Blog

पुणे में 62 कंटेनमेंट जोन सील, महराष्ट्र सरकार देगी प्रवासी मजदूरों का किराया; मंत्री जितेंद्र आव्हाड अब स्वस्थ

नागपुर से एक खुले ट्रक में बैठकर अपने घरों के लिए निकले प्रवासी मजदूर। राज्य के अलग-अलग हिस्सों से कई मजदूर इसी तरह अपने राज्य के लिए जाते देखे जा सकते हैं।
sports

पुणे में 62 कंटेनमेंट जोन सील, महराष्ट्र सरकार देगी प्रवासी मजदूरों का किराया; मंत्री जितेंद्र आव्हाड अब स्वस्थ

[ad_1]

  • मुंबई के अंधेरी वेस्ट लिंक रोड में स्थित म्यूजिक कंपनी और फिल्म प्रोडक्शन टी-सीरीज की ऑफिस बिल्डिंग सील
  • 17 मई तक जो मजदूर यात्रा का खर्च उठाने में सक्षम नहीं हैं, उनकी यात्रा का पूरा खर्च मुख्यमंत्री सहायता निधि से दिया जाएगा

दैनिक भास्कर

May 11, 2020, 10:58 PM IST

मुंबई. महाराष्ट्र में तमाम कोशिशों के बाद भी संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है। सोमवार को राज्य में 36 संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। इनमें मुंबई में 20, सोलापुर में 5, पुणे में 3, ठाणे में दो और अमरावती, औरंगाबाद, नांदेड़, रत्नागिरी और वर्धा से एक-एक मरीज की जान गई। मृतकों में 23 पुरुष और 13 महिलाएं हैं। इसे मिलाकर राज्य में अब तक संक्रमण से 868 लोगों की जान जा चुकी है। वहीं, सोमवार को राज्य में संक्रमण के 1230 नए मरीज सामने आए। इसे मिलाकर कुल संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 23,401 तक पहुंच गई है।

पुणे में 69 कंटेनमेंट जोन पूरी तरह सील 
पुणे नगर निगम की सीमा में 69 कंटेनमेंट इलाकों में सोमवार से आवश्यक वस्तुओं समेत सभी दुकानों को बंद रखने का आदेश दिया गया है। यहां लोग सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य लॉकडाउन के नियमों का पालन नहीं कर रहे थे। नगर निगम के आयुक्त शेखर गायकवाड़ ने कहा- सभी दुकानों को बंद करने का निर्णय समीक्षा बैठक के बाद लिया गया। पुणे देश में संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित शहरी क्षेत्रों में से एक है। शनिवार तक यहां 2,732 मामले सामने आ चुके हैं।  2,380 पुणे नगर निगम सीमा में हैं।

ट्रेन का किराया देगी महाराष्ट्र सरकार  
महाराष्ट्र में अटके मजदूरों के घर जाने के लिए रेलवे टिकट का खर्च राज्य सरकार देगी। आदेश के तहत 17 मई तक जो मजदूर यात्रा का खर्च उठाने में सक्षम नहीं हैं, उनकी यात्रा का कुल खर्च मुख्यमंत्री सहायता निधि से दिया जाएगा। यह सुविधा दूसरे राज्यों में अटके महाराष्ट्र के लोगों के लिए भी उपलब्ध होगी। 

हॉस्पिटल से ठीक होकर घर लौटे मंत्री जितेंद्र आव्हाण ने बालकनी में आकर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। 

मंत्री जितेंद्र आव्हाड अब स्वस्था
राज्य के गृह निर्माण मंत्री जितेंद्र आव्हाड रविवार को संक्रमण मुक्त होकर घर पहुंच गए। उन्हें एक महीने तक आराम की सलाह दी गई है। घर की बालकनी से उन्होंने हाथ हिलाकर शुभचिंतकों का अभिवादन किया। आव्हाड को देखकर लगता है कि वे शारीरिक रूप से काफी कमजोर हो गए हैं। अस्पताल से डिस्चार्ज होने की सूचना उन्होंने ट्विटर पर दी। 

जितेंद्र आव्हाण का ट्वीट-

महाराष्ट्र के सोलापुर से प्रवासी मजदूर ट्रक में सवार होकर अपने घर के लिए निकले।

धारावी में 859 संक्रमित मरीज मिले
धारावी अब भी सरकार के लिए बड़ी चुनौती बना है। यहां 26 नए मामलों के साथ कुल मरीजों की संख्या 859 तक पहुंच गई है। धारावी के साथ ही माहीम में भी तेजी से मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। माहिम में 119 पॉजिटिव केस हो गए हैं।  

