Blog

10 लाख प्रवासियों को घर भेजा गया, नवी मुंबई में शुरू हुई मास स्क्रीनिंग, 14 हजार यात्रियों ने मुंबई एयरपोर्ट से किया सफर

sports

10 लाख प्रवासियों को घर भेजा गया, नवी मुंबई में शुरू हुई मास स्क्रीनिंग, 14 हजार यात्रियों ने मुंबई एयरपोर्ट से किया सफर

[ad_1]

  • महाराष्ट्र राज्य माध्यमिक व उच्च माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के दसवीं के विद्यार्थियों को भूगोल में औसत अंक दिए जाएंगे
  • पूरे राज्य में कुल 2,190 नए मामले सामने आए है, इसे मिलाकर कुल संक्रमित 56,948 हो गए हैं

दैनिक भास्कर

May 28, 2020, 10:53 AM IST

मुंबई. महाराष्ट्र में कोरोना के कारण पिछले 24 घंटे में 105 लोगों की जान गई है। इसे मिलाकर गुरुवार तक मृतकों का आंकड़ा 1,897 तक पहुंच गया। मरने वालों में सबसे ज्यादा 1097 मौतें सिर्फ मुंबई में हुईं हैं। मुंबई में कोरोना के 1,044 नए मामले सामने आए हैं। यहां कुल मरीजों की संख्या 33,835 हो गई है। वहीं पूरे राज्य में कुल 2,190 नए मामले सामने आए है। कुल संक्रमित 56,948 हो गए हैं। 24 घंटे के दौरान 964 लोगों को डिस्चार्ज भी किया गया है, इसे जोड़ लें तो राज्य में अब तक 17,918 लोग ठीक हो चुके हैं।

24 घंटे में कहां-कितनी हुई मौतें
बुधवार को मुंबई में सबसे अधिक 32 मौतें हुईं। ठाणे में 16, जलगांव में 10, पुणे में 9, नवी मुंबई व रायगड में 7-7, अकोला में 6, औरंगाबाद में 4, नासिक व सोलापुर में 3-3 और सातारा में 2 मौतें हुईं। अहमदनगर, नागपुर, नांदूरबार, पनवेल और वसई-विरार में 1-1 मरीज की जान गई। पिछले 24 घंटों में मरने वाले 105 मरीजों में 72 पुरुष और 33 महिलाएं थीं। इनमें से 60 मरीजों को पहले से अन्य रोग थे।

मुंबई से गुजरात की ओर जा रहा एक प्रवासी अपने साथ पानी की बोतल का पूरा बॉक्स लेकर निकला है। 

धारावी में 1639 मरीज हुए संक्रमित

बुधवार को मरने वालों में से 50 मरीजों की आयु 60 वर्ष से अधिक, 45 की 40 से 59 से वर्ष और 10 मरीजों की आयु 40 वर्ष से कम थी। मुंबई के सबसे बड़े स्लम इलाके धारावी में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 18 नए मामले आए। यहां मई में एक दिन ये सबसे कम नए मामले हैं। इस इलाके में संक्रमितों की संख्या 1,639 हो गई है।

तकरीबन 10 लाख प्रवासी लोगों को उनके घर भेजा गया 
कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के दौरान महाराष्ट्र से अब तक 696 श्रमिक विशेष ट्रेनों से 9.82 लाख प्रवासी श्रमिकों को उनके गृह राज्यों में पहुंचाया गया। राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने यह जानकारी दी है। उत्तर प्रदेश के लिए 374 ट्रेनें भेजी गयीं, जबकि बिहार, मध्यप्रदेश, झारखंड, कर्नाटक और ओडिशा के लिए क्रमश: 169, 33,30, छह और 13 ट्रेनों का परिचालन हुआ। राजस्थान, पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ के लिए क्रमश: 15, 33 और छह ट्रेनें भेजी गयी। देशमुख ने बताया कि छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस, लोकमान्य तिलक टर्मिनस और पनवेल रेलवे स्टेशनों से क्रमश: 111, 112 और 42 ट्रेनों के जरिए श्रमिकों को उनके गृह राज्यों में भेजा गया। 

