ग्वालियर 72, रायसेन 67, देवास 63, मंदसौर 60, नीमच 50, होशंगाबाद 37, मुरैना 38, बड़वानी 33, रतलाम 28, सागर 23, भिंड 25, विदिशा 15, रीवा 14, आगर मालवा 13, सतना 9, शाजापुर 8, झाबुआ 11, छिंदवाड़ा 5, सीहोर 5, टीकमगढ़ 6, श्योपुर 5, सीधी 5, अलीराजपुर 3, अनूपपुर 3, अशोकनगर 3, बैतूल 9, दतिया 3, हरदा 3, शहडोल 3, शिवपुरी 3, डिंडोरी 4, पन्ना 2, दमोह 1, गुना 1, मंडला 1, सिवनी 1, उमरिया 1, राजगढ़ 1, सिंगरौली में एक मरीज।

  • 258 की मौत: इंदौर 103, भोपाल 39, उज्जैन 48, जबलपुर 9, खंडवा 9, बुरहानपुर 11, खरगौन 8, धार 2, ग्वालियर 1, रायसेन 3, देवास 8, मंदसौर 5, नीमच 1, होशंगाबाद 3, सागर 1, आगर मालवा 1, सतना 1, शाजापुर 1, झाबुआ 1, छिंदवाड़ा 1, सीहोर 1, अशोकनगर एक मरीज की मौत हो चुकी है।
  • 2630 स्वस्थ्य हुए: इंदौर 1158, भोपाल 632, उज्जैन 172, जबलपुर 101, खंडवा 55, बुरहानपुर 33, खरगौन 82, धार 79, ग्वालियर 20, रायसेन 59, देवास 27, मंदसौर 30, नीमच 8, होशंगाबाद 33, मुरैना 22, बड़वानी 26, रतलाम 26, सागर 5,  विदिशा 13, रीवा 1, आगर मालवा 12,  शाजापुर 7, झाबुआ 1, छिंदवाड़ा 4, शहडोल 3, शिवपुरी 3, डिंडोरी 1, पन्ना में 1 मरीज स्वस्थ्य हुआ। (स्वास्थ्य विभाग द्वारा 19 मई को जारी बुलेटिन के अनुसार)
Categories
sports

प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या 5236 पर पहुंची, ग्रीन जोन जिलों में बाजार खुले, आम दिनों की तरह हुआ नजारा


  • ग्रीन जोन में सुबह से सड़कों और बाजारों में भीड़-भाड़ देखी जा रही है
  • अब तक इंदौर में सबसे ज्यादा 2637 और भोपाल में 1076 मरीज

दैनिक भास्कर

May 19, 2020, 10:41 AM IST

भोपाल. मध्य प्रदेश में लॉकडाउन फेज-4 की तस्वीर साफ हो गई है। ग्रीन जोन में आम दिनों की तरह बाजार खुलने लगे हैं। सुबह से सड़कों और बाजारों में भीड़-भाड़ देखी जा रही है। सोमवार रात मुख्यमंत्री ने प्रदेश की जनता के नाम संदेश में साफ किया है कि रेड और ग्रीन जोन में जो सहूलियतें दी जा रही हैं वे फिलहाल सिर्फ 7 दिन के लिए हैं। अगर हालात काबू में रहे तो फेज-4 में दी जा रहीं रियायते लागू रहेंगी। अगर संक्रमण बढ़ता है तो समीक्षा के बाद फिर से सख्ती की जाएगी। सोमवार देर रात प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या 5236 पर पहुंच गई। इसमें इंदौर के 2637 और भोपाल के 1076 मरीज हैं। कुल 252 की मौत हो चुकी है।

फेज-4 में  ऑरेंज जोन अब नहीं होगा
राज्य सरकार ने रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बदलाव कर दिया। ऑरेंज जोन अब नहीं होगा। रेड जोन में इंदौर और उज्जैन का पूरा जिला रहेगा, जबकि भोपाल की सिर्फ नगर निगम सीमा तक ही रेड जोन प्रभावी होगा। भोपाल के साथ बुरहानपुर, जबलपुर, खंडवा, देवास नगर निगम क्षेत्र और मंदसौर, नीमच, धार और कुक्षी के नगर पालिका एरिया को रेड जोन माना जाएगा। बाकी को ग्रीन जोन मानकर उसमें केंद्रीय गृह मंत्रालय की गाइडलाइन और प्रोटोकॉल के हिसाब से गतिविधियां सामान्य की जाएंगी। रेड जोन में एक सप्ताह तक बाजार बंद रहेंगे। जिले के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप से चर्चा और समीक्षा के बाद उन्हें खोला जाएगा। मोहल्ले, एकल दुकानें, आवासीय इलाकों की दुकानें, बाजार में स्थित आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रहेंगी।  रेड जोन के बाहर लाइसेंस वाली शराब और भांग की दुकानें खुल सकेंगी।

यह तस्वीर गुना की है। सोमवार को भी यहां दुकानों में व्यापारी एक साथ कई ग्राहकों को अंटेंड कर रहे थे। एक छोटी कपड़े की दुकान में जब ज्यादा ग्राहक आ गए तो यातायात पुलिस के जवान ने दुकानदार को सोशल डिस्टेंसिंग के लिए कहा। 

शाम 7 से सुबह 7 बजे तक प्रदेश में कर्फ्यू

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि शाम 7 से सुबह 7 बजे तक प्रदेश में कर्फ्यू रहेगा और आवागमन नहीं होगा। सिर्फ जरूरी वस्तुओं के लिए आवागमन की छूट रहेगी। सभी जोन में सार्वजनिक परिवहन भी एक सप्ताह तक प्रतिबंधित रखा जाएगा। राज्य सरकार ने भी तय किया है कि रेड जोन के कंटेनमेंट क्षेत्र का दायरा बढ़ाकर उसे बफर घोषित किया जाएगा और इसके बाहर गतिविधि सामान्य की जाएगी।  इसका प्रयोग फिलहाल इंदौर, भोपाल, उज्जैन और बुरहानपुर को छोड़कर किया जाएगा। इन जिलों में यदि बफर तय करना है तो जिला क्राइसिस मैनेजमेंट से चर्चा के बाद निर्णय होगा।

यह तस्वीर विदिशा की है। यहां हाईवे पर उत्तर प्रदेश और बिहार की ओर जा रहे लोगों के खाने के पैकेट देते स्थानीय लोग। 

इंदौर में सोमवार को 72 नए पॉजिटिव मिले
शहर में सोमवार को 72 नए पॉजिटिव मिले। 902 सैंपल की जांच में 803 निगेटिव भी आए हैं। इसके अलावा 2 मौत भी हुई हैं। आंकड़ों को देखें तो 6 से 16 मई तक नए सैंपल की संख्या 1200 से 1500 के बीच थी। फिर अचानक 17 मई को सैंपल की संख्या कम कर दी गई। पूर्व में भी 26 अप्रैल से 1 मई के बीच सैंपल की संख्या कम थी। जिसके कारण पॉजिटिव मरीजों की संख्या भी कम मिली। इसके बाद भोपाल की तर्ज पर सैंपल की संख्या में बढ़ोतरी की गई तो पॉजिटिव की संख्या भी बढ़ने लगी। विशेषज्ञ इसी बात पर जोर दे रहे हैं कि ज्यादा से ज्यादा सैंपलिंग की जाना चाहिए ताकि मरीजों की पहचान की जा सके।

क्वारैंटाइन सेंटर में 700 संदिग्ध बढ़े, आसपास के लोग दहशत में
इंदौर में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या के कारण शहर के क्वारैंटाइन सेंटरों में संदिग्धों की संख्या एक बार फिर बढ़ गई है। इस वजह से इन क्वारैंटाइन सेंटर्स और आसपास के रहवासी इलाकों में लोग डरने लगे हैं। शहर के 46 क्वारैंटाइन सेंटर में से 30 सेंटर मई की शुरुआत में खाली हो गए थे। तब इनमें करीब 600 संदिग्ध बचे थे। अब वापस सभी सेंटरों में संदिग्धों की संख्या 1300 के आसपास पहुंच चुकी है। 

रेड जोन में शामिल राजधानी भोपाल की सड़कों पर आज सुबह से वाहन नजर आ रहे हैं।

भोपाल में एक दिन में मिले 59 मरीज

राजधानी में सोमवार को कोरोना के 59 नए मरीज मिले। यह एक ही दिन में मिले मरीजों का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इनमें सबसे ज्यादा 28 मरीज जहांगीराबाद क्षेत्र के हैं। भोपाल में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 1076 हो गई है। स्वास्थ्य संचालनालय के अफसरों ने बताया कि भोपाल में सोमवार देर रात आई जांच रिपोर्ट में जहांगीराबाद, मंगलवारा, अशोका गार्डन, गोविंदपुरा और छत्रसाल नगर के 40 रहवासियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके पहले सुबह 19 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।  

मंगलवार सुबह विदिशा के बाजार में उमड़ी लोगों की भीड़।

सागर: एक दिन में रिकॉर्ड 18 पॉजिटिव मिले, इनमें दो परिवार के 14

सोमवार को 18 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। अब तक मरीजों की संख्या 39 हो गई। नए केस में सदर निवासी दो परिवार के 14 सदस्य शामिल हैं। इसमें एक परिवार के 10 और दूसरे के 4 सदस्य हैं। वहीं, तिलकगंज निवासी 1 साल की मासूम और मोतीनगर निवासी महिला भी संक्रमित पाए गए। 2 केस दोपहर में मिले थे। यहां सदर इलाके में 21 केस हैं। 

ग्रीन जोन में शामिल अशोकनगर में आज सुबह से सड़कों पर चहल-पहल बढ़ गई है।

कोरोना अपडेट्स

  • इंदौर की 900 से ज्यादा इंडस्ट्री को मंजूरी मिलेगी: लॉकडा‌उन फेज- 4 में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने की ओर कदम बढ़ाते हुए जिला प्रशासन ने सांवेर रोड औद्योगिक क्षेत्र, पालदा और अन्य जगह की 900 से ज्यादा इंडस्ट्री को मंजूरी देने की तैयारी कर ली है। इससे 10 हजार से अधिक श्रमिक फैक्ट्री परिसर में ही रहकर काम शुरू कर सकेंगे। कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि इसके लिए सूची बना‌ई जा रही है। इसके साथ ही 29 गांवों में रियल एस्टेट सेक्टर को पटरी पर लाने का काम शुरू हो रहा है।
  • भोपाल से आज बिहार जाएगी पहली ट्रेन : मंगलवार को पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन हबीबगंज स्टेशन से बिहार रवाना होगी। यह ट्रेन दोपहर 3 बजे अररिया लिए जाएगी।
  • हबीबगंज से ऊधमपुर के लिए चली स्पेशल ट्रेन : सोमवार शाम जम्मू के ऊधमपुर के लिए चली स्पेशल ट्रेन के आधे कोच भी नहीं भर सके। 22 डिब्बों की इस ट्रेन से 1404 में से 493 यात्री ही रवाना हुए। इसमें इंदौर से यहां पहुंचे 24 युवा भी शामिल रहे, जिन्हें बस से यहां लाया गया था। यह युवा जम्मू, श्रीनगर व पुलवामा के रहने वाले हैं, जो इंदौर में पढ़ाई के साथ पार्ट टाइम जॉब कर रहे थे। 
भोपाल-विदिशा हाईवे पर प्रवासी मजदूर तीखी धूप में इस तरह से सफर करने मजबूर हैं।

राज्य में अब तक 5236 संक्रमित :
इंदौर 2565, भोपाल 1030, उज्जैन 343, जबलपुर 182, बुरहानपुर 152, खरगोन 99, धार 106, खंडबा 165, रायसेन 65, देवास 63, मंदसौर 60, ग्वालियर 65, नीमच 50, होशंगाबाद 37, मुरैना 34, बड़वानी 31, रतलाम 28, सागर 21, भिंड 19, विदिशा 15, रीवा 14, आगरमालवा 13, शाजापुर और सतना में 8-8, झाबुआ 7, टीकमढ़, छिंडवाड़ा और सीहोर में 5-5, श्योपुर और सीधी में 4-4, अलीराजपुर, अनूपपुर, हरदा, शहडोल, शिवपुरी, दतिया, बैतूल और अशोकनगर में 3-3, डिंडोरी और पन्ना में 2-2, दमोह, गुना, मंडला, सिवनी, उमरिया में एक-एक संक्रमित मिला।

252 की मौत: इंदौर 101, भोपाल 39, उज्जैन 48, जबलपुर 8, बुरहानपुर 11, खरगोन 8, खंडवा 8, देवास 5, मंदसौर 5, होशंगाबाद और रायसेन 3-3, धार 2, ग्वालियर 1, नीमच, सागर, आगरमालवा, शाजापुर, सतना, छिंदवाड़ा, सीहोर और अशोकनगर में एक-एक की मौत हुई। (स्वास्थ्य विभाग द्वारा 18 मई को जारी बुलेटिन के अनुसार) 

Categories
sports

राज्य में भोपाल-इंदौर समेत सात जिले रेड जोन में, बाकी सभी ग्रीन जोन, कोई ऑरेंज जोन नहीं


  • लॉकडाउन फेज-4 को अंतिम रूप देने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दोपहर में अधिकारियों से मंत्रालय में चर्चा की
  • बैठक में तय हुआ कि इंदौर, भोपाल, उज्जैन, जबलपुर, बुराहानपुर, खंडवा और देवास रेड जोन में बाकी सभी जिले ग्रीन जोन में होंगे

दैनिक भास्कर

May 18, 2020, 09:29 PM IST

भोपाल. लॉकडाउन फेज-4 में मध्य प्रदेश में सिर्फ रेड और ग्रीन जोन होंगे। राज्य में अब ऑरेंज जोन नहीं होंगे। इंदौर, भोपाल, उज्जैन, जबलपुर, बुराहानपुर, खंडवा और देवास रेड जोन में बाकी सभी जिले ग्रीन जोन में होंगे। रेड जोन के कंटेनमेंट एरिया में किसी तरह की गतिवधियां शुरू नहीं होंगी। ग्रीन जोन में सभी तरह की गतिविधियां सोशल डिस्टेंसिंग के साथ शुरू हो सकेंगी। यह घोषणा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की। उन्होंने बताया कि शाम सात बजे से सुबह सात बजे तक कहीं भी आना-जाना प्रतिबंधित रहेगा।

