Blog

पंजाब में दो साल के बच्चे को कुत्ते नोंच-नोंचकर खा गए; राजस्थान में पानी के लिए झगड़ रहीं महिलाएं 2 महीने की बच्ची पर गिरीं, मौत

यह तस्वीर गुरमानदीप सिंह की है। उसे कुत्ते घसीटकर खेत में ले गए। लॉकडाउन की वजह से किसी ने उसकी चिल्लाने और रोने की आवाज नहीं सुनी। - फोटो फाइल
sports

पंजाब में दो साल के बच्चे को कुत्ते नोंच-नोंचकर खा गए; राजस्थान में पानी के लिए झगड़ रहीं महिलाएं 2 महीने की बच्ची पर गिरीं, मौत

[ad_1]

  • अमृतसर के वरपाल गांव में सवा दो साल के गुरमानदीप को कुत्तों ने गले, गाल और पेट पर काटा, उसकी मौके पर मौत हो गई
  • राजस्थान के पिपलिया खुर्द गांव में हादसा शुक्रवार रात 8 बजे हुआ, झूमा-झटकी में दोनों महिलाएं बच्ची पर गिर पड़ीं

दैनिक भास्कर

May 31, 2020, 09:06 AM IST

अमृतसर/झालावाड़. राजस्थान और अमृतसर में दो मासूमों के साथ दर्दनाक हादसे हुए। इनमें दोनों की जान चली गई। पहला मामला पंजाब के अमृतसर का है। यहां वरपाल गांव में गली में खेल रहे सवा दो साल के बच्चे को आवारा कुत्ते नोंच-नोंच कर खा गए। इसका नाम गुरमानदीप सिंह है। वह किसान गुरविंदर सिंह की इकलौती संतान था। घटना के वक्त पूरा परिवार घर में था।

हादसा शाम 5.30 बजे हुआ। गुरमानदीप ट्रैक्टर वाले खिलौने से खेलते-खेलते गली में निकल गया। एक मोड़ पर उसे छह कुत्तों ने घेर लिया। कुत्तों ने काटना शुरू कर दिया। लॉकडाउन होने की वजह से किसी ने उसके चिल्लाने या रोने की आवाज नहीं सुनी। कुत्ते गुरमानदीप को खींचकर खेतों में ले गए। आंख, गाल और गले पर इतनी बुरी तरह नोंचा कि उसकी मौके पर ही मौत हो गई। 

सबसे पहले दादा ने देखा  
गुरमानदीप सिंह के दादा बलबीर सिंह ने बताया कि वह किसी काम से घर से बाहर निकले तो खेतों में कुत्तों के झुंड को किसी चीज पर झपटते देखा। पहले तो उन्होंने गौर नहीं किया लेकिन बाद में शक होने पर नजदीक गए। वहां खून से लथपथ गुरमानदीप पड़ा था। उन्होंने कुत्तों को भगाया और फौरन परिवार को जानकारी दी। गुरमानदीप का शाम को अंतिम संस्कार कर दिया गया। 

राजस्थान: यहां दो महिलाएं बच्ची पर गिर गईं

झालावाड़ जिले के पिपलिया खुर्द गांव में शुक्रवार रात को पानी भरने को लेकर दो महिलाओं में विवाद हो गया। झूमा-झटकी में दोनों महिलाएं बच्ची पर गिर पड़ीं, जिससे वह बेहोश हो गई। फौरन उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया।

यह तस्वीर डग अस्पताल की है। यहां बच्ची को बेहोशी की हालत में लाया गया था, लेकिन बचाया नहीं जा सका। 

[ad_2]

Leave your thought here

Your email address will not be published. Required fields are marked *