Blog

आज से एक जोन में गाड़ियों के आने-जाने पर पाबंदी हटी, बाजार फिर से होंगे गुलजार, 19 दिनों में 1575 लोगों ने राज्य में दम तोड़ा; देश के 35% मरीज सिर्फ यहां

Mumbai Pune (Maharashtra) Coronavirus Cases Update
sports

आज से एक जोन में गाड़ियों के आने-जाने पर पाबंदी हटी, बाजार फिर से होंगे गुलजार, 19 दिनों में 1575 लोगों ने राज्य में दम तोड़ा; देश के 35% मरीज सिर्फ यहां

[ad_1]

  • देश के कुल 2 लाख 17 हजार 967 केसों में से 35 % मरीज सिर्फ महाराष्ट्र हैं
  • 24 घंटे के दौरान यहां 123 लोगों की मौत हुई है, इससे संक्रमण से मरने वालों की संख्या 2710 हो गई है

दैनिक भास्कर

Jun 05, 2020, 11:10 AM IST

मुंबई. महाराष्ट्र में गुरुवार शाम तक कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 77 हजार के पार पहुंची। पिछले 24 घंटे के दौरान यहां 2933 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। इसे लेकर कुल संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 77793 तक पहुंच गया। देश के कुल 2 लाख 17 हजार 967 केसों में से 35 % मरीज सिर्फ महाराष्ट्र हैं।24 घंटे के दौरान यहां 123 लोगों की मौत हुई है, इससे संक्रमण से मरने वालों की संख्या 2710 हो गई है। इनमें से 245 मौतें बुधवार और गुरुवार को हुई है। 1 जून से 4 जून के बीच एक्टिव कोविड-19 मरीज में वृद्धि दर 11.29% है। 

60 साल से ऊपर के 71 मरीजों की पिछले 24 घंटे में हुई मौत 
मृतकों में मुंबई डिवीजन से 68, नासिक डिवीजन से 25, पुणे डिवीजन से 16, औरंगाबाद डिवीजन से 8, लातूर डिवीजन से 3 और अकोला डिवीजन से 3 लोग शामिल हैं। मृतकों में 85 पुरुष और 38 महिलाएं शामिल हैं, इनमें से 71 की उम्र 60 साल से अधिक, 44 की उम्र 40 से 60 के बीच और 8 की उम्र 40 साल से कम है। इनमें से 75% मरीजों में डायबिटीज, हृदय रोग और हाइपरटेंशन जैसी समस्या थी।

कुल मृतकों में से 58.1% ने सिर्फ 19 दिन में दम तोड़ा
आंकड़े बताते हैं कि पिछले 19 दिनों के दौरान राज्य में 1575 लोगों की मौत हुई है। यह अब तक हुई मौतों का तकरीबन 58.1% है। इस हिसाब से 19 दिनों में राज्य में हर दिन तकरीबन 82 मौतें रोज हुई हैं। गुरुवार तक राज्य में मृत्यु दर 3.46% है, वहीं देश में यह कम होकर 2.80% तक पहुंच गई है। भारत में अबतक कुल 6093 लोग कोरोना संक्रमण से जान गंवा चुके हैं। तकनीकी तौर पर राज्य में मृत्यु दर में भारी कमी आई है। 13 अप्रैल को यहां सबसे ज्यादा 7.41% मृत्युदर थी। 

महाराष्ट्र में रिकवरी रेट 43.2% पहुंची
मुंबई में अब तक 44931 केस सामने आए हैं। वर्तमान में यहां कुल 25364 एक्टिव केस हैं। शहर एक दिन में सबसे ज्यादा 1751 केस 22 मई को सामने आए थे। आंकड़ों पर गौर करें तो यहां हर दिन कि तुलना में डेली ग्रोथ रेट कम हो रही है। एक मई को राज्य में यह 7.76% थी, जो गुरुवार को 4.74%तक पहुंच गई। वहीं राज्य में रिकवरी रेट 43.2% तक पहुंच गया है। पूरे राज्य में अब तक 33681 लोग संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। 

पिछले 19 दिनों में 47 हजार से ज्यादा संक्रमित मिले
बुधवार शाम तक के आंकड़ों की जांच में सामने आया है कि यहां अब 17.35 दिनों में संक्रमित मरीजों की संख्या डबल हो रही है। एक मई को यह 9.27 दिनों में डबल हो रहे थे। हालांकि, पिछले 19 दिनों (17 मई से) के दौरान हर दिन 2 हजार से ज्यादा संक्रमित मरीज सामने आए हैं। इस दौरान राज्य में 47256 केस सामने आए हैं।