कंटेंनमेंट क्षेत्रों में विशेष प्रतिबंध जारी रहेंगे

मुख्यमंत्री ने कहा, “लॉकडाउन-4 के दौरान सभी कन्टेनमेंट क्षेत्रों में विशेष प्रतिबंध जारी रहेंगे। केवल अत्यावश्यक गतिविधियों की अनुमति होगी। इस जोन के भीतर और बाहर लोगों का आना-जाना प्रतिबंधित रहेगा। केवल मेडिकल इमरजेंसी, आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति की जा सकेगी। कंटेनमेंट एरिया में उद्योग संचालित नहीं होंगे परंतु इनके बाहर सभी स्थानों पर उद्योग संचालित किये जा सकेंगे।”

सभी जोन में प्रतिबंधित गतिविधियां

सभी जोन में स्कूल, कॉलेज, कोचिंग, प्रशिक्षण संस्थान, होटल, रेस्टोरेंट, होस्पिटलिटी सेवाएं, सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, जिम, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थियेटर्स, बार, ऑडिटोरियम प्रतिबंधित रहेंगे। इन जोन्‍स में सामुदायिक कार्यक्रम, सभी प्रकार के सामाजिक, राजनैतिक, खेलकूद, मनोरंजन, अकादमिक, सांस्कृतिक, धार्मिक आयोजन नहीं हो सकेंगे।

सभी धार्मिक स्थल, पूजा स्थल पर धार्मिक सभाएं प्रतिबंधित रहेंगी। शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक लोगों का आना-जाना केवल अत्यावश्यक गतिविधियों के लिए मान्य होगा। बाकी के लिए प्रतिबंधित रहेगा। सार्वजनिक परिवहन की बसें अभी एक सप्ताह तक प्रतिबंधित रहेंगी तथा इसके बाद समीक्षा कर निर्णय लिया जाएगा।

रेड जोन में ये गतिविधियां

  • रेड जोन के अंतर्गत मोहल्ले की दुकानें, रहवासी परिसर की दुकानें तथा बाजारों में स्थित आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रहेंगी। ऑनलाइन शिक्षा चालू रहेगी।
  • मेडिकल, पुलिस आवास, क्वारैंटाइन सेंटर, फंसे हुए लोगों के भोजन के लिए उपयोग किए जाने वाले होटल, बस डिपो, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट में संचालित कैंटीन चालू रहेंगे।
  • होम डिलेवरी करने वाले रेस्टोरेंट के किचन, स्पोर्ट्स काॅम्पलेक्स, स्टेडियम (बिना दर्शकों के), सभी प्रकार का माल परिवहन, कार्गो मूवमेंट तथा उनके खाली वाहनों का मूवमेंट जारी रहेंगे।
  • स्वास्थ्यकर्मियों एवं सफाईकमियों का आवागमन, उद्योगों के लिए श्रमिकों को लाने ले जाने की बसें तथा शासकीय एवं निजी कार्यालय 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चालू रहेंगे।

ग्रीन जोन में ये गतिविधियां

  • ग्रीन जोन सभी क्षेत्रों के लिए प्रतिबंधित गतिविधियों को छोड़कर शेष सभी प्रकार की गतिविधियां संचालित की जा सकेंगी।
  • सभी दुकानें एवं बाजार खुले रहेंगे, सब्जी मंडियां खुलेंगी।
  • निजी व शासकीय कार्यालय पूरी क्षमता से चलेंगे तथा निजी वाहनों से आवागमन किया जा सकेगा।
  • यदि किसी ग्रीन जोन जिले में पॉजिटिव प्रकरण बढ़ते है तो वह रेड जोन में परिवर्तित किया जा सकेगा।

सभी जोनों के लिए अनिवार्य सावधानियां

  • प्रत्येक जोन मे कोरोना संक्रमण से बचने के लिए 65 साल से अधिक उम्र के लोग, मल्टीपल डिसआर्डर वाले व्यक्ति, गर्भवती महिलाएं तथा 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को घर पर ही रहना होगा।
  • सभी लोगों को सार्वजनिक स्थानों और कार्यस्थल पर मास्क पहनना अनिवार्य होगा। इन स्थानों पर थूकने पर जुर्माना लगाया जाएगा।
  • विवाह में अधिकतम 50 लोग शामिल हो सकेंगे, अंतिम संस्कार में अधिकतम 20 लोग जा सकेंगे।
  • सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीना, पान, तम्बाकू, गुटखा खाना प्रतिबंधित होगा।
  • दुकानों पर ग्राहकों के बीच दो गज की दूरी रखना अनिवार्य होगी तथा एक समय में दुकान पर 5 से अधिक लोग नहीं रह सकेंगे।
  • सभी कार्य स्थलों के प्रवेश द्वारा एवं प्रस्थान द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग, हैण्डवाश और सैनेटाईजर की व्यवस्था, पूरे कार्य स्थल पर नियमित सैनिटाइजेशन के साथ फिजिकल डिस्टेंसिंग अनिवार्य होगी।

प्रवासी मजदूरों को बसों-ट्रेनों से घर पहुंचाया जा रहा- चौहान

मुख्यमंत्री ने कहा- प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए 91 से अधिक ट्रेन तथा हजारों बस अभी तक लगाई गई हैं। सरकार उनके भोजन-राशन-काम के साथ-साथ मजदूरों को राशन कार्ड और जॉब कार्ड दिलवाने के लिए भी काम कर रही है। शासन ने निर्णय लिया है कि इन्हें संबल योजना की भी पात्रता होगी। संबल योजना गरीब का सुरक्षा कवच है जो उनकी हर आवश्यकता की पूर्ति करता है।

दूसरे प्रदेशों के मजदूरों का भी पूरा ध्यान- चौहान

चौहान ने कहा- हम दूसरे प्रदेशों के मध्यप्रदेश में फंसे मजदूरों का भी पूरा ध्यान रख रहे हैं। हम प्रदेश में इन्हें पैदल नहीं चलने देंगे तथा भूखा नहीं सोने देंगे। हर मजदूर को वाहनों के माध्यम से राज्य की सीमा तक पहुंचाया जा रहा है। इस कार्य में लगभग 1 हजार बसें रोज लगी हैं। उन्हें भोजन, चाय, नाश्ता आदि सारी सुविधाएं प्रदान की जा रही है। शासन-प्रशासन के साथ ही हमारी जनता भी इनसे अतिथि जैसा व्यवहार कर रही है। समाजसेवी संस्थाएं उन्हें जूते-चप्पल बांट रही हैं।

मजदूरों को दुर्घटना पर सहायता- चौहान

चौहान ने बताया कि मजदूरों के आने-जाने की प्रक्रिया में कुछ दुर्घटनाएं भी हुई हैं। औरंगाबाद में हुई दुर्घटना में प्रत्येक दिवंगत मजदूर के परिवार को 5-5 लाख रु. की सहायता दी गई है। बड़वानी दुर्घटना में मृतक मजदूर के परिवार को 14 लाख रुपए की सहायता दी गई। प्रदेश के बाहर के मजदूर जो मध्यप्रदेश में दुर्घटनाग्रस्त होते हैं, उनके लिए प्रति मजदूर मृत्यु पर एक-एक लाख रुपए तथा घायल होने पर 25-25 हजार रूपए की सहायता दी जाएगी।

किसानों की फसल का एक-एक दाना खरीदेंगे

मुख्यमंत्री ने कहा- प्रदेश में गेहूं उपार्जन के अंतर्गत अभी तक 90 लाख मीट्रिक टन से अधिक समर्थन मूल्य पर खरीदा गया है तथा किसानों को 10 हजार करोड़ रूपए से अधिक का भुगतान भी किया जा चुका है। किसान भाई बिल्कुल चिंता न करें, हम उनका एक-एक दाना खरीदेंगे। किसान भाई एसएमएस मिलने पर ही अपनी उपज बेचने उपार्जन केन्द्र पर आएं तथा एक-दूसरे से दो गज की दूरी रखें।

सभी सुरक्षा उपाय अपनाएं। चना, मसूर एवं सरसों के समर्थन मूल्य पर खरीदी का कार्य भी जारी है। सरकार ने किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर फसल ऋण दिलवाने की व्यवस्था पुन: लागू की है। गत दिनों प्रदेश के 15 लाख किसानों को फसल बीमा की लगभग 2290 करोड़ रूपए की राशि उनके खातों में अंतरित हुई।

10वीं के बचे पेपर नहीं होंगे

मुख्यमंत्री ने कहा‍ कि सरकार विद्यार्थियों का भी पूरा-पूरा ध्यान रख रही है। उनके लिए ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था की गई है। कोरोना संकट को देखते हुए 10वीं के विद्यार्थियों के बचे हुए पेपर नहीं होंगे, 12वीं के पेपर 08 से 16 जून के बीच होंगे। चूंकि इस समय विद्यालय बंद है अत: निजी स्कूल विद्यार्थियों से ट्यूशन फीस के अलावा और कोई शुल्क नहीं ले सकेंगे।

Categories
sports

प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए घरों से निकले लोग; खाना, दवा और दूध से लेकर सैनेटरी पैड्स तक बांटे जा रहे


  • पलायन कर रहे मजदूरों के लिए सड़क किनारे जूते-चप्पल, कपड़े रखे, महिलाएं सैनेटरी पैड्स बांट रहीं
  • प्रदेश में लॉकडाउन फेज-4 कैसा होगा, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रात 8 बजे बताएंगे

दैनिक भास्कर

May 18, 2020, 01:13 PM IST

भोपाल. लॉकडाउन फेज-4 का आज पहला दिन है। मध्य प्रदेश में इसकी रूपरेखा कैसी होगीगी, अभी यह साफ नहीं हो पाया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज रात 8 बजे प्रदेश की जनता को संबोधित कर इसकी जानकारी देंगे। सूत्रों का कहना है कि प्रदेश में संक्रमण अभी काबू नहीं हुआ है। यहां 52 में से 45 जिलों में महामारी फैल चुकी है। जैसे-जैसे प्रवासी अपने गांवों तक पहुंचेगे, नए मामले सामने आएंगे।

इधर, पलायन का दंश झेल रहे यूपी-बिहार समेत अन्य राज्यों के मजदूरों की मदद के लिए प्रदेशवासी घरों से निकल रहे हैं। सड़कों पर उनके लिए खाने-पीने, कपड़े, जूते-चप्पलों, दवाओं और बच्चों के लिए दूध का इंतजाम किया जा रहा है। भोपाल में कई जगहों पर महिलाएं सैनेटरी पैड्स भी बांट रही हैं। मध्य प्रदेश में मदद पाकर इन प्रवासियों की आंखें भर आईं। उनका कहना है कि हम 10 दिन से पैदल चल रहे हैं, लेकिन किसी ने कहीं कोई खोज-खबर नहीं ली। यहां आकर ऐसा लगा जैसे हम अपने घर आ गए। 

मुंबई से असम जा रहे 25 युवक रविवार शाम भोपाल से निकले। इन्होंने बताया कि साइकिल से 8 दिन में भोपाल पहुंचे। इस महीने के आखिरी में असम पहुंच जाएंगे।

मुख्यमंत्री रात 8 बजे बताएंगे- कैसा होगा लॉकडाउन फेज-4

केंद्र सरकार ने लॉकडाउन 31 मई तक भले ही बढ़ा दिया है, लेकिन सख्त पाबंदियां सिर्फ कंटेनमेंट जोन तक सीमित कर दी हैं। कंटेनमेंट जोन के बाहर यात्री वाहन चलाने की छूट दी गई है। राज्य आपसी सहमति से अंतरराज्यीय बसें भी चला सकेंगे। इधर, मध्य प्रदेश सरकार आज तय करेगी कि रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन काे कैसे बांटा जाए। हालांकि, भोपाल, इंदौर, उज्जैन और बुरहानपुर का रेड जोन में रहना तय लग रहा है। यहां कंटेनमेंट एरिया को बफर में बदलकर इसके बाहर कुछ ढील दी जा सकती है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज रात 8 बजे जनता को संबोधित करेंगे।

भोपाल में लोग मदद के लिए आगे आए

विदिशा-भोपाल हाईवे स्थित मुबारकपुर से गुजर रहे प्रवासी मजदूरों और अन्य लोगों की मदद के लिए शहर के कई समाजसेवी हर दिन जुट रहे हैं। कोई पोहा तो कोई चाय पिला रहा है। दिन में 10 बजे के बाद भोजन के पैकेट, शर्बत और ओआरएस बांटने का काम शुरू हो जाता है। लोग ट्रकों को रोक-रोककर भोजन के पैकेट दे रहे हैं। बच्चों को दूध दिया जा रहा है। महिलाएं सैनेटरी पैड्स दे रही हैं। यहां कई स्वयंसेवी संस्थाओं ने शहरभर से जूते-चप्पल इकट्ठे कर रोड पर रख दिए हैं। कई दुकानदारों ने हजारों की संख्या में नए जूते-चप्पल दान किए हैं। कपड़ों के भी ढेर लगे हैं।

यह तस्वीर भोपाल के मुबारकपुर की है। जूते-चप्पलों का यह ढेर यहां से गुजर रहे प्रवासी मजदूरों के लिए लगाया गया है। नगर निगम और समाजसेवियों ने घर-घर से इन्हें इकट्‌ठा किया है।