मानसून से पहले बीएमसी ने सड़कों का काम शुरू कर दिया है। कई जगह सड़कों के गड्डे भरे जा रहे हैं।

नवी मुंबई के दो इलाकों में शुरू हुई मास स्क्रीनिंग

कोरोनासंक्रमण को रोकने के लिए नवी मुंबई महानगर पालिका ने कोपरखैरणे व तुर्भे इलाके के पूर्वघोषित कंटेनमेंट जोन में बड़े पैमाने पर स्पेशल मास स्क्रीनिंग शुरू की है। इन दोनों ही क्षेत्रों में बड़ी संख्या में झोपडपट्टी हैं। इनके अलावा, विभिन्न सेक्टरों में बहुत सी चॉल भी मौजूद हैं। इन सब बस्तियों में बहुत घनी आबादी रहती है। इसके चलते पिछले कुछ दिनों में यहां कोरोना के नए मरीज भी बड़ी संख्या में मिल रहे हैं।

दसवीं के भूगोल विषय में मिलेंगे औसत अंक
महाराष्ट्र राज्य माध्यमिक व उच्च माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के दसवीं के विद्यार्थियों को भूगोल में औसत अंक दिए जाएंगे। बुधवार को बोर्ड ने अंकों लेकर महत्वपूर्ण निर्णय ले लिया। राज्य में कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए भूगोल विषय की परीक्षा रद्द कर दी गई थी, फिर लॉकडाउन के चलते नहीं ली जा सकी।

कस्टम ग्राउंड से अपना सामान लेकर अपनी मां के साथ सीएसटीएम स्टेशन की ओर आ रहा एक बच्चा। यहां से ही ज्यादातर लोगों को उनके राज्यों के लिए भेजा जा रहा है।

प्रवासियों के बच्चों की परीक्षा अब उनके जिले में

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से बताया गया है कि जिन प्रवासियों के बच्चों की दसवीं और बारहवीं की परीक्षा 1 से 15 जुलाई के बीच है और वे दूसरे जिले में शिफ्ट हो गए हैं, वे अब अपने जिले में ही परीक्षा दे सकेंगे। इसको लाकर सीबीएसई ने एक सर्कुलर जारी किया है। विद्यार्थी जिस स्कूल में पढ़ते थे, वहां के संपर्क में रहें, स्कूल ही उन्हें उनके सेंटर की जानकारी देगा।

लिफ्ट में फंसकर महिला की हुई मौत
मुंबई के एमआरए पुलिस के अंतर्गत एक सफाईकर्मी महिला की लिफ्ट में फंसकर जान चली गई। घटना सेंट जॉर्ज अस्पताल की है। महिला का नाम गीता वाघेला है। पुलिस के अनुसार, बुधवार को सुबह साढ़े दस बजे गीता किसी काम से तल मंजिल से ऊपरी मंजिल की ओर जा रही थी। उसी दौरान अचानक उसका पैर लोहे के किसी एंगल में फंस गया और वह बुरी तरह से घायल हो गई। बाद में महिला ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। बताया जा रहा है कि वह उस लिफ्ट में चढ़ने के बाद बाहर कहीं झांकने लगी थी। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि लिफ्ट के स्पेयर पार्ट्स कमजोर होने की वजह से गीता का भार लिफ्ट सहन नहीं कर सकी और वह हादसे का शिकार हो गई।

मुंबई के सेंट ज़ेवियर कॉलेज में बने बीएमसी के क्वारंटाइन सेंटर में कार्डबोर्ड के बेड लगाए गए हैं। इन बेड पर 300 किलो से ज्यादा का वजन रखा जा सकता है।

