Blog

75 हजार के पास पहुंचा कोरोना संक्रमितों का आकंड़ा, मॉल भी करना चाहता है शराब की होम डिलीवरी, अब तक 11.8 लाख लोगों को उनके घर भेजा गया

मुंबई में जारी बारिश और कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच एक बुजुर्ग महिला को लेकर एक स्कूटी पर जाते दो युवक।
sports

75 हजार के पास पहुंचा कोरोना संक्रमितों का आकंड़ा, मॉल भी करना चाहता है शराब की होम डिलीवरी, अब तक 11.8 लाख लोगों को उनके घर भेजा गया

[ad_1]

  • चक्रकवती तूफान ‘निसर्ग’ के बीच राज्य में सबसे ज्यादा 122 मरीजों की मौत हो गई है
  • आर्थिक राजधानी मुंबई में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1,276 नए मामले सामने आए हैं
  • कोरोना से 60 वर्ष से अधिक के 69 मरीज, 59 से 40 वर्ष के 46 और 40 वर्ष से कम के 7 लोगों की मौत हुई है

दैनिक भास्कर

Jun 04, 2020, 11:22 AM IST

मुंबई. कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा लगातार राज्य में बढ़ता जा रहा है। गुरुवार सुबह तक यहां कुल मरीजों की संख्या 74,860 हो गई। पिछले 24 घंटो के दौरान  2,560 नए मामले सामने आए है। चक्रकवती तूफान ‘निसर्ग’ के बीच राज्य में सबसे ज्यादा 122 मरीजों की मौत हो गई है। इसे लेकर कुल मृतकों की संख्या  2,587 तक पहुंच चुकी है। इसमें से 1,417 मौतें केवल मुंबई में हुई है। इस बीच, मुंबई में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1,276 नए मामले सामने आए हैं। यहां कुल मरीजों की संख्या 43,262 हो गई है।

मृतकों में 71 पुरुष और 51 महिलाएं
मुंबई के अलावा पुणे में 19, सोलापुर में 10, धुले में 4 और औरंगाबाद में 16 मौतें हुई हैं। उल्हासनगर, नवी मुंबई में 3-3 मौतें, ठाणे, जलगांव,कोल्हापुर और अकोला में 2-2 मौतें हुई हैं। मीरा-भाईंदर, वसई-विरार, भिवंडी, नंदूरबार, उस्मानाबाद में 1-1 मौतें हुई हैं। मरनेवाले 122 मरीजों में 71 पुरुष और 51 महिलाएं हैं। कोरोना के कारण 60 वर्ष से अधिक के 69 मरीज, 59 से 40 वर्ष के 46 और 40 वर्ष से कम के 7 लोगों की मौत हुई है। 122 में से 88 मरीज ह्रदय,अस्थमा, मधुमेह समेत अन्य लोगों से ग्रसित थे।

मुंबई में कोरोना संक्रमण और निसर्ग के खतरे को देखते हुए हजारों लोगों को कई स्लम इलाकों ने सेफ सेंटर में शिफ्ट किया जा रहा है। 

राज्य में 32 हजार लोग ठीक हुए 
बुधवार को 996 लोगों को घर भेज दिया गया। अब तक कुल 32,329 लोग कोरोना मुक्त हो चुके है। राज्य में कोरोना की जांच कुल 82 लैब में की जा रही है। अब तक कुल 4,97,276 लोगों की जांच की जा चुकी है, 74,860 लोग की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

चक्रवाती तूफान निसर्ग और कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच एक महिला मुंबई के माहिम इलाके से सेफ जगह के लिए जाती हुई।

पुणे में निसर्ग से दो लोगों की मौत
बुधवार को पुणे में निसर्ग चक्रवात के चलते दो लोगों की मौत हो गई और तीन अन्य घायल हो गए। चक्रवात दोपहर करीब एक बजे तटीय रायगढ़ जिले में तबाही मचाने के बाद पुणे की ओर बढ़ा और इसने खेड़ तहसील के वाहागांव में भयंकर तबाही मचाई। यहां की मंजाबाई अनंत नावले (65) के घर की दीवार उनपर गिरने से उनकी मौत हो गई। नावले के परिवार के तीन अन्य सदस्य भी घायल हो गए। उन्हें चाकन में एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिला आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के एक अधिकारी ने कहा कि हवेली तहसील के मोकरवाड़ी के निवासी प्रकाश मोकर (52) के घर की छत उड़ गई और वह टीन की चादर को पकड़ने के दौरान घायल हो गए। बाद में उनकी मौत हो गई।

बुधवार को शहर में आए तूफान और बारिश ने लोगों को बहुत परेशान किया। बारिश से बचने के लिए इस्तेमाल में आने वाला छाता भी हवा के कारण काम नहीं आ सका। 

शराब की होम डिलीवरी करना चाहते हैं मॉल वाले
बॉम्बे हाईकोर्ट ने मॉल स्थित शराब दुकानों को भी ऑनलाइन तरीके से शराब की होम डिलीवरी की अनुमति दिए जाने की मांग को लेकर दायर याचिका पर राज्य सरकार व मुंबई महानगरपालिका से जवाब मांगा है। यह याचिका दक्षिण मुंबई के नरीमन पॉइंट स्थित सीआर-2 माल की शराब के दुकान के मालिक ने दायर की है। ओजस मार्केटिंग मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड की ओर से दायर याचिका में दावा किया गया है कि मुंबई महानगरपालिका की ओर से शराब की बिक्री को लेकर 22 मई 2020 को जारी किए गए निर्देशों को मनमानी व अवैध तरीके से लागू किया जा रहा है। याचिका में कहा गया है कि याचिकाकर्ता की दुकान भले ही मॉल में है, लेकिन दुकानों में प्रवेश व निकासी की व्यवस्था स्वतंत्र व अलग है।