गुना में हर 8 किमी पर किसी न किसी तरह की मदद

पलायन कर रहे प्रवासियों की मदद करना मध्य प्रदेश में एक आंदोलन जैसा बन गया है। गुना से गुजरने वाले हाईवे के 90 किलोमीटर के हिस्से पर लगभग हर 8 किलोमीटर पर कोई न कोई मदद उपलब्ध है। जिले के फुटवियर कारोबारियों ने 2 हजार जोड़ी जूते-चप्पल, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन और नेकी की दीवार संस्था ने दवा और ओआरएस के पैकेट रखवाए हैं। यहां 4 मिनरल वॉटर कंपनियां पानी की बॉटल और पाउच उपलब्ध करा रही हैं। 

गुना हाईवे पर कई स्थानों पर लोगों ने मजदूरों के लिए भोजन की व्यवस्था की है।

विदिशा में लोग तपती दोपहरी में लोगों की मदद के लिए सड़कों पर खड़े हैं

गुजरात के मोरवी से पैदल आ रहे 10 से अधिक मजदूर अपने राज्य छत्तीसगढ़ जा रहे हैं। इनका कहना है कि वे जबसे मध्य प्रदेश में आए हैं यहां के लोगों की मदद देखकर उनकी आंखें भर आती हैं। 

विदिशा से गुजरने वाले प्रवासी मजदूरों और कामगारों की स्थानीय लोग मदद कर रहे हैं। उन्हें भोजन और पानी उपलब्ध कराया जा रहा है।

सीहोर में मजदूरों के भोजन और हेल्थचेकअप की व्यवस्था

यहां इंदौर-भोपाल हाईवे से गुजरते लोगों को उंगली ग्रुप, सिख समाज, माता की रसोई, बड़ा बाजार के युवा और अन्य सामाजिक संगठन हर दिन भोजन सामग्री बांट रहे हैं। भाजपा जिला चिकित्सा प्रकोष्ठ की ओर से क्रीसेंट वाॅटर पार्क के पास मजदूरों की सेहत की जांच भी की जा रही है। 

इंदौर-सीहोर हाईवे पर महाराष्ट्र से आ रहे लोगों को ओआरएस के पैकेट देता एक युवक।

कार से बिहार जा रहे एक परिवार को भोपाल में शर्बत पिलाया गया।

कोरोना अपडेट्स

  • रायसेन: जिले में एक महिला और युवती कोरोना पॉजिटिव पाई गई। महिला सिलवानी नगर के गांधी आश्रम में क्वारैंटाइन है। भानपुर की रहने वाली है और हाल ही में इंदौर से आई थी। इसी तरह बरेली में खरगोन से लौटकर आई युवती की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

  • भिंड: जिले के मोतीपुरा में महिला और नयागांव में युवक कोरोना पॉजिटिव मिले। यहां 10 दिन में संक्रमितों की संख्या 19 हो गई। भिंड अभी तक ग्रीन जोन में था, लेकिन अब रेड जोन में आने से लोगों को डर सताने लगा है।

राज्य में अब तक कुल 4977 संक्रमित: 

इंदौर 2470, भोपाल 993, उज्जैन 329, जबलपुर 175, बुरहानपुर 149, खरगौन 99, धार  96, खंडवा 96, रायसेन 65, देवास 62 मंदसौर 60 नीमच 50, होशंगाबाद 37, ग्वालियर 58, रतलाम 28, बड़वानी 29, मुरैना 29, सागर 19, विदिशा 15, आगरमालवा 13, भिंड 17, रीवा 11, शाजापुर 8, सतना 8, झाबुआ 7, छिंदवाड़ा 5, सीहोर 5, श्योपुर 4, सीधी 4, अलीराजपुर 3, अनूपपुर 3, हरदा 3, शहडोल 3, शिवपुरी 4, टीकमगढ़ 3, दतिया 4, अशोकनगर 2, डिंडोरी 2, बैतूल 3, गुना 1, मंडला 1, पन्ना 2, सिवनी 1, दमोह 1, उमरिया में 1 मरीज।

  • 248 की हुई मौत: इंदौर 100, भोपाल 38, उज्जैन 47, जबलपुर 8, बुरहानपुर 10, खरगौन 8, धार 2, खंडवा 8, रायसेन 3, देवास 7, मंदसौर 4, नीमच 1, होशंगाबाद 3, ग्वालियर 2, सागर 1, आगरमालवा 1, शाजापुर 1, सतना 1, छिंदवाड़ा 1, सीहोर 1, अशोकनगर में 1 मरीज की मौत हुई है।
  • स्वस्थ हुए 2403: इंदौर 1119, भोपाल 564, उज्जैन 148, जबलपुर 95, बुरहानपुर 14, खरगौन 63, धार 70, खंडवा 38, रायसेन 56, देवास 21, मंदसौर 27, नीमच 4, होशंगाबाद 32, ग्वालियर 12, रतलाम 23, बड़वानी 26, मुरैना 18, सागर 5, विदिशा 13, आागरमालवा 12, रीवा 1, शाजापुर 7, छिंदवाड़ा 2, श्योपुर 4, अलीराजपुर 3, हरदा 3, शहडोल 3, शिवपुरी 3, टीकमगढ़ 3, डिंडोरी 1, बैतूल में एक मरीज स्वस्थ्य हुआ।
Categories
sports

मध्‍य प्रदेश में लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ा, गाइडलाइन जारी होना अभी बाकी; सीएम सोमवार को करेंगे संबोधित


  • सरकार का सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने पर जोर रहेगा, रेड जोन में राहतें मिलने की उम्मीद नहीं
  • फेज-4  में अब राज्य की कुल संक्रमित केस की 80 फीसदी संख्या वाले जिले को रेड जोन के दायरे में रखा जाएगा

दैनिक भास्कर

May 17, 2020, 11:03 PM IST

भोपाल. मध्‍य प्रदेश 31 मई तक लॉकडाउन को बढ़ा दिया गया है। इस बारे में गाइड लाइन जारी होना बाकी है। राज्‍य के रेड जोन और कंटेनमेंट जोन के बारे में कुछ शर्तों के साथ गाइड लाइन जारी होने की उम्‍मीद है। इन क्षेत्रों में पूर्व की तरह ही सख्‍ती बरती जाने की संभावना है। केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के आधार पर मध्‍य प्रदेश में लॉकडाउन का स्वरूप निर्भर करेगा। प्रदेश के इंदौर, राजधानी भोपाल और उज्‍जैन जैसे शहरों में पूर्व की तरह ही प्रतिबंध जारी रहेंगे इतना तय है। रविवार शाम देश में लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ाने की घोषणा कर दी गई है। सीएम शिवराज सिंह चौहान सोमवार को प्रदेशवासियों को संबोधित करेंगे। 

राज्य सरकार ने लॉकडाउन को लेकर केंद्र को जो प्रस्ताव भेजा है उसके अनुसार 18 मई से शुरू होने वाले फेज 4 में कंटेनमेंट जोन के बाहर संचालित स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर में ऑनलाइन क्लासेस के लिए 33 फीसदी स्टाफ को बुलाया जा सकेगा। छात्रों को आने की अनुमति नहीं होगी। प्राइवेट दफ्तर 33 फीसदी स्टाफ के साथ खुल सकेंगे, लेकिन कंटेनमेंट जोन से बाहर होने पर ही दफ्तर खोलने की अनुमति रहेगी। रजिस्ट्री दफ्तर खुलेंगे, रजिस्ट्री हो सकेंगी। कंटेनमेंट जोन के बाहर शराब दुकानें खोलने की भी तैयारी है। लेकिन इसमें अंतिम फैसला सरकार द्वारा लिया जाएगा। अभी यह सुझाव डिस्ट्रिक्ट क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की ओर से दिया गया है। 

भोपाल में 38 नए संक्रमित मिले, 993 पर आंकड़ा पहुंचा

भोपाल में रविवार दोपहर 38 नए संक्रमित मिले। इनमें 10 जहांगीराबाद इलाके के हैं। राजधानी में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 993 पर पहुंच गया है। अब तक 38 लोगों की मौत हो चुकी है। अच्छी खबर ये है कि रविवार को 27 लोग स्वस्थ होने पर घर भेजे गए। ये सभी लोग यहां चिरायु मेडिकल काॅलेज अस्पताल में भर्ती थे। अब तक 660 मरीज स्वस्थ्य हो चुके हैं। यहां एक्टिव मरीज 373 हैं। इधर, कुवैत से लौटे 6 अन्य प्रदेशों के लोगों की रिपोर्ट भी पॉजिटव आई है। इससे पहले शनिवार तक कुवैत से लौटे 19 लोग पॉजिटिव पाए गए थे।

यह तस्वीर सेंधवा की है। यहां हजारों की संख्या में महाराष्ट्र से बिहार और यूपी जा रहे मजदूर पहुंच रहे हैं। ये लोग अपने घर तक का सफर वाहनों और पैदल पूरा कर रहे हैं।

यह प्रस्ताव: रेड जोन के लिए क्या रहेगा चालू, क्या बंद…

  • कंटेंनमेंट जोन का दायरा बढ़ाकर उसे बफर में बदला जाएगा।
  • कंटेंनमेंट क्षेत्र में कोई भी ढील नहीं मिलेगी।
  • कंटेंनमेंट जोन में निर्माण कार्य नहीं किया जा सकेगा।
  • वाटर पार्क, जिम, सिनेमा हॉल, स्विमिंग पूल, टूरिजम स्पॉट बंद रहेंगे।
  • धार्मिक स्थल, बाजार, शैक्षणिक संस्थान, स्कूल, कॉलेज, आंगनबाड़ी बंद रहेंगी।
  • स्थानीय परिवहन बंद रहेगा।
  • बाइक, निजी चारपहिया वाहन को छूट रहेगी।
  • खाने की होम डिलीवरी चालू रहेगी।
  • प्राइवेट ऑफिस 33% कर्मचारियों के साथ खोले जा सकेंगे।
  • सरकारी दफ्तर 30% कर्मचारियों के साथ चालू रहेंगे।
  • कंटेंनमेंट क्षेत्र के अलावा बाकी जगहों पर दुकानें खुल सकेंगी।
  • कंटेंनमेंट क्षेत्र के बाहर रहने के लिए होटल खोले जा सकेंगे।
  • कंटेंनमेंट जोन के बाहर 25 श्रमिकों के साथ निर्माण कार्य किया जा सकेगा।
  • भीड़भाड़ वाले ऑफिस जनता के लिए बंद रखे जाएंगे।

ऑरेंज जोन के लिए…

  • रेड जोन के लिए क्रमश: शुरुआती पांच बिंदुओं की शर्तें एक जैसी रहेंगी। 
  • कंटेंनमेंट क्षेत्र छोड़कर बाहर के क्षेत्र में ढील मिलेगी।
  • निर्माण कार्यों में श्रमिकों के नियोजन की कोई बाध्यता नहीं रहेगी।
  • कंटेंनमेंट क्षेत्र छोड़कर अन्य जगहों पर परिवहन शुरू किया जाएगा।
  • सोशल डिस्टेंसिंग के साथ परिवहन में छूट मिलेगी।
  • पब्लिक ट्रांसपोर्ट को शुरू किया जाएगा।
  • परिवहन में 50 फीसदी यात्रियों की बाध्यता रहेगी।
  • शॉपिंग मॉल को खोलने को लेकर फैसला लिया जा सकता है।

ग्रीन जोन के लिए… 

  • गतिविधियां पूरी तरह सामान्य हो जाएंगी।
  • पब्लिक ट्रांसपोर्ट शुरू होगा।
  • सभी दुकानें और बाजार खुलेंगे।
  • शॉपिंग मॉल खुल सकते हैं।
  • वाटर पार्क, जिम, सिनेमा हाल, स्विमिंग पूल, टूरिजम स्पॉट बंद रहेंगे।
  • धार्मिक स्थल, बाजार, शैक्षणिक संस्थान, स्कूल, कॉलेज, आंगनबाड़ी बंद रहेंगी।

जोन की परिभाषा बदली जाएगी

  • राज्य सरकार ने केंद्र को जोन की परिभाषा बदलने के लिए भी प्रस्ताव भेजा है। इसके तहत अब राज्य की कुल संक्रमित केस की 80 फीसदी संख्या वाले जिले को रेड जोन के दायरे में रखा जाएगा। इसके हिसाब से प्रदेश में इंदौर, भोपाल और उज्जैन रेड जोन में रहेंगे। अगर कंटेनमेंट क्षेत्र नगर निगम के दायरे में आता हो तो इसकी सीमा से बाहर वाले क्षेत्रों को ऑरेंज जोन माना जाएगा। 
  • इसके अलावा जिन जिलों में 20 या उससे ज्यादा केस हैं। वे ऑरेंज जोन कहलाएंगे। इनमें बुरहानपुर, जबलपुर, खरगौन, धार, खंडवा, रायसेन, देवास, मंदसौर, नीमच, होशंगाबाद, ग्वालियर, रतलाम, बड़वानी और मुरैना के क्षेत्र आएंगे। इन जिलों के कंटेनमेंट क्षेत्र को छोड़कर बाकी अन्य इलाके ग्रीन जोन कहलाएंगे। 20 से कम केस वाले जिले को ग्रीन जोन में रखा जायेगा।