मानवीय आधार पर मजदूरों को पैदल घर जाने की मंजूरी दी गई
महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि हजारों प्रवासी मजदूर पैदल ही अपने घरों को लौटने को लेकर बेचैन हैं। देशमुख ने कहा कि रेल सेवाएं पहले शुरू कर दी जातीं तो मजदूरों को परेशानी थोड़ी कम होती। देशमुख ने कहा- यह सच है कि प्रवासी मजदूर सैकड़ों किलोमीटर दूर स्थित घरों के लिए पैदल निकले हैं। वे लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं लेकिन हम उन्हें मानवीय आधार पर जाने दे रहे हैं।

सिंगापुर में फंसे भारतीय छात्रों के एक ग्रुप को लेकर एयर इंडिया का विमान रविवार को मुंबई के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचा। 

कोरोना मरीज मिलने के बाद म्यूजिक कंपनी का दफ्तर सील
मुंबई के अंधेरी वेस्ट लिंक रोड में स्थित म्यूजिक कंपनी और फिल्म प्रोडक्शन टी-सीरीज के ऑफिस की बिल्डिंग को सील कर दिया गया है। यहां एक केयरटेकर संक्रमित पाया गया था। बिल्डिंग में कुछ प्रवासी भी हैं। यहीं उनके रहने-खाने की व्यवस्था है। बिल्डिंग में दो से तीन लोग और हैं जिनकी जांच की गई है। उनकी रिपोर्ट आना अभी बाकी है। 

महाराष्ट्र के ठाणे में प्रवासी मजदूरों की डिटेल लेते पुलिसकर्मी। यहां से 20 बसों में मजदूरों को उनके घरों के लिए रवाना किया गया है। 

6 और ट्रेनें मुंबई से रवाना हुईं
लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों के लगातार पलायन को देखते हुए रेलवे ने ट्रेनों की संख्या बढ़ा दी है। रविवार को मुंबई से 6 ट्रेनें अन्य राज्यों के लिए रवाना की गईं। इनमें से अधिकतर ट्रेनें उत्तर भारत की ओर निकलीं। सीएसएमटी से दो, एलटीटी से तीन और वसई रोड से एक ट्रेन रवाना की गई। लॉक डाउन से पहले मुंबई से रोजाना करीब 250 ट्रेनों की आवाजाही थी। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट करके कहा कि पूरे देश से आने वाले समय में 300 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को चलाया जाएगा।

ठाणे में पुलिस ने मजदूरों के लिए बसों का इंतजाम किया है। मजदूरों ने भी पुलिस अधिकारियों का हाथ जोड़कर धन्यवाद दिया।

मजदूरों के लिए पुलिस ने की बस की व्यवस्था 
ठाणे से जो लोग पैदल अपने राज्यों के लिए निकले हैं, उनके लिए ठाणे पुलिस ने बसों की व्यवस्था की है। रविवार को 20 बसें प्रवासियों को लेकर निकलीं, जो उन्हें मध्य प्रदेश की सीमा पर छोड़ेंगी।

भिवंडी में तेजी से बढ़ रहे हैं संक्रमित मरीज
भिवंडी में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। रविवार को शहर में कोरोना संक्रमित चार नए मरीज सामने आए। मनपा इलाके में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 25 हो गई है। इसी तरह ग्रामीण इलाके में कोरोना संक्रमित एक मरीज के संपर्क में आने वाले उसके परिवार के सात लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। 11 मरीजों के ठीक होने के बाद इस समय 36 कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज कई अस्पतालों में चल रहा है।

मुंबई के एलटीटी स्टेशन के बाहर ट्रेन पकड़ने के लिए प्रवासी मजदूरों की लंबी कतारें देखी जा रहीं। मजदूरों को स्क्रीनिंग के बाद स्टेशन में जाने दिया जा रहा है।

लंदन से लौटे 65 लोगों को होटल में रखा गया 
लॉकडाउन के कारण लंदन में फंसे 326 भारतीयों को लेकर एयर इंडिया की स्पेशल फ्लाइट मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पहुंची। फ्लाइट से आए लोगों को पुणे प्रशासन ने बालेवाडी क्षेत्र के एक होटल में क्वारैंटाइन किया है।



[ad_2]

Leave your thought here

Your email address will not be published. Required fields are marked *