मुंबई में गुरुवार सुबह भी हल्की बारिश हो रही है। कई सामाजिक संगठन से जुड़े लोग मरीजों की देखरेख में लगे हैं। 

रेड जोन में 15 फीसदी स्टाफ के साथ काम कर सकेंगी निचली अदालतें
बॉम्बे हाईकोर्ट ने राज्य की निचली अदालत के कामकाज को लेकर नए दिशा निर्देश जारी किए है। जिसके तहत सोमवार से रेड जोन में आनेवाले इलाको में स्थित निचली अदालतों को 15 प्रतिशत स्टाफ जबकि गैर रेड जोन में वाले इलाकों की अदालतों को 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ काम करने की छूट दी गई है। अदालतों को इस दौरान दो शिफ्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मामलों की सुनवाई करने के लिए कहा गया है। कंटेन्मेंट इलाके में स्थित कोर्ट प्रशासन को स्थिति के हिसाब से कार्य का स्वरूप तय करने के लिए कहा गया है।

अबतक 11 लाख 86 हजार मजदूरों को उनके घर भेजा गया 
महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने दावा किया कि अब तक महाराष्ट्र से 11 लाख 86 हजार 212 प्रवासी मजदूरों को उनके गृह राज्य भेजा गया है। सबसे ज्यादा मजदूर उत्तर प्रदेश के थे। इस मजदूरों को 822 श्रमिक विशेष रेलगाड़ियों से छोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि अपने गृह प्रदेशों को लौटने के इच्छुक प्रवासी श्रमिकों की यात्रा के लिए विशेष व्यवस्था की गई।

मुंबई में जारी बारिश के बीच एक लड़की फोटो के लिए पोज देती हुई। कोरोना खतरे को देखते हुए उसने अपने चेहरे पर मास्क लगाया हुआ था।

23,641 लोग लॉकडाउन के दौरान हुए गिरफ्तार
लॉकडाउन के दौरान विभिन्न नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में राज्य में पुलिस ने 23,641 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 1,21,075 लाख मामले दर्ज किए हैं। इसके अलावा लोगों पर जुर्माना भी लगाया गया है। इससे सरकार की तिजोरी में 6.11 करोड़ रुपये जमा हुआ। सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट करने के लिए मामले में साइबर पुलिस ने 450 मामले दर्ज कर 239 लोगों को गिरफ्तार किया। लॉकडाउन की अवधि में 107 आपत्तिजनक पोस्ट को सोशल मीडिया से हटाए गए हैं।

अब तक राज्य में कुल 27 पुलिसकर्मियों की हुई मौत
देशमुख ने बताया कि अब तक 27 पुलिसकर्मियों की कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से मौत हुई है, जिनमें से 16 मुंबई में, पुणे और सोलापुर में दो-दो, नासिक में तीन और एक मौत जलगांव में हुई है। एटीएस में तैनात एक पुलिसकर्मी की भी कोविड-19 से मौत हुई है। 

मुंबई में केंद्रीय सुरक्षा बल का एक जवान खाने के एक पैकट लेकर कैम्प की ओर जाता हुआ। शहर में 10 अतरिक्त केंद्रीय बल तैनात किया गया है।

राज्य में तकरीबन 6 लाख लोगों को किया गया क्वारैंटाइन
गृह मंत्री देशमुख के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान पुलिस ने आवश्यक सेवाओं के लिए कुल 4,40,696 पास जारी किए और 5,92,580 लोगों को क्वारैंटाइन में रखा गया। उन्होंने बताया, लॉकडाउन के दौरान पुलिस पर हमले की 257 घटनाएं हुईं, जिनमें से 835 लोगों को हिरासत में लिया गया। उन्होंने बताया, महाराष्ट्र साइबर प्रकोष्ठ ने 31 मई तक 450 मामलों में 239 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें 186 मामले गलत वॉट्सऐप मेसेज प्रसारित करने और 180 मामले फेसबुक पोस्ट से जुड़े हैं।

बांद्रा-वर्ली सी लिंक पर ट्रैफिक को आज फिर रोक दिया गया है। यह फैसला निसर्ग और कोरोना खतरे को देखते हुए लिया गया है।

कास्टिंग डायरेक्टर की मुंबई में हुई मौत 
महेश भट्ट की फिल्म ”जलेबी” और कृति खरबंदा अभिनीत ”वीरे दि वेडिंग” जैसी फिल्मों के कास्टिंग निर्देशक के तौर पर काम कर चुके कृष कपूर का ब्रेन हैमरेज के चलते 28 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उनके परिवार ने यह जानकारी दी। इससे पहले अटकलें थीं कि कपूर का निधन सड़क दुर्घटना में हुआ, लेकिन उनके मामा सुनील भल्ला ने इन खबरों को खारिज करते हुए कहा कि कपूर को यहां उपनगरीय मीरा रोड में अपने घर पर ब्रेन हैमरेज हुआ और वह बेहोश हो गए। 

टेस्टिंग के लिए बंदरों का इस्तेमाल 
राज्य के वनमंत्री संजय राठौर ने बताया कि पुणे स्थित ‘राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान’ कोरोना के इलाज के लिए वैक्सिन बना रहा है। इसके प्रयोग के लिए वन विभाग संस्थान को 30 बंदर देगा। उन्होंने बताया कि कोरोना का प्रभाव रोकने के लिए ‘सार्स कोव-2’ टीका तैयार करने के लिए राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान को 30 बंदरों की जरूरत थी। राठौर के अनुसार, संस्थान की मांग पर शर्तों के साथ बंदर देने को मंजूरी दी गई है।

[ad_2]

Leave your thought here

Your email address will not be published. Required fields are marked *