जानिए भोपाल में क्या खुलेगा, क्या बंद रहेगा

  • शहर के 6 सेक्टर में 33 फीसदी के साथ प्राइवेट और सरकारी दफ्तर खोलने की अनुमति दी जा सकती है। लेकिन कंटेनमेंट जोन में रहने वाले लोगों को दफ्तर आने की अनुमति नहीं रहेगी।
  • इंफ्रास्ट्रक्चर, कंस्ट्रक्शन एक्टिविटी की अनुमति दी जाएगी। इसमें सीपीए, नगर निगम, पीडब्ल्यूडी और निजी बिल्डर्स को पुराने प्रोजेक्ट को पूरा करने की अनुमति दी जाएगी। हालांकि इसके लिए शासन द्वारा तय शर्तें लागू रहेंगी। मजदूरों को कंस्ट्रक्शन साइट पर रहकर काम करना होगा। यहां से दूसरी जगह जाने की मंजूरी नहीं रहेगी।
  • मार्केट और काॅम्प्लेक्स में अलग-अलग समय पर दुकानें खोली जाएंगी। इसके अलग से नियम बनाए जाएंगे।
  • कपड़े की दुकानें और अन्य कर्मिशयल दुकानें, जिनमें भीड़ ज्यादा होने की संभावना है, उनको 30 मई तक बंद रखा जा सकता है।
  • सीपीए, नगर निगम को पानी की सप्लाई, सीवेज, पैचवर्क, पार्क और गार्डन का मेंटेनेस की अनुमति देने की योजना है।
  • होटल और रेस्तरां संचालकों को होम डिलीवरी और पॉर्सल सप्लाई के लिए शॉप खोलने की अनुमति दी जा सकती है।
  • इन 6 सेक्टर में काम करने वाले कर्मचारी और मजदूरों को उस सेक्टर का रहवासी होना अनिवार्य है। संबंधित सेक्टर के बाहर का कोई कर्मचारी या मजदूर को दूसरे सेक्टर में जाने की रोक रहेगी।
  • हर कर्मचारी और मजदूर को अपना वोटर आईडी और पहचान पत्र रखना अनिवार्य होगा।
  • हॉट स्पॉट क्षेत्र में रहने वाले लोगों को ग्रीन जोन में जाने की अनुमति नहीं होगी। 6 सेक्टर में रहने वाले लोग हॉट स्पॉट और कंटेनमेंट क्षेत्र में नहीं जा सकेंगे। ऐसा करते पाए जाने पर उसके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।
भोपाल-विदिशा हाईवे पर बड़ी संख्या में ट्रक मजदूरों को लेकर बिहार और यूपी जा रहे हैं। ट्रक में मजदूर ठसाठस भरे हैं। 

मप्र से गुजरने वाले प्रवासी मजदूरों की मौत पर परिजन को मिलेगी मदद

प्रदेश सरकार ने तय किया कि राज्‍य में यदि प्रवासी मजदूर की किसी कारण से मौत हो जाती है तो सरकार की ओर से परिजन को एक लाख रुपए की सहायता राशि दी जाएगी। हादसे में घायल होने पर मजदूर को 25 हजार रुपए दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रवासी मजदूरों की सीमा पर हेल्थ स्क्रीनिंग अनिवार्य रूप से की जाए। मप्र में फंसे अन्य प्रदेशों के मजदूरों को सीमा तक छोड़ने के लिए वाहनों की व्यवस्था सुचारू रहे।

कोरोना अपडेट्स

  • सागर : जिले में सदर बाजार में एक 40 साल की महिला भी कोरोना संक्रमित मिली। जो पहले संक्रमित मिले दो सगे भाईयों के परिवार से है। जिले में अब तक 19 कॉरोना पॉजिटिव की पुष्टि हो चुकी है। इनमें 5 स्वस्थ होकर घर पहुंच चुके हैं। 
  • भिंड: गोहद के अब्दुलपुर में एक 11 साल का लड़का कोरोना पॉजिटिव मिला। वह अहमदाबाद से परिजन के साथ आया था। जिले में 9 दिन में कोरोना पाजिटिव मरीजों की संख्या 17 हो गई।
  • पन्ना : जिले में आज एक और कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला। यह युवक बाहर से आया था। उसे क्वारैंटाइन सेंटर में रखा गया था। तबीयत खराब होने पर सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया।
  • भोपाल: यहां महावीर मेडिकल कॉलेज में जहांगीराबाद का एक परिवार पालतू कुत्ते के साथ क्वारैंटाइन है। इस परिवार को कमरा नंबर 8 आवंटित किया गया। ये लोग 3 दिन से हैं। जैकी के नाम से अलग खाने का बाॅक्स दिया जाता है। शनिवार को टीकमगढ़ में इंदौर से लौटीं कोरोना पॉजिटिव दो बहनों के 16 परिजन पालतू कुत्ते के साथ क्वारैंटाइन सेंटर पहुंचे थे।
  • मुरैना: कोरोना पॉजिटिव दो मरीजों के स्वस्थ होने पर जिला अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। जिले में अब 7 एक्टिव केस हैं। इनमें एक जिला अस्पताल में, तीन अम्बाह के अस्पताल में और दो ग्वालियर और एक उत्तरप्रदेश के आगरा में भर्ती है।
भोपाल के हबीबगंज स्टेशन से शनिवार शाम श्रमिक स्पेशल ट्रेन से बिलासपुर जाने के लिए मजदूर कई घंटे पहले ही स्टेशन पहुंच गए।

कुल संक्रमित मरीज 4977: इंदौर 2470, भोपाल 993, उज्जैन 329, जबलपुर 175, बुरहानपुर 149, खरगौन 99, धार  96, खंडवा 96, रायसेन 65, देवास 62 मंदसौर 60 नीमच 50, होशंगाबाद 37, ग्वालियर 58, रतलाम 28, बड़वानी 29, मुरैना 29, सागर 19, विदिशा 15, आगरमालवा 13, भिंड 17, रीवा 11, शाजापुर 8, सतना 8, झाबुआ 7, छिंदवाड़ा 5, सीहोर 5, श्योपुर 4, सीधी 4, अलीराजपुर 3, अनूपपुर 3, हरदा 3, शहडोल 3, शिवपुरी 4, टीकमगढ़ 3, दतिया 4, अशोकनगर 2, डिंडोरी 2, बैतूल 3, गुना 1, मंडला 1, पन्ना 2, सिवनी 1, दमोह 1, उमरिया में 1 मरीज।

248 की हुई मौत: इंदौर 100, भोपाल 38, उज्जैन 47, जबलपुर 8, बुरहानपुर 10, खरगौन 8, धार 2, खंडवा 8, रायसेन 3, देवास 7, मंदसौर 4, नीमच 1, होशंगाबाद 3, ग्वालियर 2, सागर 1, आगरमालवा 1, शाजापुर 1, सतना 1, छिंदवाड़ा 1, सीहोर 1, अशोकनगर में 1 मरीज की मौत हुई है।

स्वस्थ हुए 2403: इंदौर 1119, भोपाल 564, उज्जैन 148, जबलपुर 95, बुरहानपुर 14, खरगौन 63, धार 70, खंडवा 38, रायसेन 56, देवास 21, मंदसौर 27, नीमच 4, होशंगाबाद 32, ग्वालियर 12, रतलाम 23, बड़वानी 26, मुरैना 18, सागर 5, विदिशा 13, आागरमालवा 12, रीवा 1, शाजापुर 7, छिंदवाड़ा 2, श्योपुर 4, अलीराजपुर 3, हरदा 3, शहडोल 3, शिवपुरी 3, टीकमगढ़ 3, डिंडोरी 1, बैतूल में एक मरीज स्वस्थ्य हुआ।

Categories
sports

छतरपुर के पास ट्रक पलटने से 4 महिलाओं समेत 6 लोगों की मौत, महाराष्ट्र से उत्तर प्रदेश जा रहे थे


  • छतरपुर के पास बक्स्वाहा इलाके में ट्रक पलटा
  • पाइप से भरे हुए ट्रक में 30 से ज्यादा मजदूर थे
  • छतरपुर में एक दूसरे  हादसे में 13 मजदूर घायल

दैनिक भास्कर

May 16, 2020, 02:28 PM IST

छतरपुर. मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में शनिवार सुबह एक ट्रक पलट गया। हादसे में 6 लोगों की मौत हो गई। सागर के एसपी अमित सांघी ने बताया कि मृतकों में चार महिलाएं और दो पुरुष हैं। 16 लोग घायल हुए हैं, उन्हें बंडा के कम्युनिटी हेल्थ सेंटर में भर्ती करवाया गया है। जानकारी के मुताबिक ट्रक में पाइप भरे हुए थे, उनके ऊपर मजदूर बैठे हुए थे। ये सभी महाराष्ट्र से उत्तरप्रदेश लौट रहे थे। हादसा छतरपुर के बक्स्वाहा इलाके में हुआ। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने हादसे पर शोक जताया है।

हादसे के बाद ट्रक खाई में गिर गया।

ट्रक में तीन परिवारों के लोग सवार थे

ये लोग मुंबई के नाला सुपारा इलाके से रवाना हुए थे और उत्तर प्रदेश के नई बस्ती जा रहे थे। ट्रक में तीन परिवारों के लोग थे। घायलों में से एक महिला सहरून निशा ने बताया कि ट्रक में उसकी चार बेटियां, दो बेटे, देवर-देवरानी और उनके दो बच्चे सवार थे। एक दूसरे परिवार के महिला-पुरुष और दो बच्चे जबकि तीसरे परिवार के तीन लोग थे।

शाहगढ़ के पास हादसे में 13 मजदूर घायल
 छतरपुर में एक दूसरे हादसे में उत्तर प्रदेश के ही 13 मजदूर घायल हो गए। शाहगढ़ हाइवे पर पठान वाली घाटी के पास एक पिकअप पलट गई। पिकअप में 20 मजदूर सवार थे, सभी उत्तरप्रदेश जा रहे थे। घायलों में एक महिला और बच्ची भी शामिल है। घायलों को छतरपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसा शनिवार सुबह करीब पांच बजे हुआ।

शाहगढ़ हादसे में घायल लोग छतरपुर अस्पताल में।
Categories
sports

52 में से 44 जिलों में कोरोनावायरस का संक्रमण फैला; नए मामलों में बाहर से आए लोग संक्रमित पाए गए


  • जिन नए जिलों में मरीज मिल रहे हैं, उनकी ट्रैवल हिस्ट्री है, कोई गुजरात से तो कोई दिल्ली और महाराष्ट्र से आया है
  • प्रदेश में शुक्रवार रात तक संक्रमित मरीजों की संख्या 4656 पर पहुंच गई, 240 की मौत हो चुकी है और 2399 संक्रमित ठीक होकर घर जा चुके हैं

दैनिक भास्कर

May 16, 2020, 11:41 AM IST

भोपाल. कोरोनावायरस का संक्रमण प्रदेश के 52 में से 44 जिलों तक पहुंच गया है। जिन नए जिलों में मरीज मिल रहे हैं, उनकी ट्रैवल हिस्ट्री है। कोई गुजरात से तो कोई दिल्ली और महाराष्ट्र से आया है। दूसरे प्रदेशों में फंसे राज्य के कामगार और अन्य लोगों के आने का सिलसिला जारी है। करीब 10 दिन तक ये स्थिति बनी रह सकती है। जिन जिलों में नए मरीज मिल रहे हैं। वहां अभी सैंपल लेने के संशाधन पर्याप्त मात्रा में नहीं हैं। जैसे-जैसे जांच का दायरा बढ़ेगा, नए मरीजों के सामने आने की आशंका है। प्रदेश में शुक्रवार रात तक संक्रमित मरीजों की संख्या 4656 पर पहुंच गई है। सबसे अधिक इंदौर 2299, भोपाल 961, उज्जैन 284, जबलपुर 168, बुरहानपुर में 122 मरीज हो चुके हैं। 240 की मौत हो चुकी है और 2399 संक्रमित ठीक होकर घर जा चुके हैं।  

मध्यप्रदेश में कोविड-19 सैंपल की संख्या गुरुवार को एक लाख पार हो गई है। अब तक कुल 1 लाख 273 लोगों की सैंपलिंग की जा चुकी है, इसमें से 93 हजार 894 लोगों की रिपोर्ट सामने आ चुकी है। वहीं, लगभग 4 हजार सैंपल अब तक रिजेक्ट हुए हैं। बाकी सैंपल की रिपोर्ट आना बाकी है। राजधानी भोपाल में कुल सैंपल की संख्या 32439 और इंदौर में 22694 पहुंच गई है। प्रति एक लाख आबादी पर प्रदेश में 103.8 लोगों की सैंपलिंग की गई है। वहीं, भोपाल में प्रति एक लाख पर 968 और इंदौर में 462.5 लोगों की सैंपलिंग हुई है।

भोपाल-विदिशा हाईवे पर मुबारकपुर में पलायन करते हजारों लोग रोज नजर आ रहे हैं। बिहार और उत्तर प्रदेश के मजदूर जान जोखिम में डालकर इस तरह सफर करने के लिए मजबूर हैं।

भोपाल में कंटेनमेंट एरिया में अब सर्वे और स्क्रीनिंग सुबह, सैंपलिंग शाम को होगी

जहांगीराबाद, मंगलवारा, टीला जमालपुरा, सुभाष नगर समेत शहर के 200 से ज्यादा कंटेनमेंट एरिया में हेल्थ सर्वे, स्क्रीनिंग और सैंपलिंग का शेड्यूल शुक्रवार को बदल दिया गया। शनिवार से कंटेनमेंट एरिया में हेल्थ सर्वे और स्क्रीनिंग सुबह की पारी में होगी। जबकि कोरोना संदिग्धों की सैंपलिंग शाम को होगी। जिला प्रशासन ने यह बदलाव गर्मी के कारण स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की बिगड़ रही सेहत के मद्देनजर लिया है। जेपी अस्पताल, हमीदिया अस्पताल सहित दूसरे अस्पतालों में कोरोना के संदिग्ध मरीजों के सुआब के नमूने ओपीडी के दौरान ही लिए जाएंगे। जिला प्रशासन के अफसरों ने बताया कि कंटेनमेंट एरिया में सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक आशा- अांगनबाड़ी कार्यकर्ता हेल्थ सर्वे करेंगी। जबकि नर्सिंग और पैरामेडिकल स्टॉफ कंटेनमेंट एरिया में रह रहे प्रत्येक व्यक्ति की स्क्रीनिंग। जिन रहवासियों की पॉजिटिव मरीज से कांटेक्ट हिस्ट्री अथवा उसमें कोरोना के लक्षण मिलेंगे? उस व्यक्ति के सुआब के सैंपल लिए जाएंगे। लेकिन, यह सैंपल दोपहर 3 बजे से रात 8 बजे के बीच जीएमसी, जेपी हॉस्पिटल के डॉक्टर्स और लैब टेक्नीशियन वाली टीम लेगी।