बिना पाबंदी के आ जा सकेंगे लोग
अनलॉक फेज-1 के दूसरे चरण के तहत आज(शुक्रवार) से  कुछ और छूट मिलने जा रही है। मुंबई महानगर क्षेत्र (एमएमआर) के तहत आने वाले शहरों मुंबई, ठाणे, कल्याण-डोंबिवली, नवी मुंबई, पनवेल, मीरा-भायंदर, वसई- विरार, अंबरनाथ, बदलापुर और भिवंडी के लोग बिना किसी पाबंदी के आ-जा सकेंगे। इससे पहले सिर्फ जरूरी सेवाओं और इमरजेंसी ट्रैवल पास के आधार पर ही इन महानगरपालिका क्षेत्रों में रहने वालों को एक से दूसरी जगह आने-जाने की इजाजत थी। सरकार ने गुरुवार शाम लोगों पर लगी पाबंदी हटा दी है।

आज से ऑड-ईवन फ़ॉर्मूले से खुलेंगी दुकानें
दुकानदार भी अब सुबह 7 से रात 9 बजे तक दुकानें खोल सकेंगे। हालांकि, उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग बरकरार रखने, बाजार में भीड़ न होने देने और ट्रैफिक को सुचारू बनाए रखने के लिए नई गाइडलाइंस को 30 जून तक फॉलो करना होगा। इसके तहत, 30 जून तक एक दिन सड़क के एक तरफ की दुकानें और दूसरे दिन दूसरी तरफ की दुकानें खोली जा सकेंगी। हालांकि, अभी भी 8 जून से सरकारी और प्राइवेट दफ्तरों को क्रमशः 15 और 10 प्रतिशत स्टाफ के साथ खोलने को  पर मंजूरी दी गई है। इसमें कांटेनमेंट जोन शामिल नहीं हैं। 

गार्डन और ओपन जिम खोलने की मंजूरी 
आज से गार्डन और ओपन जिम भी खुल जाएंगे। हालांकि, लोगों को दो गज की दूरी के नियम को फॉलो करना होगा। शुक्रवार से आवाजाही खुलने से सड़कों पर ट्रैफिक नजर आएगा और दुकानें खुलने से बाजार में फिर एक बार रौनक नजर आएगी।

राकांपा सांसद ने 5000 करोड़ के राहत पैकेज की मांग की 
राकांपा सांसद सुनील तटकरे ने कहा है कि ‘निसर्ग’ चक्रवात के कारण महाराष्ट्र के रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग जिलों में करीब 5,000 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। उन्होंने राज्य सरकार से तटीय क्षेत्र के लिए विशेष आर्थिक पैकेज घोषित करने की मांग की। सांसद ने कहा कि रायगढ़ के मुरुड में चक्रवात आया और उसके कारण रत्नागिरी एवं सिंधुदुर्ग के अलावा जिले में व्यापक स्तर पर सम्पत्ति का नुकसान हुआ, इसलिए सरकार को सर्वेक्षण कराना चाहिए और क्षेत्र में प्रभावित हुए लोगों के लिए विशेष आर्थिक पैकेज घोषित करना चाहिए। तटकरे ने कहा कि चक्रवात ने लोगों के घर, बाग, फसलें, मछुआरों की नौकाएं और वाहन क्षतिग्रस्त कर दिए हैं और बिजली के तार टूट गए हैं।

उच्च न्यायालय ने सरकार से पूछा : क्या वह निजी एंबुलेंस की सेवा लेना चाहती है
बंबई उच्च न्यायालय ने बृहस्पतिवार को महाराष्ट्र सरकार से पूछा कि क्या वह कोरोना वायरस फैलने के बीच निजी एंबुलेंसों की सेवा लेने की योजना बना रही है। मुख्य न्यायाधीश दीपांकर दत्ता और न्यायमूर्ति अमजद सईद की खंडपीठ भाजपा के पूर्व सांसद किरीट सोमैया द्वारा दायर एक याचिका पर सुनवाई कर रही थी, जिसमें मुंबई में एंबुलेंसों की कमी पर चिंता जताई गई। याचिका में दावा किया गया कि महानगर में 20 मार्च तक तीन हजार एंबुलेंस थे, जिनमें निजी एंबुलेंस भी शामिल हैं, लेकिन कोरोना वायरस फैलने के बाद से उपलब्ध एंबुलेंस की संख्या काफी घटकर 100 के करीब रह गई है। इसमें कहा गया कि महानगर में कोविड-19 के मामले जहां लगातार बढ़ रहे हैं और लॉकडाउन के कारण सार्वजनिक एवं निजी वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित है, जरूरतमंद रोगियों के लिए एंबुलेंस की कमी है। 

[ad_2]

Leave your thought here

Your email address will not be published. Required fields are marked *