एनएससीआई में शुरू होंगे 40 आईसीयू बेड

बीएमसी ने वरली स्थित नेशनल स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स ऑफ इंडिया ( एनएससीआई) में बने कोविड केयर सेंटर में 40 आईसीयू बेड्स एवं महालक्ष्मी रेस कोर्स में बन रहे हॉस्पिटल को 30 मई से शुरू करने की योजना है। बीएमसी कमिश्नर आईएस चहल ने बताया कि एनएससीआई में 500 बेड्स का कोविड केयर एंटर-5 शुरू है, जिसमें मरीजों का इलाज हो रहा है। 150 अतिरिक्त बेड्स की यहां व्यवस्था की गई है, जिससे यहां बेड की कुल संख्या 650 हो गई है।

पिछले तीन दिन में 14 हजार यात्रियों की मुंबई एयरपोर्ट से आवाजाही
मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट (सीएसएमआईए) से पिछले तीन दिनों में कुल 14,069 पैसेंजर की आवाजाही हुई है। मुंबई के एयरपोर्ट के परिचालन की जिम्मेदारी संभालने वाली जीवीके मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लि. (एमआईएएल) से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार को 25 फ्लाइट का आगमन हुआ जबकि इतनी ही संख्या यानी 25 फ्लाइट ने उड़ान भरी।

मुंबई के सीएसटीएम स्टेशन के बाहर अपने भाई को लेकर खड़ा एक बच्चा। यहां से हर दिन 20-25 ट्रेनों को चलाने का प्रस्ताव रेलवे को मिला है।

6 एयरलाइन्स कंपनी मुंबई से कर रही ऑपरेट

मुंबई एयरपोर्ट से इस वक्त कुल 6 एयरलाइंस कंपनियां देश के 14 सेक्टर को कनेक्ट कर रही हैं। मुंबई से बुधवार को 3,592 पैसेंजर ने उड़ान भरी और 1,401 यात्रियों का आगमन हुआ। 25 मई को देश में डोमेस्टिक उड़ान सेवाएं बहाल होने के पहले दिन अब तक सर्वाधिक दिल्ली रूट पर ही यात्रियों की आवाजाही दर्ज हुई है। सुबह 6.15 पहली फ्लाइट ने अहमदाबाद के लिए उड़ान भरी जबकि सुबह 8.20 बजे पहली फ्लाइट लखनऊ से मुंबई पहुंची। 

1889 पुलिसवाले संक्रमित, 20 की अबतक मौत
महाराष्ट्र पुलिस द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक अब तक 1889 पुलिसवाले कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। जिनमें 207 अधिकारी और 1682 कर्मचारी हैं। कोरोना संक्रमण के चलते महाराष्ट्र में 20 पुलिस वालों की मौत भी हो चुकी है। कोरोना संक्रमित पुलिसवालों में से 838 बीमारी से उबर चुके हैं जबकि 1031 का अब भी इलाज चल रहा है। जहां एक ओर पुलिसवाले अपनी जान के बाजी लगाकर आम लोगों में कोरोना संक्रमण फैलने से रोकने की कोशिश कर रहे है वही पुलिसवालों पर हमले की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रहीं हैं। राज्य में पुलिसवालों पर हमले की 252 वारदातें हो चुकी हैं। इन हमलों में शामिल 832 आरोपियों को अब तक गिरफ्तार किया जा चुका है।

लॉकडाउन नियम तोड़ने वालों से वसूले 5 करोड़ 48 लाख रुपए
लॉक डाउन के दौरान विभिन्न वारदातों में 86 पुलिस वाले जख्मी भी हो चुके हैं। जारी आंकड़ों के मुताबिक सोमवार तक लॉक डाउन के उल्लंघन के आरोप में धारा 188 के तहत राज्य में एक लाख 15 हजार 263 मामले दर्ज कर 23 हजार 204 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। आदेश का उल्लंघन करने वालों से 5 करोड़ 48 लाख रुपए से ज्यादा जुर्माना भी वसूल गया है। लॉक डाउन के दौरान अवैध यातायात के आरोप में 1322 मामले दर्ज किए गए हैं जबकि 72687 वाहन जब्त कर लिए गए हैं।

[ad_2]

Leave your thought here

Your email address will not be published. Required fields are marked *