भोपाल-विदिशा हाईवे सुबह से शाम तक इस तरह के नजारे देखे जा सकते हैं। महाराष्ट्र से लोग अपनी बाइक से परिवार सहित उत्तरप्रदेश और बिहार जा रहे हैं। 

इंदौर: मल्हारगंज की एक मल्टी में 31 पॉजिटिव, इनमें 70 फीसदी मरीज तीसरी मंजिल के

मल्हारगंज थाने के ठीक पास महंत कॉम्प्लेक्स में शुक्रवार को एक ही दिन में 21 पॉजिटिव मिले हैं। पहले यहां 10 मरीज मिल चुके हैं। 340 लोगों की मल्टी में 31 लोग संक्रमित हो गए हैं। मरीजों में एक 12 साल की बच्ची भी शामिल है। इसमें भी 70 फीसदी मरीज तीसरी मंजिल पर रहने वाले हैं। न्यू पलासिया में भी 40 सदस्यों वाले जैन परिवार के एक सदस्य संक्रमित हो गए हैं। परिवार में 2 डॉक्टर हैं, लिहाजा उन्हें होम क्वारेंटाइन कर इलाज किया जा रहा है। न्यू पलासिया के एक अन्य परिवार की महिला भी चोइथराम में भर्ती हैं। परदेशीपुरा थाना क्षेत्र के बिजासन नगर में 7 लोग तो कुम्हारखाड़ी में भी 5 मरीज मिले हैं।

भोपाल-विदिशा हाईवे पर इस समय मुंबई की लोकल टैक्सी भी नजर आ रही हैं। लोग इन टैक्सी से बिहार और उत्तरप्रदेश जा रहे हैं। हालांकि इन टैक्सियों को मुंबई से बाहर चलने की इजाजत नहीं है।

कोरोना अपडेट्स

  • सैंपलिंग के बाद बासौदा गए, 2 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई, एफआईआर: कोविड-19 की सैंपलिंग के बाद घर में क्वारैंटाइन होने के बजाय एक परिवार विदिशा के बासौदा पहुंच गया। शुक्रवार सुबह आई रिपोर्ट में इस परिवार का एक दंपती कोरोना पॉजिटिव निकला। बगैर सूचना दिए घर छोड़ने और दूसरों को परेशानी में डालने के आधार पर मंगलवारा पुलिस ने इस परिवार के तीन लोगों पर लॉकडाउन उल्लंघन का केस दर्ज किया है। प्रदेश में संभवत: कोरोना पॉजिटिव मरीज के खिलाफ ये पहला केस दर्ज हुआ है।

  • 54 दिन में… 4,360 केस यानी हर दिन 80 एफआईआर : भोपाल पुलिस ने 54 दिनों में 4360 केस दर्ज किए हैं। यानी औसतन 80 केस रोजाना। बीते 24 घंटे में भोपाल में 159 केस दर्ज किए गए हैं। इनमें ज्यादातर बेवजह दोपहिया और चारपहिया वाहनों से घूमने के मामले शामिल हैं। ड्रोन कैमरों से मॉनीटरिंग कर 130 लोगों के खिलाफ अपराध दर्ज किए हैं। बिना मास्क घर से बाहर निकलने वाले 370 से ज्यादा लोगों को आरोपी बनाया गया है।
  • शिवपुरी: गुजरात से यूपी जा रहे मजदूर की ट्रक में तबीयत बिगड़ी, मौत: जिला अस्पताल में कोरोना संदिग्ध मजदूर की इलाज के दौरान मौत हो गई। शनिवार शाम बेहोशी की हालत में भर्ती कराया गया था। मजदूर मजदूर अमृत (24) पुत्र रामचरण यूपी के बस्ती जिले के बंदी बलास का रहने वाला था। अमृत गुजरात के सूरत से घर जा रहा था। 

तस्वीर भोपाल की है। बिहार और उत्तरप्रदेश के मजदूर ट्रकों में क्षमता से अधिक संख्या में सफर कर रहे हैं। इससे संक्रमण का खतरा और बढ़ रहा है।

कुल संक्रमित मरीज 4656:

इंदौर 2299, भोपाल 961, उज्जैन 284, जबलपुर 168, बुरहानपुर 122, खरगौन 99, धार  96, खंडवा 81, रायसेन 65, देवास 58 मंदसौर 57 नीमच 49, होशंगाबाद 37, ग्वालियर 54, रतलाम 28, बड़वानी 26, मुरैना 27, सागर 17, विदिशा 14, आगरमालवा 13, भिंड 16, रीवा 11, शाजापुर 8, सतना 8, झाबुआ 7, छिंदवाड़ा 5, सीहोर 5, श्योपुर 4, सीधी 4, अलीराजपुर 3, अनूपपुर 3, हरदा 3, शहडोल 3, शिवपुरी 4, टीकमगढ़ 3, दतिया 4, अशोकनगर 2, डिंडोरी 2, बैतूल 1, गुना 1, मंडला 1, पन्ना 1, सिवनी 1, दमोह में एक मरीज।

  • 240 की हुई मौत: इंदौर 98, भोपाल 35, उज्जैन 45, जबलपुर 8, बुरहानपुर 9, खरगौन 8, धार 2, खंडवा 8, रायसेन 3, देवास 7, मंदसौर 4, नीमच 1, होशंगाबाद 3, ग्वालियर 2, सागर 1, आगरमालवा 1, शाजापुर 1, सतना 1, छिंदवाड़ा 1, सीहोर 1, अशोकनगर में 1 मरीज की मौत हुई है।
  • स्वस्थ हुए 2399: इंदौर 1098, भोपाल 601, उज्जैन 146, जबलपुर 79, बुरहानपुर 13, खरगौन 62, धार 69, खंडवा 38, रायसेन 56, देवास 18, मंदसौर 12, नीमच 4, होशंगाबाद 32, ग्वालियर 16, रतलाम 23, बड़वानी 26, मुरैना 18, सागर 5, विदिशा 13, आागरमालवा 12, रीवा 1, शाजापुर 7, छिंदवाड़ा 2, श्योपुर 4, अलीराजपुर 3, हरदा 3, शहडोल 3, शिवपुरी 3, टीकमगढ़ 3, डिंडोरी 1, बैतूल में एक मरीज स्वस्थ्य हुआ। 
Categories
sports

प्रदेश में फेज-4 की तैयारी; ऑड और ईवन के फाॅर्मूले से बाजार खुल सकते हैं, धार्मिक स्थलों पर सख्ती से प्रतिबंध बना रहेगा


  • लॉकडाउन का तीसरा चरण 17 मई को पूरा होगा, सरकार ने चौथे चरण की भी तैयारी की
  • गुरुवार को 253 मरीजों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई, अब प्रदेश में कुल 4426 संक्रमित

दैनिक भास्कर

May 15, 2020, 05:00 PM IST

भोपाल. मध्य प्रदेश में 18 मई से लॉकडाउन फेज-4 शुरू होगा। बताया जा रहा है कि यह 31 मई तक जारी रह सकता है। राज्य सरकार ने इसकी रणनीति तैयार कर ली है। इसे अंतिम रूप देकर आज रात तक केंद्रीय गृह मंत्रालय के पास भेज दिया जाएगा। फेज-4 में बाजारों को ऑड और ईवन के फाॅर्मूले से खोला जा सकता है। धार्मिक स्थानों पर प्रतिबंध 31 मई तक लागू रहेगा। ऐसे में मुस्लिम समाज को ईद घर पर ही मनानी पड़ेगी। इधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पलायन कर रहे मजदूरों से अपील की है कि जो जहां हैं, वहीं रुक जाएं। प्रदेश सरकार सभी को सुरक्षित घर तक पहुंचाएगी। 

कंटेनमेंट जोन में सख्ती जारी रह सकती है 
लॉडाउन फेज-4 में भोपाल, इंदौर, उज्जैन, बुरहानपुर समेत सभी रेड जोन में सख्ती जारी रह सकती है। दो दिन की मशक्कत के बाद 32 जिलों की रिपोर्ट कलेक्टरों से और 20 जिलों की जानकारी 4 मंत्रियों से ली गई है। मुख्यमंत्री आज दोपहर 3:30 बजे इन सुझावों की समीक्षा कर अंतिम रूप देंगे। इसके बाद ये सुझाव केंद्र को जाएंगे।
 
भोपाल में 20 नए पॉजिटिव; 920 पर आंकड़ा पहुंचा, 356 एक्टिव मरीज
भोपाल में गुरुवार दोपहर 20 नए कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुई। इनमें एक परिवार के 3 सदस्य भी शामिल हैं। राजधानी में 920 केस हो गए। इस समय 356 एक्टिव मरीज हैं, जो चिरायु, एम्स समेत अन्य कोरोना केयर सेंटर में भर्ती हैं। इधर, अच्छी खबर ये है कि शाम को चिरायु अस्पताल से 30 लोगों को डिस्चार्ज किया जाएगा। स्वस्थ्य हुए मरीजों की संख्या 529 पर पहुंच गई है। वहीं, 35 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है।

यह तस्वीर अशोकनगर की है। राजस्थान से आ रहे बिहार के मजदूर यहां से बड़ी संख्या में गुजर रहे हैं। जिला प्रशासन इन्हें भोजन के पैकेट उपलब्ध करा रहा है। 

कंटेनमेंट जोन के बाहर ढील होगी

भोपाल कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने लॉकडाउन बढ़ाने की बात कही है, लेकिन कंटेनमेंट क्षेत्र के बाहर निर्माण की गतिविधियां बढ़ सकती हैं। कुछ अन्य वस्तुओं की दुकानों को खोला जा सकता है। शहर को छह सेक्टर में बांटा गया है। इसमें कोलार, होशंगाबाद रोड, रातीबड़, गोविंदपुरा इंडस्ट्रियल एरिया, बीएचईएल और बैरागढ़ में ढील मिलेगी। कंटेनमेंट वाले एरिया में पूरी तरह से लॉकडाउन लागू रहेगा।

सुझाव: हर दिन अलग-अलग सेगमेंट की दुकानें खुलें

  • सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ऑड और ईवन के फाॅर्मूले से एक दिन छोड़कर एक दिन बाजार खोले जाएं या हर दिन अलग-अलग सेगमेंट की दुकानें खोली जा सकती हैं। जैसे- किसी दिन कपड़े की तो किसी दिन इलेक्ट्रॉनिक की।
  • शॉपिंग मॉल भी एक दिन छोड़कर एक दिन खोला जा सकता है। 
  • कंटेनमेंट के बाहर निर्माण कार्य शुरू हों, ताकि सीपीए, नगर निगम, पीडब्ल्यूडी और निजी बिल्डर्स पुराने प्रोजेक्ट्स पूरे कर सकेंगे। 
  • निजी दफ्तर एक तय समय तक 33 फीसदी मैनपावर के साथ खोले जाएं। पब्लिक ट्रांसपोर्ट को प्रयोग के तौर पर शुरू किया जा सकता है। 
  • होटल और रेस्तरां संचालकों को खाने की होम डिलीवरी और पार्सल सप्लाई के लिए खोलने की अनुमति दी जा सकती है।

पाबंदी: मॉल-शॉपिंग सेंटर, स्कूल कॉलेज बंद रह सकते हैं 

  • हॉट स्पॉट और कंटेनमेंट क्षेत्र में रहने वालों के ग्रीन जोन में जाने पर पाबंदी लग सकती है। 
  • मॉल, शॉपिंग सेंटर, बड़े सामाजिक और धार्मिक आयोजन, स्कूल-कॉलेज बंद रह सकते हैं। ग्रीन जोन और ऑरेंज जोन में जनजीवन शर्तों के साथ सामान्य होने की संभावना।
  • ग्रीन और ऑरेंज जोन के जिलों में गतिविधियां सामान्य हो सकती हैं। ग्रीन जोन के जिलों में मैनपावर 100 फीसदी किया जाएगा।
  • ऑरेंज जोन के कंटेनमेंट क्षेत्र के बाहर दफ्तर खुलेंगे, मैनपावर 50 से 70 फीसदी हो सकता है, लेकिन इसे घटाने और बढ़ाने का निर्णय कलेक्टर लेंगे। तमाम दुकानें खुल सकती हैं, लेकिन धारा 144 लागू रहेगी। ट्रांसपोर्ट सामान्य होगा। निर्माण के साथ अन्य कामों की छूट मिलेगी। ग्रीन जोन में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ हाट-बाजार खुलेंगे। 
यह तस्वीर विदिशा की है। यहां दूसरे राज्यों से लौटे मजदूरों के घरों के बाहर कोविड19 संदिग्ध के पोस्टर लगाए जा रहे हैं।

राज्य में एक दिन में 253 नए संक्रमित मिले

मध्यप्रदेश में गुरुवार रात तक 253 नए कोरोना मरीज मिले। अब प्रदेश में 4426 कोरोना संक्रमित हो गए हैं। 237 की मौत हो चुकी है। 2171 व्यक्ति स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। 

भोपाल-विदिशा हाईवे पर मुंबई से पैदल आए मजदूर आराम करते हुए। इन्हें बिहार के बैगूसराय जाना है।

कोरोना अपडेट्स

  • भोपाल: 15 विदेशी जमातियों को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा। यह लोग दो अलग-अलग थाना क्षेत्रों में लॉकडाउन उल्लंघन के मामले में पकड़े गए हैं। जमाती दिल्ली की मरकत से लौटे थे। भोपाल में कोरोनावायरस का संक्रमण फैलाए जाने के भी जिम्मेदार माने जा रहे हैं। इससे पहले गुरुवार को 18 जमातियों को कोर्ट में पेश किया गया था। इन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। 
  • भोपाल: शहर के 15 इलाकों को कंटेनमेंट जोन से बाहर कर दिया गया है। अब यहां लगाई गई बैरिकेडिंग भी हटा दी जाएगी। पिछले 28 दिन में इन क्षेत्रों में कोरोना पॉजिटिव नहीं मिलने के बाद यहां का स्कैल डाउन किया गया है। कंटेनमेंट एरिया हटने से यहां जरूरी सामान की दुकानों को भी खोला जाएगा। 
  • भोपाल: राजधानी के चिरायु अस्पताल से 18 लोगों को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया। इन लोगों ने लोगों से कहा कि कोरोना से डरने की जरूरत नहीं है, यह सामान्य बीमारी है। लॉकडाउन का पालन करें और सोशल डिस्टेंसिंग अपनाएं।
  • जबलपुर: गुरुवार रात 4 नए कोरोना संक्रमित मिले। इनमें एक बच्ची भी शामिल है। यहां मरीजों की संख्या बढ़कर 162 पहुंच गई। इससे पहले शाम को भी 3 संक्रमित मिले थे। ये तीनों सर्वोदय नगर रानीताल निवासी हैं। जिले में अब तक 71 संक्रमित ठीक हो चुके हैं।
  • मुरैना: जिले में गुजरात से लौटी एक गर्भवती महिला की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। इसके बाद संक्रमितों की संख्या 6 हो गई। गर्भवती महिला 11 मई को अपने पति के साथ अहमदाबाद से अम्बाह आई थी।
  • रायसेन: यहां चिकलोद कला स्वास्थ्य केंद्र की एक स्टाफ नर्स कोरोना पॉजिटिव पाई गई। ब्लाॅक मेडिकल अफसर डॉ. अरविन्द सिंह चौहान ने बताया कि नर्स सोमवार तक ड्यूटी पर आई। इसके बाद तबीयत खराब होने पर सैम्पल लिया गया था। नर्स अभी एम्स भोपाल में भर्ती है।
  • सागर: यहां सदर बाजार इलाके का रहने वाला एक युवक कोरोना पॉजिटिव पाया गया। वह हाल ही में नासिक से लौटा है। जिले में अब तक 17 मरीज सामने आ चुके हैं। इनमें 5 स्वस्थ भी हुए हैं।
यह तस्वीर गुना की है। यहां सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को ताक पर रखकर सहकारी बैंक के बाहर पैसे निकालने वाले किसानों की लंबी लाइन लग रही है। 

राजगढ़ में ट्रक में और सतना में ट्रेन में प्रवासी महिलाओं की डिलीवरी हुई

मुंबई से यूपी लौट रही महिला की ट्रक में डिलीवरी हो गई। ब्यावरा में जांच के बाद महिला को राजगढ़ रेफर किया गया। महिला बस्ती जिले की रहने वाली है। इधर, सतना में भी श्रमिक स्पेशल ट्रेन में महिला ने बच्चे को जन्म दिया। यह महिला औरंगाबाद से यूपी के गाजीपुर जा रही थी। मैहर-उचहरा स्टेशन के बीच डिलीवरी हुई।

गुना और नरसिंहपुर में हादसे, 19 घायल
राघौगढ़ इलाके में आवन गांव के पास गुरुवार रात हाईवे के फ्लाई ओवर से उतरते हुए एक ट्रेवलर (मिनी बस) सड़क किनारे खड़े ट्रक में पीछे से घुस गई। हादसे में 3 लोग गंभीर घायल हो गए, जिन्हें गुना रेफर किया। 11 अन्य लोगों को साडा के अस्पताल में भर्ती कराया गया। ये सभी लोग पूना से उत्तराखंड जा रहे थे। इधर, नरसिंहपुर में अंबाला से चेन्नई जा रहा ट्रेवलर वाहन पलटने से 8 लोग घायल हो गए। हादसा राष्ट्रीय राजमार्ग- 44 पर डांगीढाना के पास हुआ। इस वाहन में 11 लोग सवार थे। एक की हालत गंभीर होने पर जबलपुर रेफर किया गया।

महाराष्ट्र से आए श्रमिकों ने रीवा में हाईवे जाम किया

महाराष्ट्र से आए श्रमिकों ने रीवा पहुंचकर रतहरा हाईवे पर जाम लगा दिया। यहां वाहनों की लंबी कतार लग गई, कई वाहन जाम में फंसे रहे। मजदूरों का आरोप है कि शासन-प्रशासन मदद नहीं दे रहे हैं।

कुल संक्रमित मरीज 4426 : 

इंदौर 2238, भोपाल 900, उज्जैन 274, जबलपुर 157, खरगौन 97, घार 89, खंडवा 81, बुरहानपुर 95, रायसेन 65, देवास 58, मंदसौर 57, नीमच 45, होशंगाबाद 37, ग्वालियर 31, रतलाम 28, बड़वानी 26, मुरैना 25, सागर 14, आगर मालवा 13, विदिशा 13, भिंड 10, शाजापुर 8, सतना 7, झाबुआ 7, रीवा 7, छिंदवाड़ा 5, सीहोर 4, श्योपुर 4, सीधी 3, अलीराजपुर 3, अनूपपुर 3, हरदा 3, शहडोल 3, शिवपुरी 3, टीकमगढ़ 3, अशोकनगर, 3 डिंडोरी 2, बैतूल 1, गुना 1, मंडला 1, पन्ना 1, सिवनी में 1 मरीज।

  • कुल 237 मौतें: इंदौर 96, भोपाल 35, उज्जैन  45, खरगौन 8, देवास 7, खंडवा 8, जबलपुर 8,  बुरहानपुर 9, मंदसौर 4, रायसेन और होशंगाबाद में 3-3, अशोकनगर, सीहोर, छिंदवाड़ा, शाजापुर, सतना, आगरमालवा, सागर, ग्वालियर और नीमच में 11 मरीज की मौत हुई है।  
  • स्वस्थ हुए 2171 : इंदौर 1046, भोपाल 509, उज्जैन 142, खरगोन 55, धार 69, जबलपुर 65, खंडवा 38, रायसेन 42, होशंगाबाद 31, बड़वानी 26, देवास 15, बुरहानपुर 13, रायसेन 50, देवास 15, मंदसौर 7नीमच 4, होशंगाबाद 32, ग्वालियर 5, रतलाम 19, बड़वानी 26, मुरैना 17, सागर 5, आगरमालवा 12, विदिशा 13, शाजापुर 6, रीवा 1, छिंदवाड़ा 2, श्योपुर 4, अलीराजपुर 3, हरदा 3, शहडोल 3, शिवपुरी 2, , टीकमगढ़ 3, डिंडोरी 1, बैतूल 1 मरीज स्वस्थ्य हुए। (स्वास्थ्य विभाग द्वारा गुरुवार रात जारी बुलेटिन के अनुसार)
Categories
sports

10 दिन में महाराष्ट्र से चले 25 लाख लोग मध्य प्रदेश होते हुए यूपी-बिहार निकले


  • गुना में कंटेनर और बस की भिड़ंत, महाराष्ट्र से यूपी जा रहे 8 मजदूरों की मौत
  • प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 4185 हुई, इसमें इंदौर के ही 2107 मरीज

दैनिक भास्कर

May 14, 2020, 12:28 PM IST

भोपाल. लॉकडाउन फेज-3 के आखिरी दिनों में मजदूरों के पलायन की सिहरन पैदा कर देने वाली तस्वीरें सामने आ रही हैं। पिछले 10 दिनों में मध्य प्रदेश के रास्ते करीब 25 लाख से ज्यादा लोग यूपी-बिहार गए हैं। इन सभी ने अपना सफर महाराष्ट्र के अलग-अलग शहरों से शुरू किया था। नेशनल हाईवे पर वाहनों से ज्यादा पैदल जा रहे मजदूरों के जत्थे देखे जा रहे हैं।

मुंबई-आगरा हाईवे पर मध्य प्रदेश का सेंधवा चैकपोस्ट नाका है। यहां महाराष्ट्र की ओर से हर दिन हजारों वाहन निकल रहे हैं। सभी में यूपी-बिहार जाने वाले श्रमिक ठूंस-ठूंसकर भरे हैं। सेंधवा चैकपोस्ट पर 3 मई से 13 मई तक इंदौर की ओर करीब 80 हजार से ज्यादा वाहन निकल चुके हैं। इनमें अधिकांश ट्रक, मिनी ट्रक, जीप और ऑटो हैं। सेंधवा टोल टैक्स कर्मचारियों के मुताबिक, 10 दिनों में 25 लाख से ज्यादा लोग महाराष्ट्र से मध्य प्रदेश में प्रवेश कर चुके हैं।
प्रदेश में कुल संक्रमितों के 50% से ज्यादा इंदौर में
मध्य प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 4185 हो गई है। इसमें इंदौर जिले में अब तक सबसे ज्यादा 2107 केस हैं। यह कुल संक्रमितों के 50% से ज्यादा है। इंदौर में 95 मरीजों की मौत हुई है और 974 लोग ठीक हुए हैं। भोपाल 906 पॉजिटिव हैं। यहां 35 की जान गई है और 553 लोग ठीक हो चुके हैं। पूरे राज्य में कुल 231 की मौत हुई हैं और 2073 लोगों की अस्पताल से छुट्‌टी हुई है।

यह तस्वीर गुना के अस्पताल की है। यहां हादसे में जख्मी मजदूरों को भर्ती किया गया।

गुना: महाराष्ट्र से उत्तरप्रदेश जा रहे थे कंटेनर सवार श्रमिक

गुना के पास बाइपास मार्ग पर बस की टक्कर से कंटेनर सवार 8 मजदूरों की मौत हो गई। 54 से अधिक घायल हो गए। ये सभी उत्तरप्रदेश के रहने वाले हैं, जो महाराष्ट्र से अपने गृह राज्य लौट रहे थे। घायलों को यहां जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है। एसपी तरुण नायक ने बताया कि केंट थाना क्षेत्र में तड़के लगभग 3 बजे यह हादसा हुआ। कंटेनर महाराष्ट्र से उत्तरप्रदेश के उन्नाव जिले की तरफ जा रहा था और बस ग्वालियर से अहमदाबाद जा रही थी। 

भोपाल-विदिशा हाईवे पर रात में पैदल जाते मजदूर। ये परिवार मुंबई से पैदल चला है और इन्हें इलाहाबाद जाना है। 

महाराष्ट्र से आने वाला ट्रैफिक 8 दिन में 4 गुना बढ़ा

मध्य प्रदेश में 24 मार्च से टोल प्लाजा बंद कर दिए गए थे। 20 अप्रैल को फिर से चालू होने के बाद 3 मई तक भी मुंबई से आने वाले वाहनों का औसत लगभग 2500 वाहन प्रतिदिन था, जो 12 मई तक बढ़कर लगभग 13 हजार 500 वाहन प्रति दिन तक हो गया है। इनमें रोजाना निकलने वाले हजारों ऑटो रिक्शा, महाराष्ट्र-गुजरात की हजारों मोटरसाइकिल के आंकड़े शामिल नहीं हैं। फरवरी जैसे सामान्य महीनों में जब लॉकडाउन का अंदेशा भी नहीं था तब भी मुंबई-आगरा नेशनल हाईवे नंबर-3 पर मुंबई की ओर से आने वाले वाहनों की औसत संख्या रोजाना करीब 8000 ही थी।

यह तस्वीर भोपाल की है। महाराष्ट्र से आ रहे उत्तर प्रदेश के मजदूर तपती दोपहरी में ऐसे ही सफर करने को मजबूर हैं। 

इंदौर के पास ट्रक में दम घुटने से 85 साल के बुजुर्ग की मौत
उत्तर प्रदेश के जौनपुर के प्रजापति परिवार को पलायन का दर्द जिंदगीभर याद रहेगा, क्योंकि 85 साल के बुजुर्ग मुखिया की घर जाने की चाहत में इंदौर के पास मौत हो गई। पोते कमलेश ने बताया कि उनके साथ परिवार के 5 लोग मुंबई से निकले थे। वहां पुलिस की मार खाने के बावजूद हाईवे तक आए तो एक ट्रक मिला। उसने जौनपुर जाने वाले हर व्यक्ति से 3500 रुपए लिए। ट्रक में 40 से ज्यादा लोग थे। हमारे पास खाना भी नहीं था। सुबह दादा पानी से बिस्कुट खाकर लेट गए। दम घुटने से उनकी वहीं मौत हो गई।

यह तस्वीर भोपाल की है। भोपाल-विदिशा हाईवे पर मुंबई से उत्तर प्रदेश के गोंडा के लिए ऑटो से जाता एक परिवार।  

कुवैत में फंसे 234 भारतीयों को लेकर 2 फ्लाइट इंदौर आई
कुवैत में फंसे 234 भारतीयों को दो विशेष विमान से बुधवार रात करीब 2 बजे इंदौर लाया गया। इन यात्रियों को 10 बसों से भोपाल भेजा गया। ड्राइवरों को हिदायत दी गई कि रास्ते में कहीं बस नहीं रोकी जाएंगी। इन यात्रियों को भोपाल में 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन किया गया है। इनमें मप्र, महाराष्ट्र, असम, आंध्रप्रदेश समेत कुछ अन्य राज्यों के यात्री हैं। वहीं, लॉकडाउन के बाद पहली बार इंदौर से यात्री ट्रेन रवाना हुई। रीवा के लिए रात 9 बजे निकली इस ट्रेन में 1480 यात्री थे। 

कुवैत से दो विशेष विमान से लाए गए 234 लोगों को भोपाल के थ्री ईएमई सेंटर में क्वारैंटाइन किया गया है।

कोरोना अपडेट्स

  • शिवराज बोले- कोरोना सर्दी-जुकाम जैसा:  कोरोना सर्दी-जुकाम की तरह है। इसका भय मन से निकालें। समय से इसका इलाज ले लिया जाए तो यह ठीक हो जाता है। हम डरें नहीं, आत्मविश्वास रखें। जल्द ही इस पर पूरी तरह नियंत्रण हो जाएगा। यह बात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को कही। वे कोरोना की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। 

  • जबलपुर में 6 और मरीज मिले: यहां बुधवार को कोरोना के 6 नए मरीज मिले। इन्हें मिलाकर जिले में संक्रमितों की संख्या 153 हो गई। इनमें से 83 का इलाज चल रहा है, 62 स्वस्थ हो चुके हैं और 8 की मौत हो गई है। 
  • भिंड में एक और संक्रमित मिला: यहां गोहद में एक कोरोना पॉजिटिव मिला है। वह 7 मई को अहमदाबाद से आया था। उसे यहां एक स्कूल में क्वारैंटाइन किया गया था। अब जिले में संक्रमितों की संख्या 10 हो गई है। इसके साथ ही भिंड रेड जोन में आ गया है।

अब तक 4184 संक्रमित: इंदौर 2107, भोपाल 906, उज्जैन 269, जबलपुर 147, खरगोन 95, घार 89, खंडवा 80, रायसेन 65, बुरहानपुर 60, मंदसौर 56, देवास 56, नीमच 38, होशंगाबाद 37, ग्वालियर 36, रतलाम 28, बड़वानी 26, मुरैना 26, आगरमालवा 13, विदिशा 13, सागर 10, भिंड 9, शाजापुर 8, सतना 7, छिंदवाड़ा 5, सीहोर 4, श्योपुर 4, अलीराजपुर 3, अनूपपुर 3, हरदा 3, रीवा 3, शहडोल 3, शिवपुरी 4, टीकमगढ़ 3, अशोकनगर 2, डिंडोरी 2, ढाबुआ 2, बेतूल 1, गुना 1, मंडला 1, पन्ना 1, सिवनी 1 और सीधी में 1 मरीज।  

कुल 231 मौतें: इंदौर 95, उज्जैन 45, भोपाल 35, खरगोन 8, देवास 7, खंडवा 8, जबलपुर 8,  बुरहानपुर 6, मंदसौर 4, रायसेन और होशंगाबाद में 3-3, अशोकनगर और धार में 2-2, आगरमालवा, छिंदवाड़ा, शाजापुर, सागर और सीहोर में एक-एक की जान गई।

स्वस्थ हुए 2073 : इंदौर 974, भोपाल 553, उज्जैन 130, खरगोन 53, धार 41, जबलपुर 47, खंडवा 38, रायसेन 42, होशंगाबाद 31, बड़वानी 26, देवास 15, विदिशा और मुरैना में 13-13, रतलाम 19, आगरमालवा 12, मंदसौर 7, शाजापुर 6, सागर 5,  ग्वालियर और श्योपुर में 4-4, अलीराजपुर, शहडोल 3-3, छिंदवाड़ा, शिवपुरी और टीकमगढ़ में 2-2, डिंडोरी, हरदा, रीवा और बैतूल में एक-एक मरीज स्वस्थ्य हुआ।

Categories
sports

प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 4 हजार पार; 2111 एक्टिव मरीज अस्पताल में, 1935 ने कोरोना को हराया


  • भोपाल में मरीजों का आंकड़ा 810 से बढ़कर 864 हो गया है, अकेले जहांगीराबाद में 203 लोग संक्रमित हो चुके हैं 
  • इंदौर में मंगलवार को 91 नए पॉजिटिव सामने आए, यहां अब तक कुल 2107 संक्रमित मरीज हो चुके हैं

दैनिक भास्कर

May 13, 2020, 12:20 PM IST

भोपाल. प्रदेश में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4046 पर पहुंच चुकी है। इनमें 226 की मौत हो चुकी है। 1935 मरीज स्वस्थ्य हो चुके हैं। 2111 एक्टिव मरीजों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है। प्रदेश में मंगलवार को कोरोना के 201 नए मरीज मिले। 6 लोगों की मौत भी हुई। भोपाल में एक मौत और 54 पॉजिटिव मिले। भोपाल में मरीजों का आंकड़ा 810 से बढ़कर 864 हो गया है। अकेले जहांगीराबाद में 203 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इंदौर में मंगलवार को 91 नए पॉजिटिव सामने आए। यहां अब तक कुल 2107 संक्रमित मरीज हो चुके हैं।

इधर, प्रदेश सरकार ने राष्ट्रीय स्तर पर जून-जुलाई में कोरोना के पीक पर होने की स्थिति से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इस समय प्रदेश में 35 हजार बेड की व्यवस्था है। वर्तमान स्थिति को देखते हुए बेड की संख्या बढ़ाकर इसे एक लाख किए जाने की तैयारी है। कोरोना के ताजा हालातों को देखते हुए अनुमान है कि आने वाले एक माह में कोरोना पॉजिटिव केस की संख्या बढ़ सकती है, ऐसे में पहले से तैयारी जरूरी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों से कहा कि वे इस दिशा में तेजी से काम करें। 

यह तस्वीर भोपाल की है। यहां मंगलवार रात 12.15 बजे करीब 50 दिन बाद दिल्ली-बिलासपुर राजधानी एक्सप्रेस हबीबगंज स्टेशन पहुंची। 

लॉकडाउन फेज-4 की तैयारी शुरू 

17 मई के बाद शुरू होने वाले लॉकडाउन फेज-4 में प्रदेश के सभी रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में शर्तों के साथ ढील बढ़ाने की तैयारी है। रात के समय पूरे प्रदेश में कर्फ्यू रहेगा। कंटेनमेंट वाले क्षेत्रों में ही पूरी सख्ती के साथ लॉकडाउन का पालन होगा। बाकी जगहों पर कोरोना से संबंधित प्रोटोकॉल और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करके गतिविधियां बढ़ेंगी। मुख्य सचिव ने कलेक्टरों से भी 13 मई की शाम 4 बजे तक कोविड-19 की रिपोर्ट और ताजा स्थिति की जानकारी मांगी है, जिसके आधार पर गतिविधियां बढ़ाने का सुझाव केंद्र सरकार को 15 मई को भेजा जाएगा। राज्य शासन ने प्रदेश में लॉकडाउन खोलने के संबंध में नागरिकों से सुझाव मांगे हैं। वे mp.mygov.in पोर्टल पर 13 मई की शाम 4 बजे तक सुझाव दे सकते हैं।

भोपाल के सबसे संक्रमित इलाके जहांगीराबाद के कंटेनमेंट क्षेत्र में पुलिस से बहस करते एक बुजुर्ग।

इंदौर पहला शहर, जहां हजारों लोगों को दिए जाएंगे ऑक्सीमीटर

शहर में जून-जुलाई में 13,438 संक्रमण के मामले सामने आने की संभावना जताई जा रही है। ऐसे में प्रशासन का सारा जोर होम आइसोलेशन पर है। माना जा रहा है कि चार हजार लोग ऐसे होंगे, जिन्हें होम आइसोलेशन में रखा जा सकता है। सभी को पल्स ऑक्सीमीटर दिए जाएंगे, ताकि वे खुद ही ऑक्सीजन का स्तर जांच कर जानकारी भेज सकें। इंदौर देश में पहला जिला है, जहां एसिम्प्टोमेटिक (जिनमें लक्षण न दिखें) मरीजों को पल्स ऑक्सीमीटर दिए जा रहे हैं। 80% मरीज ए-सिम्प्टोमेटिक ही होते हैं। अभी 27 पॉजिटिव मरीजों को होम आइसोलेशन रखा जाएगा। उनके परिजन को हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा का डोज लेना अनिवार्य होगा। 

पल्स ऑक्सीमीटर छोटी-सी मशीन होती है, जिसमें कोई भी उंगली रखकर शरीर में ऑक्सीजन का स्तर पता किया जाता है। सामान्य व्यक्ति में ऑक्सीजन का स्तर 94% से अधिक होना चाहिए। इससे कम पर माना जाता है कि मरीज को सांस लेने में दिक्कत है। कोरोना का सबसे बड़ा खतरा यही है कि मरीज को सांस लेने में परेशानी आती है। इस मशीन में हार्ट रेट का भी पता लगाया जाता है। बाजार में यह डेढ़ हजार रुपए में उपलब्ध है। जिला प्रशासन चिह्नित मरीजों को निःशुल्क देगा।

सीहोर में संक्रमित इलाकों मे सर्वे करती स्वास्थ्य विभाग की टीम।  

अमेरिका से उज्जैन के इंजीनियर ने भिजवाई 250 पीपीई किट

अमेरिका के कैलिफोर्निया में रहकर आईटी कंपनी संचालित कर रहे उज्जैन फ्रीगंज के सौम्य माहेश्वरी ने यहां पुलिस के लिए उच्च क्वालिटी की 250 पीपीई किट भिजवाई हैं। कंटेंटमेंट क्षेत्र में ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मी यह किट पहनकर ड्यूटी करेंगे तो संक्रमण से बचाव में काफी हद तक मदद मिलेगी। मंगलवार को एएसपी अमरेंद्र सिंह चौहान और डीएसपी एचएन बाथम फ्रीगंज में सौम्य के घर पहुंचे और उनके पिता मोहन सोनी, मां सरला सोनी को धन्यवाद दिया। सरला सोनी ने बताया कि सौम्य बड़ी मां तारा सोनी की प्रेरणा से यह कर पाया। हमें बेटे पर गर्व है कि विदेश में रहकर भी उसका अपने देश और गृहनगर के प्रति जो प्रेम है, वही हमारे लिए सबसे बड़ी खुशी है।

रायसेन में 64 संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम कैंप लगाकर लोगों की जांच कर रही है।

कोरोना अपडेट्स

  • उज्जैन में अवैध तरीके से प्रवेश की सूचना पर केस: दूसरे जिले और राज्यों से बगैर अनुमति लिए शहर की सीमा में प्रवेश करने वाले मजदूर पुलिस-प्रशासन के लिए चुनौती बन गए हैं। पिछले दिनों एसपी मनोज कुमार सिंह ने ऐलान किया था कि बाहरी व्यक्ति के शहर, ग्राम या कॉलोनी में प्रवेश की सूचना देने वाले को 500 रुपए का इनाम दिया जाएगा। सोमवार को ऐसी सूचना के सही पाए जाने पर पुलिस ने इंदौर की तरफ से बगैर अनुमति शहर में प्रवेश करने वाले चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया। एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह ने कहते हैं कि छिपते-छिपाते आने वाले इन मजदूरों में से यदि किसी एक में भी कोरोना संक्रमण हुआ तो वे जहां-जहां से गुजरेंगे वो जगह संक्रमित कर देंगे।
  • उज्जैन में सर्वे के दौरान महिला से मारपीट : कोराना संक्रमण के सर्वे कार्य में लगी आशा कार्यकर्ता द्वारा पूछताछ करने पर गांव के दो लोगों ने गाली-गलौज कर मारपीट कर दी। पुलिस ने बताया कि मताना गांव की आशा कार्यकर्ता गांव के श्याम लाल के घर सर्वे के लिए गई थी। उन्होंने घर में कोई बाहर से आए व्यक्ति के संबंध में जानकारी की तो आरोपी भड़क गए। पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली।
  • भोपाल में लॉकडाउन से नुकसान के कारण कैटरिंग संचालक ने फांसी लगाई: लाॅकडाउन के कारण हुए नुकसान से परेशान एक कैटरिंग संचालक ने फांसी लगाकर जान दे दी। सोमवार को उसने पहले पत्नी को मायके छोड़ा और घर आकर फंदे पर झूल गया। पुलिस को पांच-छह लाइन का सुसाइड नोट मिला है। इसमें कुछ अच्छे दोस्तों का नाम लिखते हुए उसने एक कंपनी में पैसे लगाने का जिक्र किया है। युवक की पहचान बीडीए कॉलोनी, अवधपुरी निवासी 28 वर्षीय विश्वनाथ राय के रूप में की गई।
तस्वीर गुना की है। प्रवासी मजदूर जान जोखिम में डालकर ट्रक के ऊपर बैठकर सफर कर रहे हैं। 

अब तक 4046 संक्रमित

इंदौर 2016, भोपाल 864, उज्जैन 264, जबलपुर 137, खरगोन 92, धार 86, रायसेन 65, खंडवा 79, बुरहानपुर 60, मंदसौर 54, देवास 53, होशंगाबाद 37, नीमच 34, बड़वानी 26, ग्वालियर 29, रतलाम 24, मुरैना 25, आगरमालवा और विदिशा में 13-13, सागर 10, शाजापुर 8, छिंदवाड़ा 5, भिंड 8, श्योपुर 4, अलीराजपुर, अनूपपुर, हरदा, शहडोल, शिवपुरी, टीकमगढ़, सतना और रीवा में 3-3, झाबुआ, सीहोर, डिंडोरी और अशोकनगर में 2-2, बैतूल, गुना, सीधी, पन्ना, मंडला और सिवनी में एक-एक संक्रमित मरीज मिला।  

  • कुल 226 मौतें: इंदौर 92, उज्जैन 45, भोपाल 35, खरगोन 8, देवास, खंडवा और जबलपुर में 7-7, बुरहानपुर 5, मंदसौर 4, रायसेन और होशंगाबाद में 3-3, अशोकनगर और धार में 2-2, आगरमालवा, छिंदवाड़ा, शाजापुर, सागर और सीहोर में एक-एक की जान गई।
  • स्वस्थ हुए 1935 : इंदौर 926, भोपाल 535, उज्जैन 106, खरगोन 52, धार 41, जबलपुर 42, खंडवा 34, रायसेन 34, होशंगाबाद 30, बड़वानी 25, देवास 14, विदिशा और मुरैना में 13-13, रतलाम 12, आगरमालवा 10, मंदसौर 7, शाजापुर 6, सागर 5,  ग्वालियर और श्योपुर में 4-4, अलीराजपुर, शहडोल 3-3, छिंदवाड़ा, शिवपुरी और टीकमगढ़ में 2-2, डिंडोरी और बैतूल में एक-एक मरीज स्वस्थ्य हुआ। (स्वास्थ्य विभाग द्वारा 12 मई को जारी बुलेटिन के अनुसार)
Categories
sports

भोपाल में आज एक दिन में सबसे ज्यादा 54 केस मिले, इनमें 10 जहांगीराबाद से; एम्स की नर्सिंग अफसर भी संक्रमित


  • राज्य सरकार ने सोमवार को सभी कमिश्नर, कलेक्टरों को बैड्स, वेंटिलेटर, आईसीयू की तैयारी करने के आदेश दिए
  • राज्य में मंगलवार सुबह तक संक्रमितों की संख्या 3871 पर पहुंच गई; वहीं, 221 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं

दैनिक भास्कर

May 12, 2020, 06:11 PM IST

भोपाल. मध्यप्रदेश में मंगलवार दोपहर तक 86 नए संक्रमण के केस सामने आए। इनमें 54 भोपाल से हैं। 20 खंडवा, जबलपुर, खरगोन और मुरैना में 3-3, सीहाेर में 2 और रतलाम में एक पॉजिटिव मिला। राजधानी में एक दिन में सामने आए 54 केस सबसे ज्यादा हैं। इससे पहले 6 मई को 46 केस एक दिन में मिले थे। यहां पहला केस 22 मार्च को मिला था। इसके साथ, चिरायु अस्पताल से मंगलवार को 39 लोग कोरोना को हराकर घर लौटे। उन्होंने नर्स-डे के मौके पर मरीजों की देखभाल में जुटे कोरोना वाॅरियर्स नर्सिंग स्टाफ के सम्मान में केक काटकर आभार जताया। भोपाल में अब तक 538 लोग ठीक हो चुके हैं।

राजधानी के सबसे बड़े हॉटस्पॉट जहांगीराबाद में पुलिसकर्मी समेत 10 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले। यहां अब तक कुल 199 कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। ट्रैफिक थाने के दो पुलिसकर्मी और मिसरोद थाना क्षेत्र में पदस्थ एक सिपाही भी पॉजिटिव मिला। संक्रमितों में एम्स की नर्सिंग अफसर भी शामिल हैं। अब भोपाल में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 864 पर पहुंच गई है और 34 लोगों की जान जा चुकी है।

उधर, मध्य प्रदेश में अब तक कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 3871 हो गई। वहीं, 221 की मौत हो चुकी है। इंदौर में संक्रमितों का आंकड़ा 2 हजार को पार कर गया है। यहां 2016 मरीज हो गए हैं। 92 संक्रमितों की मौत हो चुकी है।

जून-जुलाई तक संक्रमितों की संख्या 81 हजार हो सकती है 

राष्ट्रीय स्तर पर जून-जुलाई में कोरोना के पीक आने की बात कही जा रही है। अनुमान लगाया जा रहा है कि मध्यप्रदेश में मरीजों की संख्या 81 हजार तक जा सकती है। इंदौर में यह संख्या 13400 तक (अभी 2016 मरीज) हो सकती है। अधिकतम मरीजों की संख्या का अनुमान लगाने के साथ ही राज्य सरकार ने सभी कमिश्नर, कलेक्टरों को बैड्स, वेंटिलेटर, आईसीयू की तैयारी करने के आदेश दिए हैं। साथ ही इससे निपटने के लिए 14 मई तक पूरा प्लान मांगा है। एक अनुमान मुताबिक, राज्य को अभी 45204 बैड्स की जरूरत है। 

मजदूरों को लाने और छोड़ने के लिए 375 बसें लगाईं
राज्य सरकार ने अन्य प्रदेशों से पैदल चलकर आने वाले श्रमिकों के लिए अस्थाई ठहरने, भोजन, पेयजल, प्राथमिक उपचार और दवाओं की व्यवस्था की है। मध्यप्रदेश में ऐसे मजदूरों को बसों के जरिए उनके जिलों तक पहुंचाने और अन्य राज्यों के मजदूरों को मध्यप्रदेश की सीमा तक छुड़वाने के लिए 375 अतिरिक्त बसों की व्यवस्था की गई है। इस प्रभावी कार्य योजना को अमल में लाने के लिए सीमावर्ती जिलों में ट्रांजिट पॉइंट बनाए गए हैं, जहां से स्थानीय प्रशासन के सहयोग से श्रमिकों को सकुशल उनके गृह नगर तक पहुंचाया जाएगा।

रतलाम : 700 मजदूरों को लाई श्रमिक स्पेशल ट्रेन
श्रमिक स्पेशल ट्रेन सुबह 7 बजे रतलाम पहुंची। यहां इसमें रतलाम-उज्जैन संभाग के 700 श्रमिक थे। इसके बाद ट्रेन सतना भेजी गई। रतलाम से बसों के जरिए उज्जैन, धार, अलीराजपुर, झाबुआ जिले के मजदूरों को घर भेजा गया।

कोरोना अपडेट्स 

  • आज देर रात भोपाल आएगी पहली स्पेशल ट्रेन : भोपाल में 4 स्पेशल ट्रेनें हाॅल्ट लेंगी। मंगलवार देर रात पहली स्पेशल ट्रेन भोपाल पहुंचेगी। नई दिल्ली-बिलासपुर (02442) मंगलवार देर रात 12:15 बजे भोपाल पहुंचेगी। यह ट्रेन हर मंगलवार और शनिवार चलेगी। बिलासपुर-नई दिल्ली 14 मई से हर सोमवार और गुरुवार चलेगी। नई दिल्ली-बेंगलुरु 12 मई से, जबकि बेंगलुरु-नई दिल्ली 14 मई से रोजाना चलेगी। नई दिल्ली-चेन्नई 13 मई से हर बुधवार और शुक्रवार, जबकि चेन्नई-दिल्ली 15 मई से हर शुक्रवार और रविवार चलेगी। 17 मई से हर रविवार नई दिल्ली-सिकंदराबाद और 20 मई से सिकंदराबाद- दिल्ली हर बुधवार चलेगी।
  • एम्स समेत 4 मेडिकल कॉलेज प्लाज्मा थैरेपी का ट्रायल कर सकेंगे : एम्स भोपाल समेत प्रदेश के 4 मेडिकल कॉलेजों को कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों पर प्लाज्मा थैरेपी के ट्रायल की मंजूरी मिल गई है। इनमें नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज जबलपुर, आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज उज्जैन और अरबिंदो मेडिकल कॉलेज इंदौर शामिल हैं। इसके साथ ही प्रदेश में प्लाज्मा थैरेपी के जरिए कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज करने वाले अस्पतालों की संख्या 7 हो जाएगी। भोपाल के गांधी मेडिकल कॉलेज और चिरायु मेडिकल कॉलेज के साथ इंदौर के महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज को एक सप्ताह पहले से ही प्लाज्मा थैरेपी के जरिए इलाज की मंजूरी मिल गई थी।
  • बेंगलुरु में 2 महीने से फंसे 100 से ज्यादा सैनिक अब घर पहुंचे: 2 महीने से बेंगलुरु में फंसे इंदौर समेत प्रदेशभर के सेना के रिटायर्ड 100 से ज्यादा जवानों की घर वापसी हो गई। यह आर्मी की साउथ कमांड से रिटायर हुए थे। 
  • दूसरे राज्यों से अब तक 1.90 लाख श्रमिक वापस आए: दूसरे राज्यों से अब तक एक लाख 90 हजार मजदूरों को प्रदेश में लाया जा चुका है। इनमें 95 हजार 400 गुजरात, 42 हजार राजस्थान और 40 हजार श्रमिक और नौकरीपेशा लोग महाराष्ट्र से लाए गए। बाकी अन्य राज्यों से लाए गए। जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने बताया कि कोरोना संकट के बीच यह सिलसिला जारी रहेगा। 60 हजार 600 श्रमिक अन्य राज्यों में भेजे गए हैं। अब तक 25 स्पेशल ट्रेनें आ-जा चुकी हैं।
  • सीधी में कोरोना संक्रमण का पहला केस: जिले के कमर्जी थाना क्षेत्र के कोल्हूडीह गांव में एक युवक कोरोना पॉजिटिव मिला। यह 8 मई को मुंबई से आया और घर में क्वारैंटाइन था।
  • सतना में श्रमिक की ट्रेन में मौत: यहां स्पेशल ट्रेन में एक मजदूर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मजदूर महाराष्ट्र के पुणे से उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जा रहा था। शव को मझगवां रेलवे स्टेशन पर उतारा गया। श्रमिक अखिलेश कुमार राणा उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले के नवाबगंज का रहने वाला था।
  • मुरैना: जिले में 3 और कोरोना मरीज मिले। इनमें 2 गुजरात और 1 दिल्ली से लौटा। संक्रमितों की संख्या 25 हो गई। इधर, जिला अस्पताल से 3 लोगों के स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया जाएगा। 
  • सीहोर: जिले में आज 2 और कोरोना पॉजिटिव मिले। यहां संक्रमितों की संख्या 4 हो गई। इनमें एक बच्ची कोरोना बिलकिसगंज की है। इसके पिता पहले ही पॉजिटिव पाए गए थे। इसके अलावा, इंद्रा नगर कंटेंटमेंट जोन में भी एक महिला संक्रमित मिली। इसी क्षेत्र में एक महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। बाद में उसकी भोपाल में मौत हो गई थी।
  • खरगोन: मंगलवार को 3 नए संक्रमित मिले। दामखेड़ा की 24 वर्षीय युवती और कुंदा नगर के पति-पत्नी पॉजिटिव पाए गए। जिले में अब 92 संक्रमित हो गए। इनमें 8 की मौत हुई है। 52 लोग स्वस्थ हुए हैं।
  • रतलाम: यहां सिद्धांतचलम कॉलोनी की एक 52 साल की महिला कोरोना पॉजिटिव निकली। उसे मेडिकल कॉलेज भेजा गया। जिले में अब तक 24 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। यहां अब सिर्फ 5 एक्टिव केस हैं। बाकी स्वस्थ होकर लौट चुके हैं।
  • खंडवा: शहर में एक साथ 20 नए कोरोना पॉजिटिव मिले। जिले में संक्रमितों का आंकड़ा 79 पर पहुंच गया। मरीजों को कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया। शहर में 1200 से अधिक सैम्पल लिए गए हैं।
  • जबलपुर: मंगलवार को तीन और कोरोना पॉजिटव मिले। इनमें दो पुरुष और एक महिला है। एक गोलहपुर और दो साउथ मिलौनीगंज निवासी हैं। जिले में संक्रमितों का आंकड़ा 136 पर पहुंच गया। इधर, 4 लोगों के स्वस्थ होने पर सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया गया। यहां स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 47 हो गई। अब 86 एक्टिव केस हैं।
अशोकनगर में मेटरनिटी वार्ड में नवजातों को टीका लगातीं स्टाफ नर्स। यहां जिला अस्पताल में 5 से अधिक नर्सिंग स्टाफ गर्भवती हैं। फिर भी खुद की सुरक्षा के साथ 8 घंटे ड्यूटी पर तैनात रहकर मरीजों की देखभाल कर रहीं।

मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा-  रेड जोन इलाकों में 17 मई के बाद भी लॉकडाउन रहे

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लॉकडाउन फेज-4 की पहल की है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान कहा कि  रेड जोन और कंटेनमेंट क्षेत्र में 17 मई के बाद भी लॉकडाउन को जारी रखा जाए। ग्रीन जोन और आॉरेंज जोन में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ गतिविधियों को और बढ़ाया जा सकता है। आर्थिक क्षेत्र को छूट मिले। पब्लिक ट्रांसपोर्ट नियंत्रित रूप से संचालित हो। उत्सव, धार्मिक, सामाजिक कार्यक्रम पर प्रतिबंध रहे। सुबह 7 से शाम 7 बजे तक ही काम हो। इधर, मुख्यमंत्री चौहान ने दूसरे राज्यों में फंसे श्रमिकों से चिंता न करने की अपील की। कहा- उनकी सकुशल और सुरक्षित वापसी के लिए काम किए जा रहे हैं। आज गुजरात से भोपाल 1400 और महाराष्ट्र से 498 श्रमिक इटारसी पहुंचे हैं। मैं हर संकट में आपके साथ हूं।

तस्वीर भोपाल की है। यहां स्पेशल ट्रेन से अहमदाबाद से आए मजदूरों की हबीबगंज स्टेशन पर स्क्रीनिंग की गई। इसके बाद गृह जिलों के लिए भेजा गया। 

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक अब तक 3785 संक्रमित: इंदौर 1935, भोपाल 774, उज्जैन 237, जबलपुर 133, खरगोन 89, धार 79, रायसेन 64, खंडवा 59, बुरहानपुर 60, मंदसौर 51, देवास 48, होशंगाबाद 37, नीमच 27, बड़वानी और ग्वालियर में 26-26, रतलाम 23, मुरैना 22, आगरमालवा और विदिशा में 13-13, सागर 10, शाजापुर 8, छिंदवाड़ा 5, भिंड और श्योपुर में 4-4, अलीराजपुर, अनूपपुर, हरदा, शहडोल, शिवपुरी, टीकमगढ़, सतना और रीवा में 3-3, झाबुआ, सीहोर, डिंडोरी और अशोकनगर में 2-2, बैतूल, गुना, पन्ना, मंडला और सिवनी में एक-एक संक्रमित मरीज हैं।  

  • कुल 221 मौतें: इंदौर 90, उज्जैन 45, भोपाल 33, खरगोन 8, देवास, खंडवा और जबलपुर में 7-7, बुरहानपुर 5, मंदसौर 4, रायसेन और होशंगाबाद में 3-3, अशोकनगर और धार में 2-2, आगरमालवा, छिंदवाड़ा, शाजापुर, सागर और सीहोर में एक-एक की जान गई।
  • स्वस्थ हुए 1747 : इंदौर 898, भोपाल 417, उज्जैन 96, खरगोन 52, धार 39, जबलपुर 33, खंडवा 31, रायसेन 28, होशंगाबाद 27, बड़वानी 24, देवास 14, विदिशा और मुरैना में 13-13, रतलाम 12, आगरमालवा 10, मंदसौर 7, शाजापुर 6, सागर 5,  ग्वालियर और श्योपुर में 4-4, अलीराजपुर 3, छिंदवाड़ा, शिवपुरी और टीकमगढ़ में 2-2, डिंडोरी और बैतूल में एक-एक मरीज स्वस्थ्य हुआ।  (स्वास्थ्य विभाग द्वारा 11 मई 2020 को जारी बुलेटिन के अनुसार।)